NDTV Khabar

Iip


'Iip' - 60 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • खनन, विनिर्माण क्षेत्र का खराब प्रदर्शन, मई में औद्योगिक उत्पादन की वृद्धि दर घटकर 3.1 प्रतिशत पर

    खनन, विनिर्माण क्षेत्र का खराब प्रदर्शन, मई में औद्योगिक उत्पादन की वृद्धि दर घटकर 3.1 प्रतिशत पर

    खनन और विनिर्माण क्षेत्रों के कमजोर प्रदर्शन की वजह से औद्योगिक उत्पादन (आईआईपी) की वृद्धि दर मई महीने में घटकर 3.1 प्रतिशत पर आ गई है. शुक्रवार को जारी आधिकारिक आंकड़ों में यह जानकारी दी गई है.

  • औद्योगिक वृद्धि अप्रैल में छह महीने के उच्च स्तर 3.4 प्रतिशत रही 

    औद्योगिक वृद्धि अप्रैल में छह महीने के उच्च स्तर 3.4 प्रतिशत रही 

    इससे पहले, अक्टूबर 2018 में औद्योगिक वृद्धि दर सर्वाधिक 8.4 प्रतिशत थी. यहां बुधवार को जारी आधिकारिक आंकड़े के अनुसार खनन क्षेत्र में वृद्धि आलोच्य महीने में 5.1 प्रतिशत रही जो पिछले वर्ष 2018 के इसी महीने में 3.8 प्रतिशत थी. इसी प्रकार, बिजली क्षेत्र में वृद्धि अप्रैल महीने में 6 प्रतिशत रही जो इससे पूर्व वर्ष के इसी महीने में 2.1 प्रतिशत थी.

  • औद्योगिक उत्पादन वृद्धि दर 17 माह के निचले स्तर पर, नवंबर में सिर्फ 0.5 प्रतिशत रही

    औद्योगिक उत्पादन वृद्धि दर 17 माह के निचले स्तर पर, नवंबर में सिर्फ 0.5 प्रतिशत रही

    औद्योगिक क्षेत्र की गतिविधियों को आंकने वाले औद्योगिक उत्पादन सूचकांक (आईआईपी) में नवंबर माह में 0.5 प्रतिशत वृद्धि दर्ज की गई. केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय (सीएसओ) द्वारा शुक्रवार को जारी आंकड़ों के अनुसार आईआईपी की वृद्धि दर का यह 17 महीने का निचला स्तर है. 

  • ह्यूस्टन यूनिवर्सिटी ने इंडियन इंस्टीट्यूट आफ पेट्रोलियम एंड एनर्जी के साथ किया समझौता

    ह्यूस्टन यूनिवर्सिटी ने इंडियन इंस्टीट्यूट आफ पेट्रोलियम एंड एनर्जी के साथ किया समझौता

    ह्यूस्टन यूनिवर्सिटी ने इंडियन इंस्टीट्यूट आफ पेट्रोलियम एंड एनर्जी (आईआईपीई) के साथ सहमति पत्र पर दस्तखत किए है. इसका मकसद संयुक्त शोध के जरिए वैज्ञानिक और तकनीकी ज्ञान बढ़ाना है.

  • खुदरा महंगाई दर बढ़ने पर चिदंबरम का तंज: अच्छे दिन आने वाले हैं

    खुदरा महंगाई दर बढ़ने पर चिदंबरम का तंज: अच्छे दिन आने वाले हैं

    कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने खुदरा महंगाई दर बढ़ने और औद्योगिक उत्पादन में आई गिरावट को लेकर आज सरकार पर तंज करते हुए कहा कि लगता है कि अच्छे दिन आने वाले हैं. उन्होंने निवर्तमान मुख्य आर्थिक सलाहकार अरविंद सुब्रमण्यम के एक बयान का हवाला दिया और कहा कि नोटबंदी से अर्थव्यवस्था को होने वाले नुकसान संबंधी कांग्रेस नेताओं का अनुमान सच साबित हुआ है. 

  • जून में खुदरा महंगाई 5 फीसदी बढ़ी, मई में औद्योगिक उत्पादन गिरा

    जून में खुदरा महंगाई 5 फीसदी बढ़ी, मई में औद्योगिक उत्पादन गिरा

    देश में खुदरा मुद्रास्फीति जून में बढ़कर 5 फीसदी रही, जोकि मई में 4.87 फीसदी थी. वहीं, औद्योगिक उत्पादन मई में पिछले साल की समान अवधि की तुलना में बढ़कर जबकि पिछले महीने की तुलना में घटकर 3.2 फीसदी रहा. पिछले महीने औद्योगिक उत्पादन की वृद्धि दर 4.9 फीसदी थी. आधिकारिक आंकड़ों से गुरुवार को यह जानकारी मिली. 

