NDTV Khabar

Lonely


'Lonely' - 35 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • जम्मू-कश्मीर: तीन नेताओं को किया गया रिहा, अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद लिए गए थे हिरासत में

    जम्मू-कश्मीर: तीन नेताओं को किया गया रिहा, अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद लिए गए थे हिरासत में

    अधिकारियों ने बुधवार को बताया था कि रिहा किए जाने से पहले नूर मोहम्मद एक शपथ पत्र पर हस्ताक्षर कर शांति बनाए रखने एवं अच्छे व्यवहार का वादा करेंगे. इससे पहले राज्यपाल प्रशासन ने पीपुल्स कॉन्फ्रेंस के इमरान अंसारी और सैयद अखून को स्वास्थ्य कारणों से 21 सितंबर को रिहा किया था.

  • जम्मू में आज स्कूल और कॉलेज रहेंगे बंद, सुबह 6 बजे से धारा 144 होगी लागू

    जम्मू में आज स्कूल और कॉलेज रहेंगे बंद, सुबह 6 बजे से धारा 144 होगी लागू

    जम्मू की उपायुक्त सुषमा चौहान ने रविवार रात कहा कि सभी निजी और सरकारी स्कूलों और कॉलेजों को ऐतहियातन बंद रखने की सलाह दी गयी है.' अधिकारियों ने कहा कि जम्मू-कश्मीर की स्थिति के मद्देनजर यह कदम उठाया गया है, जहां खतरे की आशंका के मद्देनजर सुरक्षा बलों की तैनाती कई गुना बढ़ा दी गई है.

  • News Flash: जम्‍मू कश्‍मीर : महबूबा मुफ्ती के बाद उमर अब्‍दुल्‍ला को भी किया गया गिरफ्तार

    News Flash: जम्‍मू कश्‍मीर : महबूबा मुफ्ती के बाद उमर अब्‍दुल्‍ला को भी किया गया गिरफ्तार

    देश-दुनिया की राजनीति, खेल एवं मनोरंजन जगत से जुड़े समाचार इसी एक पेज पर जानें..

  • कश्मीर में स्थिति तनावपूर्ण, मोबाइल इंटरनेट सेवाएं बंद

    कश्मीर में स्थिति तनावपूर्ण, मोबाइल इंटरनेट सेवाएं बंद

     जम्मू-कश्मीर प्रशासन द्वारा शुक्रवार को अमरनाथ यात्रा बीच में ही समाप्त करने और तीर्थयात्रियों और पर्यटकों से जल्द से जल्द घाटी छोड़ने के लिए कहे जाने के बाद परेशान स्थानीय लोग घरों में जरूरी सामानों का स्टॉक करने के लिए दुकानों और ईंधन स्टेशनों पर बड़ी-बड़ी लाइनों में खड़े नजर आए. 

  • Jammu Kashmir Update: गृहमंत्री अमित शाह के ऐलान के बाद राज्यसभा में हंगामा

    Jammu Kashmir Update: गृहमंत्री अमित शाह के ऐलान के बाद राज्यसभा में हंगामा

    रविवार शाम से घाटी के कई इलाकों में इंटरनेट सेवा बंद होने की जानकारी मिल रही है. वहीं सूत्रों के मुताबिक राज्य की पूर्व मुख्यमंत्री  महबूबा मुफ्ती और उमर अब्दुल्ला को नजरबंद किया गया है.

  • महबूबा मुफ्ती ने पीएम मोदी से की अपील, कहा- राज्य के विशेष दर्जे के साथ छेड़छा़ड न करें

    महबूबा मुफ्ती ने पीएम मोदी से की अपील, कहा-  राज्य के विशेष दर्जे के साथ छेड़छा़ड न करें

    महबूबा ने अन्य पार्टियों के नेताओं के साथ शुक्रवार रात को राज्यपाल सत्यपाल मलिक से मुलाकात की और उनसे उन 'अफवाहों को खारिज करने का अनुरोध किया जिससे घाटी में भय का माहौल पैदा हो गया है' उन्होंने कहा कि ऐसा लगता है कि अपनी विशिष्ट पहचान की रक्षा के लिये जो कुछ भी बाकी बचा है, उसे भारत, जम्मू कश्मीर की जनता से 'बलपूर्वक छीन'ने की तैयारी में है. 

  • जम्मू कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने राजनीतिक दलों से कहा, शांति बनाए रखें और अफवाहों पर ध्यान न दें

    जम्मू कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने राजनीतिक दलों से कहा, शांति बनाए रखें और अफवाहों पर ध्यान न दें

    जम्मू कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने कहा कि अमरनाथ यात्रा को बीच में रोकने को अन्य मुद्दों के साथ जोड़कर 'बेवजह का डर' पैदा किया जा रहा है. जम्मू कश्मीर के राज्यपाल ने राजनीतिक नेताओं से अपने समर्थकों से शांति बनाए रखने और 'अफवाहों' पर भरोसा ना करने की बात कही है. 

