NDTV Khabar

Karnataka election results News in Hindi


'Karnataka election results' - 89 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • Karnataka ByPoll Result 2018 : तीन लोकसभा और दो विधानसभा सीटों के नतीजे आज, कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन की अग्निपरीक्षा

    Karnataka ByPoll Result 2018 : तीन लोकसभा और दो विधानसभा सीटों के नतीजे आज, कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन की अग्निपरीक्षा

    सत्तारूढ़ कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन के लिए चुनाव को महत्वपूर्ण माना जा रहा है. अधिकारियों ने कहा कि पांचों निर्वाचन क्षेत्रों में पांचों केंद्रों पर मंगलवार सुबह आठ बजे सुबह मतगणना शुरू होगी.

  • Jayanagar Election Result : बीजेपी की एक और हार, कांग्रेस की सौम्या रेड्डी ने 3775 वोटों से दर्ज की जीत

    Jayanagar Election Result : बीजेपी की एक और हार, कांग्रेस की सौम्या रेड्डी ने 3775 वोटों से दर्ज की जीत

    कर्नाटक के जयनगर विधानसभा सीट के लिए हुए चुनाव में कांग्रेस ने बाजी मार ली है. जयनगर सीट पर भाजपा के बी एन प्रहलाद और कांग्रेस की सौम्या रेड्डी के बीच सीधे मुकाबले में बीजेपी को हार का मुंह देखना पड़ा है और कांग्रेस की सौम्य रेड्डी ने करीब चार हजार वोटों के अंतर से जीत दर्ज की है. वोटों की गिनती में शुरू से ही कांग्रेस बीजेपी पर भारी रही है.  बता दें कि यहां पर 11 जून को मतदान हुआ था. कर्नाटक विधानसभा के लिये 12 मई को प्रदेश भर में चुनाव कराये गये थे. हालांकि भाजपा प्रत्याशी बी एन विजयकुमार के निधन के बाद जयनगर में चुनाव स्थगित कर दिया गया था. विजयकुमार इस सीट से विधायक थे.

  • कर्नाटक ने फूंक ही दिया 2019 का बिगुल...

    कर्नाटक ने फूंक ही दिया 2019 का बिगुल...

    मीडिया और राजनीतिक पंडितों ने पहले ही भांप लिया था कि कर्नाटक चुनाव का असर 2019 के लोकसभा चुनाव तक जाएगा. आखिर वही हुआ. बीएस येदियुरप्पा की हरचंद कोशिश नाकाम होने के बाद अब एचडी कुमारस्वामी शपथ लेने जा रहे हैं. ऐसे बानक बन गए हैं कि इस समारोह में गैर-भाजपाई दलों के नेताओं की आकाशगंगा दिखेगी, और यही अद्भुत नज़ारा 2019 के बिगुल फूंकने जैसा मौका बन सकता है. कर्नाटक चुनाव को इतना महत्व देने का तर्क यह है कि अगर यह मौका न आता, तो देश में राजनीतिक विपक्ष के एक चौपाल पर बैठने की शुरुआत पता नहीं कैसे और कब बन पाती.

  • कर्नाटक : कांग्रेस MLA ने कहा, पत्नी को नहीं आया BJP से फोन, फर्जी टेप जारी करने वाले को 'धिक्कार'

    कर्नाटक : कांग्रेस MLA ने कहा, पत्नी को नहीं आया BJP से फोन, फर्जी टेप जारी करने वाले को 'धिक्कार'

    कर्नाटक में चल रही उठापटक की राजनीति के बीच येल्लापुर से कांग्रेस के MLA शिवराम हेब्बर ने यह कहकर सभी को चौंका दिया है कि उनकी पत्नी को बीजेपी से किसी की कॉल नहीं आई थी. कांग्रेस ने जो ऑडियो टेप जारी किया था, वह फर्जी है. शिवराम हेब्बर ने अपने फेसबुक पेज पर एक पोस्ट लिखकर यह दावा किया है और कांग्रेस के उन दावों को झुठला दिया है, जिसमें वह कह रही थी कि बीजेपी बहुमत परीक्षण से पहले उनके विधायकों से संपर्क करने का प्रयास कर रही थी.

