NDTV Khabar

Journalist Arrested


'Journalist arrested' - 29 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • केरल के पत्रकार सिद्दीक कप्पन की रिहाई की याचिका SC में फिर टली, जनवरी के तीसरे हफ्ते में सुनवाई

    केरल के पत्रकार सिद्दीक कप्पन की रिहाई की याचिका SC में फिर टली, जनवरी के तीसरे हफ्ते में सुनवाई

    सिद्दीक कप्पन को रिहा करने की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई को जनवरी के तीसरे हफ्ते के लिए टाल दी है. याचिकाकर्ता के वकील कपिल सिब्बल ने यूपी सरकार के हलफनामे का जवाब देने के लिए समय मांगा था.

  • सिद्दीक कप्पन की रिहाई का मामला : SC को एसोसिएशन की ओर से दाखिल याचिका पर ऐतराज, फिर टली सुनवाई

    सिद्दीक कप्पन की रिहाई का मामला : SC को एसोसिएशन की ओर से दाखिल याचिका पर ऐतराज, फिर टली सुनवाई

    बुधवार को सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने याचिकाकर्ता के वकील सिब्बल से पूछा कि वो इस मामले में हाईकोर्ट क्यों नहीं जाते? प्रधान न्यायाधीश एस ए बोबडे ने सिब्बल से कहा, 'क्या आप हमें कोई मिसाल दिखा सकते हैं, जहां एक एसोसिएशन ने राहत की मांग करते हुए अदालत का रुख किया था.'

  • सुप्रीम कोर्ट से केरल के पत्रकार की यूपी में गिरफ्तारी की जांच कराने की मांग

    सुप्रीम कोर्ट से केरल के पत्रकार की यूपी में गिरफ्तारी की जांच कराने की मांग

    केरल यूनियन ऑफ वर्किंग जर्नलिस्ट्स (Kerala Union of Working journalists) ने उत्तर प्रदेश पुलिस (UP Police) द्वारा पत्रकार सिद्दीक कप्पन (Siddique kappan) की कथित अवैध गिरफ्तारी के मामले में सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) के एक सेवानिवृत्त जज से स्वतंत्र जांच कराने की मांग की है. सुप्रीम कोर्ट में दाखिल जवाबी हलफनामे में यूपी सरकार (UP Government) के दावों पर सवाल उठाए गए हैं. यूनियन ने कहा है कि कप्पन की रिहाई की मांग करने वाली याचिका के जवाब में यूपी सरकार द्वारा दी गई दलीलें झूठी और तुच्छ हैं. हलफनामे में कहा गया है कि 56 दिनों तक सिद्दीक को हिरासत में रखना गैरकानूनी है. साथ ही पुलिस द्वारा उसे हिरासत में यातना देने का भी आरोप लगाया गया है.

  • हाथरस केस: अरेस्‍ट मामले में सुप्रीम कोर्ट ने पत्रकार से जमानत के लिए हाईकोर्ट जाने को कहा

    हाथरस केस: अरेस्‍ट मामले में सुप्रीम कोर्ट ने पत्रकार से जमानत के लिए हाईकोर्ट जाने को कहा

    केरल वर्किेंग जर्नलिस्‍ट एसोसिएशन की याचिका में हाथरस की घटना की रिपोर्टिंग के संबंध में जा रहे पत्रकार सिद्दीक कप्पन को यूपी पुलिस की हिरासत से कोर्ट में पेश करने की मांग की गई है. सुप्रीम कोर्ट में हैबियस कॉर्पस याचिका दायर की गई है, जिसमें इस गिरफ्तारी को अवैध बताया गया है. .