  • Jammu And Kashmir Live Update:राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने कहा-अफवाहों पर न दें ध्यान

    Jammu And Kashmir Live Update:राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने कहा-अफवाहों पर न दें ध्यान

    जम्मू कश्मीर में आंतकी हमले की आशंका को देखते हुए प्रशासन की ओर से अमरनाथ यात्रियों को घोटी छोड़ने की एडवाइजरी जारी की गई है. बदले हालातों पर चर्चा के लिए सभी दलों ने कश्मीर में आपात बैठक भी बुलाई. वहीं एकाएक  कश्मीर में बढ़ी हलचल को देखते हुए स्थानीय लोगों में उहापोह की स्थिति पैदा हो गई है.

  • म्यामां सरकार ने रॉयटर्स पत्रकारों को किया रिहा, रोहिंग्या पर अत्याचारों की रिपोर्टिंग के लिए हुए थे गिरफ्तार

    म्यामां सरकार ने रॉयटर्स पत्रकारों को किया रिहा, रोहिंग्या पर अत्याचारों की रिपोर्टिंग के लिए हुए थे गिरफ्तार

    म्यामां सरकार द्वारा माफी के बाद रॉयटर्स के दो पत्रकारों वा लोन और क्याव सोई ओओ की जेल से रिहाई का अमेरिका ने स्वागत किया.

  • पुलवामा में एक व्यक्ति को घर से उठा ले गए आतंकवादी, फिर गोली मारकर की हत्या

    पुलवामा में एक व्यक्ति को घर से उठा ले गए आतंकवादी, फिर गोली मारकर की हत्या

    जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले में आतंकवादी 40 वर्षीय एक व्यक्ति को जबरन उसके घर से ले गए और गोली मारकर उसकी हत्या कर दी.

  • दोस्त को मफलर लपेट रही थी ये बॉलीवुड एक्ट्रेस, अचानक हुई बेहोश और फिर...Viral Video

    दोस्त को मफलर लपेट रही थी ये बॉलीवुड एक्ट्रेस, अचानक हुई बेहोश और फिर...Viral Video

    दुकान में मौजूदा लोग और वेब सीरिज़ की कास्ट ये सब देखकर चौंक गए. घबराहट में कोई डॉक्टर तो कोई मदद के लिए चीखने लगा. लेकिन कुछ सेकेंड बाद सब हंसने लगे.

  • फारूक अब्दुल्ला का बड़ा आरोप: सज्जाद लोन के पिता लेकर आए 'घाटी में बंदूक'

    फारूक अब्दुल्ला का बड़ा आरोप: सज्जाद लोन के पिता लेकर आए 'घाटी में बंदूक'

    जम्मू कश्मीर की सियासत अब भी गरम है. विधानसभा भंग को लेकर जम्मू-कश्मीर में चल रहे सियासी घमासान के बीच अब पूर्व मुख्यमंत्री और नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता फारूक अब्दुल्ला ने सज्जाद लोन के पिता, अब्दुल गनी लोन पर घाटी में आतंकवाद को लाने और बंदूक की संस्कृति विकसित करने का सनसनीखेज आरोप लगाया है. नेशनल कॉन्फ्रेंस के अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला ने कहा कि सज्जाद लोन के पिता अब्दुल गनी लोन कश्मीर में बंदूक लाने के जिम्मेदार थे. आगे उन्होंने खुलासा किया कि हालांकि, उन्होंने सज्जाद लोन के पिता को यह विचार त्यागने का अनुरोध भी किया था, मगर वो नहीं माने.

  • जम्मू-कश्मीर: गवर्नर सत्यपाल मलिक को सता रहा है 'तबादले का डर', बोले- पता नहीं कितने दिन यहां हूं

    जम्मू-कश्मीर: गवर्नर सत्यपाल मलिक को सता रहा है 'तबादले का डर', बोले- पता नहीं कितने दिन यहां हूं

    राज्यपाल मलिक ने कहा, 'मैं कितने दिन यहां हूं, यह मेरे हाथ में नहीं हैं. मुझे नहीं पता कि मेरा कब तबादला कर दिया जाएगा. मुझे पद से नहीं हटाया जाएगा, लेकिन मेरे तबादले की आशंका है. जब तक मैं यहां हूं, मैं आप लोगों को भरोसा दिलाता हूं कि जब भी आप मुझे बुलाएंगे, मैं उन्हें (गिरधारी लाल डोगरा) श्रद्धांजलि देने के लिए आता रहूंगा.' सत्यपाल मलिक पिछले तीन महीने से जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल पद पर हैं.

  • सत्यपाल मलिक के 'इस फैसले' की महबूबा मुफ्ती और उमर अबदुल्ला ने की तारीफ, कही यह बात...

    सत्यपाल मलिक के 'इस फैसले' की महबूबा मुफ्ती और उमर अबदुल्ला ने की तारीफ, कही यह बात...

