NDTV Khabar

Income tax news hindi


'Income tax news hindi' - 54 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • बजट 2019 : टैक्स में छूट को लेकर न रहें किसी गलतफहमी में, वह नहीं हुआ जो आप सोच रहे हैं

    बजट 2019 : टैक्स में छूट को लेकर न रहें किसी गलतफहमी में, वह नहीं हुआ जो आप सोच रहे हैं

    अंतरिम बजट 2019-20  पेश करते हुए, वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने 5 लाख तक सालाना आय वालों को टैक्स में छूट दे दी है लेकिन जिनकी आय 5 लाख से ज्यादा है उनके लिए पुराने ही टैक्स के नियम जारी रहेंगे. इस ऐलान के बाद शेयर बाजारों में शुक्रवार को जोरदार तेजी दर्ज की गई है.

  • Budget 2019 Highlights: मोदी सरकार के अंतरिम बजट में बड़ा ऐलान: अब 5 लाख तक की आय वालों को कोई टैक्स नहीं देना होगा

    Budget 2019 Highlights: मोदी सरकार के अंतरिम बजट में बड़ा ऐलान: अब 5 लाख तक की आय वालों को कोई टैक्स नहीं देना होगा

    Budget 2019 Highlights: पीयूष गोयल ( Piyush Goyal) ने मोदी सरकार का Interim Budget पेश कर करदाताओं को बड़ी राहत दी. पीयूष गोयल ने इनकम टैक्स (Income Tax) की सीमा को 5 लाख करने का ऐलान किया.

  • बिहार और झारखंड में सबसे ज्यादा टैक्स जमा करने वाले करदाता बने महेंद्र सिंह धोनी

    बिहार और झारखंड में सबसे ज्यादा टैक्स जमा करने वाले करदाता बने महेंद्र सिंह धोनी

    भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी बिहार और झारखंड में सबसे ज्यादा इनकम टैक्स देने वाले करदाता बन गए हैं. धोनी ने साल 2017-18 में 12.17 करोड़ रुपए का रिटर्न फाइल किया है. बता दें कि एमएस धोनी ने साल 2016-17 में 10.93 करोड़ का रिटर्न भरा था. आयकर विभाग के अधिकारी वी. महालिंगम के बताया है कि महेंद्र सिंह धोनी ने मौजूदा वित्तीय वर्ष में अब तक एडवांस टैक्स के रूप में पहले ही तीन करोड़ रुपए जमा कराए हैं.

  • आयकर रिटर्न दाखिल किया क्या, एफडी (Fixed Deposits FD) से जुड़े ये 5 नियम जरूर जान लें

    आयकर रिटर्न दाखिल किया क्या, एफडी (Fixed Deposits FD) से जुड़े ये 5 नियम जरूर जान लें

    31 जुलाई तक सभी आयकर दाताओं को अपना रिटर्न फाइल करना है. यह कानून जरूरी है. लेकिन ऐसा देखा गया है कि कई बार नियमों की जानकारी नहीं होने की वजह से कुछ आयकरदाता सही से रिटर्न फाइल नहीं कर पाते हैं और बाद में आयकर विभाग के नोटिस और जवाब का सिलसिला शुरू हो जाता है. ऐसे में समय बरबाद होता है और कई प्रकार की दिक्कतों का भी सामना करना पड़ता है. कई बार तो जुर्माना भी पड़ता है और कोर्ट कचहरी के चक्कर तक काटने पड़ जाते हैं.

  • ITR 2018-19 या कहें वित्त वर्ष 2017-18 के लिए इनकम टैक्स स्लैब

    ITR 2018-19 या कहें वित्त वर्ष 2017-18 के लिए इनकम टैक्स स्लैब

    आयकर रिटर्न भरने का समय चल रहा है. सभी करदाताओं को को 31 जुलाई तक अपने अपने रिटर्न फाइल करने हैं. वित्त वर्ष 2017-18 या कहें आकलन वर्ष 2018-19 (एसेसमेंट ईयर Assesment Year 2018-19) के लिए आयकर (इनकम टैक्स) रिटर्न भरने में कई लोग लग गए हैं. अकसर देखा गया है कि लोगों को ऐसे समय लोगों को इनकम टैक्स स्लैब की जानकारी की जरूरत पड़ती है. उस यह देखना होता है कि वह किस स्लैब या कहें कि आयकर के दायरे में आता है जिसके हिसाब से उसे सरकार को कर देना होगा. 

  • इनकम टैक्स से जुड़े 10 नियम-कानून, जो अप्रैल, 2018 से बदल गए हैं

    इनकम टैक्स से जुड़े 10 नियम-कानून, जो अप्रैल, 2018 से बदल गए हैं

    आयकर रिटर्न फाइल करने का वक्त चल रहा है. ऐसे में सभी लोगों को यह चिंता सताती है कि आयकर नियमों में सरकार ने क्या बदलाव किया है. उन्हें इन बदलावों के हिसाब से रिटर्न फाइल करने की चिंता रहती है. ऐसे में यह चिंता उन लोगों को ज्यादा हो जाती है जो बिना किसी की मदद के खुद  ही आयकर रिटर्न फाइल करते हैं. 

