Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

Karnataka elections 2018 News in Hindi


'Karnataka elections 2018' - 324 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • कांग्रेस के इस 'चाणक्य' ने कर्नाटक में अमित शाह की रणनीति पर पानी फेर 'ढाई दिन की सरकार' को गिरा दिया

    कांग्रेस के इस 'चाणक्य' ने कर्नाटक में अमित शाह की रणनीति पर पानी फेर 'ढाई दिन की सरकार' को गिरा दिया

    कर्नाटक चुनाव से पहले भले ही इस बात के संकेत मिल रहे थे कि किसी भी पार्टी को पूर्ण बहुमत प्राप्त नहीं होगा, बावजूद इसके लोग इस बात को लेकर आश्वस्त थे कि भारतीय जनता पार्टी के चाणक्य कहे जाने वाले अमित शाह की रणनीति किसी न किसी तरह से बीजेपी को सत्ता में ले ही आएगी. हालांकि, ऐसा हुआ भी, मगर कांग्रेस के 'चाणक्य' के सामने अमित शाह की रणनीति धरी की धरी रह गई और बीजेपी की येदियुरप्पा सरकार ढाई दिन में ही गिर गई. भले ही कर्नाटक का क्लाईमेक्स अब धीरे-धीरे अपने अवसान पर है, मगर इसके बावजूद लोगों की दिलचस्पी इस बात में बनी हुई है कि आखिर लगातार विजयी पताका लहराने वाली बीजेपी को कर्नाटक में किस शख्स ने पटखनी दी कि येदियुरप्पा को बहुमत साबित करने से पहले ही इस्तीफा देना पड़ गया.

  • एचडी कुमारस्वामी के शपथग्रहण से निकलेगा 2019 का रास्ता? इन नेताओं को निमंत्रण दे विपक्षी का मेगा शो बनाने की तैयारी

    एचडी कुमारस्वामी के शपथग्रहण से निकलेगा 2019 का रास्ता? इन नेताओं को निमंत्रण दे विपक्षी का मेगा शो बनाने की तैयारी

    कर्नाटक में चुनाव नतीजे आने के बाद से ही बहुमत के लिए जद्दोज़हद जारी रही. लेकिन तेजी से बदलते घटनाक्रम को शनिवार को विराम मिल गया. जब बीजेपी के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने इस्तीफ़ा दे दिया और कांग्रेस-जेडीएस की सरकार का बनना तय हो गया. गठबंधन ने एचडी कुमारस्वामी की अगुवाई में राज्यपाल से मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश किया.

  • कर्नाटक : क्यों अचानक बदल गई एचडी कुमारस्वामी के शपथग्रहण की तारीख, घटनाक्रम से जुड़ीं 15 बड़ी बातें

    कर्नाटक : क्यों अचानक बदल गई एचडी कुमारस्वामी के शपथग्रहण की तारीख, घटनाक्रम से जुड़ीं 15 बड़ी बातें

    कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने विश्वास मत का सामना किये बगैर ही शनिवार को इस्तीफा देने की घोषणा कर दी और इस तरह कर्नाटक में तीन दिन पुरानी येदियुरप्पा सरकार गिर गई. इसके बाद जेडीएस-कांग्रेस गठबंधन के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार एचडी कुमारस्वामी को सरकार बनाने के लिए आमंत्रित किया गया है. वह 23 मई को शपथ लेंगे. इससे पहले चेहरे पर हार के भाव के साथ येदियुरप्पा ने एक संक्षिप्त भावनात्मक भाषण के बाद विधानसभा के पटल पर अपने निर्णय की घोषणा की. उन्होंने कहा,‘‘मैं मुख्यमंत्री के रूप में इस्तीफा देने जा रहा हूं। मैं राजभवन जाऊंगा और अपना इस्तीफा सौंप दूंगा.’’ गौरतलब है कि 15 मई को घोषित चुनाव परिणामों में किसी भी दल को स्पष्ट बहुमत नहीं मिलने के कारण राजनीतिक अस्थिरता पैदा हो गई थी. भाजपा हालांकि 104 सीटें प्राप्त करके सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी थी लेकिन वह बहुमत से कुछ दूर रह गई थी. कांग्रेस 78 सीटों पर जीत दर्ज करके दूसरे स्थान पर रही थी जबकि जदएस को 37 सीटों पर जीत मिली थी. इसके बाद कांग्रेस और जदएस ने गठबंधन कर लिया.

