NDTV Khabar

Manish kumar


'Manish kumar' - 466 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • झारखंड के पूर्व कांग्रेस प्रमुख डॉ. अजय कुमार ने NDTV को बताया, क्यों AAP में हुए शामिल

    झारखंड के पूर्व कांग्रेस प्रमुख डॉ. अजय कुमार ने NDTV को बताया, क्यों AAP में हुए शामिल

    अजय कुमार ने कहा कि आप ही सच्चे अर्थों में ‘आम आदमी’ की पार्टी है जिसमें कोई भी शामिल हो सकता है और विकास के लिए काम कर सकता है. डॉक्टर अजय कुमार ईमानदार और साफ-सुथरी छवि के नेता माने जाते हैं. कुमार जमशेदपुर से सांसद भी रह चुके हैं. पूर्व आईपीएस अधिकारी कुमार ने पिछले माह झारखंड कांग्रेस के अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था.

  • Hair Care Tips: बालों के झड़ने से हैं परेशान, अपनाएं ये 7 घरेलू नुस्खे

    Hair Care Tips: बालों के झड़ने से हैं परेशान, अपनाएं ये 7 घरेलू नुस्खे

    स्वस्थ बालों के लिए उनकी देखभाल पर जरूर ध्यान दिया जाना चाहिए.

  • जानें हाई ब्लड प्रेशर के इफेक्ट्स, कैसे लाइफस्टाइल में बदलाव कर इसे करा जा सकता है कंट्रोल

    जानें हाई ब्लड प्रेशर के इफेक्ट्स, कैसे लाइफस्टाइल में बदलाव कर इसे करा जा सकता है कंट्रोल

    कई लोग हाई ब्लड प्रेशर को गंभीरता से नहीं लेते हैं, लेकिन ये शरीर को कई तरीकों से नुकसान पहुंचा सकता है.

  • Hypertension Diet: हाई ब्लड प्रेशर से रहना है दूर, तो अपनाएं ये तरीके...

    Hypertension Diet: हाई ब्लड प्रेशर से रहना है दूर, तो अपनाएं ये तरीके...

    Hypertension Diet: हाई ब्लड प्रेशर की बीमारी से दूर रहने के लिए DASH डाइट काफी फायदेमंद साबित हुई है. DASH को असल में डायेट्री एप्परोचिस टू स्टोप हाइपरटेशन कहा जाता है.

  • अगले साल बिहार विधानसभा चुनाव में नीतीश कुमार की जीत आखिर क्यों तय?

    अगले साल बिहार विधानसभा चुनाव में नीतीश कुमार की जीत आखिर क्यों तय?

    बिहार विधानसभा का चुनाव अगले साल होना है और जब उसके पहले कई अन्य राज्यों में चुनाव होना है तो उस परिप्रेक्ष्य में बिहार के विधानसभा चुनाव को लेकर भविष्यवाणी जल्दीबाजी होगी लेकिन जो संकेत मिल रहे हैं उससे तो केवल एक बात साफ लग रही है, और वह है नीतीश कुमार का एक बार फिर मुख्यमंत्री चुना जाना. खासकर इस कथन को बल बिहार की राजधानी पटना में पिछले दिनों तीन अलग-अलग घटनाओं से मिला. इनका एक-दूसरे से कोई सम्बंध नहीं था लेकिन सबका राजनीतिक अर्थ एक था.

  • NRC के मुद्दे पर बिहार में बीजेपी और जेडीयू के बीच 'वाकयुद्ध'

    NRC के मुद्दे पर बिहार में बीजेपी और जेडीयू के बीच 'वाकयुद्ध'

    बिहार में एनआरसी के मुद्दे पर सत्तारूढ़ जनता दल युनाइटेड और बीजेपी के बीच वाकयुद्ध तेज़ होता जा रहा है. जबसे असम में नेशनल रजिस्टर आफ सिटीजन की सूची आई है तब से एक ओर बीजेपी के नेता बिहार में भी बांग्लादेशी घुसपैठियां की संख्या लाखों में बताते हैं और यहां भी एनआरसी लागू करने की मांग कर रहे हैं.

  • ब्लॉग : क्या नीतीश कुमार अब अपनी ही पार्टी जेडीयू के लिए 'कामचलाऊ' नेता बन गए हैं

    ब्लॉग :  क्या नीतीश कुमार अब अपनी ही पार्टी जेडीयू के लिए 'कामचलाऊ' नेता बन गए हैं

    क्या बिहार में सत्तारूढ़ जनता दल यूनाइटेड अपने सुप्रीमो नीतीश कुमार को अब 'कामचलाऊ' और 'अस्थायी'  मानती है. ये सवाल सोमवार को पार्टी दफ़्तर के बाहर लगाए गये नए होर्डिंग के बाद लोग पूछ रहे हैं.  रविवार शाम , पटना में पार्टी दफ़्तर के बाहर नए होर्डिंग लगाए गए जिसमें नारा  था , ‘क्यूं करे विचार ठीके तो है नीतीश कुमार’.  निश्चित रूप से जिसने भी स्लोगन लिखा होगा उसमें पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ख़ासकर नीतीश कुमार के क़रीबी आरसीपी सिंह के सहमति से  ही ये होर्डिंग लगायी होगी. लेकिन पार्टी के ही नेताओं को लगता है ये नारा लोगों को पच नहीं रहा. ठीके का मतलब बिहार की राजनीति और गांव घर में यही होता हैं कि वो बहुत अच्छे तो नहीं लेकिन ठीक ठाक कामचलाऊ हैं.