  • देश के शेयर बाज़ारों में तेज़ी, सेंसेक्स 46 अंक ऊपर हुआ बंद

    देश के शेयर बाज़ारों में तेज़ी, सेंसेक्स 46 अंक ऊपर हुआ बंद

    देश के शेयर बाजारों में बुधवार को तेजी दर्ज की गई. बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE) का प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स 46.64 अंकों की तेजी के साथ 35,739.16 पर और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE) का सूचकांक निफ्टी 13.85 अंकों की तेजी के साथ 10,856.70 पर बंद हुआ.

  • औद्योगिक उत्पादन वृद्धि दर मार्च में घटकर 4.4% रही

    औद्योगिक उत्पादन वृद्धि दर मार्च में घटकर 4.4% रही

    पूंजीगत सामान उत्पादन में गिरावट तथा खनन गतिविधियां कमजोर पड़ने के कारण देश का औद्योगिक उत्पादन (आईआईपी) मार्च महीने में 4.4 प्रतिशत बढ़ा. औद्योगिक उत्पादन में पांच महीने में यह सबसे निम्न वृद्धि दर है. आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार औद्योगिक उत्पादन सूचकांक ( आईआईपी ) आधारित औद्योगिक वृद्धि दर 2017-18 में 4.3 प्रतिशत रही. यह पूर्व वित्त वर्ष में 4.6 प्रतिशत रही थी. 

  • औद्योगिक उत्पादन की वृद्धि दर 17 महीने के उच्चस्तर पर, लेकिन मुद्रास्फीति ने दिया झटका - 10 खास बातें

    औद्योगिक उत्पादन की वृद्धि दर 17 महीने के उच्चस्तर पर, लेकिन मुद्रास्फीति ने दिया झटका - 10 खास बातें

    विस्तृत आर्थिक मोर्चे पर शुक्रवार को मिली-जुली खबर रही. मैन्युफैक्चरिंग व पूंजीगत वस्तुएं क्षेत्र के शानदार प्रदर्शन के दम पर नवंबर, 2017 में जहां औद्योगिक उत्पादन की वृद्धि दर 17 महीने के उच्चतम स्तर 8.4 प्रतिशत पर पहुंच गई, वहीं दिसंबर में उपभोक्ता मूल्य सूचकांक आधारित मुद्रास्फीति बढ़कर 5.2 प्रतिशत हो गई. महंगाई दर बढ़ने से रिजर्व बैंक द्वारा नीतिगत दर में कटौती की संभावना घटी है. मुद्रास्फीति में लगातार वृद्धि से केंद्रीय बैंक अगले महीने की मौद्रिक समीक्षा में नीतिगत दरों के मोर्चे पर यथास्थिति कायम रख सकता है. आम बजट 1 फरवरी को पेश होगा और उसके कुछ दिन बाद ही केंद्रीय बैंक की मौद्रिक समीक्षा बैठक है. केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार, नवंबर 2016 में औद्योगिक उत्पादन की वृद्धि दर 5.1 प्रतिशत थी. इससे पहले इससे ऊंची वृद्धि जून 2016 में हुई थी जबकि औद्योगिक उत्पादन सूचकांक सालाना आधार पर 8.9 प्रतिशत बढ़ा था.

  • औद्योगिक उत्पादन में उछाल, अगस्त में 4.3 प्रतिशत बढ़ा, नौ माह में सर्वाधिक

    औद्योगिक उत्पादन में उछाल, अगस्त में 4.3 प्रतिशत बढ़ा, नौ माह में सर्वाधिक

    खनन एवं बिजली क्षेत्रों के बेहतर प्रदर्शन से औद्योगिक उत्पादन में अगस्त माह के दौरान 4.3 प्रतिशत वृद्धि दर्ज की गयी.

  • IIP की वृद्धि दर घटने, महंगाई के निचले स्तर पर रहने से ब्याज दरों में कटौती की संभावना बढ़ी

    IIP की वृद्धि दर घटने, महंगाई के निचले स्तर पर रहने से ब्याज दरों में कटौती की संभावना बढ़ी

    जुलाई महीने में देश में औद्योगिक उत्पादन (आईआईपी) की वृद्धि दर में कमी आई है और यह 1.2% रही है.वहीं अगस्त महीने की मुद्रास्फीति की दर पांच महीने के उच्चस्तर 3.36% पर पहुंच गई है. इसके बावजूद यह रिजर्व बैंक के 4 से 6 प्रतिशत के मुद्रास्फीति के लक्ष्य से कम है.