  • कर्नाटक के उलटफेर से विपक्ष उत्साहित, मध्यप्रदेश में संभावनाएं तलाश रहे अखिलेश यादव

    कर्नाटक के उलटफेर से विपक्ष उत्साहित, मध्यप्रदेश में संभावनाएं तलाश रहे अखिलेश यादव

    कर्नाटक में कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन सरकार के गठन का रास्ता साफ होने के बाद कांग्रेस सहित बीजेपी के विरोधी अन्य दल आने वाले चुनाव में नई संभावनाएं तलाशने लगे हैं. मध्यप्रदेश में काफी कम प्रभाव रखने वाली समाजवादी पार्टी अब इस राज्य में अपनी जमीन तैयार करने की संभावनाएं तलाश रही है.

  • कर्नाटक : जी परमेश्वर को राजीव गांधी की प्रेरणा ले आई राजनीति में, अब बन सकते हैं डिप्टी सीएम

    कर्नाटक : जी परमेश्वर को राजीव गांधी की प्रेरणा ले आई राजनीति में, अब बन सकते हैं डिप्टी सीएम

    कर्नाटक में कांग्रेस और जनता दल-सेक्युलर (जेडीएस) का सरकार के गठन का रास्ता साफ हो चुका है. जेडीएस के एचडी कुमारस्‍वामी सोमवार को मुख्‍यमंत्री पद की शपथ लेंगे. उप मुख्‍यमंत्री कांग्रेस से हो सकता है. और इस पद के लिए सबसे ऊपर जी परमेश्वर का नाम है. परमेश्वर कांग्रेस का दलित चेहरा माने जाते हैं.

  • येदियुरप्पा के इस्तीफे पर ममता-चंद्रबाबू नायडू ने कहा- लोकतंत्र की जीत हुई

    येदियुरप्पा के इस्तीफे पर ममता-चंद्रबाबू नायडू ने कहा- लोकतंत्र की जीत हुई

    कर्नाटक में भाजपा की सरकार गिरने के बाद विपक्षी दलों की प्रतिक्रिया भी आनी शुरू हो गई है. पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने कहा कि यह लोकतंत्र और क्षेत्रीय मोर्चे (रिजनल फ्रंट) की जीत है.उन्होंने ट्वीट कर देवगौड़ा, कुमारस्वामी और कांग्रेस को बधाई दी. दूसरी तरफ, पूर्व भाजपा नेता यशवंत सिन्हा ने कहा कि कर्नाटक ने दिखाया है कि अभी भी राजनीति में नैतिकता बची हुई है.

  • अपने तीसरे कार्यकाल में ढाई दिन के मुख्‍यमंत्री साबित हुए येदियुरप्‍पा

    अपने तीसरे कार्यकाल में ढाई दिन के मुख्‍यमंत्री साबित हुए येदियुरप्‍पा

    भावुक भाषण देने के बाद कर्नाटक के नवनियुक्‍त मुख्‍यमंत्री बीएस येदियुरप्‍पा ने अपने पद से इस्‍तीफा दे दिया. सदन में बीजेपी के पास बहुमत के लिए पर्याप्‍त संख्‍या नहीं थी. राज्‍यपाल वजुभाई वाला ने विधानसभा में बड़ी पार्टी होने के नाते सरकार बनाने के लिए बीजेपी नेता बीएस येदियुरप्‍पा को आमंत्रित किया था.