  • हाथरस जाते हुए गिरफ्तार किए गए पत्रकार की रिहाई के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका

    हाथरस जाते हुए गिरफ्तार किए गए पत्रकार की रिहाई के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका

    हाथरस में हुए गैंगरेप (Hathras Gang Rape) के मामले में रिपोर्टिंग के लिए जा रहे पत्रकार को यूपी पुलिस (UP Police) ने गिरफ्तार कर लिया है. गिरफ्तार किए गए पत्रकार (Journalist) की रिहाई के लिए केरल वर्किंग जर्नलिस्ट एसोसिएशन ने सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में याचिका दाखिल की है. याचिका में हाथरस की घटना की रिपोर्टिंग के संबंध में जा रहे पत्रकार सिद्दीक कप्पन को यूपी पुलिस की हिरासत से कोर्ट में पेश करने की मांग की गई है. सुप्रीम कोर्ट में हैबियस कॉर्पस याचिका दायर की गई है. याचिका में इस गिरफ्तारी को अवैध बताया गया है.

  • दिल्ली पुलिस ने ऑफिसियल सीक्रेट एक्ट में पत्रकार को गिरफ्तार किया

    दिल्ली पुलिस ने ऑफिसियल सीक्रेट एक्ट में पत्रकार को गिरफ्तार किया

    दिल्ली पुलिस (Delhi Police) की स्पेशल सेल ने एक स्वतंत्र पत्रकार राजीव शर्मा (Rajeev Sharma) को उनके पीतमपुरा के घर से ऑफिसियल सीक्रेट एक्ट (Official Secret Act) के तहत गिरफ्तार किया है. पुलिस का दावा है कि राजीव के पास से डिफेंस से जुड़े कुछ बेहद सीक्रेट दस्तावेज बरामद हुए हैं.

  • तेलंगाना : कोरोना की वजह से गई पत्रकार की जान, पिछले एक हफ्ते में 13 जर्नलिस्ट मिले COVID-19 पॉज़िटिव

    तेलंगाना : कोरोना की वजह से गई पत्रकार की जान, पिछले एक हफ्ते में 13 जर्नलिस्ट मिले COVID-19 पॉज़िटिव

    गांधी अस्पताल के अधीक्षक डॉक्टर एम राजा राव ने रविवार को बताया, "वह आईसीयू में भर्ती थे और डॉक्टरों की टीम उन पर बराबर नजर रख रही थी. मैं खुद भी नियमित उन्हें देखने जाता था. लेकिन रविवार सुबह उन्हें दिल का दौरा (Cardiac Arrest) पड़ा और सुबह 9.30 बजे के करीब उन्हें मृत घोषित कर दिया गया है." 

  • पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या के मामले में आरोपी ऋषिकेश झारखंड में गिरफ्तार

    पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या के मामले में आरोपी ऋषिकेश झारखंड में गिरफ्तार

    बेंगलुरु के चर्चित पत्रकार गौरी लंकेश व तीन सामाजिक कार्यकर्ताओं की हत्या के आरोपी राजेश कुमार उर्फ ऋषिकेश देवदीकर को आज झारखंड के धनबाद जिले के कतरास में राजगढ़िया मार्केट में स्थित एक दुकान से गिरफ्तार कर लिया गया. बेंगलुरु एसआईटी की टीम मोबाइल लोकेशन को ट्रेस करते हुए यहां पहुंची. उक्त स्थान पर उसे पकड़ लिया गया. आरोपी भगत मोहल्ले में एक साल से नाम बदलकर रह रहा था. वह जिस मकान में रहता था वह मकान सनातन संस्था के प्रदीप खेमका का है. वह उन्हीं के यहां केयर टेकर का काम करता था. पुलिस ने आरोपी ऋषिकेश और खेमका से थाने में घंटों पूछताछ की. एसआईटी की टीम ने आरोपी का मेडिकल टेस्ट करवाया और धनबाद कोर्ट में पेश किया. ऋषिकेश को यह टीम बेंगलुरु ले जाएगी.