  • जी. परमेश्वर- 2013 में कर्नाटक के CM बनने से चूके, अब डिप्टी सीएम की रेस में सबसे आगे, जानिये 10 अहम तथ्य

    जी. परमेश्वर- 2013 में कर्नाटक के CM बनने से चूके, अब डिप्टी सीएम की रेस में सबसे आगे, जानिये 10 अहम तथ्य

    कर्नाटक में बगैर फ्लोर टेस्ट बीएस येदियुरप्पा के इस्तीफा देने के बाद अब कांग्रेस और जेडीएस के सरकार गठन का रास्ता साफ हो चुका है. मुख्यमंत्री पद के लिए जेडीएस नेता एचडी कुमारस्‍वामी का नाम तय है.अब उप मुख्‍यमंत्री यानी डिप्टी सीएम पद को लेकर कयास लगना शुरू हो गया है. कहा जा रहा है कि उप मुख्यमंत्री कांग्रेस का होगा और पार्टी इसके लिए किसी दलित चेहरे का नाम आगे कर सकती है. कांग्रेस की लिस्ट में जो नाम सबसे ऊपर है वो है 'जी परमेश्वर' का. कर्नाटक प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष जी परमेश्वर सन 1989 से 1992 तक वे कर्नाटक कांग्रेस के ज्वाइंट सेक्रेटरी रहे.सन 1992 से 1997 तक वे प्रदेश कांग्रेस के महासचिव पद रहे. वर्ष 1997 में उन्हें प्रदेश उपाध्यक्ष बनाया गया और वर्ष 1999 तक इस पद पर काबिज रहे. साल 2010 में उन्हें कर्नाटक कांग्रेस का अध्यक्ष बनाया गया. इसके अलावा 2010 से 2017 तक वे पार्टी की प्रदेश इकाई की प्रचार समिति के अध्यक्ष भी रह चुके हैं. परमेश्वर वर्ष 2013 में CM पद के प्रबल दावेदार थे, लेकिन हारने की वजह से उनका हाथ खाली रहा. जुलाई 2014 में परमेश्वर विधान परिषद के लिए एमएलसी चुने गए और 30 अक्टूबर 2015 को उन्हें कर्नाटक का गृह मंत्री नियुक्त कर दिया गया और 2017 तक वह इस पद पर काबिज रहे. अब उनका डिप्टी सीएम बनना लगभग तय माना जा रहा है.आपको आपको बताते हैं जी परमेश्वर से जुड़े 10 अहम तथ्य : 

  • कांग्रेस के इस 'चाणक्य' ने कर्नाटक में अमित शाह की रणनीति पर पानी फेर 'ढाई दिन की सरकार' को गिरा दिया

    कांग्रेस के इस 'चाणक्य' ने कर्नाटक में अमित शाह की रणनीति पर पानी फेर 'ढाई दिन की सरकार' को गिरा दिया

    कर्नाटक चुनाव से पहले भले ही इस बात के संकेत मिल रहे थे कि किसी भी पार्टी को पूर्ण बहुमत प्राप्त नहीं होगा, बावजूद इसके लोग इस बात को लेकर आश्वस्त थे कि भारतीय जनता पार्टी के चाणक्य कहे जाने वाले अमित शाह की रणनीति किसी न किसी तरह से बीजेपी को सत्ता में ले ही आएगी. हालांकि, ऐसा हुआ भी, मगर कांग्रेस के 'चाणक्य' के सामने अमित शाह की रणनीति धरी की धरी रह गई और बीजेपी की येदियुरप्पा सरकार ढाई दिन में ही गिर गई. भले ही कर्नाटक का क्लाईमेक्स अब धीरे-धीरे अपने अवसान पर है, मगर इसके बावजूद लोगों की दिलचस्पी इस बात में बनी हुई है कि आखिर लगातार विजयी पताका लहराने वाली बीजेपी को कर्नाटक में किस शख्स ने पटखनी दी कि येदियुरप्पा को बहुमत साबित करने से पहले ही इस्तीफा देना पड़ गया.

  • कर्नाटक : बीएस येदियुरप्पा के लिए तीसरी बार भी मुख्यमंत्री की कुर्सी बेवफा साबित हुई

    कर्नाटक : बीएस येदियुरप्पा के लिए तीसरी बार भी मुख्यमंत्री की कुर्सी बेवफा साबित हुई

    येदियुरप्पा के लिए तीसरी बार भी कर्नाटक में मुख्यमंत्री का कार्यकाल पूरा करना नसीब नहीं हुआ. उन्होंने  तीसरी बार सीएम का पद छोड़ दिया. इस बार उनका कार्यकाल सिर्फ ढाई दिन का रहा. इससे पहले के येदियुरप्पा के दो कार्यकालों की कुल अवधि तीन साल 71 दिन रही थी.

