NDTV Khabar

Lateral entry


'Lateral entry' - 5 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • RBI Recruitment 2018: ग्रेड सी ऑफिसर के पदों पर निकली वैकेंसी, Lateral Entry के तहत होगी भर्ती

    RBI Recruitment 2018: ग्रेड सी ऑफिसर के पदों पर निकली वैकेंसी, Lateral Entry के तहत होगी भर्ती

    रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (Reserve Bank Of India, RBI) ने ग्रेड सी ऑफिसर के पदों पर वैकेंसी निकाली हैं. इन पदों पर भर्ती लैटरल एंट्री (Lateral Entry) के तहत होगी. RBI प्राइवेट क्षेत्र और अन्य गैर सरकारी क्षेत्रों से आने वाले उम्मीदवारों की ग्रेड सी (RBI Grade C Officer) के पदों पर भर्ती करेगा. कुल 61 पदों पर भर्ती की जाएगी. इनमें ट्रेड फाइनेंस, ट्रेजरी, रिटेल लेंडिग, वेब डिजाइनर, आईटी और कई अन्य पद शामिल हैं. इंजीनियरिंग में डिग्री कर चुके लोग आईटी के पदों पर आवेदन कर सकते हैं.

  • UPSC Recruitment 2018: यूपीएससी ने JS पद के लिए निजी सेक्टर के विशेषज्ञों को दोबारा आवेदन करने को कहा

    UPSC Recruitment 2018: यूपीएससी ने JS पद के लिए निजी सेक्टर के विशेषज्ञों को दोबारा आवेदन करने को कहा

    संघ लोक सेवा आयोग (Union Public Service Commission, UPSC) ने निजी सेक्टर के 6,000 से ज्यादा उन विशेषज्ञों को फिर से आवेदन करने को कहा है जिन्होंने केंद्र सरकार में संयुक्त सचिव (Joint Secretary) के 10 पदों पर 'सीधे भर्ती' (Lateral Entry) के लिए आवेदन किया था. कार्मिक एवं प्रशिक्षण विभाग ने यह जानकारी दी.

  • IAS के 'लौह-द्वार' पर प्रथम प्रहार

    IAS के 'लौह-द्वार' पर प्रथम प्रहार

    केंद्र सरकार ने विभिन्न मंत्रालयों के संयुक्त सचिव के 10 पदों के लिए निजी क्षेत्र के लोगों से जो आवेदन मंगवाए थे, उसके जवाब में कुल 6,077 आवेदन प्राप्त हुए हैं. यानी प्रति पद के लिए औसतन 600 व्यक्ति. यह एक अद्भुत संयोग है कि जिस सिविल सेवा परीक्षा के तहत IAS अधिकारियों की भर्ती होती है, उसमें बैठने वाले और सेलेक्ट होने वाले परीक्षार्थियों का अनुपात भी लगभग यही होता है

  • लैटेरल एंट्री से 10 लोगों की नियुक्ति पर नीतीश ने नरेंद्र मोदी का क्यों समर्थन किया?

    लैटेरल एंट्री से 10 लोगों की नियुक्ति पर नीतीश ने नरेंद्र मोदी का क्यों समर्थन किया?

    पूरे देश में अफ़सरशाही में लैटरल एंट्री के आधार पर दस लोगों की नियुक्ति के संबंध में जब से विज्ञापन आया है तब से बहस और विवाद शुरू हो गया है. लेकिन बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार इस मुद्दे पर केंद्र के फ़ैसले के समर्थन में दिखे.

  • बिना UPSC पास किए मोदी सरकार में बन सकते हैं नौकरशाह, 10 पदों के लिए निकली वैकेंसी

    बिना UPSC पास किए मोदी सरकार में बन सकते हैं नौकरशाह, 10 पदों के लिए निकली वैकेंसी

    नरेंद्र मोदी सरकार संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) परीक्षा पास किए बिना अनुभवी लोगों को नौकरशाह बनाने जा रही है. सरकार के इस फैसले के बाद प्राइवेट कंपनियों में काम करने वाले भी UPSC परीक्षा पास किए बिना बड़े अधिकारी बन सकते हैं. मोदी सरकार ने एक नई नीति के तहत अपनी सरकार में 10 अलग-अलग विभागों में संयुक्त सचिव स्तर के अधिकारियों की नियुक्ति के लिए विज्ञापन निकाला है. इन पदों पर आमतौर पर उन्हीं की नियुक्ति होती थी, जिन्होंने यूपीएससी परीक्षा पास की हो, लेकिन सरकार ने इन पदों के लिए लैटरल वैकेन्सी निकाली है.