NDTV Khabar

Jyotiraditya scindia


'Jyotiraditya scindia' - 282 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • MP: उपचुनाव के प्रचार अभियान में जुटी BJP, ज्योतिरादित्य सिंधिया के सामने उड़ी सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां

    MP: उपचुनाव के प्रचार अभियान में जुटी BJP, ज्योतिरादित्य सिंधिया के सामने उड़ी सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां

    कार्यक्रम के बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह और सिंधिया जौरा पहुंचे. वहां भी करीब 34 करोड़ रुपये के कार्यों का भूमिपूजन और 8 करोड़ के कार्यों का लोकार्पण किया गया. यहां कांग्रेस ने काले झंडे दिखाने की कोशिश की है. खुद भी भारी भीड़ में नेता कोरोना प्रोटोकॉल तोड़ते नजर आए. इस दौरान, सिंधिया की गाड़ी को लेकर भी विवाद हुआ क्योंकि वो  MP 03 सीरीज की गाड़ी में बैठे थे जिसका इस्तेमाल राज्य में पुलिस की गाड़ियों में होता है.

  • ज्योतिरादित्य सिंधिया का कमलनाथ पर निशाना, 'MP पर 8000 करोड़ कर्ज छोड़ गए पूर्व CM'

    ज्योतिरादित्य सिंधिया का कमलनाथ पर निशाना, 'MP पर 8000 करोड़ कर्ज छोड़ गए पूर्व CM'

    बीजेपी नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) ने शनिवार को मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (Kamal Nath) पर आरोप लगाते हुए कहा कि वह शिवराज सिंह चौहान सरकार पर 8000 करोड़ का कर्ज छोड़ गए हैं. उन्होंने कहा कि कमलनाथ सरकार ने जनता के साथ धोखा किया, क्योंकि पूर्व सरकार 15 महीने में भी किसानों का कर्ज माफ नहीं कर पाई.

  • कमलनाथ और दिग्विजय सिंह मध्यप्रदेश के सबसे बड़े गद्दार : ज्योतिरादित्य सिंधिया

    कमलनाथ और दिग्विजय सिंह मध्यप्रदेश के सबसे बड़े गद्दार : ज्योतिरादित्य सिंधिया

    मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) में विधानसभा उपचुनाव (Assembly By Election) के लिए जोरआजमाइश तेज होने लगी है और इसके साथ बीजेपी (BJP) और कांग्रेस (Congress) का एक-दूसरे पर लांछन लगाने का सिलसिला भी तेज हो गया है. ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) के साथ कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में आए विधायक चुनाव मैदान में हैं. सत्तासीन बीजेपी जहां उनको जिताने के लिए जोर लगा रही है, वहीं कांग्रेस उन्हें इस चुनाव में पटखनी देकर सबक सिखाने की फिराक में है. चुनावी भाषणों और बयानों में आरोप-प्रत्यारोप का सिलसिला जारी है. कांग्रेस की ओर से ज्योतिरादित्य सिंधिया को गद्दार कहा गया. उन्होंने इसका जवाब देते हुए इतिहास के पन्ने खोल डाले हैं. उन्होंने पूर्व सीएम कमलनाथ (Kamalanath) और दिग्विजय सिंह (Digvijay Singh) को सबसे बड़ा गद्दार बताया है.

  • ज्योतिरादित्य सिंध‍िया ने कमलनाथ पर साधा न‍िशाना, कहा - उन्होंने तो एक पैसा भी...

    ज्योतिरादित्य सिंध‍िया ने कमलनाथ पर साधा न‍िशाना, कहा - उन्होंने तो एक पैसा भी...

    मध्यप्रदेश में 27 विधानसभा सीटों के लिए होने वाले उपचुनाव को लेकर बीजेपी और कांग्रेस की तरफ से तैयारी तेज हो गयी है. कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में शामिल होने वाले ज्योतिरादित्य सिंध‍िया (Jyotiraditya Scindia) लगातार कांग्रेस पार्टी पर हमलावर रहे हैं.

