NDTV Khabar

Kerala flood relief


'Kerala flood relief' - 38 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • जामिया स्कूल के बच्चों ने पेश किया उदाहरण, केरल बाढ़ पीड़ितों के लिए पॉकेट मनी से बचाकर दिए पैसे

    जामिया स्कूल के बच्चों ने पेश किया उदाहरण, केरल बाढ़ पीड़ितों के लिए पॉकेट मनी से बचाकर दिए पैसे

    सी सिलसिले में यब बच्चे जामिया मिल्लिया इस्लामिया विश्वविद्यालय के रजिस्ट्रार आईपीएस अधिकारी एपी सिद्दीकी से मिले. नर्सरी से 12वीं तक के इन बच्चों ने अपनी पॉकेट मनी से 1 लाख रुपये केरल बाढ़ पीड़ितों के लिए जमा किये हैं.

  • बाढ़ पीड़ित केरल को और सहायता देगी केंद्र सरकार : अरुण जेटली

    बाढ़ पीड़ित केरल को और सहायता देगी केंद्र सरकार : अरुण जेटली

    वित्त मंत्री अरुण जेटली ने बुधवार को कहा कि केरल को बाढ़ राहत के लिए दी गई 600 करोड़ रुपये की राशि अंतरिम सहायता थी. केन्द्रीय टीमों के आकलन के बाद केरल को और धन दिया जाएगा.

  • वाराणसी : जन्माष्टमी के दिन सड़क पर उतरे राधा-कृष्ण, केरल बाढ़ पीड़ितों को मदद देने की अपील की

    वाराणसी : जन्माष्टमी के दिन सड़क पर उतरे राधा-कृष्ण, केरल बाढ़ पीड़ितों को मदद देने की अपील की

    बच्चों के इस अनोखी पहल को देख ग्रामीण भी काफी सराहना मिली. ग्रामीण भी बच्चों की पहल देख केरल के लोगों को सहायता पहुंचाने के लिए अपनी योगदान प्रदान कर रहे हैं. 

  • सुप्रीम कोर्ट बोला- केरल को विदेशी फंड दिया जाए या नहीं, यह आदेश देने वाले हम कौन होते हैं

    सुप्रीम कोर्ट बोला- केरल को विदेशी फंड दिया जाए या नहीं, यह आदेश देने वाले हम कौन होते हैं

    केरल में आई सदी की सबसे बड़ी त्रासदी यानी बाढ़ के मामले में केरल में राहत के लिए विदेशी फंड की याचिका पर सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि हम ये कैसे कह सकते हैं कि राज्य को विदेशी फंड दिया जाए या नहीं. इसके साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने जल्द सुनवाई की मांग वाली याचिका खारिज कर दी. बता दें कि कुछ समय पहले ऐसी खबरें आईं थी कि संयुक्त अरब अमीरात ने केरल को 700 करोड़ रुपये की मदद की पेशकश की थी. हालांकि, बाद में खुद यूएई के राजदूत ने इस बात का खंडन किया था कि अभी तक यूएई सरकार ने ऐसा कोई प्रस्ताव केरल को नहीं दिया है. 

  • Kerala Flood: बाढ़ से तबाह केरल के लिए देशवासियों ने दिखाया बड़ा दिल, अब तक की इतने करोड़ की मदद

    Kerala Flood: बाढ़ से तबाह केरल के लिए देशवासियों ने दिखाया बड़ा दिल, अब तक की इतने करोड़ की मदद

    केरल में आई सदी की सबसे बड़ी त्रासदी यानी बाढ़ ने न सिर्फ कई जिंदगियों को काल के गाल में पहुंचाया, बल्कि वहां के लोगों को विकास के मायने में कई साल पीछे धकेल दिया. केरल में अब बाढ़ पीड़ितों के पुनर्वास के लिए जोर-शोर से काम हो रहा है. बाढ़ पीड़ितों की जिंदगी को पटरी पर लाने के लिए राहत का काम तेज कर दिया गया है. देश भर से आए दान अथवा मदद के रूप में केरल मुख्यमंत्री राहत कोष में अब तक 1027 करोड़ रुपये जमा हो गये हैं, जो मोदी सरकार द्वारा दी गई सहायता राशि से काफी ज्यादा है. हालांकि, मुख्यमंत्री राहत कोष में जितने पैसे आए हैं, उनमें राज्य सरकारों, जनता, कॉरपोरेट्स और संगठन की ओर से दी गई सहायता राशि भी शामिल है. बता दें कि बाढ़ से तबाह केरल को मोदी सरकार ने 600 करोड़ रुपये की अग्रिम आर्थिक मदद की है. 

