NDTV Khabar

Income tax return


'Income tax return' - 93 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • इनकम टैक्स रिटर्न (ITR) कैसे फाइल करें - स्टेप बाई स्टेप गाइड

    इनकम टैक्स रिटर्न (ITR) कैसे फाइल करें - स्टेप बाई स्टेप गाइड

    इनकम टैक्स रिटर्न, यानी आयकर रिटर्न (Income Tax Return) दाखिल करने, यानी फाइल करने के लिए अब कुछ ही दिन बचे हैं. हर साल की तरह इस साल भी वित्तवर्ष 2018-19 के लिए इनकम टैक्स रिटर्न दाखिल करने की आखिरी तारीख 31 जुलाई है. समय रहते इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने से सबसे बड़ा लाभ यह होता है कि अंतिम दिनों में जल्दबाज़ी में रिटर्न फाइल करते समय हो सकने वाली गड़बड़ियों और गलतियों की गुंजाइश खत्म हो जाती है. इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने का सबसे आसान तरीका है, ई-फाइलिंग, यानी इनकम टैक्स रिटर्न को ऑनलाइन फाइल करना, सो आइए, जानते हैं ई-फाइलिंग का तरीका.

  • बजट 2019: आधार कार्ड से भी भर सकेंगे आयकर रिटर्न, भारतीय पासपोर्ट वाले NRI को मिलेगा तत्काल आधार कार्ड

    बजट 2019: आधार कार्ड से भी भर सकेंगे आयकर रिटर्न, भारतीय पासपोर्ट वाले NRI को मिलेगा तत्काल आधार कार्ड

    ‘गांव, गरीब और किसान’ तथा प्रत्येक नागरिक के जीवन को ‘अधिक सरल’ बनाने के लक्ष्य के साथ पेश किए गये नरेन्द्र मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल के पहले आम बजट में अर्थव्यवस्था को गति देने के लिए मीडिया, विमानन, बीमा और एकल ब्रांड खुदरा क्षेत्र में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) के नियमों को उदार करने का प्रस्ताव किया गया है. बजट में बुनियादी आर्थिक और सामाजिक ढांच के विस्तार, पेंशन और वीमा योजाओं को आम लोगों की पहुंच के दायरे में ले जाने के विभिन्न प्रस्ताव किए गए है.

  • पैन को आधार से लिंक करने की तारीख 6 महीने बढ़ा कर 30 सितंबर 2019 की गई

    पैन को आधार से लिंक करने की तारीख 6 महीने बढ़ा कर 30 सितंबर 2019 की गई

    केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) ने स्‍पष्‍ट किया है कि पैन को आधार नंबर के साथ लिंक करने की तारीख 30 सितंबर 2019 है. पहले यह तारीख 31 मार्च 2019 थी. इस तरह इसे 6 महीने के लिए बढ़ा दिया गया है.

  • सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद अब आयकर रिटर्न दाखिल करने से पहले करना होगा यह काम

    सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद अब आयकर रिटर्न दाखिल करने से पहले करना होगा यह काम

    पीठ ने कहा कि उच्च न्यायालय ने इस तथ्य के मद्देनजर यह आदेश दिया था कि मामला शीर्ष अदालत में विचारार्थ लंबित है. इसके बाद, चूंकि शीर्ष अदालत ने इस मामले में पिछले साल 26 सितंबर को फैसला सुना दिया और आय कर कानून की धारा 139एए को बरकरार रखा है, इसलिए पैन नंबर को आधार से जोड़ना अनिवार्य है.

  • सीबीडीटी ने आयकर रिटर्न और ऑडिट रिपोर्ट जमा करने की तिथि बढ़ाकर 31 अक्टूबर की

    सीबीडीटी ने आयकर रिटर्न और ऑडिट रिपोर्ट जमा करने की तिथि बढ़ाकर 31 अक्टूबर की

    एक पखवाड़े के भीतर यह दूसरा मौका है जब आयकर रिटर्न भरने की समयसीमा बढ़ायी गयी है. जिनके खातों का ऑडिट जरूरी होता है, इससे पहले, केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) ऐसे करदाताओं के लिये रिटर्न भरने की समयसीमा को 30 सितंबर से बढ़ाकर 15 अक्टूबर कर दिया था.

