NDTV Khabar

Indian market


'Indian market' - 90 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • Budget 2019: गांव, गरीब और किसान को क्या मिला? इंडस्‍ट्रीज, रेलवे को सरकार ने क्‍या दिया?

    Budget 2019: गांव, गरीब और किसान को क्या मिला? इंडस्‍ट्रीज, रेलवे को सरकार ने क्‍या दिया?

    उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) ने अपने पहले कार्यकाल में ‘न्यू इंडिया’ के लिए काम शुरू कर दिया था. अब इन कार्यों की रफ्तार बढ़ाई जाएगी और आगे चलकर लालफीताशाही को और कम किया जाएगा. उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने पहले कार्यकाल में काम को पूरा कर के दिखाया. आम चुनाव में मतदाताओं ने काम करने वाली सरकार के पक्ष में मत दिया. उन्होंने कहा कि हमने अंतिम छोर तक कार्यक्रमों को पहुंचाया. अब कार्यक्रमों की रफ्तार तेज की जाएगी और लालफीताशाही को कम किया जाएगा. बजट में देश के तीन करोड़ खुदरा कारोबारियों और दुकानदारों को पेंशन सुविधा के तहत लाने की भी घोषणा की गयी है.

  • पेट्रोल और डीजल के दाम लगातार 5वें दिन बढ़े, जानें अपने शहर का भाव

    पेट्रोल और डीजल के दाम लगातार 5वें दिन बढ़े, जानें अपने शहर का भाव

    तेल विपणन कंपनियों ने फिर पेट्रोल का दाम दिल्ली में सात पैसे, कोलकाता में चार पैसे जबकि मुंबई और चेन्नई में पांच पैसे प्रति लीटर बढ़ा दिया है.

  • सोमवार को पेट्रोल-डीजल के दाम स्थिर: दिल्ली में पेट्रोल 69.93 और डीजल 63.84 रुपये प्रति लीटर

    सोमवार को पेट्रोल-डीजल के दाम स्थिर:  दिल्ली में पेट्रोल 69.93 और डीजल 63.84 रुपये प्रति लीटर

    तेल विपणन कंपनियों ने सोमवार को पेट्रोल और डीजल के दाम में कोई बदलाव नहीं किया.

  • डॉलर के मुकाबले कमजोरी के साथ खुला रुपया, शेयर बाजार के शुरुआती कारोबार में गिरावट

    डॉलर के मुकाबले कमजोरी के साथ खुला रुपया, शेयर बाजार के शुरुआती कारोबार में गिरावट

    अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम में फिर तेजी का रुख और दुनिया की प्रमुख मुद्राओं के मुकाबले डॉलर में बीते सत्र में रही मजबूती से रुपये पर दबाव देखा जा रहा है. मुद्रा बाजार जानकार यह भी बताते हैं कि इस सप्ताह जारी हुए कमजोर आर्थिक आंकड़ों के चलते भी रुपये में कमजोरी देखी जा रही है.

  • डॉलर के मुकाबले रुपये में शुक्रवार को शुरुआती कारोबार में हल्की कमजोरी

    डॉलर के मुकाबले रुपये में शुक्रवार को शुरुआती कारोबार में हल्की कमजोरी

    डॉलर के मुकाबले रुपये में शुक्रवार को शुरुआती कारोबार में हल्की कमजोरी रही. पिछले सत्र के मुकाबले करीब छह पैसे की कमजोरी के साथ देसी मुद्रा का भाव 69.41 रुपये प्रति डॉलर बना हुआ था जबकि इससे पहले रुपया 69.39 पर खुला था.

  • डॉलर के मुकाबले 23 पैसे मजबूत हुआ रुपया

    डॉलर के मुकाबले 23 पैसे मजबूत हुआ रुपया

    देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में सोमवार को लोकसभा चुनाव के चौथे चरण में मतदान होने के कारण वित्तीय बाजार बंद रहा. पिछले सप्ताह के आखिरी सत्र में शुक्रवार को रुपया 24 पैसे की रिकवरी के बाद 70.01 पर बंद हुआ था. पिछले सप्ताह की शुरुआत में अंतर्राष्ट्रीय बाजार में तेल के दाम में आई तेजी से रुपये पर दबाव बढ़ गया था जो कि सप्ताह के आखिर में कच्चे तेल में आई नरमी के बाद कम हुआ.

