NDTV Khabar

Manish sisodia


'Manish sisodia' - 541 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • अगले दो हफ्तों में गिर जाएगा कोरोना का ट्रेंड, दिल्ली के हेल्थ मिनिस्टर का दावा

    अगले दो हफ्तों में गिर जाएगा कोरोना का ट्रेंड, दिल्ली के हेल्थ मिनिस्टर का दावा

    जैन ने बताया कि मंत्रिमंडलीय सहयोगी और दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया को प्लाज्मा थैरेपी दी गई है. उनकी तबियत अब काफी बेहतर है.

  • कोरोना संक्रमित दिल्‍ली के उप मुख्‍यमंत्री मनीष सिसोदिया को दी गई प्‍लाज्‍़मा थेरैपी..

    कोरोना संक्रमित दिल्‍ली के उप मुख्‍यमंत्री मनीष सिसोदिया को दी गई प्‍लाज्‍़मा थेरैपी..

    दिल्ली के उप मुख्‍यमंत्री मनीष सिसोदिया को 14 सितंबर को कोविड-19 से संक्रमित पाया गया था और वह होम आइसोलेशन में थे. उन्हें इलाज के लिए बुधवार को एलएनजेपी अस्पताल में भर्ती कराया गया और एक दिन बाद उन्हें डेंगू से भी पीड़ित पाया गया.

  • कोविड-19 और डेंगू से जूझ रहे मनीष सिसोदिया की हालत अब बेहतर: अधिकारी

    कोविड-19 और डेंगू से जूझ रहे मनीष सिसोदिया की हालत अब बेहतर: अधिकारी

    कोविड-19 और डेंगू के दोहरे संक्रमण से जूझ रहे दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया की हालत अब बेहतर है. उनके कार्यालय के एक अधिकारी ने शुक्रवार को यह जानकारी दी. सिसोदिया का इलाज मैक्स अस्पताल, साकेत में चल रहा है. सिसोदिया को यहां बृहस्पतिवार शाम को दिल्ली सरकार द्वारा संचालित एलएनजेपी अस्पताल से उनके "ब्लड प्लेटलेट्स" घटने और ऑक्सीजन की मात्रा कम होने के कारण ले जाया गया था.

  • दिल्ली के डिप्टी CM मनीष सिसोदिया को अब डेंगू भी हुआ, लगातार गिर रहे हैं प्लेटलेट्स

    दिल्ली के डिप्टी CM मनीष सिसोदिया को अब डेंगू भी हुआ, लगातार गिर रहे हैं प्लेटलेट्स

    दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) को अब डेंगू भी हो गया है. मनीष सिसोदिया के प्लेटलेट्स लगातार गिर रहे हैं. वह बुधवार को बुखार और गिरते ऑक्सीजन स्तर के बाद LNJP अस्पताल में भर्ती हुए थे. मनीष सिसोदिया 14 सितंबर से कोरोना पॉजिटिव हैं.

  • कोरोना से संक्रमित दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया अस्पताल में भर्ती

    कोरोना से संक्रमित दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया अस्पताल में भर्ती

    दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया को अस्पताल में भर्ती किया गया है. उनको बुखार और ऑक्सीजन की शिकायत के बाद दिल्ली के लोकनायक जयप्रकाश अस्पताल में भर्ती किया गया है. मनीष सिसोदिया 14 सितंबर से कोरोना पॉजिटिव हैं.

  • दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया हुए कोरोना पॉजिटिव, खुद ट्वीट कर दी जानकारी

    दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया हुए कोरोना पॉजिटिव, खुद ट्वीट कर दी जानकारी

    इससे पहले आज दोपहर 25 सांसदों के कोरोना पॉजिटिव होने की खबर आई थी. आपको बता दें कि सोमवार के संसद के मॉनसून सत्र (Parliament Monsoon Session) की शुरुआत हो चुकी है, लेकिन इसके पहले 25 सांसद कोरोनावायरस से पॉज़िटिव (Loksabha MPs Covid positive) पाए गए हैं.

  • फीस बढ़ाने पर दिल्ली सरकार सख्त, चाणक्यपुरी के नामी स्कूल पर लिया एक्शन

    फीस बढ़ाने पर दिल्ली सरकार सख्त, चाणक्यपुरी के नामी स्कूल पर लिया एक्शन

    दिल्ली के उपमुख्यमंत्री और शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) ने कोरोनावायरस महामारी के दौरान स्कूलों की फीस बढ़ाने के खिलाफ एक बार फिर सख्त संदेश दिया है. उन्होंने कहा है कि किसी भी स्कूल को फीस बढ़ाने की इजाजत नहीं है, सिर्फ ट्यूशन फीस ली जा सकती है. आदेश का उल्लंघन करने वाले एक स्कूल के खिलाफ एक्शन भी लिया गया है. 