  • सरकार ने आयकर रिटर्न, ऑडिट रिपोर्ट दाखिल करने की तारीख 15 अक्टूबर तक बढ़ाई

    सरकार ने आयकर रिटर्न, ऑडिट रिपोर्ट दाखिल करने की तारीख 15 अक्टूबर तक बढ़ाई

    सरकार ने सोमवार को वित्त वर्ष 2017-18 के लिए आयकर रिटर्न (आईटीआर) और ऑडिट रिपोर्ट दाखिल करने की तारीख 15 दिन बढ़ाकर 15 अक्टूबर करने की घोषणा की.

  • आयकर रिटर्न भरने की अंतिम दिन तक सवा पांच करोड़ से अधिक रिटर्न दाखिल 

    आयकर रिटर्न भरने की अंतिम दिन तक सवा पांच करोड़ से अधिक रिटर्न दाखिल 

    कुल रिटर्न दाखिल करने वालों की आधिकारिक संख्या प्रक्रिया पूरी होने के बाद अगले कुछ दिन में जारी की जाएगी. पिछले साल करीब 3.2 करोड़ लोगों ने आयकर रिटर्न दाखिल किए गए. रिटर्न दाखिल करने वालों की संख्या में वृद्धि के लिये अधिकारियों ने मुख्यतौर पर दो वजहें बताईं हैं.

  • NEWS FLASH: जम्‍मू-कश्‍मीर में आतंकियों द्वारा अगवा किए गए पुलिसकर्मियों के सभी रिश्‍तेदार रिहा

    NEWS FLASH: जम्‍मू-कश्‍मीर में आतंकियों द्वारा अगवा किए गए पुलिसकर्मियों के सभी रिश्‍तेदार रिहा

    देश-दुनिया की राजनीति, खेल एवं मनोरंजन जगत से जुड़े समाचार इसी एक पेज पर जानें...

  • इनकम टैक्स रिटर्न (ITR) फाइल करना है बेहद आसान - स्टेप बाई स्टेप गाइड

    इनकम टैक्स रिटर्न (ITR) फाइल करना है बेहद आसान - स्टेप बाई स्टेप गाइड

    इनकम टैक्स भरने के दो दिन बचे हैं. 31 अगस्‍त इनकम टैक्स (आयकर रिटर्न ITR return) फाइल करने की अंतिम तारीख है. अकसर यह होता है कि करदाता आखिरी पलों में ही टैक्स रिटर्न फाइल करते हैं और उस समय जल्दबाजी में गलती होने की संभावना और परेशानी होना लाजमी सा हो जाता है. अच्छा हो यदि इनकम टैक्स की ई-फाइलिंग समय रहते कर ली जाए. ऑनलाइन रिटर्न फाइल करने का तरीका आसान है. आइए जानें यह तरीका .

  • इस राज्‍य के ITR फाइल करने की समय सीमा 15 सितंबर तक बढ़ाई, जानें क्‍या है वजह

    इस राज्‍य के ITR फाइल करने की समय सीमा 15 सितंबर तक बढ़ाई, जानें क्‍या है वजह

    केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) ने इससे पहले वेतनभोगी कर्मचारियों के लिये आयकर रिटर्न भरने की समय सीमा 31 जुलाई से बढ़ाकर 31 अगस्त कर दी थी.

  • रिटर्न न दाखिल करने वाले दो लाख सही राह पर आए, 6,416 करोड़ रुपये का दिया इनकम टैक्‍स

    रिटर्न न दाखिल करने वाले दो लाख सही राह पर आए, 6,416 करोड़ रुपये का दिया इनकम टैक्‍स

    राज्यसभा में एक प्रश्न के लिखित उत्तर में उन्होंने कहा कि आई-टी विभाग ने उन 3.04 लाख लोगों को नोटिस जारी किए हैं जिन्होंने नोटबंदी के बाद 10 लाख रुपये से अधिक की नकदी जमा कराई थी,

  • ITR Filing Last Date: अब 31 अगस्त तक भर सकेंगे इनकम टैक्स रिटर्न, सरकार ने बढ़ाई अंतिम तारीख

    ITR Filing Last Date: अब 31 अगस्त तक भर सकेंगे इनकम टैक्स रिटर्न, सरकार ने बढ़ाई अंतिम तारीख

    आयकर रिटर्न भरने वालों के लिए अच्छी खबर है. सेंट्रल बोर्ड ऑफ डायरेक्ट टैक्सेज (सीबीडीटी) ने इनकम टैक्स रिटर्न फाइल की आखिरी तारीख 31 अगस्त तक बढ़ा दी है. पहले इनकम टैक्स रिटर्न भरने की आखिरी तारीख 31 जुलाई थी. इस तरह जिन्होंने अभी तक आयकर रिटर्न दाखिल नहीं किया है उनके लिए अच्छी खबर है.