  • कर्नाटक : बीएस येदियुरप्पा के लिए तीसरी बार भी मुख्यमंत्री की कुर्सी बेवफा साबित हुई

    कर्नाटक : बीएस येदियुरप्पा के लिए तीसरी बार भी मुख्यमंत्री की कुर्सी बेवफा साबित हुई

    येदियुरप्पा के लिए तीसरी बार भी कर्नाटक में मुख्यमंत्री का कार्यकाल पूरा करना नसीब नहीं हुआ. उन्होंने  तीसरी बार सीएम का पद छोड़ दिया. इस बार उनका कार्यकाल सिर्फ ढाई दिन का रहा. इससे पहले के येदियुरप्पा के दो कार्यकालों की कुल अवधि तीन साल 71 दिन रही थी.

  • ... तो इस वजह से कांग्रेस और JDS ने प्रोटेम स्पीकर बोपैया के खिलाफ याचिका पर नहीं डाला दबाव

    ... तो इस वजह से कांग्रेस और JDS ने प्रोटेम स्पीकर बोपैया के खिलाफ याचिका पर नहीं डाला दबाव

    कर्नाटक विधानसभा के अस्थायी अध्यक्ष के तौर पर के जी बोपैया की नियुक्ति के खिलाफ कांग्रेस - जद ( से ) की याचिका पर सुनवाई के दौरान उच्चतम न्यायालय की शक्ति परीक्षण टालने की चेतावनी के बाद यह गठबंधन बैकफुट पर आ गया. बौपेया की नियुक्ति को लेकर इस ( जद ( एस )- कांग्रेस ) गठबंधन ने उंगली उठाई थी. 

  • कर्नाटक के हर टेस्ट में पास रहने वाली येदियुरप्पा सरकार निर्णायक 'फ्लोर टेस्ट' से पहले ही हो गई फेल

    कर्नाटक के हर टेस्ट में पास रहने वाली येदियुरप्पा सरकार निर्णायक 'फ्लोर टेस्ट' से पहले ही हो गई फेल

    कर्नाटक में कई टेस्ट पास करने के बाद शनिवार की शाम शाम 4 बजे आखिरी और निर्णायक फ्लोर टेस्ट में बीजेपी की येदियुरप्पा सरकार फेल हो गई. येदियुरप्पा सरकार विधानसभा में बहुमत साबित नहीं कर पाई और उससे पहले ही बीएस येदियुरप्पा ने सीएम पद से इस्तीफा दे दिया. इससे पहले कई टेस्‍ट से गुजर चुकी बीजेपी को उम्‍मीद थी कि वह इस फ्लोर टेस्ट में भी पास हो जाएगी.

  • प्रोटेम स्पीकर पर कांग्रेस ने दी ये दलीलें, मिला ये जवाब, पूरा घटनाक्रम

    प्रोटेम स्पीकर पर कांग्रेस ने दी ये दलीलें, मिला ये जवाब, पूरा घटनाक्रम

    प्रोटेम स्पीकर के मामले पर सुप्रीम कोर्ट में कांग्रेस ने अपने तर्क के पक्ष में तमाम दलीलें रखीं. हालांकि सुप्रीम कोर्ट ने स्‍पष्‍ट किया कि प्रोटेम स्‍पीकर केजी बोपैया ही बने रहेंगे और सदन में विश्‍वासमत की प्रक्रिया को वही संचालित करेंगे. आइये आपको बताते हैं कोर्ट रूम में कांग्रेस ने क्या दलीलें रखीं और जजों ने उस पर क्या कहा... 