  • Weight Loss: वो 4 हेल्दी पोस्ट वर्कआउट प्रोटीन शेक जो वजन घटाने में हैं मददगार, जानें विधि

    Weight Loss: वो 4 हेल्दी पोस्ट वर्कआउट प्रोटीन शेक जो वजन घटाने में हैं मददगार, जानें विधि

    वर्कआउट के बाद रिकवरी के लिए शेक प्रोटीन का एक बेहतरीन स्रोत होता है.

  • Skin Care: वो 5 एंटी एजिंग फूड जो आपकी स्किन के लिए हैं बेहद फायदेमंद...

    Skin Care: वो 5 एंटी एजिंग फूड जो आपकी स्किन के लिए हैं बेहद फायदेमंद...

    आप ऐसे फूड्स अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं, जिनमें फ्लेवर होने के साथ-साथ न्यूट्रिशन भी भरपूर होता है.

  • वो 7 जेल लोशन जो मॉइस्चराइजड हैं पर चिपचिपे नहीं

    वो 7 जेल लोशन जो मॉइस्चराइजड हैं पर चिपचिपे नहीं

    लाइटर फॉर्मूले से भरपूर होने के कारण जेल लोशन्स स्किन में जल्द ओब्जर्व हो जाते हैं

  • क्या तेजस्वी यादव की जिद के आगे झुक गए लालू यादव?

    क्या तेजस्वी यादव की जिद के आगे झुक गए लालू यादव?

    तेजस्वी यादव, जो विपक्ष का नेता रहने के बावजूद एक महीने चले विधानसभा सत्र में मात्र दो दिन कुछ मिनट के लिए सिर्फ चेहरा दिखाने आए आखिरकार अपने पिता लालू यादव के कहने पर वापस आए हैं.

  • क्या नीतीश कुमार के लिए सिद्धांत सर्वोपरि हैं?

    क्या नीतीश कुमार के लिए सिद्धांत सर्वोपरि हैं?

    आर्टिकल 370 के मुद्दे पर केंद्र की भारतीय जनता पार्टी को अपने सहयोगी नीतीश कुमार की जनता दल यूनाइटेड से निराशा हाथ लगी. लोकसभा और राज्यसभा दोनों सदनों में जनता दल यूनाइटेड के नेताओं ने न केवल विरोध में भाषण दिया बल्कि सदन का बहिष्कार भी किया. जबकि इस मुद्दे की गंभीरता और जनता में इसको लेकर आम लोगों के बीच जो सरकार के प्रति भावना है उसके बाद बीएसपी, आम आदमी पार्टी जैसे विपक्षी दल सरकार के समर्थन में आगे आए. लेकिन सवाल है कि इस सबके बावजूद आख़िर इस मुद्दे पर अपनी पार्टी की पुराने लाइन और सिद्धांत पर नीतीश क्यों टिके रहे. इसके लिए आपको पांच वर्ष के एक घटनाक्रम पर भाजपा के एक वरिष्ठ नेता का कमेंट जानना होगा.

  • ऋतिक रोशन की 'सुपर 30' की उड़ान जारी, उत्तर प्रदेश के बाद अब दिल्ली और गुजरात में भी फिल्म हुई टैक्स फ्री

    ऋतिक रोशन की 'सुपर 30' की उड़ान जारी, उत्तर प्रदेश के बाद अब दिल्ली और गुजरात में भी फिल्म हुई टैक्स फ्री

    'सुपर 30 (Super 30)' को लेकर एक और खुश खबरी आ रही है. दरअसल, बिहार, राजस्थान और उत्तर प्रदेश के बाद अब 'सुपर 30 (Super 30)' को दिल्ली और गुजरात में भी टैक्स फ्री कर दिया गया है.

  • राजद का भविष्य और बिहार की राजनीति की दिशा क्यों और कैसे तय करेंगे नीतीश कुमार...

    राजद का भविष्य और बिहार की राजनीति की दिशा क्यों और कैसे तय करेंगे नीतीश कुमार...

    लोकसभा चुनाव के बाद बिहार की राजनीति को लेकर जो भी क़यास लगाए जा रहे हैं उसके केंद्र में एक ही बात की प्रमुखता होती है कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का अगला कदम क्या होगा और राजद टूटेगी या अब एक बार फिर नीतीश कुमार की शरण में जाएगी.

  • Blog: क्या बिहार में बच्चों की मौत के बहाने नीतीश कुमार की आलोचना की जगह अब न्यूज चैनल अपने राजनीतिक आकाओं का एजेंडा तो पूरा नहीं कर रहे हैं?