  • मध्य प्रदेश उपचुनाव : आंकड़ों में समझें, कमलनाथ कैसे दे सकते हैं शिवराज सिंह चौहान को पटखनी

    मध्य प्रदेश उपचुनाव : आंकड़ों में समझें, कमलनाथ कैसे दे सकते हैं शिवराज सिंह चौहान को पटखनी

    भारतीय जनता पार्टी (BJP) और कांग्रेस (Congress) के लिए ये उपचुनाव बेहद अहम हैं, क्योंकि दोनों को ही पूरी ताकत झोंक देनी होगी, ताकि सरकार को बचा सकें, या सूबे में एक बार फिर तख्तापलट मुमकिन हो सके.

  • मध्य प्रदेश में 27 विधानसभा सीटों पर होने वाले उपचुनाव को लेकर ज्योतिरादित्य सिंधिया का बड़ा बयान

    मध्य प्रदेश में 27 विधानसभा सीटों पर होने वाले उपचुनाव को लेकर ज्योतिरादित्य सिंधिया का बड़ा बयान

    राज्यसभा सदस्य सिंधिया ने अपना गढ़ माने जाने वाले ग्वालियर-चंबल क्षेत्र में भाजपा के तीन दिवसीय सदस्यता अभियान के अंतिम दिन ग्वालियर में कहा, ‘‘आने वाला उपचुनाव न्याय और सम्मान का है और जो व्यक्ति जनता के बीच नहीं रहता, उसे वोट मांगने का कोई हक नहीं है. आने वाला चुनाव मध्य प्रदेश का भविष्य तय करेगा.’’

  • ज्योतिरादित्य सिंधिया की ग्वालियर वापसी पर बीजेपी और कांग्रेस आमने-सामने, सोशल डिस्टेंसिंग की उड़ी धज्जिया

    ज्योतिरादित्य सिंधिया की ग्वालियर वापसी पर बीजेपी और कांग्रेस आमने-सामने, सोशल डिस्टेंसिंग की उड़ी धज्जिया

    पांच महीने पहले कांग्रेस छोड़ने के बाद ग्वालियर में शनिवार को पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने हुंकार भरी. ग्वालियर-चंबल क्षेत्र में बीजेपी के लिये तीन दिवसीय सदस्यता अभियान शुरू करने के लिए सिंधिया, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान समेत पार्टी के आला नेता शनिवार को ग्वालियर में थे, हालांकि ये मौका विपक्ष में बैठी कांग्रेस के लिए भी एक शक्ति प्रदर्शन साबित हुआ.

  • ज्योतिरादित्य सिंधिया का BJP में जाने का फैसला सही या गलत, मायावती पर निर्भर?

    ज्योतिरादित्य सिंधिया का BJP में जाने का फैसला सही या गलत, मायावती पर निर्भर?

    मध्य प्रदेश की राजनीति में भले ही कांग्रेस ने सत्ता गंवा दी हो लेकिन पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने अभी हार नहीं मानी है और बीजेपी की सबक सिखाने के लिए उनके पास एक बेहतरीन मौका है. कमलनाथ ने पूरी रणनीति के तहत 'हिंदुत्व' का चोला धारण कर लिया है और उनका लक्ष्य राज्य में 27 सीटों पर होने वाले उप चुनाव में कांग्रेस को कम से कम 10-12 सीटें दिलाना है. इन 27 में से 22 सीटें ऐसी खाली हुई हैं जिनके विधायक कांग्रेस छोड़ ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ बीजेपी में शामिल हुए थे.

  • ज्‍योतिरादित्‍य सिंध‍िया की दो टूक, 'कांग्रेस में का‍बिल नेताओं की कद्र नहीं, सचिन पायलट ने भी...'

    ज्‍योतिरादित्‍य सिंध‍िया की दो टूक, 'कांग्रेस में का‍बिल नेताओं की कद्र नहीं, सचिन पायलट ने भी...'