  • Literacy Rate: साक्षरता दर में दिल्ली ने हासिल किया दूसरा स्थान, मनीष सिसोदिया ने शिक्षा टीम को दी बधाई

    Literacy Rate: साक्षरता दर में दिल्ली ने हासिल किया दूसरा स्थान, मनीष सिसोदिया ने शिक्षा टीम को दी बधाई

    दिल्ली ने देश में साक्षरता दर (Literacy Rate) में दूसरा स्थान हासिल किया है. इस उपलब्धि पर उपमुख्यमंत्री और शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) ने अपनी सरकार की शिक्षा टीम को बधाई दी है. उन्होंने अपने सोशल मीडिया हैंडल के जरिए इस उपलब्धि के बारे में जानकारी दी. उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा, "दिल्ली ने साक्षरता दर में देश में दूसरे स्थान पर अपनी जगह बनाई है. दिल्ली की शिक्षा टीम को बधाई. हम 100% तक पहुंचने का प्रयास करते रहेंगे. तनाव को कम करना सर्वोच्च प्राथमिकता होनी चाहिए. हर घंटे एक आत्महत्या अस्वीकार्य है. "

  • '10 हफ्ते-10 बजे-10 मिनट' के साथ दिल्ली में एक बार फिर शुरू हुई डेंगू के खिलाफ जंग, देखें CM केजरीवाल का Video

    '10 हफ्ते-10 बजे-10 मिनट' के साथ दिल्ली में एक बार फिर शुरू हुई डेंगू के खिलाफ जंग, देखें CM केजरीवाल का Video

    अपने ट्वीट में अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने लिखा, ''पिछले साल दिल्ली के 2 करोड़ लोगों ने मिलकर डेंगू को हराकर दिखाया था. आइए आज से डेंगू के खिलाफ अगले 10 हफ्ते चलने वाली लड़ाई हम फिर से शुरू करें. सुबह 10 बजे मैं अपने घर में देखूंगा कि कहीं पानी जमा तो नहीं हैं. आप भी अपने घरों में जरूर देखना. हमें इस बार भी एक साथ मिलकर डेंगू को हराना है.''

  • केंद्र और मीडिया पर मनीष सिसोदिया का तंज- चीन ने हमारी ज़मीन छोड़ दी, बस देश की अब एक ही समस्या है...

    केंद्र और मीडिया पर मनीष सिसोदिया का तंज- चीन ने हमारी ज़मीन छोड़ दी, बस देश की अब एक ही समस्या है...

    मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) ने सुशांत केस (Sushant Singh Death Case) में केंद्र सरकार और मीडिया के रवैये को सवाल उठाते हुए कहा कि चीन ने हमारी ज़मीन छोड़ दी है, इकॉनोमी 5 ट्रिलियन हो चुकी हैं, करोड़ों लोगों को नौकरियां भी मिल चुकी हैं, किसान व्यापारी सब मुनाफ़े में हैं, स्वच्छ भारत और डिजिटल-स्किल इंडिया सफल हो चुके हैं. सिर्फ देश में एक ही मुसीबत है कि रिया का पूरा खानदान अब तक गिरफ्तार नहीं हुआ है. उन्होंने कहा कि केंद्र और मीडिया 24 घंटे इसके लिए मेहनत कर रहे हैं. 

  • दिल्ली सरकार का आदेश, ट्यूशन फीस के अलावा अन्य कोई फीस न चार्ज करें प्राइवेट स्कूल

    दिल्ली सरकार का आदेश, ट्यूशन फीस के अलावा अन्य कोई फीस न चार्ज करें प्राइवेट स्कूल

    दिल्ली सरकार ने प्राइवेट स्कूलों को ट्यूशन फीस के अलावा अन्य कोई फीस न चार्ज करने का आदेश दिया है. डायरेक्टरेट ऑफ एजुकेशन (DOE) ने 18 अप्रैल को जारी अपने आदेश को बरकरार रखते हुए प्राइवेट स्कूलों को सिर्फ ट्यूशन फीस चार्ज करने का निर्देश दिया है.

  • जीएसटी काउंसिल की बैठक के बाद मनीष सिसोदिया ने कहा- GST लागू करने में विफल रही केद्र सरकार

    जीएसटी काउंसिल की बैठक के बाद मनीष सिसोदिया ने कहा- GST लागू करने में विफल रही केद्र सरकार

    सिसोदिया ने कहा कि जीएसटी लागू होने के तीन साल पूरे हो चुके हैं. लेकिन अब तक न तो महंगाई कम हुई है और न ही राज्यों का रेवेन्यू बढ़ा है. अभी कोरोना संकट के कारण सभी राज्यों का रेवेन्यू काफी कम हो गया है तो केंद्र सरकार ने कंपेनसेशन देने के बदले हाथ खड़े कर दिए हैं.