    Blog: क्या बिहार में बच्चों की मौत के बहाने नीतीश कुमार की आलोचना की जगह अब न्यूज चैनल अपने राजनीतिक आकाओं का एजेंडा तो पूरा नहीं कर रहे हैं?

    बिहार में चमकी बुखार (Acute Encephalitis Syndrome) से  अब तक 150 बच्चों की मौत हो गयी है. निश्चित रूप से इस मुद्दे पर मुख्यमंत्री  नीतीश कुमार की सबसे अधिक आलोचना हो रही है. उसके बाद उप मुख्यमंत्री  सुशील मोदी जो विपक्ष के नेता के रूप में किसी भी घटना के बाद सबसे आक्रामक होके इस्तीफ़ा मांगते थे. इन सबके बाद राज्य के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय जो अपने संवेदनहीनता के कारण मज़ाक़ के पात्र बन बैठे हैं उनकी आलोचना हो रही है. ये तीनों नेता मीडिया से परेशान हैं क्योंकि मीडिया वाले इनका पीछा करते हैं और कुछ तो इनसे इन्हीं के पूर्व के बयानो का हवाला देते हुए पूछ देते हैं कि आख़िर इस्तीफ़ा कब देंगे. मीडिया ख़ासकर इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में कई दिन तक सुबह से शाम तक प्राइम टाइम में बच्चों की मौत, अस्पतालों की बदहाल स्थिति के बहाने सरकार की निश्चित रूप से जायज बिंदुओं  पर चैनल के पत्रकार से संपादक तक एक स्वर से आलोचना करते हैं.

  • बिहार में बच्चों की मौत के लिए ज़िम्मेदार कौन - नीतीश कुमार या सुशील मोदी...?

    बिहार में बच्चों की मौत के लिए ज़िम्मेदार कौन - नीतीश कुमार या सुशील मोदी...?

    अगर कुछ महीने छोड़ दिए जाएं, तो पिछले कुछ सालों से दोनों नेता राज्य की सता पर क़ाबिज़ हैं, लेकिन अब बिहार में कुछ ही दिनों में 130 से अधिक बच्चों की मौत ने इनकी प्रशासनिक कुशलता पर सवाल खड़े कर दिए हैं, और इसीलिए जहां नीतीश कुमार अपनी ज़िम्मेदारियों के बारे में बात करने की बजाय मीडिया से मुंह फुलाए बैठे हैं, वहीं सुशील मोदी का हमेशा की तरह इस बार भी 'लालू-राबड़ी' राग जारी है.

  • ब्लॉग : 'हिस्सेदारी' नीतीश कुमार का पीछा क्यों नहीं छोड़ती!

    ब्लॉग :  'हिस्सेदारी' नीतीश कुमार का पीछा क्यों नहीं छोड़ती!

    राजनीति में चीज़ें जितनी बदलती है उतनी ही अपने मूल स्वरूप में भी रह जाती हैं. ये सच बिहार के मुख्यमंत्री और जनता दल यूनाइटेड के अध्यक्ष नीतीश कुमार से बेहतर कोई नहीं जानता जो पिछले 5 दिनों से केंद्र के सरकार में हिस्सेदारी को लेकर सुर्ख़ियों में हैं. हालांकि वह हर दिन एक बात की दुहाई देते हैं की NDA में है और अगर केंद्र के सरकार में हिस्सेदारी को लेकर उनकी बात नहीं बनी तो इसका मतलब बिहार में BJP के साथ सरकार पर कोई प्रतिकूल असर नहीं पड़ेगा और साथ ही वह केन्द्र और बिहार में एनडीए में ही रहेंगे. लेकिन वर्तमान विवाद और संकट का क्या समाधान होगा उसके लिए नीतीश कुमार की राजनीति को 25 साल पहले से देखना होगा. उस समय क्या हुआ था यह बिहार बीजेपी के कई वरिष्ठ नेताओं जैसे सुशील मोदी और नंद किशोर यादव को अच्छी तरह से याद होगा. सत्ता में हिस्सेदारी का ही मामला था कि जब नीतीश कुमार ने लालू यादव से अलग होकर लोक समता पार्टी बनायी थी.

  • Lok Sabha Election 2019: प्रशांत किशोर ने वाईएसआर कांग्रेस की धमाकेदार जीत के साथ की शानदार वापसी

    Lok Sabha Election 2019: प्रशांत किशोर ने वाईएसआर कांग्रेस की धमाकेदार जीत के साथ की शानदार वापसी

    वीरवार को जगमोहन रेड्डी  ने हैदराबाद स्थित अपने निवास पर रणनीतिकार प्रशांत किशोर के साथ अपने निवास पर ही लगातार आ रहे परिणामों को देखा. उनकी पार्टी ने राज्य में 25 लोकसभा और 175 में से 150 से भी ज्यादा विधानसभा सीटों पर चुनाव लड़ा था.