    जम्मू कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक (Satya Pal Malik) ने कहा कि अगर वह दिल्ली की तरफ देखते तो उन्हें सज्जाद लोन को मुख्यमंत्री बनाना पड़ता और यह बेईमानी होती. राज्यपाल ने यह बयान शनिवार को ग्वालियर में दिया था, लेकिन अब इस पर सियासी हंगामा शुरू हो गया है. राज्य के दो पूर्व मुख्यमंत्रियों उमर अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती ने राज्यपाल को केंद्र सरकार का आदेश न मानने के लिए बधाई दी है. लेकिन सत्यपाल मलिक का यह बयान केंद्र सरकार के लिए शर्मिंदगी का सबब बन गया है, क्योंकि उनके बयान से यही इशारा मिलता है कि केंद्र सिर्फ दो विधायक होने के बावजूद सज्जाद लोन को मुख्यमंत्री बनवाना चाहता था.

  • राज्यपाल की 'ईमानदारी'  

    राज्यपाल की 'ईमानदारी'  

    क्या केंद्र सरकार सज्जाद लोन को मुख्यमंत्री बनाने के लिए राज्यपाल सत्यपाल मलिक पर दबाव डाल रही थी? क्या केंद्र की ओर से राज्यपाल को कहा गया था कि या तो लोन मुख्यमंत्री बनेंगे या फिर विधानसभा भंग होगी? यह सवाल इसलिए क्योंकि खुद राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने ही कह डाला है कि अगर वे दिल्ली की तरफ देखते तो उन्हें सज्जाद लोन को मुख्यमंत्री बनाना पड़ता और यह बेईमानी होती.

  • जम्मू-कश्मीर के गवर्नर सत्यपाल मलिक बोले- सज्जाद लोन को मौका देकर मैं बेईमानी नहीं कर सकता था

    जम्मू-कश्मीर के गवर्नर सत्यपाल मलिक बोले- सज्जाद लोन को मौका देकर मैं बेईमानी नहीं कर सकता था

    सत्यपाल मलिक ने कहा कि दोनों में से किसी के पास कोई लिस्ट नहीं थी. न तो महबूबा जी के पास कोई लिस्ट थी, जो उन्होंने पेश की हो और न ही सज्जाद लोन के पास कोई लिस्ट थी. सज्जाद लोन कह रहे थे कि मैंने आपको संपर्क किया. जब मैंने पूछा कहां संपर्क किया, तो उन्होंने कहा कि मैंने आपके पीए को वाट्सएप किया. मलिक ने चुटकी लेते हुए कहा, 'मुझे यह पता नहीं था कि वाट्सएप और ट्वीट से भी सरकारें बनती हैं'.

  • सज्जाद लोन का हमला, PDP और नेशनल कॉन्फ्रेंस ने जम्मू कश्मीर को जागीर समझ रखा है

    सज्जाद लोन का हमला, PDP और नेशनल कॉन्फ्रेंस ने जम्मू कश्मीर को जागीर समझ रखा है

    पीपुल्स कान्फ्रेंस के अध्यक्ष सज्जाद लोन (Sajad Lone) ने शुक्रवार को पीडीपी, कांग्रेस और नेशनल कान्फ्रेंस पर निशाना साधते हुए कहा कि उनके महागठबंधन बनाने का मकसद हमारी पार्टी के नेतृत्व वाले 'तीसरे मोर्चे' को सत्ता से बाहर रखना है.

  • जम्मू-कश्मीर में क्यों और कैसे भंग हुई विधानसभा, जानें पूरे घटनाक्रम की 10 बड़ी बातें

    जम्मू-कश्मीर में क्यों और कैसे भंग हुई विधानसभा, जानें पूरे घटनाक्रम की 10 बड़ी बातें

    जम्मू-कश्मीर((Jammu and Kashmir ) में गठबंधन के जरिए सरकार बनाने के लिए दो पार्टियों की ओर से दावा ठोके जाने के बाद राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने बुधवार को विधानसभा ही भंग कर दिया. PDP नेता महबूबा मुफ्ती (Mehbooba Mufti) ने विरोधी नेशनल कांफ्रेंस और कांग्रेस के साथ मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश किया तो उधर दो विधायकों वाली पीपुल्स कांफ्रेंस मुखिया सज्जाद लोन न (Sajad Lone) ने भी बीजेपी (BJP) और अन्य विधायकों के समर्थन की बात कहकर राज्यपाल के सामने दावेदारी कर दी. राज्यपाल सत्यपाल मलिक (Satya Pal Malik) ने सरकार बनाने के लिए विधायकों की खरीद-फरोख्त की आशंका जताते हुए विधानसभा भंग कर दी. उन्होंने इस कार्रवाई के समर्थन में चार कारण भी गिनाए. ये कारण राजभवन की ओर से बकायदा लिखित रूप में जारी किए गए.