  • Kerala Flood Relief: Google केरल को करेगा 7 करोड़ की मदद, अब तक खोज चुका है 22 हजार लोगों को

    Kerala Flood Relief: Google केरल को करेगा 7 करोड़ की मदद, अब तक खोज चुका है 22 हजार लोगों को

    गूगल केरल में राहत कार्यो के लिए 10 लाख डॉलर (करीब सात करोड़ रुपये) का योगदान देगा. केरल भयानक बाढ़ से बुरी तरह प्रभावित है.

  • केरल के बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए सुप्रीम कोर्ट के जजों के स्वरों की खुशबू महकी

    केरल के बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए सुप्रीम कोर्ट के जजों के स्वरों की खुशबू महकी

    भारतीय न्यायपालिका की सर्वोच्च संस्था सुप्रीम कोर्ट में आज का दिन खास रहा. कोर्ट परिसर में आज स्वर लहरियां गूंजतीं रहीं. पहली बार सुप्रीम कोर्ट के जजों ने मंच पर गीत गाए. उनके स्वर केरल के बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए समर्पित थे.

  • #IndiaForKerala: केरल बाढ़ पीड़ितों की मदद को बढ़े हाथ, दान की गई रकम 10 करोड़ के पार

    #IndiaForKerala: केरल बाढ़ पीड़ितों की मदद को बढ़े हाथ, दान की गई रकम 10 करोड़ के पार

    केरल बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए NDTV और टाटा स्काई की मुहिम #IndiaForKerala में कई राज्यों के मुख्यमंत्रियों, केंद्रीय मंत्रियों, उद्योगपतियों के अलावा बॉलीवुड की हस्तियों ने भी शिरकत की. इस दौरान 10,32,06,207 करोड़ रुपये की मदद राशि जमा हुई. सबसे ज्यादा पांच करोड़ रुपये की मदद स्टॉक ब्रोकर और उद्योगपति प्रदीप भावनानी ने की. इसके अलावा स्पाइस जेट, हुंडई, फोर्ड इंडिया, हिताची सहित कई कंपनियों ने भी भीषण त्रासदी का शिकार हुए लोगों के लिए दान दिए.

  • स्टॉक ब्रोकर प्रदीप भावनानी ने केरल बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए 5 करोड़ रुपये का दान दिया

    स्टॉक ब्रोकर प्रदीप भावनानी ने केरल बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए 5 करोड़ रुपये का दान दिया

    NDTV और टाटा स्काई की मुहिम #IndiaForKerala से जुड़कर स्टॉक ब्रोकर और उद्योगपति प्रदीप भावनानी ने केरल बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए 5 करोड़ रुपये का दान दिया. उन्होंने कहा कि पांच करोड़ मैंने जापान के लिए भी दिया था. जापान के प्रधानमंत्री ने मुझे इसके लिए फोन कर थैंक्स बोला. उन्होंने कहा कि मानवता का कोई धर्म नहीं होता है. हमें इस समय यह देखना है कि केरल को मदद कैसे करें. हमें यह नहीं देखना की यूएई से सहायता मिली, ओमान से सहायता मिली. उसका नेगेटिव वर्जन हो. सरकार को 2 हजार 600 करोड़ जो केरल को जरूरत है उसे देना चाहिए. केरल के पुनर्निर्माण के लिए वहां टोटल 20 हजार से 30 हजार करोड़ की जरूरत है. यह छोटा उमाउंट नहीं है. 