  • जून में औद्योगिक उत्पादन 0.1 प्रतिशत घटा, जून 2016 में वृद्धि दर आठ प्रतिशत थी

    जून में औद्योगिक उत्पादन 0.1 प्रतिशत घटा, जून 2016 में वृद्धि दर आठ प्रतिशत थी

    विनिर्माण और पूंजीगत सामान क्षेत्र का उत्पादन घटने से जून में औद्योगिक उत्पादन में कुल मिलाकर 0.1 प्रतिशत की गिरावट आई. केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय के शुक्रवार को जारी आंकड़ों के अनुसार जून में खनन, बिजली, बुनियादी ढांचा-निर्माण के सामान और टिकाऊ उपभोक्ता सामान क्षेत्र का प्रदर्शन भी खराब रहा.

  • आठ बुनियादी उद्योग की वृद्धि दर अप्रैल में घट कर 2.5 प्रतिशत रही

    आठ बुनियादी उद्योग की वृद्धि दर अप्रैल में घट कर 2.5 प्रतिशत रही

    कोयला, कच्चा तेल तथा सीमेंट उत्पादन में गिरावट के चलते आठ बुनियादी उद्योगों की वृद्धि दर अप्रैल में घटकर 2.5 प्रतिशत रही. इन उद्योगों ने पिछले साल अप्रैल में 8.7 प्रतिशत वृद्धि दर्ज की थी.

  • औद्योगिक उत्पादन में फरवरी में 1.2 प्रतिशत की गिरावट, खुदरा मुद्रास्फीति पांच महीने के उच्च स्तर पर

    औद्योगिक उत्पादन में फरवरी में 1.2 प्रतिशत की गिरावट, खुदरा मुद्रास्फीति पांच महीने के उच्च स्तर पर

    अर्थव्यवस्था को बुधवार को दोहरा झटका लगा. एक तरफ जहां औद्योगिक उत्पादन में फरवरी में 1.2 प्रतिशत की गिरावट आयी वहीं खुदरा मुद्रास्फीति मार्च में बढ़कर 3.81 प्रतिशत हो गयी. इसको देखते हुए उद्योग जगत ने आर्थिक समस्याओं से निपटने के लिये और सुधारों की वकालत की है.

  • नोटबंदी का असर : दिसंबर में औद्योगिक उत्पादन 0.4 प्रतिशत गिरा

    नोटबंदी का असर : दिसंबर में औद्योगिक उत्पादन 0.4 प्रतिशत गिरा

    नोटबंदी के असर से खास कर टिकाऊ उपभोक्ता सामान उद्योग में बड़ी गिरावट के बीच दिसंबर में औद्योगिक उत्पादन (आईआईपी) एक साल पहले इसी माह की तुलना में 0.4 प्रतिशत कम रहा. औद्योगिक क्षेत्र का यह चार महीने का सबसे खराब प्रदर्शन है. इस टिकाऊ उपभोक्ता सामान बनाने वाले उद्योगों के उत्पादन में सालाना आधार पर 10 प्रतिशत की गिरावट आई.

  • अक्टूबर में औद्योगिक उत्पादन 1.9 प्रतिशत घटा

    अक्टूबर में औद्योगिक उत्पादन 1.9 प्रतिशत घटा

    देश के औद्योगिक उत्पादन (आईआईपी) में अक्टूबर में गिरावट रही. पूंजीगत सामान के उत्पादन में कमी तथा विनिर्माण क्षेत्र के कमजोर प्रदर्शन से अक्टूबर में औद्योगिक उत्पादन 1.9 प्रतिशत घटा है.

  • औद्योगिक उत्पादन में गिरावट जारी, अगस्त में गिरावट 0.7 प्रतिशत

    औद्योगिक उत्पादन में गिरावट जारी, अगस्त में गिरावट 0.7 प्रतिशत

    देश में औद्योगिक उत्पादन में लगातार दूसरे महीने गिरावट जारी रही और विनिर्माण, खनन व पूंजीगत सामान क्षेत्र में मंदी के चलते अगस्त महीने में औद्योगिक उत्पादन सूचकांक एक साल पहले की तुलना में 0.7 प्रतिशत नीचे रहा.

  • औद्योगिक उत्पादन का आठ माह में सबसे खराब प्रदर्शन, जुलाई में 2.4 प्रतिशत गिरा

    औद्योगिक उत्पादन का आठ माह में सबसे खराब प्रदर्शन, जुलाई में 2.4 प्रतिशत गिरा

    औद्योगिक उत्पादन (आईआईपी) जुलाई में 2.4 प्रतिशत घट गया. यह पिछले आठ महीने में इसका सबसे खराब प्रदर्शन रहा है. विशेषरूप से विनिर्माण और पूंजीगत सामान क्षेत्र का उत्पादन घटने से आईआईपी में गिरावट दर्ज की गई.

Advertisement