NDTV Khabar

Lok sabha


'Lok sabha' - more than 1000 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • सुषमा स्वराज बोलीं, मैं राजनीति से रिटायर नहीं हो रही हूं, सिर्फ चुनाव नहीं लड़ूंगी

    सुषमा स्वराज बोलीं, मैं राजनीति से रिटायर नहीं हो रही हूं, सिर्फ चुनाव नहीं लड़ूंगी

    केंद्रीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज (Sushma Swaraj) भले ही 2019 का लोकसभा चुनाव न लड़ें, लेकिन वह राजनीति में सक्रिय रहेंगी. उन्होंने खुद यह कहा है. एक ट्वीट के जवाब में उन्होंने लिखा, ' मैं राजनीति से रिटायर नहीं हो रही हूं. सिर्फ स्वास्थ्य कारणों से 2019 का चुनाव नहीं लड़ने का निर्णय लिया है'. आपको बता दें कि सुषमा स्वराज ने एक दिन पहले ही मध्य प्रदेश के इंदौर में एक प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए कहा था कि वह 2019 का चुनाव नहीं लड़ेंगी.

  • सुषमा स्वराज नहीं लड़ेंगी 2019 का लोकसभा चुनाव,  दिल्ली सचिवालय में CM केजरीवाल पर मिर्च पाउडर फेंका, दिन भर की 5 बड़ी खबरें...

    सुषमा स्वराज नहीं लड़ेंगी 2019 का लोकसभा चुनाव,  दिल्ली सचिवालय में CM केजरीवाल पर मिर्च पाउडर फेंका, दिन भर की 5 बड़ी खबरें...

    मोदी सरकार में तेज तर्रार नेता के रूप में अपनी छवि कायम करने वाली केंद्रीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज (Sushma Swaraj) 2019 का लोकसभा चुनाव नहीं लड़ेंगी. मध्य प्रदेश के इंदौर में एक प्रेस वार्ता को संबोधित करने के दौरान सुषमा स्वराज ने यह बड़ा ऐलान किया. रिपोर्ट की मानें तो उन्होंने स्वास्थ्य कारणों का हवाला दिया है. वहीं, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर दिल्ली सचिवालय में मिर्च पाउडर से हमला हुआ है.

  • केंद्रीय विदेश मंत्री और बीजेपी की कद्दावर नेता सुषमा स्वराज नहीं लड़ेंगी 2019 का लोकसभा चुनाव, यह है वजह

    केंद्रीय विदेश मंत्री और बीजेपी की कद्दावर नेता सुषमा स्वराज नहीं लड़ेंगी 2019 का लोकसभा चुनाव, यह है वजह

    मोदी सरकार में तेज तर्रार नेता के रूप में अपनी छवि कायम करने वाली केंद्रीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज 2019 का लोकसभा चुनाव नहीं लड़ेंगी. मध्य प्रदेश के इंदौर में एक प्रेस वार्ता को संबोधित करने के दौरान सुषमा स्वराज ने यह बड़ा ऐलान किया. सुषमा स्वराज बीजेपी की कद्दावर नेता हैं और मोदी सरकार में बड़ा कद रखती हैं. इंदौर में प्रेस वार्ता के दौरान केंद्रीय मंत्री सुषमा स्वराज ने यह बड़ा ऐलान किया. सुषमा स्वराज ने स्वास्थ्य कारणों से अगला चुनाव नहीं लड़ने का ऐलान किया है.

  • चंद्रबाबू नायडू, ममता बनर्जी ने विपक्ष को बताया एकजुट, 'महागठबंधन' के चेहरे को लेकर कही यह बात...  

    चंद्रबाबू नायडू, ममता बनर्जी ने विपक्ष को बताया एकजुट, 'महागठबंधन' के चेहरे को लेकर कही यह बात...  

    नरेंद्र मोदी और बीजेपी के खिलाफ मोर्चा खड़ा करने में जुटे आंध्रप्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू (Chandrababu Naidu) ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) से मुलाकात की. विपक्षी एकजुटता के प्रयास में लगे नायडू की ममता के साथ इस बैठक को राजनीतिक रूप से महत्वपूर्ण माना जा रहा है. नायडू पिछले एक महीने के अंदर दिल्ली आकर राहुल गांधी से लेकर मुलायम सिंह और शरद पवार समेत विपक्षी पार्टियों के कई बड़े नेताओं से मिल चुके हैं. नायडू कांग्रेस को साथ लेकर विपक्षी एकजुटता की कोशिशों में जोरशोर से जुटे हैं. हालांकि दोनों नेताओं से जब बीजेपी के खिलाफ बन रहे महागठबंधन के चेहरों को लेकर सवाल पूछा गया तो उन्होंने उसे टाल दिया और घुमा फिराकर जवाब दिया.

  • केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल का दावा, 2019 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी को मिल सकती हैं 297 से 303 सीटें

    केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल का दावा,  2019 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी को मिल सकती हैं 297 से 303 सीटें

    केन्द्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने दावा किया है कि उनके एक सर्वेक्षण के मुताबिक 2019 के लोकसभा चुनाव में भाजपा 297 से 303 सीटें जीतेगी. इस सर्वेक्षण के लिए देश भर में 5.4 लाख से अधिक लोगों की प्रतिक्रिया ली गई.

  • बिहार में कुशवाहा फैक्टर...

    बिहार में कुशवाहा फैक्टर...

    बिहार में एनडीए में सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है...लोकसभा चुनाव के लिए हुए सीट बंटवारे में केवल दो सीटें मिलने से उपेंद्र कुशवाहा नाराज चल रहे हैं...कहा जा रहा है कि वे दिल्ली आ कर बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह से मिलने की कोशिश करेगें... उधर जेडीयू की तरफ से ताजा बयान यह है कि किसी के भी गठबंधन में आने या जाने से कोई भी फर्क नहीं पड़ता है, यानि जेडीयू ने यह तय कर लिया है कि मौजूदा एनडीए गठबंधन में कुशवाहा के लिए कोई जगह नहीं है...इसके पीछे का कारण समझना जरूरी है. आखिर नीतीश कुमार को उपेंद्र कुशवाहा क्यों पसंद नहीं हैं...वजह साफ है दोनों की राजनीति का आधार एक ही वोट बैंक है...

  • उत्तर प्रदेश की 80 लोकसभा सीटों पर समर्थन जुटाने के लिए साइकिल रैली करेंगे योगी आदित्यनाथ

    उत्तर प्रदेश की 80 लोकसभा सीटों पर समर्थन जुटाने के लिए साइकिल रैली करेंगे योगी आदित्यनाथ

    प्रदेश महासचिव गोविंद नारायण शुक्ला ने बताया कि महेंद्रनाथ पांडे इस रैली में शिरकत करने के लिए चंदौली में रहेंगे, जबकि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बाइक रैली में वाराणसी में शामिल होंगे, जो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संसदीय निर्वाचन क्षेत्र है. सुनील बंसल कन्नौज, केशवप्रसाद मौर्य फूलपुर तथा दिनेश शर्मा लखनऊ में रैली में शामिल होंगे.

  • संसद का शीतकालीन सत्र 11 दिसम्बर से आठ जनवरी तक

    संसद का शीतकालीन सत्र 11 दिसम्बर से आठ जनवरी तक

    संसद का शीतकालीन सत्र 11 दिसंबर से 8 जनवरी, 2019 के बीच होगा. संसदीय कार्य मंत्रालय के मुताबिक इस सत्र के दौरान लोकसभा और राज्यसभा की 20 बैठकें होंगी.

  • 2019 से पहले विपक्ष को एकजुट करने की कवायद, NDA के पूर्व सहयोगी चंद्रबाबू नायडू से मिले कांग्रेस महासचिव अशोक गहलोत, अब 22 नवंबर को बैठक

    2019 से पहले विपक्ष को एकजुट करने की कवायद, NDA के पूर्व सहयोगी चंद्रबाबू नायडू से मिले कांग्रेस महासचिव अशोक गहलोत, अब 22 नवंबर को बैठक

    इससे पहले चंद्रबाबू नायडू ने आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू ने पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवेगौड़ा  से मुलाकात की. ये मुलाकात बेंगलुरु में देवेगौड़ा के घर पर हुई. इस बैठक में कर्नाटक के मुख्यमंत्री और देवेगौड़ा के बेटे एचडी कुमारस्वामी भी शामिल हुए.

  • बिहार में सीटों पर सियासी दंगल जारी, उपेंद्र कुशवाहा और रामविलास पासवान के 'फॉर्मूले' से कहीं टूट न जाए NDA !

    बिहार में सीटों पर सियासी दंगल जारी, उपेंद्र कुशवाहा और रामविलास पासवान के 'फॉर्मूले' से कहीं टूट न जाए NDA !

    लोकसभा चुनाव 2019 से पहले बिहार में एनडीए के लिए राह आसान नहीं है. बीते कुछ समय से एनडीए में सीट बंटवारों को लेकर माथापच्ची जारी है, मगर अब ऐसी खबर है कि उपेंद्र कुशवाहा की रालोसपा के बाद अब रामविलास पासवान की पार्टी लोजपा भी कम सीटों पर मानने वाली नहीं है. राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन के घटक दल लोक जनशक्ति पार्टी और राष्ट्रीय लोक समता पार्टी ने गुरुवार को यह स्पष्ट कर दिया कि 2014 चुनाव के समान ही लोकसभा चुनाव 2019 में उतनी ही सीटों पर चुनाव लड़ना चाहती है. दरअसल, ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है कि बीजेपी और जेडी (यू) बिहार में कुल 40 सीटों में से 34 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतार सकती हैं. उसके बाद जो सीटें बचती है, उसमें से लोजपा और रालोसपा को दिया जाएगा. 