    पांच महीने पहले भारतीय जनता पार्टी (BJP) में शामिल होने वाले सिंधिया ने यहां संवाददाताओं से कहा, "पायलट मेरे मित्र हैं. उन्होंने जो पीड़ा झेली है, उससे सब लोग वाकिफ हैं. कांग्रेस किस तरह इतने विलंब के बाद अपना घर दुरुस्त करने की कोशिश कर रही है, इस बात से भी सब वाकिफ हैं." उन्होंने कहा, "यह दु:ख की बात है कि कांग्रेस में काबिलियत पर प्रश्न चिन्ह खड़ा किया जाता है. यही स्थिति मेरे पूर्व सहयोगी (पायलट) ने भी झेली है."

  • इंदौर: ज्योतिरादित्य सिंधिया के दौरे से पहले कांग्रेस का प्रदर्शन, पुलिस ने गिरफ्तार किया

    इंदौर: ज्योतिरादित्य सिंधिया के दौरे से पहले कांग्रेस का प्रदर्शन, पुलिस ने गिरफ्तार किया

    कांग्रेस ने स्कूली फीस माफी के साथ ही बस संचालकों को मुआवजे का मुद्दा प्रमुखता से उठाते हुए जमकर नारेबाजी भी की. लेकिन इसी बीच मौके पर पहुंची पुलिस ने जैसे ही कांग्रेस के प्रदर्शन पर सवाल जबाव किये तो कांग्रेस के नेताओं और कार्यकर्ताओं की पुलिस से हुज्जत हो गई. आखिरकार पुलिस ने बड़ी संख्या में एकत्रित कांग्रेसियों को गिरफ्तार कर लिया. प्रदर्शन कर रहे कांग्रेसी नेता चिंटू चौकसे को भी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. 

  • 'राहुल ब्रिगेड' ही बनी कांग्रेस के लिए सिरदर्द? एक नेता ने कहा- कहीं न कहीं गड़बड़ तो है

    'राहुल ब्रिगेड' ही बनी कांग्रेस के लिए सिरदर्द? एक नेता ने कहा- कहीं न कहीं गड़बड़ तो है

    पहले मध्य प्रदेश में ज्योतिरादित्य सिंधिया और अब राजस्थान में सचिन पायलट की बगावत के बाद कांग्रेस में पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी की कार्यशैली और उनके नजदीकी समझे जाने वाले नेताओं पर सबका ध्यान केंद्रित है. राजस्थान के घटनाक्रम के बाद पार्टी में आशंका का माहौल है और लगभग सभी इस सवाल से जूझ रहे हैं कि 'अगला कौन?' कांग्रेस कार्यसमिति के एक सदस्य ने नाम नहीं दिये जाने का आग्रह करते हुए ‘पीटीआई-भाषा’ से कहा, 'जाहिर है हम सोचने पर मजबूर हुए हैं कि जब ऐसे नेता, जिन्हें कम समय में काफी जिम्मेदारी दी गई और जिनकी प्रतिभा का उपयोग पार्टी अपनी भविष्य की रणनीति के लिए करने को लेकर आश्वस्त थी, वे भी अगर संतुष्ट नहीं हैं तो कहीं न कहीं गड़बड़ तो है.'

  • कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने कहा, सिंधिया और पायलट के साथ हुए व्यवहार से पार्टी कार्यकर्ताओं में बहुत निराशा

    कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने कहा, सिंधिया और पायलट के साथ हुए व्यवहार से पार्टी कार्यकर्ताओं में बहुत निराशा

    राजस्थान (Rajasthan) में चल रही सियासी उठापठक के बीच हरियाणा के कांग्रेस (Congress) नेता कुलदीप बिश्नोई (Kuldeep Bishnoi) ने पार्टी के निर्णयों में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे वरिष्ठ नेताओं पर गुरुवार को परोक्ष रूप से निशाना साधते हुए कहा कि ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scidia) एवं सचिन पायलट (Sachin Pilot) के साथ हुए व्यवहार से कायकर्ताओं में बहुत निराशा है. उन्होंने पार्टी आलाकमान से यह आग्रह भी किया कि उन नेताओं को कुछ और जिम्मेदारी देनी चाहिए जो 30-35 वर्षों से कुर्सियों पर जमे हैं और कोई चुनाव नहीं लड़ा.