  • घरेलू विमान यात्रियों की वृद्धि 53 महीने में सबसे कम फरवरी में 5.6% रही

    घरेलू विमान यात्रियों की वृद्धि 53 महीने में सबसे कम फरवरी में 5.6% रही

    विमानन क्षेत्र के नियामक नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (डीजीसीए) के बुधवार को जारी आंकड़ों के अनुसार फरवरी में विमानन कंपनियों ने कुल 1.13 करोड़ यात्रियों को हवाई यात्रा कराई जबकि एक साल पहले इसी माह में यह संख्या एक करोड 07 लाख 40 हजार रही. विमान यात्रियों के मामले में इससे पहले इतनी कम वृद्धि जुलाई 2014 में दर्ज की गई थी. उस समय विमान यात्रियों की संख्या में 7.19 प्रतिशत वृद्धि दर्ज की गई थी.

  • शेयर बाजार में तेजी बरकरार- सेंसेक्स 38 हजार और निफ्टी 11460 के पार हुआ बंद

    शेयर बाजार में तेजी बरकरार- सेंसेक्स 38 हजार और निफ्टी 11460 के पार हुआ बंद

    देश के शेयर बाजारों में सोमवार को लगातार छठे कारोबारी सत्र में तेजी का सिलसिला जारी रहा. सकारात्मक वैश्विक संकेतों के बीच विदेशी कोषों का निवेश बढ़ने तथा व्यापार घाटा कम होने से बाजार में तेजी रही.

  • डॉलर के मुकाबले रुपया मजबूत होने से पिछले सप्ताह भी सोने की कीमतों में गिरावट कायम

    डॉलर के मुकाबले रुपया मजबूत होने से पिछले सप्ताह भी सोने की कीमतों में गिरावट कायम

    स्थानीय आभूषण कारोबारियों की कमजोर मांग के बीच विदेशों में कमजोरी के रुख के कारण दिल्ली सर्राफा बाजार में बीते सप्ताह भी गिरावट जारी रही.

  • डॉलर के मुकाबले रुपये में आई मजबूती

    डॉलर के मुकाबले रुपये में आई मजबूती

    मुद्रा बाजार विश्लेषक बताते हैं कि निर्यातकों की तरफ से विदेशी बैंकों द्वारा डॉलर में बिकवाली आने से रुपये को पिछले सत्र में मजबूती मिली. वहीं, भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा सरकार को अंतरिम लाभांश सुपुर्द करनके के फैसले से भी रुपये को मजबूती मिली है.

  • रुपये ने डॉलर के खिलाफ लगाई पांच वर्षो की सबसे ऊंची कूद, 112 पैसे सुधार

    रुपये ने डॉलर के खिलाफ लगाई पांच वर्षो की सबसे ऊंची कूद, 112 पैसे सुधार

    रुपये की विनिमय दर में पांच साल से भी अधिक समय में यह एक दिन का सबसे बड़ा सुधार है. निर्यातकों और बैंकों द्वारा डॉलर की सतत बिकवाली के साथ साथ अमेरिकी फेडरल रिजर्व की नीतिगत बैठक से पहले वैश्विक स्तर पर प्रमुख मुद्राओं की तुलना में डॉलर के कमजोर होने से रुपये को बल मिला.

  • कम किराया विमानन कंपनियों के लिये महंगा सौदा: आईएटीए प्रमुख

    कम किराया विमानन कंपनियों के लिये महंगा सौदा: आईएटीए प्रमुख

    अंतरराष्ट्रीय हवाई यातायात संघ (आईएटीए) के प्रमुख एलेक्जेंडर डी. जुनियाक ने कहा हवाई टिकटों की कीमतों में प्रतिस्पर्धा मांग को बढ़ाने में मददगार है लेकिन इस तरह के मूल्य निर्धारण नीति से विमानन कंपनियों को भारी नुकसान होता है, जो कि एक समस्या है.