  • 2019 चुनाव से पहले विपक्ष को एकजुट करने में जुटे चंद्रबाबू नायडू ने एचडी देवेगौड़ा से मुलाकात के बाद कही यह बात...

    2019 चुनाव से पहले विपक्ष को एकजुट करने में जुटे चंद्रबाबू नायडू ने एचडी देवेगौड़ा से मुलाकात के बाद कही यह बात...

    आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू ने पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवेगौड़ा से मुलाकात की. ये मुलाकात बेंगलुरु में देवेगौड़ा के घर पर हुई. इस बैठक में कर्नाटक के मुख्यमंत्री और देवेगौड़ा के बेटे एचडी कुमारस्वामी भी शामिल हुए.

  • राम मंदिर का मुद्दा फिर क्यों गर्माने लगा है?

    राम मंदिर का मुद्दा फिर क्यों गर्माने लगा है?

    2019 से पहले 1992 आ रहा है बल्कि आ चुका है. इंतज़ार अब इस बात का है कि प्रधानमंत्री नरेंद मोदी कब 1992 के इस सियासी खेल में उतरते हैं. 2014 में प्रधानमंत्री की उम्मीदवार के तौर पर नरेंद मोदी के भाषणों को याद कीजिए, क्या आपको कोई भाषण याद आता है जो मुख्य रूप से राम मंदिर पर केंद्रित हो.

  • नतीजे के बाद बोले कुमारस्वामी, '2019 में कांग्रेस के साथ मिलकर लड़ेंगे चुनाव, राहुल गांधी को करना चाहिए 'महागठबंधन' का नेतृत्व'

    नतीजे के बाद बोले कुमारस्वामी, '2019 में कांग्रेस के साथ मिलकर लड़ेंगे चुनाव, राहुल गांधी को करना चाहिए 'महागठबंधन' का नेतृत्व'

    कर्नाटक में तीन लोकसभा और दो विधानसभा सीटों पर हुए उपचुनाव में कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन ने बीजेपी को तगड़ा झटका दिया है. कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन ने पांच में से चार सीटें अपने नाम कर ली. लोकसभा की तीन सीटों में से कांग्रेस और जेडीएस गठबंधन ने दो सीटें जीत लीं, वहीं विधानसभा की दो सीटों पर बीजेपी का सुपड़ा साफ कर दिया. इतना ही नहीं, बीजेपी की गढ़ माने जाने वाली बेल्लारी सीट में भी कांग्रेस ने सेंध लगा दी. कर्नाटक के मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी की पत्नी अनिता भी चुनाव जीत गई हैं.

  • Karnataka By-Poll Results: बीजेपी के गढ़ बेल्लारी में कांग्रेस का कब्जा, 19 साल का सूखा खत्म

    Karnataka By-Poll Results: बीजेपी के गढ़ बेल्लारी में कांग्रेस का कब्जा, 19 साल का सूखा खत्म

    कर्नाटक उपचुनाव 2018 में प्रतिष्ठा की लड़ाई में बीजेपी को उसी के गढ़ में मात देने में कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन कामयाब हो गया. कांग्रेस ने वीएस उगरप्पा ने बीजेपी के जे शांता को हरा दिया है. हैरान करने वाली बात है कि 2014 लोकसभा चुनाव में यह सीट बीजेपी के खाते में ही थी मगर अब यह कांग्रेस के खाते में हो गया. 

  • NDA में DNA पर दंगल: PM मोदी के खिलाफ नीतीश के सियासी 'तीर' को क्या अब उपेंद्र कुशवाहा बना रहे हैं 'रामबाण'

    NDA में DNA पर दंगल: PM मोदी के खिलाफ नीतीश के सियासी 'तीर' को क्या अब उपेंद्र कुशवाहा बना रहे हैं 'रामबाण'

