NDTV Khabar

M karunanidhi died


'M karunanidhi died' - 8 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • वो 5 नेता जिन्होंने तमिलनाडु की सियासत को बदल दिया, पढ़ें उनके बारे में विस्तार से

    वो 5 नेता जिन्होंने तमिलनाडु की सियासत को बदल दिया, पढ़ें उनके बारे में विस्तार से

    डीएमके की मानें तो तमिलनाडु के करीब सात करोड़ लोगों में से करीब एक करोड़ उसके फॉलोवर हैं. यह सब करुणानिधि की वजह से ही संभव हो पाया. करुणानिधि से पहले तमिलनाडु में ऐसे कम ही नेता हुए जिन्होंने इस मुकाम को पाया. आइये आपको ऐसे ही पांच नेताओं से मिलवाते हैं. 

  • स्टालिन ने पिता करुणानिधि को लिखा भावुक पत्र, कहा- क्या आपको आखिरी बार 'अप्पा' पुकार सकता हूं

    स्टालिन ने पिता करुणानिधि को लिखा भावुक पत्र, कहा- क्या आपको आखिरी बार 'अप्पा' पुकार सकता हूं

    एम. के. स्टालिन ने अपने दिवंगत पिता और पार्टी नेता एम. करुणानिधि (M Karunanidhi) की याद में बुधवार को एक भावुक पत्र लिखा. पांच बार तमिलनाडु के मुख्यमंत्री रहे 94 वर्षीय करुणानिधि का यहां मंगलवार को एक निजी अस्पताल में निधन हो गया. पत्र में स्टालिन ने कहा, "आपको अप्पा, अप्पा कहकर बुलाने की बजाए मैंने कई बार आपको थलाइवरय, थलाइवरय (मेरे नेता) कहकर बुलाया है.

  • Karunanidhi Death: करुणानिधि को मरीना बीच पर दफनाने को लेकर क्यों है विवाद? 10 बड़ी बातें

    Karunanidhi Death: करुणानिधि को मरीना बीच पर दफनाने को लेकर क्यों है विवाद? 10 बड़ी बातें

    डीएमके प्रमुख और दक्षिण भारत के दिग्गज नेता एम करुणानिधि को मरीना बीच पर दफनाने को लेकर विवाद जारी है. डीएमके की याचिका पर मद्रास हाईकोर्ट में आधी रात को सुनवाई हुई. हालांकि कोर्ट ने मामले को सुबह 8 बजे तक के लिए स्थगित कर दिया है. इस मामले में तमिलनाडु सरकार ने कोर्ट से जवाब देने के लिए अधिक समय की मांग की है. दरअसल, डीएमके ने करुणानिधि के निधन के बाद मरीना बीच पर उन्हें दफनाने के लिए जमीन की मांग की थी. तमिलनाडु सरकार ने मरीना बीच पर जगह देने से इनकार कर दिया था. सरकार ने करुणानिधि को दफनाने के लिए पूर्व मुख्यमंत्री सी राजगोपालचारी और के कामराज के स्मारकों के समीप जगह देने की पेशकश की थी. डीएमके इस पर राजी नहीं हुई और इस मामले पर सियासी उठापटक शुरू हो गई. 

  • तमिलनाडु की राजनीति के एक युग का अंत

    तमिलनाडु की राजनीति के एक युग का अंत

    तमिलनाडु की राजनीति का आज दूसरा युग समाप्त हो गया. डीएमके नेता एम करुणानिधि का देहांत हो गया. 94 साल के करुणानिधि 28 जुलाई से अस्पताल में भर्ती थे. तमिलनाडु में जयललिता और करुणानिधि का लंबा दौर चला है. 5 दिसंबर 2016 को जयललिता के निधन के बाद तमिलनाडु की राजनीति अनिश्चतता से गुज़र रही थी. 5 बार मुख्यमंत्री रहे एम करुणानिधि के निधन ने राज्य की राजनीति का मैदान खुला छोड़ दिया है. जयललिता और करुणानिधि की राजनीति सिर्फ प्रतिस्पर्धा की राजनीति नहीं थी, दोनों ने विचारधारा के स्तर पर कई रेखाएं खीचीं हैं. आज स्क्रीन पर आप भले ही करुणानिधि के उदास और टूटे हुए समर्थकों को देख रहे हैं मगर इस शख्स ने तमिलनाडु का ग़ज़ब का इतिहास लिखा है. आप जानते है कि डीएमके की स्थापना अन्ना दुरई ने की थी. इस पार्टी में नौजवान नेता के रूप में एम करुणानिधि आए थे. इससे पहले वे पत्रकारिता में थे.

  • Karunanidhi Death : पीएम मोदी ने कहा, आम जन में गहरी पैठ रखने वाले नेता को खो दिया

    Karunanidhi Death : पीएम मोदी ने कहा, आम जन में गहरी पैठ रखने वाले नेता को खो दिया

    द्रमुक अध्यक्ष एम करुणानिधि का लंबी बीमारी के बाद मंगलवार की शाम को चेन्नई के एक अस्पताल में निधन हो गया. उनके निधन पर तमिलनाडु में शोक की लहर छा गई है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एम करुणानिधि के निधन पर दुख जताया. उन्होंने कई ट्वीट करके दिग्गज नेता को याद किया और श्रद्धांजलि दी.

  • करुणानिधि का निधन : रजनीकांत ने कहा कि यह दिन मेरे जीवन का स्याह दिन

    करुणानिधि का निधन : रजनीकांत ने कहा कि यह दिन मेरे जीवन का स्याह दिन

    द्रमुक अध्यक्ष एम करुणानिधि का लंबी बीमारी के बाद मंगलवार की शाम को चेन्नई के एक अस्पताल में निधन हो गया. उनके निधन पर तमिलनाडु में शोक की लहर छा गई है.

  • M Karunanidhi: पटकथा लेखक से लेकर राजेनता तक का सफर, जानिए एम करुणानिधि के जीवन से जुड़ी खास बातें

    M Karunanidhi: पटकथा लेखक से लेकर राजेनता तक का सफर, जानिए एम करुणानिधि के जीवन से जुड़ी खास बातें

    तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री और डीएमके चीफ एम करुणानिधि (M Karunanidhi) ने आज चेन्नई के कावेरी अस्पताल में अंतिम सांस ली. शाम 6 बजकर 10 मिनट पर करुणानिधि का निधन हो गया. करुणानिधि के हजारों समर्थक उनके अंतिम दर्शन के लिए अस्पताल के बाहर मौजूद हैं.

  • M Karunanidhi Passes Away: करुणानिधि की ये थी पहली फिल्म, उनकी लाइफ की 5 बड़ी बातें नहीं जानते होंगे आप

    M Karunanidhi Passes Away: करुणानिधि की ये थी पहली फिल्म, उनकी लाइफ की 5 बड़ी बातें नहीं जानते होंगे आप

    एम. करुणानिधि का जन्म 3 जून 1924 को ब्रिटिश भारत के नागपट्टिनम के तिरुक्कुभलइ में दक्षिणमूर्ति के रूप में हुआ था. वे इसाई वेल्लालर समुदाय से संबंध रखते हैं. करुणानिधि ने तमिल फिल्म उद्योग में एक स्क्रिप्ट राइटर के तौर पर अपना करियर का शुरू किया था.