  • PAN को आधार से जोड़ने की समयसीमा फिर बढ़ी, जानिए क्या है नई तारीख

    PAN को आधार से जोड़ने की समयसीमा फिर बढ़ी, जानिए क्या है नई तारीख

    केन्द्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) ने पैन-आधार को जोड़ने की समय सीमा को अगले वर्ष 31 मार्च तक के लिए बढ़ा दिया है. यह पांचवीं बार है जब सरकार ने लोगों के पैन को उनके आधार से जोड़ने की समय सीमा को बढ़ाया है. आयकर विभाग की नीति निर्धारण इकाई ने आयकर कानून की धारा 119 के तहत देर रात यह आदेश जारी किया.

  • आईटीआर (ITR) ऑनलाइन भरने का आसान है तरीका

    आईटीआर (ITR) ऑनलाइन भरने का आसान है तरीका

    एक साल में किए जाने वाले सभी महत्वपूर्ण कार्यों में इनकम टैक्स रिटर्न फाइलिंग भी शामिल होता है. इनकम टैक्स रिटर्न (Income Tax Return) फाइल करना कई बार काफी जटिल लगता है.

  • जानें आयकर कानून की धारा 80 सी, उठाएं इसका ज्यादा लाभ

    जानें आयकर कानून की धारा 80 सी, उठाएं इसका ज्यादा लाभ

    देश के हर नागरिक को अपनी आय पर कर देना होता है. कुछ लोगों को आय कम होने की वजह से कर से छूट प्राप्त होती है जबकि बाकी सभी को अपना आयकर रिटर्न दाखिल करना होता है. इसी के आधार पर सरकार को कर देना होता है. सरकार अपनी ओर से कई माध्यमों के जरिए लोगों को कर में छूट का लाभ देती है. देश के हर नागरिक को अपनी आय पर कर देना होता है. कुछ लोगों को आय कम होने की वजह से कर से छूट प्राप्त होती है जबकि बाकी सभी को अपना आयकर रिटर्न दाखिल करना होता है. इसी के आधार पर सरकार को कर देना होता है. सरकार अपनी ओर से कई माध्यमों के जरिए लोगों को कर में छूट का लाभ देती है. इसके लिए सरकार ने कई नियम बनाएं हैं. ये नियम आयकर कानून के तहत लोगों को छूट प्रदान करते हैं.  

  • वेतन लेने वाले ध्यान दें, अगर गलत रिटर्न भरा तो आयकर विभाग उठाएगा यह बड़ा कदम

    वेतन लेने वाले ध्यान दें, अगर गलत रिटर्न भरा तो आयकर विभाग उठाएगा यह बड़ा कदम

    आयकर विभाग ने वेतनभोगी कर्मचारियों को गलत ​आयकर रिटर्न (आईटीआर) दाखिल करने के प्रति आगाह किया है. विभाग ने कहा है कि ऐसे करदाताओं के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी तथा उनके नियोक्ताओं को भी इस संबंध में सूचित किया जाएगा.

  • ICICI Bank मामला : चंदा कोचर के पति दीपक कोचर को IT का दूसरा नोटिस

    ICICI Bank मामला : चंदा कोचर के पति दीपक कोचर को IT का दूसरा नोटिस

    आईसीआईसीआई बैंक-वीडियोकॉन समूह के विवादित 3,250 करोड़ रुपये ऋण मामले में आयकर विभाग ने दीपक कोचर को दूसरा नोटिस जारी किया.

  • मोदी सरकार के बजट को लेकर बीजेपी के बागी नेता यशवंत सिन्हा ने कही यह बड़ी बात

    मोदी सरकार के बजट को लेकर बीजेपी के बागी नेता यशवंत सिन्हा ने कही यह बड़ी बात

    भाजपा के बागी नेता एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा ने गुरुवार को पेश किये गये केन्द्र सरकार के बजट को निराशाजनक बताया है. यशवंत सिन्हा ने कहा कि ‘उम्मीद थी कि यह बजट कृषि और ग्रामीण क्षेत्र के लिये महत्वपूर्ण और शुभ समाचार लेकर आयेगा. लेकिन कृषि क्षेत्र के साथ-साथ यह बजट शिक्षा, स्वास्थ और रोजगार की दृष्टि से निराशाजनक रहा.’