    बिहार की सियासत में क्लाइमेक्स अभी बाकी है. भले ही बिहार एनडीए की की दो सबसे बड़ी पार्टी भाजपा और जदयू ने मिल बैठकर फिफ्टी-फिप्टी फॉर्मूले से सीटों के बंटवारे की गुत्थी को सुलझा लिया हो, मगर रालोसपा प्रमुख बिहार एनडीए की सीटों के बंटवारे की उलझन को और उलझा रहे हैं. बिहार विधानसभा चुनाव से पहले नीतीश कुमार ने वोट हासिल करने का जो तरीका अपनाया था, शायद वही तरीका अब उपेंद्र कुशवाहा भी अपना रहे हैं. दरअसल, बिहार के मुजफ्फरपुर में रविवार को उपेंद्र कुशवाहा ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर हमला बोला और नीच बताए जाने पर नीतीश कुमार से सवाल पूछा. इतना ही नहीं, उपेंद्र कुशवाहा ने नीतीश कुमार से डीएनए रिपोर्ट की भी मांग की है, जिस पर बिहार में चुनाव से पहले खूब माहौल बना था. 

  • सियासी दंगल का एक और ट्रेलर? नीतीश के खिलाफ उपेंद्र कुशवाहा के बोल, कहीं खोल न दे बिहार एनडीए की 'पोल'

    सियासी दंगल का एक और ट्रेलर? नीतीश के खिलाफ उपेंद्र कुशवाहा के बोल, कहीं खोल न दे बिहार एनडीए की 'पोल'

    लोकसभा चुनाव 2019 को लेकर बिहार एनडीए में उथल-पुथल अभी खत्म नहीं हुआ है. भले ही समय-समय पर ऐसी बातें आती रहती हैं कि बिहार एनडीए में सब कुछ समान्य हो गया है और सीटों को लेकर कोई विवाद नहीं होगा. मगर केंद्रीय मंत्री और रालोसपा प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा का मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर ताजा हमले से यह स्पष्ट हो गया है कि उपेंद्र कुशवाहा, लोकसभा में पिछले साल की तुलना में कम सीटों पर कतई नहीं मानने वाले हैं. दरअसल, रविवार को रालोसपा प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा ने अपने ही घटक दल जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर निशाना साधते हुए उनसे पूछा कि उनकी ‘डीएनए’ रिपोर्ट क्या है. बता दें कि बिहार एनडीए में भाजपा और जदयू के बीच लोकसभा चुनाव के लिए सीटों को लेकर बराबर-बराबर का समझौता हुआ है.

  • महागठबंधन पर महामंथन: दिल्ली में एक दिन और चंद्रबाबू नायडू की राहुल, अखिलेश, शरद पवार और फारुक से मुलाकात, क्या बन पाएगी बात

    महागठबंधन पर महामंथन: दिल्ली में एक दिन और चंद्रबाबू नायडू की राहुल, अखिलेश, शरद पवार और फारुक से मुलाकात, क्या बन पाएगी बात

    लोकसभा चुनाव 2019 से पहले मोदी सरकार को घेरने के लिए विपक्ष पूरी तरह से एकजुट होने की कोशिशों में लगा है. आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री और टीडीपी के मुखिया भी विपक्ष के एक छतरी के नीचे लाने के लिए हर संभव प्रयास कर रहे हैं. यही वजह है कि गुरुवार को वह दिल्ली में विपक्षी दलों के कई नेताओं से मिले और गैर बीजेपी दलों को एक साथ आने का आह्वान किया. 2019 के लोकसभा चुनावों से पहले भाजपा विरोधी मोर्चा बनाने के उद्देश्य से आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू ने गुरुवार को राहुल गांधी सहित कई विपक्षी दलों के प्रमुखों से मुलाकात की. तेदेपा प्रमुख नायडू ने कांग्रेस के साथ अपनी पार्टी के गठबंधन को देश की रक्षा के लिए ‘लोकतांत्रिक विवशता’ बताया. राहुल गांधी और नायडू ने संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए कहा कि सभी विपक्षी दलों के समक्ष मुख्य चुनौती साथ मिल कर काम करके भारत की संस्थाओं तथा लोकतंत्र की रक्षा करने की है. हालांकि, उन्होंने इस सवाल का जवाब नहीं दिया कि भाजपा विरोधी गठबंधन का नेतृत्व कौन करेगा.

  • BJP को हराने के लिए साथ आए कांग्रेस-टीडीपी, राहुल ने चंद्रबाबू नायडू से मुलाकात के बाद कही यह बात...

    BJP को हराने के लिए साथ आए कांग्रेस-टीडीपी, राहुल ने चंद्रबाबू नायडू से मुलाकात के बाद कही यह बात...

    लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Elections 2019) से पहले साझा मोर्चा बनाने की कोशिश में चंद्रबाबू नायडू (Chandrababu Naidu) दिल्ली पहुंचे. उन्होंने राहुल गांधी (Rahul Gandhi) और शरद पवार से मुलाकात की. फारूक अब्दुल्ला भी इस मोर्चे के साथ दिखे.

Advertisement