  • हमें सिर्फ फंड से ही नहीं बल्कि हर तरह से केरल के लोगों की मदद करनी चाहिए : जावेद अख्तर

    हमें सिर्फ फंड से ही नहीं बल्कि हर तरह से केरल के लोगों की मदद करनी चाहिए : जावेद अख्तर

    NDTV और टाटा स्काई की मुहिम #IndiaForKerala से जुड़कर गीतकार जावेद अख्तर ने कहा कि हम उनकी तकलीफ नहीं समझ सकते हैं जिनपर यह गुजरा है. अभी एक चीज सबसे ज्यादा जरूरी है जिसपर कोई बात हुए बगैर वहां देना चाहिए वह है फंड की कमी. पानी उतरने के बाद तबाही और बड़ी हो जाएगी. अगर समय रहते हम काम नहीं करते हैं. कई तरह की बीमारी फैलने का खतरा है. हमें एक नागरिक की तरह सिर्फ फंड ही नहीं बल्कि हर तरह से मदद करना चाहिए. आज उनके सामने घर की समस्या है. 

  • केरल की जनता अलग नहीं, हम उसे पूरा सहयोग कर रहे हैं, करेंगे : नितिन गडकरी

    केरल की जनता अलग नहीं, हम उसे पूरा सहयोग कर रहे हैं, करेंगे : नितिन गडकरी

    NDTV और टाटा स्काई की मुहिम #IndiaForKerala से जुड़कर केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि हमने फैसला किया है कि जो हाईवे डैमेज हुआ है वह जल्द से जल्द रिपेयर हो, क्योंकि रोड अच्छे हो जाएंगे तो राहत बचाव कार्य में तेजी आएगी. उन्होंने कहा कि बड़े पैमाने पर सामाजिक संगठनों की तरफ से भी मदद मिल रही है. यह संकल्प बड़ा है. केरल की जनता अलग नहीं है. हम केरल को पूरा सहयोग करेंगे. उन्होंने कहा कि हमने एक फैसला किया है कि जहां ज्यादा बारिश होती है वहां सेमेंट-कंक्रीट रोड का निर्माण करेंगे, ताकि नुकसान कम से कम हो.

  • केरल के वित्त मंत्री बोले- केरल की मदद के लिए सभी का साथ आना सराहनीय, अभी काफी कुछ करना बाकी है

    केरल के वित्त मंत्री बोले- केरल की मदद के लिए सभी का साथ आना सराहनीय, अभी काफी कुछ करना बाकी है

    संगीतकार जावेद अख्तर ने बाढ़ पीड़ितों के प्रति अपनी संवेदना जताते हुए कहा कि हम उनकी तकलीफ नहीं समझ सकते हैं जिनपे यह गुजरा है. अभी एक चीज सबसे ज्यादा जरूरी है जिसपर कोई भी बात हुए बगैर वहां देना चाहिए वह है फंड.

  • बाढ़ राहत पीड़ितों की मदद के लिए आयोजित कार्यक्रम में गाना गाएंगे जस्टिस केएम जोसेफ

    बाढ़ राहत पीड़ितों की मदद के लिए आयोजित कार्यक्रम में गाना गाएंगे जस्टिस केएम जोसेफ

    सुप्रीम कोर्ट के न्यायाधीशों की तरफ से केरल के मुख्यमंत्री आपदा राहत कोष में योगदान दिए जाने के बाद अब बाढ़ प्रभावित लोगों की मदद के लिए आयोजित एक कार्यक्रम में सोमवार को शीर्ष न्यायालय के न्यायाधीश न्यायमूर्ति केएम जोसेफ (Justice KM Joseph) गीत गाएंगे. मुख्य न्यायाधीश दीपक मिश्रा कार्यक्रम के मुख्य अतिथि होंगे, जहां न्यायमूर्ति जोसेफ दो गीत गाएंगे, जिसमें एक मलयाली और एक हिंदी गीत होगा. यह कार्यक्रम सुप्रीम कोर्ट की रिपोर्टिंग करने वाले पत्रकारों की तरफ से आयोजित किया गया है.