  • बजट पर राहुल गांधी का तंज, 'शुक्र है' सरकार का केवल एक साल बचा है

    बजट पर राहुल गांधी का तंज, 'शुक्र है' सरकार का केवल एक साल बचा है

    कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बजट को लेकर केंद्र सरकार पर प्रहार करते हुए कहा कि पिछले चार वर्षों में केवल वादे किए गए हैं और 'शुक्र है कि' मोदी सरकार का केवल एक साल बचा हुआ है. राहुल ने ट्विटर पर लिखा कि राजग सरकार के चार साल बीत गए, लेकिन यह किसानों से उनके उत्पादों के बारे में उचित मूल्य के केवल वादे कर रही है.

  • बजट में 10 करोड़ परिवारों को मेडिकल बीमा का लाभ और किसानों को बड़ी राहत, 10 बड़े ऐलान

    बजट में 10 करोड़ परिवारों को मेडिकल बीमा का लाभ और किसानों को बड़ी राहत, 10 बड़े ऐलान

    वित्तमंत्री अरुण जेटली ने मोदी सरकार का अंतिम पूर्णकालिक बजट पेश किया. इस बजट में पीएम मोदी के 'न्‍यू इंडिया' की झलक देखने को मिली. वित्तमंत्री अरुण जेटली ने अपने बजट भाषण में कई योजनाओं का ऐलान किया. वो अपने बजट भाषण में वे किसान, गरीब, युवा, गृहणी, उद्यमी सबों को खुश करते नजर आए. वित्तमंत्री जेटली ने किसानों को लागत मूल्‍य से 50 फीसदी ज्‍यादा देने की घोषणा की है. तो चलिए जानते हैं बजट भाषण की 10 खास बातें.

  • बजट पर बोले सीएम केजरीवाल, मोदी सरकार ने सौतेला व्यवहार किया, उम्मीद के बदले निराशा हाथ लगी

    बजट पर बोले सीएम केजरीवाल, मोदी सरकार ने सौतेला व्यवहार किया, उम्मीद के बदले निराशा हाथ लगी

    मोदी सरकार के आखिरी पूर्णकालिक आम बजट को लेकर निराशा जताते हुए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आरोप लगाए कि केंद्र दिल्ली के साथ ‘सौतेला व्यवहार जारी रखे हुए है.’ केजरीवाल ने कहा कि राष्ट्रीय राजधानी में महत्वपूर्ण ढांचागत विकास के लिए कुछ वित्तीय सहायता की उन्हें उम्मीद थी. उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने केंद्रीय करों और शुल्कों में दिल्ली की हिस्सेदारी नहीं बढ़ाने पर नाखुशी जताई और कहा कि भाजपा नीत केंद्र सरकार दिल्ली के लोगों को ‘दोयम दर्जे का नागरिक’ समझती है.

  • 'विकास वाला बजट' के लिए अमित शाह ने सरकार को दी बधाई, कहा- किसानों, गरीबों और दलितों के लिए कई योजनाएं

    'विकास वाला बजट' के लिए अमित शाह ने सरकार को दी बधाई, कहा- किसानों, गरीबों और दलितों के लिए कई योजनाएं

    भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह ने मोदी सरकार की आखिरी पूर्णकालिक बजट के लिए सरकार को धन्यवाद दिया है. साथ ही सरकार के इस बजट को विकास वाला बजट करार दिया है. अमित शाह ने कहा कि यह विकास की कल्पना और विकास वाला बजट है. विकास की कल्पना को किसान और दलितों तक पहुंचाने के लिए इस बजट में ढेर सारी चीजों को समावेश किया गया है. उन्होंने कहा कि किसानों, गरीबों, दलितों और जनजातियों के लिए इस बजट में कई योजनाएं हैं. 

  • बजट में बिहार के लिए कुछ नहीं, मोदी सरकार सिर्फ़ कागज़ों पर बातों के पकौड़े उतार रही है : तेजस्‍वी यादव

    बजट में बिहार के लिए कुछ नहीं, मोदी सरकार सिर्फ़ कागज़ों पर बातों के पकौड़े उतार रही है : तेजस्‍वी यादव

    बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी ने इस बजट को निराशाजनक करार दिया. उन्होंने ट्वीट कर नीतीश कुमार से सवाल करते हुए लिखा, "बजट में बिहार के लिए कुछ भी नहीं है. बिहार को विशेष पैकेज और विशेष राज्य के दर्जे पर कुछ भी नहीं मिला. नीतीश कुमार बताएं क्या यही उनके लिए डबल इंजन है? नीतीश जी की वजह से भाजपा की केंद्र सरकार बिहार के साथ सौतेला व्यवहार कर रही है."

  • इनकम टैक्स रिटर्न (ITR) फाइलिंग की आखिरी डेट भी चूक गए? लेट फाइल करने वाले यह जान लें...

    इनकम टैक्स रिटर्न (ITR) फाइलिंग की आखिरी डेट भी चूक गए? लेट फाइल करने वाले यह जान लें...

    अब यदि इस तारीख से भी आप चूक गए हों तो आप इनकम टैक्स विभाग की नजर में आ जाएंगे, यकीन मानिए.