  • यूपी में अब स्कूल में बच्चों की झाड़ू लगाने की फोटो खींचने पर पत्रकार को जेल, जानें पूरा मामला

    यूपी में अब स्कूल में बच्चों की झाड़ू लगाने की फोटो खींचने पर पत्रकार को जेल, जानें पूरा मामला

    उत्तर प्रदेश में आज़मगढ़ के जिलाधिकारी ने एक स्कूल में बच्चों द्वारा कथित रूप से झाड़ू लगाने की फोटो खींचने पर एक पत्रकार को गिरफ्तार करने के मामले की जांच के सोमवार को आदेश दिए. उनके साथी पत्रकार सुधीर सिंह ने आरोप लगाया है कि पत्रकार को सरकारी काम में बाधा डालने और रंगदारी मांगने के झूठे आरोपों में गिरफ्तार किया गया है.

  • पत्रकार प्रशांत कनौजिया की पत्नी का दावा, सादे कपड़ों में आए 2 लोग उन्हें ले गए

    पत्रकार प्रशांत कनौजिया की पत्नी का दावा, सादे कपड़ों में आए 2 लोग उन्हें ले गए

    यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के खिलाफ कथित तौर पर आपत्तिजनक टिप्पणी को लेकर गिरफ्तार किये गए पत्रकार प्रशांत कनौजिया (Prashant Kanojia) की पत्नी जगीशा अरोड़ा ने एनडीटीवी को बताया, 'शनिवार की सुबह एक दोस्त के फोन से नींद खुली. उसने बताया कि कुछ लोग प्रशांत (Prashant Kanojia) को उनके नाम से ढूंढ रहे हैं. इसके बाद दोपहर में दो लोग सादे कपड़ों में पहुंचे और प्रशांत को पूछताछ के लिए ले गए'. जगीशा ने कहा कि, 'सबकुछ 5 मिनट के अंदर हुआ...मुझे भी कुछ समझ में नहीं आया. प्रशांत सीढ़ियों से नीचे गए और वापस लौटे तो कहा कि उन्हें चेंज करके जाना होगा. दो लोग लेने आए हैं'.

  • सीएम योगी पर 'विवादित' ट्वीट और टीवी डिबेट के मामले में पत्रकार और न्यूज चैनल के संपादक गिरफ्तार, 8 बड़ी बातें

    सीएम योगी पर 'विवादित' ट्वीट और टीवी डिबेट के मामले में पत्रकार और न्यूज चैनल के संपादक गिरफ्तार, 8 बड़ी बातें

    उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर विवादित ट्वीट करने के आरोप में यूपी ने एक पत्रकार को गिरफ्तार किया है. गिरफ्तार पत्रकार का नाम प्रशांत कनौजिया है. उत्तर प्रदेश पुलिस ने उसे दिल्ली से गिरफ्तार किया. पुलिस ने प्रशांत पर सोशल मीडिया पर अभद्र टिप्पणी करने तथा अफवाह फैलाने के आरोप लगाए और आईपीसी 500, 505 और आईटीएक्ट की धारा 67 के तहत मामला दर्ज किया. पुलिस का दावा है कि आरोपी ने अपना जुर्म कुबूल कर लिया है. दरअसल एक महिला ने योगी आदित्यनाथ को लेकर एक विवादित दावा किया था जिसका वीडियो प्रशांत ने ट्वीट कर टिप्पणी की थी. हालांकि कुछ लोग इस पर भी सवाल उठा रहे हैं कि इतनी सख्त कार्रवाई की ज़रूरत नहीं थी.  इसके बाद 6 जून को नोएडा के एक न्यूज़ चैनल ने मुख्यमंत्री योगी पर आरोप लगाने वाली महिला और उसके आरोपों पर चर्चा की. इस चर्चा के बाद आरोप लगाने वाली महिला ने न्यूज़ चैनल से बाहर आकर बयान भी दिया. जिसके आधार पर प्रशांत कनौजिया नाम के पत्रकार ने उसे ट्वीट कर दिया और उसे गिरफ़्तार कर लिया गया. पुलिस का कहना है कि ये चर्चा बिना तथ्यों के जांच के की गई. इस मामले में नोएडा पुलिस ने न्यूज़ चैनल के संपादक अनुज शुक्ला और चैनल हेड इशिका सिंह को गिरफ़्तार कर लिया है. पुलिस का ये भी दावा है कि ये चैनल बिना लाइसेंस के चल रहा था.