  • प्रोटेम स्पीकर के खिलाफ याचिका पर न्यायमूर्ति सीकरी बोले- ‘हमें अपनी छुट्टियों का आनंद उठाने दीजिए’

    प्रोटेम स्पीकर के खिलाफ याचिका पर न्यायमूर्ति सीकरी बोले- ‘हमें अपनी छुट्टियों का आनंद उठाने दीजिए’

    कर्नाटक में सत्ता को लेकर विवाद पर सुनवाई पूरी करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने शनिवार को कहा , ‘अब , हमें अपनी छुट्टियों का आनंद उठाने दीजिए. ’ शीर्ष न्यायालय में तीन न्यायाधीशों की एक पीठ की अध्यक्षता कर रहे न्यायमूर्ति ए . के . सीकरी ने जब मजाकिया अंदाज में यह टिप्पणी की , तब पूरा अदालत कक्ष ठहाकों से गूंज उठा.

  • ... तो इस वजह से कांग्रेस और JDS ने प्रोटेम स्पीकर बोपैया के खिलाफ याचिका पर नहीं डाला दबाव

    ... तो इस वजह से कांग्रेस और JDS ने प्रोटेम स्पीकर बोपैया के खिलाफ याचिका पर नहीं डाला दबाव

    कर्नाटक विधानसभा के अस्थायी अध्यक्ष के तौर पर के जी बोपैया की नियुक्ति के खिलाफ कांग्रेस - जद ( से ) की याचिका पर सुनवाई के दौरान उच्चतम न्यायालय की शक्ति परीक्षण टालने की चेतावनी के बाद यह गठबंधन बैकफुट पर आ गया. बौपेया की नियुक्ति को लेकर इस ( जद ( एस )- कांग्रेस ) गठबंधन ने उंगली उठाई थी. 

  • कर्नाटक के हर टेस्ट में पास रहने वाली येदियुरप्पा सरकार निर्णायक 'फ्लोर टेस्ट' से पहले ही हो गई फेल

    कर्नाटक के हर टेस्ट में पास रहने वाली येदियुरप्पा सरकार निर्णायक 'फ्लोर टेस्ट' से पहले ही हो गई फेल

    कर्नाटक में कई टेस्ट पास करने के बाद शनिवार की शाम शाम 4 बजे आखिरी और निर्णायक फ्लोर टेस्ट में बीजेपी की येदियुरप्पा सरकार फेल हो गई. येदियुरप्पा सरकार विधानसभा में बहुमत साबित नहीं कर पाई और उससे पहले ही बीएस येदियुरप्पा ने सीएम पद से इस्तीफा दे दिया. इससे पहले कई टेस्‍ट से गुजर चुकी बीजेपी को उम्‍मीद थी कि वह इस फ्लोर टेस्ट में भी पास हो जाएगी.

  • प्रोटेम स्पीकर पर कांग्रेस ने दी ये दलीलें, मिला ये जवाब, पूरा घटनाक्रम

    प्रोटेम स्पीकर पर कांग्रेस ने दी ये दलीलें, मिला ये जवाब, पूरा घटनाक्रम

    प्रोटेम स्पीकर के मामले पर सुप्रीम कोर्ट में कांग्रेस ने अपने तर्क के पक्ष में तमाम दलीलें रखीं. हालांकि सुप्रीम कोर्ट ने स्‍पष्‍ट किया कि प्रोटेम स्‍पीकर केजी बोपैया ही बने रहेंगे और सदन में विश्‍वासमत की प्रक्रिया को वही संचालित करेंगे. आइये आपको बताते हैं कोर्ट रूम में कांग्रेस ने क्या दलीलें रखीं और जजों ने उस पर क्या कहा... 

  • कर्नाटक के प्रोटेम स्पीकर केजी बोपैया का विवादों से रहा है नाता, जानिये 10 अहम बातें

    कर्नाटक के प्रोटेम स्पीकर केजी बोपैया का विवादों से रहा है नाता, जानिये 10 अहम बातें

    कर्नाटक विधानसभा में आज फ्लोर टेस्ट होना है. कांग्रेस और जेडीएस ने प्रोटेम स्पीकर केजी बोपैया को लेकर सवाल खड़े कर दिये हैं और उनकी नियुक्ति पर आपत्ति जताई है. कांग्रेस का कहना है कि वरिष्ठता के आधार पर आरवी देशपांडे को प्रोटेम स्पीकर बनाना चाहिए. जो उन्हीं के पार्टी के MLA हैं. इस मसले पर कांग्रेस सुप्रीम कोर्ट भी पहुंची है. थोड़ी देर में कांग्रेस की याचिका पर सुनवाई होने वाली है. केजी बोपैया जिनका पूरा नाम कोम्बारना गणपति बोपैया है, वे पहले भी विवादों में रहे हैं. सुप्रीम कोर्ट भी उनके एक फैसले पर टिप्पणी कर चुका है और इसे गलत ठहराया है. केजी बोपैया बीएस येदियुरप्पा के बेहद करीबी और विश्वासपात्र माने जाते हैं. आइये आपको बताते हैं केजी बोपैया से जुड़े 10 अहम तथ्य. 