  • खुदरा मुद्रास्फीति बढ़कर 3.77 प्रतिशत हुई, औद्योगिक उत्पादन तीन माह के निचले स्तर पर

    खुदरा मुद्रास्फीति बढ़कर 3.77 प्रतिशत हुई, औद्योगिक उत्पादन तीन माह के निचले स्तर पर

    दूसरी तरफ ईंधन एवं खाद्य कीमतें बढ़ने से सितंबर महीने की खुदरा मुद्रास्फीति बढ़कर 3.77 प्रतिशत पर पहुंच गयी. इससे निकट भविष्य में रिजर्व बैंक द्वारा नीतिगत दरें बढ़ाने की संभावनाएं बढ़ गई हैं.

  • आर्थिक हालात से घिरी सरकार

    आर्थिक हालात से घिरी सरकार

    पिछले कुछ दिनों से रुपया लगातार लुढ़कता जा रहा है जो रुकने का नाम ही नहीं ले रहा है. दूसरी तरफ शेयर बाजार है जहां सेंसेक्स भी नीचे ही गिरता जा रहा है और तीसरी चीज है तेल की कीमतें. हालांकि केन्द्र और राज्य सरकारों ने जनता को राहत देने की कोशिश की है मगर वो भी नाकाफी है.

  • तो क्या सिर्फ पेट भरने के लिए खाते हैं भारतीय...

    तो क्या सिर्फ पेट भरने के लिए खाते हैं भारतीय...

    एसआरएल के डाटा के इस विश्लेषण ने स्पष्ट कर दिया है कि विटामिन ए, सी, बी 1, बी 6, बी 12 और फोलेट में जिस प्रकार की कमी है

  • एफपीआई ने अगस्त में पूंजी बाजारों में डाले 7,577 करोड़ रुपये

    एफपीआई ने अगस्त में पूंजी बाजारों में डाले 7,577 करोड़ रुपये

    विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) ने भारतीय पूंजी बाजारों में अभी तक इस महीने 7,500 करोड़ रुपये से अधिक डाले हैं. कंपनियों के बेहतर तिमाही नतीजों तथा कच्चे तेल की कीमतों में सुधार की वजह से एफपीआई का निवेश बढ़ा है. इससे पहले पिछले महीने एफपीआई ने पूंजी बाजारों (शेयर और ऋण) में 2,300 करोड़ रुपये से अधिक का निवेश किया था. वहीं इससे पहले अप्रैल-जून के दौरान उन्होंने 61,000 करोड़ रुपये की निकासी की थी. 

  • एफपीआई निकासी 10 साल के उच्च स्तर पर

    एफपीआई निकासी 10 साल के उच्च स्तर पर

    विदेशी निवेशकों द्वारा भारतीय पूंजी बाजारों से धन की निकासी का क्रम जारी है. इस साल की पहली छमाही में पूंजी बाजारों से विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) की निकासी करीब 48,000 करोड़ रुपये पर पहुंच गई है. यह पिछले 10 साल का उच्च स्तर है. 

  • भारत का विदेशी मुद्रा भंडार 2.25 अरब डॉलर घटा

    भारत का विदेशी मुद्रा भंडार 2.25 अरब डॉलर घटा

    भारत का विदेशी मुद्रा भंडार 22 जून को समाप्त हुए सप्ताह को उससे पिछले सप्ताह के मुकाबले 2.25 अरब डॉलर घट गया। यह जानकारी भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) की ओर से शुक्रवार को जारी आंकड़ों से मिली। आरबीआई द्वारा जारी साप्ताहिक आंकड़ों के अनुसार, 15 जून को समाप्त हुए सप्ताह को देश का विदेशी मुद्रा भंडार 410.07 अरब डॉलर था जोकि बीत हफ्ते 22 जून को घटकर 407.81 अरब डॉलर रह गया। 

Advertisement