  • झारखंड : पत्रकार की हत्या का मुख्य आरोपी नक्सली कमांडर गिरफ्तार

    झारखंड : पत्रकार की हत्या का मुख्य आरोपी नक्सली कमांडर गिरफ्तार

    झारखंड में पिछले महीने एक हिंदी दैनिक के पत्रकार की हत्या मामले के मुख्य आरोपी को पलामू जिले से गिरफ्तार किया गया.

  • गुजरात में इस वजह से मुख्यमंत्री कार्यालय के बाहर पत्रकारों को हिरासत में लिया गया

    गुजरात में इस वजह से मुख्यमंत्री कार्यालय के बाहर पत्रकारों को हिरासत में लिया गया

    छोटे और मध्यम आकार के अखबारों के ये पत्रकार राज्य सरकार की विज्ञापन नीति में किए गए बदलावों का मुद्दा उठाने के लिए मुख्यमंत्री से मिलने गए थे.

  • SC-ST एक्ट में किसने और क्यों फंसाया राजस्थान के पत्रकार को, नीतीश सरकार ने दिए जांच के आदेश

    SC-ST एक्ट में किसने और क्यों फंसाया राजस्थान के पत्रकार को, नीतीश सरकार ने दिए जांच के आदेश

    बिहार के मुख्यमंत्री  नीतीश कुमार ने राजस्थान के बाड़मेर से एक निजी चैनल के पत्रकार दुर्ग सिंह राजपुरोहित के गिरफ़्तारी की जांच के आदेश दिए हैं.

  • बाड़मेर के पत्रकार की गिरफ्तारी पर राजस्थान से बिहार तक के भाजपा नेता क्यों हैं परेशान?

    बाड़मेर के पत्रकार की गिरफ्तारी पर राजस्थान से बिहार तक के भाजपा नेता क्यों हैं परेशान?

    राजस्थान के बाड़मेर से एक निजी चैनल के पत्रकार दुर्ग सिंह राजपुरोहित की रविवार को गिरफ्तारी हुई. वारंट के आधार पर मंगलवार को पेशी के दौरान कोर्ट ने उन्हें न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया.

  • जम्मू कश्मीर : पत्रकार शुजात बुखारी हत्या मामले में पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी

    जम्मू कश्मीर : पत्रकार शुजात बुखारी हत्या मामले में पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी

    कश्मीर के महानिरीक्षक (आईजी) स्वयं प्रकाश पाणि ने आज यह जानकारी दी. पाणि ने जल्दबाजी में बुलाये गये संवाददाता सम्मेलन में कहा कि सदिंग्ध की पहचान जुबैर कादरी के रूप में हुई है.

  • बेंगलुरु: निवेशकों को चूना लगाने के मामले में पूर्व पत्रकार सहित 5 गिरफ्तार

    बेंगलुरु:  निवेशकों को चूना लगाने के मामले में पूर्व पत्रकार सहित 5 गिरफ्तार

    डीसीपी दक्षिण डॉक्टर एस डी शरनप्पा ने‘बताया, ‘‘ पिछले सप्ताह हमने उन्हें हिरासत में लिया था. हम उनसे पूछताछ कर रहे हैं.’’ 

  • चिटफंड के पैसे को लेकर नागपुर में हुई थी पत्रकार की मां, बच्ची की हत्या, आरोपी गिरफ्तार

    चिटफंड के पैसे को लेकर नागपुर में हुई थी पत्रकार की मां, बच्ची की हत्या, आरोपी गिरफ्तार

    नागपुर पुलिस ने दावा किया कि उसने एक पत्रकार की मां और उसकी मासूम बेटी की हत्या के 12 घंटे बाद इस वारदात की गुत्थी सुलझा ली है.

Advertisement

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com