NDTV Khabar

Javed akhtar best sher


'Javed akhtar best sher' - 1 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • Javed Akhtar: 'इन चरागों में तेल ही कम था, क्यूं गिला फिर हमें हवा से रहे', जावेद अख्तर के 10 बेहतरीन शेर

    Javed Akhtar: 'इन चरागों में तेल ही कम था, क्यूं गिला फिर हमें हवा से रहे', जावेद अख्तर के 10 बेहतरीन शेर

    भारतीय सिनेमा में सबसे बड़े पटकथा लेखकों में शुमार जावेद अख्तर एक शानदार कवि भी हैं. आज उनका जन्मदिन है. जावेद साहब की कविताएं हर उम्र के लोगों को सीधे खुद से जोड़ती हैं. हालांकि उन्हें शेर-शायरी की यह इनायत विरासत में मिली थी. उनकी कई पीढ़ियां भाषा की सेवा करती चली आ रही हैं. पिता जान निसार अख्तर तो मशहूर कवि थे ही. साथ ही दादा मुज्तर खैरबादी भी जाने माने शायर हुआ करते थे.