  • ये नफरत आपको दंगाई बना रही है, हमारी मोहब्बत आपको इंसान बनाएगी

    ये नफरत आपको दंगाई बना रही है, हमारी मोहब्बत आपको इंसान बनाएगी

    हम तुम्हारी हर झूठ पर भारी पड़ते हैं, भांडा फोड़ देते हैं और इस तरह आप धीरे-धीरे बदलते चले जाएंगे. नफरतों से सामान्य होना कितना सहज हो चुका है. मैं केरल नहीं गया. जाता तो गलत नहीं होता. उसके बाद भी किसी मदद करने वाले के चेहरे पर मेरा चेहरा लगाकर इस तरह से पेश किया जा रहा है ताकि कम दिमाग के लोग मान बैठे कि केरल जाना या बाढ़ पीड़ितों की मदद करना गलत है. कम दिमाग वालों में ऐसी मूर्खता होगी ही इसी भरोसे धारणा फैक्ट्री से ऐसी सामग्री बनाई जाती है. सोचिए जिसकी जगह मेरा चेहरा लगा है वह कितना अच्छा होगा. अपने कंधे पर एक बच्चे को बिठाकर ले जा रहा है. यह उस बंदे का अपमान है. हम समाज में ऐसे लोगों को तैयार कर रहे हैं जो इस तरह के झांसे में आ रहे हैं.

  • बाढ़ से तबाह केरल को उबारने में मोदी सरकार ने झोंकी ताकत, केंद्र ने अब तक क्या-क्या किया, जानें पूरी डिटेल

    बाढ़ से तबाह केरल को उबारने में मोदी सरकार ने झोंकी ताकत, केंद्र ने अब तक क्या-क्या किया, जानें पूरी डिटेल

    केरल में आई सदी की सबसे ब़ड़ी बाढ़ ने उसकी कमर तोड़ दी है. केरल में बाढ़ की तबाही से न सिर्फ लोगों की जानें गईं, बल्कि हजारों करोड़ रुपयों को नुकसान हुआ, जान-माल की क्षति हुई और जिंदगी बेपटरी हो गई है. केरल की बाढ़ ने उसे कई साल पीछे धकेल दिया. हालांकि, अब केरल में बाढ़ की त्रासदी से निपटने के लिए चारों ओर से मदद के हाथ भी उठे. केंद्र सरकार, राज्य सरकारें, और व्यक्तिगत तौर पर भी केरल की सबने जितन बन सका, उतनी मदद की. बहरहाल, केरल में अब राहत और बचाव का काम लगभग पूरा हो चुका है. जिंदगियों को पटरी पर लाने के लिए अब उनके पुनर्वास के काम पर हो रहा है. दरअसल, केरल में बाढ़ की स्थिति का जायजा लेने के लिए बीते दिनों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हवाई सर्वे किया और 500 करोड़ रुपये की अग्रिम सहायता की. इसके अलावा, कई राज्यों ने केरल के लिए मुख्यमंत्री राहत कोष से मदद का ऐलान किया और राहत सामग्रियां भेजी. 

  • केरल के मुख्यमंत्री पिनरायी विजयन को UAE की आर्थिक मदद स्वीकारे जाने की उम्मीद

    केरल के मुख्यमंत्री पिनरायी विजयन को UAE की आर्थिक मदद स्वीकारे जाने की उम्मीद

    उन्होंने उम्मीद जताई कि केंद्र 700 करोड़ रुपये की “पेशकश” को स्वीकार करेगा.

  • केरल में बाढ़ के बाद बीएसएफ चिकित्सक पीड़ितों के इलाज में जुटे

    केरल में बाढ़ के बाद बीएसएफ चिकित्सक पीड़ितों के इलाज में जुटे

    केरल में बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए सीमा सुरक्षा बल अहम भूमिका निभा रहा है. एक तरफ फोर्स राहत व खाद्य सामग्री तो बांट ही रहा है वहीं दूसरी ओर ज़्यादा से ज़्यादा पीने योग्य पानी की आसानी से मुहैया कराने में जुटा है. बल के कर्मी फ्री मेडीकल चेकअप, सड़कों की मरम्मत, मृत पशुओं को दफनाने आदि के कार्यों में जुटे हैं.

  • NDMA ने कहा, केरल में बाढ़ पीड़ितों को रोज़गार जल्द उपलब्ध कराने की जरूरत

    NDMA ने कहा, केरल में बाढ़ पीड़ितों को रोज़गार जल्द उपलब्ध कराने की जरूरत

    राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण यानी एनडीएमए ने कहा है कि केरल सरकार को अब बाढ़ का पानी निकलने के बाद बाढ़ पीड़ितों को रोज़गार के अवसर जल्दी उपलब्ध कराने पर विशेष ध्यान देना चाहिए. एनडीटीवी से खास बातचीत में एनडीएमए के सदस्य कमल किशोर ने यह बात कही.