  • कर्नाटक: फ्लोर टेस्ट से पहले वापस बंगलुरु पहुंचे कांग्रेस विधायक

    कर्नाटक: फ्लोर टेस्ट से पहले वापस बंगलुरु पहुंचे कांग्रेस विधायक

    कर्नाटक में आज फ्लोर टेस्ट से पहले कांग्रेस एमएलए वापस बंगलुरु पहुंच गए हैं. देर रात हैदराबाद से बस के जरिये एमएलए बंगलुरु के लिए रवाना हुए और थोड़ी देर पहले बंगलुरु पहुंचे हैं. इससे पहले नव-निर्वाचित विधायक शुक्रवार को ही हैदराबाद पहुंचे थे, लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने शनिवार को फ्लोर टेस्ट कराने का निर्देश दिया

  • कर्नाटक विधानसभा में शक्ति परीक्षण आज शाम को 4 बजे

    कर्नाटक विधानसभा में शक्ति परीक्षण आज शाम को 4 बजे

    सुप्रीम कोर्ट ने कर्नाटक विधानसभा में शनिवार को मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा सरकार के शक्ति परीक्षण के लिए चार स्पष्ट निर्देश दिए हैं जिनका पालन करना होगा.

  • कर्नाटक के राज्‍यपाल के फैसले पर उठे सवाल

    कर्नाटक के राज्‍यपाल के फैसले पर उठे सवाल

    सुप्रीम कोर्ट के रात भर जाग जाने से जो दिन दहाड़े हो रहा था उसके होने पर कोई आंच नहीं आई. पर यह क्या कम है कि सुप्रीम कोर्ट के जज साहिबान रात भर सरकार और विपक्ष का पक्ष सुनते रहे. ऐसे वक्त में जब कोई सुन ले इसकी तलाश में नेता नहीं जनता भी मारी मारी फिर रही है, देश की सर्वोच्च अदालत के सुन लेने से ही करार आ जाना चाहिए.

  • कुमारस्वामी को पिता एचडी देवेगौड़ा की महत्वाकांक्षाएं ले आईं राजनीति में

    कुमारस्वामी को पिता एचडी देवेगौड़ा की महत्वाकांक्षाएं ले आईं राजनीति में

    कर्नाटक में जेडीएस के नेता और पूर्व मुख्यमंत्री कुमारस्वामी ने कांग्रेस को सरकार बनाने के लिए बिना शर्त के समर्थन दिया है. पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवेगौड़ा के पुत्र कुमारस्वामी को राजनीतिक विरासत अपने पिता से मिली. हालांकि वे पहले फिल्म निर्माता और फिल्म वितरक थे लेकिन बाद में पिता के पदचिन्हों पर चलकर राजनीति में आ गए.

  • सरकारों के गठन के मापदंड पर चार राज्यों में बीजेपी को घेरने की तैयारी

    सरकारों के गठन के मापदंड पर चार राज्यों में बीजेपी को घेरने की तैयारी

    कर्नाटक में सरकार बनाने के लिए चल रही जोड़तोड़ के बीच चार राज्यों गोवा, बिहार, मणिपुर और मेघालय में सरकारों के गठन पर सवाल उठ खड़े हुए हैं. ये वे राज्य हैं जहां सरकार के गठन के लिए राज्यपालों ने सबसे बड़ी पार्टी नहीं बल्कि बहुमत रखने वाले गठबंधन को आमंत्रित किया था.

  • कर्नाटक मामले में सुप्रीम कोर्ट वही कहेगा जो 2005 में झारखंड मामले में कह चुका है?

    कर्नाटक मामले में सुप्रीम कोर्ट वही कहेगा जो 2005 में झारखंड मामले में कह चुका है?

    कर्नाटक राज्यपाल के फैसले और वहां सरकार बनाने की दावेदारी के संदर्भ में शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट में महत्वपूर्ण सुनवाई होनी है. इसके पहले आपको 2005 में झारखंड मामले में सुप्रीम कोर्ट की तीन जजों की बेंच के फैसले और बहस के दौरान मुकुल रोहतगी और अभिषेक मनु सिंघवी की दलील को पढ़ लीजिए, आप तीन दिनों तक बिस्तर से नहीं उठेंगे कि नेता और वकील कैसे वक्त आने पर अपने ही कहे के खिलाफ मज़बूती से तर्क करते हैं.

«12345»

Advertisement

 

Karnataka election results वीडियो

Karnataka election results से जुड़े अन्य वीडियो »