  • जब महीनों बाद अपने पुराने साथियों के साथ आमने-सामने आ गए ज्योतिरादित्य सिंधिया...

    जब महीनों बाद अपने पुराने साथियों के साथ आमने-सामने आ गए ज्योतिरादित्य सिंधिया...

    बुधवार को राज्यसभा में नए सांसदों का शपथ ग्रहण समारोह था. सिंधिया बीजेपी की ओर से राज्यसभा में सांसद चुने गए हैं. ऐसे में समारोह के दौरान उनका पुराने साथी और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह से सामना हो गया.

  • राहुल गांधी ने अपने दोनों हाथ सिंधिया और पायलट को खो दिया : गुजरात उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल

    राहुल गांधी ने अपने दोनों हाथ सिंधिया और पायलट को खो दिया : गुजरात उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल

    गुजरात (Gujarat) के उप मुख्यमंत्री नितिन पटेल (Nitin Patel) ने बुधवार को कहा कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने अपने दोनों हाथ ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) और सचिन पायलट (Sachin Pilot) को खो दिया. साथ ही कहा कि कांग्रेस (Congress) का कमजोर होना भाजपा (BJP) के लिए फायदेमंद है. 

  • BJP नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया बोले- 'जनता का कांग्रेस से हो गया है मोह भंग' 

    BJP नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया बोले- 'जनता का कांग्रेस से हो गया है मोह भंग' 

    BJP नेता और राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) ने कहा कि मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) में जनता का मोह कांग्रेस से भंग हो गया है, क्योंकि जब ये सत्ता में थे तो यहां व्यापार और भ्रष्टाचार की सरकार चला रहे थे.

  • पूर्व सीएम उमा भारती से मिलने पहुंचे ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया, कहा-आशीर्वाद लेने आया हूं

    पूर्व सीएम उमा भारती से मिलने पहुंचे ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया, कहा-आशीर्वाद लेने आया हूं

    सिंधिया ने कहा कि उमा भारतीजी के साथ उनके पारिवारिक संबंध हैं और बीजेपी से जुड़ने के बाद आशीर्वाद लेने वह यहां आए हैं. पिछली बार जब मैं भोपाल आया था तो उनसे मुलाकात नहीं हो पाई थी.कांग्रेस छोड़कर करीब चार माह पहले बीजेपी का दामन थामने वाले ज्‍योतिरादित्‍य ने इस दौरान दावा किया कि पूरे प्रदेश की जनता का कांग्रेस से मोह भंग हो चुका है. 

  • MP में विभागों के बंटवारे को लेकर दिग्विजय सिंह का ज्योतिरादित्य सिंधिया पर तंज, 'समझदार लोग समझते हैं'

    MP में विभागों के बंटवारे को लेकर दिग्विजय सिंह का ज्योतिरादित्य सिंधिया पर तंज, 'समझदार लोग समझते हैं'

    मध्यप्रदेश में मंत्रियों के बीच विभागों के बंटवारे के बाद पूर्व मुख्यमंत्री और वरिष्ठ कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह (Digvijaya Singh) ने ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) पर तंज कसा है.

  • उमा भारती बोलीं- राहुल गांधी की जलन की वजह से हो रहा है कांग्रेस का नाश, उन्हें डर है कि...

    उमा भारती बोलीं- राहुल गांधी की जलन की वजह से हो रहा है कांग्रेस का नाश, उन्हें डर है कि...

    उमा भारती ने राहुल गांधी (Rahul Gandhi) की ईर्ष्या को कांग्रेस के पतन का कारण बताया. उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश सरकार हो या राजस्थान सरकार, दोनों के गिरने का सबसे बड़ा कारण है राहुल गांधी की ईर्ष्या. उमा भारती के अनुसार राहुल गांधी (Rahul Gandhi) को नौजवान नेताओं से जलन होती है. वह सचिन पायलट और ज्योतिराज सिंधिया से बहुत जलते हैं. उनको लगता था कि इनको जरा भी आगे बढ़ने का मौका मिला तो राहुल गांधी (Rahul Gandhi) को कोई नहीं पूछेगा.

Advertisement

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com