  • कर्नाटक के प्रोटेम स्पीकर केजी बोपैया का विवादों से रहा है नाता, जानिये 10 अहम बातें

    कर्नाटक के प्रोटेम स्पीकर केजी बोपैया का विवादों से रहा है नाता, जानिये 10 अहम बातें

    कर्नाटक विधानसभा में आज फ्लोर टेस्ट होना है. कांग्रेस और जेडीएस ने प्रोटेम स्पीकर केजी बोपैया को लेकर सवाल खड़े कर दिये हैं और उनकी नियुक्ति पर आपत्ति जताई है. कांग्रेस का कहना है कि वरिष्ठता के आधार पर आरवी देशपांडे को प्रोटेम स्पीकर बनाना चाहिए. जो उन्हीं के पार्टी के MLA हैं. इस मसले पर कांग्रेस सुप्रीम कोर्ट भी पहुंची है. थोड़ी देर में कांग्रेस की याचिका पर सुनवाई होने वाली है. केजी बोपैया जिनका पूरा नाम कोम्बारना गणपति बोपैया है, वे पहले भी विवादों में रहे हैं. सुप्रीम कोर्ट भी उनके एक फैसले पर टिप्पणी कर चुका है और इसे गलत ठहराया है. केजी बोपैया बीएस येदियुरप्पा के बेहद करीबी और विश्वासपात्र माने जाते हैं. आइये आपको बताते हैं केजी बोपैया से जुड़े 10 अहम तथ्य. 

  • कर्नाटक का 'नाटक': फ्लोर टेस्ट से पहले BJP और कांग्रेस आमने-सामने, जानें किसने क्या कहा

    कर्नाटक का 'नाटक': फ्लोर टेस्ट से पहले BJP और कांग्रेस आमने-सामने, जानें किसने क्या कहा

    कर्नाटक विधानसभा चुनाव के नतीजे आने के बाद भी पार्टियां आंकड़ों के खेल में ऐसी फंसी है कि तस्वीर कुछ भी स्पष्ट होता नहीं दिख रहा है. कर्नाटक में सरकार बनाने को लेकर सियासी घमासान जारी है. एक ओर जहां बीजेपी यानी येदियुरप्पा सरकार के सामने बहुमत साबित करने की अग्नि परीक्षा है, वहीं कांग्रेस और जेडीएस के सामने अपने विधायकों को टूटने से बचाने की चुनौती है. बीजेपी कह रही है कि उनके पास बहुमत है, वहीं कांग्रेस का कहना है कि बीजेपी के पास संख्या बल नहीं है और जेडीएस के साथ मिलकर वह बहुमत के आंकड़े को छू रहे हैं. हालांकि, आज यानी शनिवार को 4 बजे जब येदियुरप्पा सरकार का फ्लोर टेस्ट होगा, तो सब कुछ स्पष्ट हो जाएगा. इससे पहले कांग्रेस से लेकर बीजेपी नेताओं की ओर से तमाम तरह की प्रतिक्रियाएं आ रही हैं. 

  • कर्नाटक : कांग्रेस - जदएस गठबंधन सरकार का शपथ ग्रहण अब 21 मई की बजाय 23 मई को होगा : कुमारस्वामी

    कर्नाटक : कांग्रेस - जदएस गठबंधन सरकार का शपथ ग्रहण अब 21 मई की बजाय 23 मई को होगा : कुमारस्वामी

    कर्नाटक में 12 मई को हुए विधानसभा चुनाव के बाद शुरू हुए राजनीतिक नाटक का पटाक्षेप मुख्यमंत्री बी.एस. येदियुरप्पा के इस्तीफे के साथ हो गया. येदियुरप्पा ने सदन में बहुमत परीक्षण से पहले ही पर्याप्त संख्या नहीं होने का हवाला देकर इस्तीफा दे दिया.

  • प्रोटेम स्पीकर की नियुक्ति के पीछे का गणित, क्या बीजेपी को हो सकता है इससे फायदा?

    प्रोटेम स्पीकर की नियुक्ति के पीछे का गणित, क्या बीजेपी को हो सकता है इससे फायदा?

