NDTV Khabar

Kamal nath video


'Kamal nath video' - 7 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • गुजरात की जिद और मध्यप्रदेश में नर्मदा में डूबता जीवन, ग्रामीण जाएं तो जाएं कहां? देखें - VIDEO

    गुजरात की जिद और मध्यप्रदेश में नर्मदा में डूबता जीवन, ग्रामीण जाएं तो जाएं कहां? देखें - VIDEO

    जैसे-जैसे नर्मदा का जलस्तर बढ़ रहा है, सरदार सरोवर भरता जा रहा है. इसके साथ ही मध्यप्रदेश के कई गांव इतिहास का हिस्सा बनते जा रहे हैं. गुजरात इतनी हड़बड़ी में है कि उसने सरदार सरोवर बांध को भरने के समय की शर्तों का भी उल्लंघन कर दिया. इसको लेकर मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने केंद्र सरकार को खत लिखा है. मांग की गई है कि इस संबंध में जल्द से जल्द बैठक बुलाई जाए. NDTV के पास नर्मदा में डूबते गांवों के कुछ ऐसे वीडियो हैं जिनमें गांव और उनमें रहने वाले लोगों की पीड़ा खुद बयां हो रही है. नर्मदा की धाराएं गांवों में घुसकर उन्हें लीलने पर आमादा हैं. नदी की धाराओं और ग्रामीणों की आंखों से बहती अश्रु धाराओं में प्रतिस्पर्धा चल रही है. अपनी जमीन, अपने गांव, अपने घर और अपनी स्मृतियों के डूबने की पीड़ा, अपनी जड़ों से जुदा होने की पीड़ा, सरकार के बेसहारा छोड़ देने की पीड़ा इन ग्रामीणों के लिए असहनीय है.

  • कमलनाथ सरकार के मंत्री बोले: जो अधिकारी काम नहीं करेगा, उसे लात मारकर बाहर कर देंगे, देखें VIDEO

    कमलनाथ सरकार के मंत्री बोले: जो अधिकारी काम नहीं करेगा, उसे लात मारकर बाहर कर देंगे, देखें VIDEO

    वहां उन्होंने अपने कार्यकर्ताओं से कहा, 'मैं कैबिनेट मंत्री नहीं बना, बल्कि बमोरी का हर आदमी, हर कार्यकर्ता कैबिनेट मंत्री है. आपको कोई परेशानी नहीं आएगी. कोई भी काम हो तो अधिकारी को फोन करो, जो नहीं सुने, उसके बारे में मुझे बताओ. मैंने बैठक में कह दिया है. अगर कोई अधिकारी या कर्मचारी काम नहीं करेगा तो उसे लात मारकर बाहर कर देंगे.'

  • कमलनाथ के शपथग्रहण समारोह में दिखा दिलचस्प नजारा, देखें VIDEO

    कमलनाथ के शपथग्रहण समारोह में दिखा दिलचस्प नजारा, देखें VIDEO

    कमलनाथ (Kamal Nath) मध्यप्रदेश के 18वें मुख्यमंत्री बन गए हैं. राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने कमलनाथ को पद और गोपनियता की शपथ (Kamal Nath Oath Ceremony) दिलाई. कमलनाथ के शपथग्रहण समारोह के दौरान एक दिलचस्प तस्वीर भी देखने को मिली.

  • मुस्लिम 'वोट बैंक' वाले VIDEO पर सियासी पारा गर्म, कमलनाथ के भीतरी कमरे का विभीषण कौन!

    मुस्लिम 'वोट बैंक' वाले VIDEO पर सियासी पारा गर्म, कमलनाथ के भीतरी कमरे का विभीषण कौन!

    मध्य प्रदेश की सियासत को इन दिनों कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष कमलनाथ के कथित वीडियो ने गर्मा दिया है. ये वीडियो उस कक्ष के हैं, जहां आम आदमी आसानी से और प्रदेशाध्यक्ष के सिपहसालारों की अनुमति के बगैर नहीं पहुंच सकता है. सवाल है कि आखिर कमलनाथ का विभीषण कौन है, जो वीडियो बना-बनाकर सार्वजनिक करने में लगा है. राज्य के मालवा-निमांड अंचल को छोड़ दिया जाए तो अन्य किसी भी हिस्से में ध्रुवीकरण की सियासत नहीं रही है. मगर कांग्रेस जो अपने को धर्मनिरपेक्ष बताते नहीं थकती और पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी मंदिर-मंदिर घूमकर अपने को हिंदू बता रहे हैं, उस पर कांग्रेस के कमलनाथ के कथित वीडियो ने पानी फेरने का काम शुरू कर दिया है. 

  • कमलनाथ के मुस्लिम 'वोट बैंक' वाले VIDEO पर BJP का हमला, कांग्रेस पार्टी देश को बांटने की राजनीति कर रही

    कमलनाथ के मुस्लिम 'वोट बैंक' वाले VIDEO पर BJP का हमला, कांग्रेस पार्टी देश को बांटने की राजनीति कर रही

    बीजेपी ने कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कमलनाथ के मुस्लिम 'वोट बैंक' वाले वीडियो पर एतराज जताया है. पार्टी ने उन पर मध्यप्रदेश का सांप्रदायिक माहौल बिगाड़ने का आरोप लगाया है. साथ इस वीडियो को लेकर चुनाव आयोग में शिकायत भी की है.

  • कांग्रेस नेता कमलनाथ के वायरल वीडियो से मची सनसनी - 'अगर मुस्लिम इलाकों में 90% वोट नहीं पड़े, तो होगा बड़ा नुकसान'

    कांग्रेस नेता कमलनाथ के वायरल वीडियो से मची सनसनी - 'अगर मुस्लिम इलाकों में 90% वोट नहीं पड़े, तो होगा बड़ा नुकसान'

    मध्यप्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष कमलनाथ (Kamal Nath) का एक वीडियो वायरल हुआ है, जिसमें उन्हें यह कहते हुए देखा और सुना जा सकता है कि मुस्लिम कांग्रेस पार्टी के 'वोट बैंक' हैं.

  • मध्यप्रदेश : कांग्रेस की खिल्ली उड़ाने वाला एक और वीडियो वायरल

    मध्यप्रदेश : कांग्रेस की खिल्ली उड़ाने वाला एक और वीडियो वायरल

    एक वीडियो "अंगद के बाद अब आल इज़ वेल" में मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को अंगद और कमलनाथ को रावण दिखाए जाने का विवाद अभी थमा नहीं था कि सोशल मीडिया पर एक नया वीडियो वायरल हो गया है. इस नए वीडियो में फिर एक बार फिर कांग्रेस पार्टी की चेहरा उजागर न करने की नीति और उसके दिग्गज नेताओं की जमकर खिल्ली उड़ाई गई है.