  • बिहार और झारखंड में सबसे ज्यादा टैक्स जमा करने वाले करदाता बने महेंद्र सिंह धोनी

    बिहार और झारखंड में सबसे ज्यादा टैक्स जमा करने वाले करदाता बने महेंद्र सिंह धोनी

    भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी बिहार और झारखंड में सबसे ज्यादा इनकम टैक्स देने वाले करदाता बन गए हैं. धोनी ने साल 2017-18 में 12.17 करोड़ रुपए का रिटर्न फाइल किया है. बता दें कि एमएस धोनी ने साल 2016-17 में 10.93 करोड़ का रिटर्न भरा था. आयकर विभाग के अधिकारी वी. महालिंगम के बताया है कि महेंद्र सिंह धोनी ने मौजूदा वित्तीय वर्ष में अब तक एडवांस टैक्स के रूप में पहले ही तीन करोड़ रुपए जमा कराए हैं.

  • 31 जुलाई बाद आईटीआर दाखिल करने पर 5000 रुपये जुर्माना

    31 जुलाई बाद आईटीआर दाखिल करने पर 5000 रुपये जुर्माना

    अगर आपने अबतक आयकर रिटर्न दाखिल नहीं किया है तो अब और देर मत कीजिए, क्योंकि शुल्क मुक्त आयकर दाखिल करने की आखिरी तारीख 31 जुलाई, 2018 है. इसके बाद आयकर दाखिल करने वालों को 5,000 रुपये जुर्माना भरना पड़ेगा.

  • सैलरी लेने वालों के लिए खबर, गलत रिटर्न भरा तो इनकम टैक्स विभाग उठाएगा ये बड़ा कदम

    सैलरी लेने वालों के लिए खबर, गलत रिटर्न भरा तो इनकम टैक्स विभाग उठाएगा ये बड़ा कदम

    इनकम टैक्स भरने का समय है. समय रहते आयकर रिटर्न (ITR) दाखिल करने वालों को फायदा होगा. वहीं, कई बार देखा गया है कि कुछ लोग आयकर रिटर्न फाइल करते हुए गलत जानकारी देते हैं. अकसर लोग टैक्स बचाने के चक्कर में ऐसा करते हैं. ऐसे रिटर्न भरने वालों को आयकर विभाग ने हाल ही में चेताया है. 

  • खुद भरना चाहते हैं अपना ITR, ये है आसान तरीका

    खुद भरना चाहते हैं अपना ITR, ये है आसान तरीका

    इनकम टैक्स भरने की आखिरी तारीख में ज्यादा दिन नहीं बचे हैं. 31 जुलाई इनकम टैक्स (आयकर रिटर्न ITR return) फाइल करने की अंतिम तारीख है. अकसर यह होता है कि करदाता आखिरी पलों में ही टैक्स रिटर्न फाइल करते हैं और उस समय जल्दबाजी में गलती होने की संभावना और परेशानी होना लाजमी सा हो जाता है. अच्छा हो यदि इनकम टैक्स की ई-फाइलिंग समय रहते कर ली जाए. ऑनलाइन रिटर्न फाइल करने का तरीका आसान है. आइए जानें यह तरीका .

  • आईटीआर (ITR) ऑनलाइन भरने का आसान है तरीका

    आईटीआर (ITR) ऑनलाइन भरने का आसान है तरीका

    एक साल में किए जाने वाले सभी महत्वपूर्ण कार्यों में इनकम टैक्स रिटर्न फाइलिंग भी शामिल होता है. इनकम टैक्स रिटर्न (Income Tax Return) फाइल करना कई बार काफी जटिल लगता है.

  • रिटर्न भरने वालों पर सख्ती के बाद अपने कर्मचारियों को आयकर विभाग ने दी यह सलाह

    रिटर्न भरने वालों पर सख्ती के बाद अपने कर्मचारियों को आयकर विभाग ने दी यह सलाह

    आयकर अधिकारियों के मनमानी करने की शिकायतें बढ़ने से चिंतित आयकर विभाग ने उनके लिए नए दिशानिर्देश जारी कर उनसे करदाताओं के साथ विनम्रता से पेश आने के लिए कहा है. करदाता सेवा निदेशालय ( टीपीएस ) ने 16 अप्रैल को यह दिशानिर्देश जारी किए. टीपीएस निदेशालय को कुछ साल पहले करदाता और कर अधिकारियों के बीच बातचीत को आसान बनाने के साथ करदाताओं की शिकायतों के निवारण के लिए बनाया गया था.