    कांग्रेस और जेडीएस ने केजी बोपैया को आज होने वाले शक्ति परीक्षण से पहले विधानसभा का अस्थाई अध्यक्ष (प्रोटेम स्पीकर) नियुक्त किए जाने के कर्नाटक के राज्यपाल वजुभाई वाला के फैसले को आज सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी है.

  • कर्नाटक: फ्लोर टेस्ट से पहले वापस बंगलुरु पहुंचे कांग्रेस विधायक

    कर्नाटक: फ्लोर टेस्ट से पहले वापस बंगलुरु पहुंचे कांग्रेस विधायक

    कर्नाटक में आज फ्लोर टेस्ट से पहले कांग्रेस एमएलए वापस बंगलुरु पहुंच गए हैं. देर रात हैदराबाद से बस के जरिये एमएलए बंगलुरु के लिए रवाना हुए और थोड़ी देर पहले बंगलुरु पहुंचे हैं. इससे पहले नव-निर्वाचित विधायक शुक्रवार को ही हैदराबाद पहुंचे थे, लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने शनिवार को फ्लोर टेस्ट कराने का निर्देश दिया

  • कर्नाटक में सियासी घमासान जारी, येदियुरप्पा सरकार के फ्लोर टेस्ट से पहले मंगलौर में धारा 144 लागू

    कर्नाटक में सियासी घमासान जारी, येदियुरप्पा सरकार के फ्लोर टेस्ट से पहले मंगलौर में धारा 144 लागू

    कर्नाटक में जारी राजनीतिक उठा-पटक के बीच भारतीय जनता पार्टी को बहुमत साबित करने संबंधी सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद एहतियात के तौर पर मंगलौर में धारा 144 लगाया गया है. बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने येदियुरप्पा सरकार को शनिवार को बहुमत साबित करने का आदेश दिया है. शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट ने बीएस येदियुरप्पा को 19 मई को शाम चार बजे बहुमत साबित करने का आदेश दिया है.  सुप्रीम कोर्ट ने येदियुरप्पा को शक्ति प्रदर्शन के लिए राज्यपाल द्वारा दी गई 15 दिन की समय सीमा को घटा दिया. 

  • कर्नाटक: पहले प्रोटेम स्पीकर की नियुक्ति पर होगी सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई, फिर शाम को 4 बजे बहुमत का परीक्षण

    कर्नाटक: पहले प्रोटेम स्पीकर की नियुक्ति पर होगी सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई, फिर शाम को 4 बजे बहुमत का परीक्षण

    कर्नाटक का सियासी ड्रामा दिन पर दिन और दिलचस्प होता जा रहा है. सुप्रीम कोर्ट ने एक अहम फैसले में मुख्यमंत्री येदियुरप्पा को शनिवार शाम 4 बजे अपना बहुमत साबित करने का आदेश दिया है. इस सब के बीच प्रोटेम स्पीकर बनाए गए बीजेपी के विधायक केजी बोपैया पर विवाद हो गया है. कांग्रेस जेडीएस का तर्क है कि वो वरिष्ठता के आधार पर खरे नहीं उतरते. कांग्रेस ने उन पर गंभीर आरोप लगाए हैं. कर्नाटक में केजी बोपैया को प्रोटेम स्पीकर बनाने के खिलाफ़ कांग्रेस की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में आज सुबह साढ़े दस बजे सुनवाई होगी. इस मुद्दे पर फौरन सुनवाई की मांग को लेकर कांग्रेस शुक्रवार की रात अदालत गई, लेकिन सुनवाई आज सुबह साढ़े दस बजे होगी. सुनवाई स्पेशल बेंच करेगी जिसमें जस्टिस एके सीकरी, जस्टिस एसए बोबड़े और जस्टिस अशोक भूषण होंगे.

«1234567»

Advertisement

 

Karnataka elections 2018 फोटो

Karnataka elections 2018 से जुड़े अन्य फोटो »

Karnataka elections 2018 वीडियो

Karnataka elections 2018 से जुड़े अन्य वीडियो »