  • अपने बच्चों को परीक्षा देने के लिए भेजते हुए हमारा दिल नहीं बैठ जाएगा! सिसोदिया का निशंक को पत्र

    अपने बच्चों को परीक्षा देने के लिए भेजते हुए हमारा दिल नहीं बैठ जाएगा! सिसोदिया का निशंक को पत्र

    JEE Main And NEET: कोरोना वायरस (Coronavirus) संक्रमण काल में NEET-JEE परीक्षा के आयोजन को लेकर दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) ने केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल (Ramesh Pokhriyal) निशंक को पत्र लिखा है. उन्होंने कहा है कि परीक्षा स्थगित करें और परीक्षा लेने के लिए नया विकल्प तलाशें. पत्र में मनीष सिसोदिया ने लिखा है कि दिल्ली और कुछ राज्यों में कोरोना की स्थिति नियंत्रण में है लेकिन कई राज्यों में कोरोना का संक्रमण चरम पर है. ऐसे में परीक्षाएं करना 28 लाख बच्चों के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ करने जैसा है.

  • JEE Main, NEET 2020: भूख हड़ताल पर NSUI के सदस्य, कर रहे परीक्षा स्थगित करने की मांग

    JEE Main, NEET 2020: भूख हड़ताल पर NSUI के सदस्य, कर रहे परीक्षा स्थगित करने की मांग

    कांग्रेस संबद्ध छात्र संगठन एनएसयूआई (NSUI) ने नीट (NEET 2020) और जेईई (JEE Main 2020) परीक्षाओं को टालने और महामारी के दौरान विद्यार्थियों की छह महीने की फीस माफ करने की मांग को लेकर बुधवार से अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल शुरू कर दी है. नेशनल स्टूडेंट्स यूनियन ऑफ इंडिया (NSUI) के अध्यक्ष नीरज कुंदन और इस छात्र संगठन की दिल्ली इकाई के अध्यक्ष ने आठ अन्य सदस्यों के साथ भूख हड़ताल शुरू की है. उन्होंने कोविड-19 महामारी के दौरान विश्वविद्यालयों द्वारा परीक्षाएं आयोजित न करने की मांग भी की है.

  • JEE-NEET परीक्षा पर मनीष सिसोदिया ने जताया विरोध, कहा- 3 घंटे में जादू की छड़ी घुमाकर टैलेंट पता कर लोगे

    JEE-NEET परीक्षा पर मनीष सिसोदिया ने जताया विरोध, कहा- 3 घंटे में जादू की छड़ी घुमाकर टैलेंट पता कर लोगे

    JEE Main And NEET Exam 2020: कोरोनावायरस महामारी के बीच जेईई मेन (JEE Main) और नीट परीक्षा (NEET Exam 2020) को स्थगित करने की मांग बढ़ती ही जा रही है. छात्र समेत कई विपक्ष के नेता भी जेईई मेन (JEE Main 2020) और नीट  (NEET 2020) परीक्षा को स्थगित करने की मांग कर रहे हैं. लेकिन जानकारी के मुताबिक, सरकार परीक्षाओं स्थगित करने के हित में नहीं है. अधिकारियों से मिली जानकारी के अनुसार, जेईई मेन (JEE Main) और नीट परीक्षा (NEET 2020) अपने तय शेड्यूल पर ही आयोजित की जाएंगी. इस पर दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया (Deputy Chief Minister Manish Sisodia) ने अपना विरोध जताया है. उन्होंने कहा, "केंद्र सरकार जमीनी हकीकत से आंख बंद करके बैठी हुई है. जिस व्यवस्था के दम पर आप 28 लाख बच्चों को परीक्षा देने को मजबूर कर रहे हो, उस व्यवस्था के तहत देश के लाखों लोगों को पहले ही कोरोना हो चुका है."

  • स्कूल का विकल्प नहीं है ऑनलाइन शिक्षा, यह सिर्फ सीखने की प्रक्रिया जारी रखने का जरिया: मनीष सिसोदिया

    स्कूल का विकल्प नहीं है ऑनलाइन शिक्षा, यह सिर्फ सीखने की प्रक्रिया जारी रखने का जरिया: मनीष सिसोदिया

    दिल्ली के उपमुख्यमंत्री और शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया (Deputy Chief Minister Manish Sisodia) ने मंगलवार को कहा कि ऑनलाइन शिक्षा स्कूलों का विकल्प नहीं हो सकती है और यह सिर्फ सीखने-सिखाने की प्रक्रिया को जारी रखने का एक जरिया है. कोविड-19 महामारी के कारण ऑनलाइन या सेमी-ऑनलाइन शिक्षा प्रणाली की समीक्षा करने के लिए सिसोदिया चिराग दिल्ली के एक सरकारी स्कूल में शिक्षकों और अभिभावकों से चर्चा कर रहे थे. सिसोदिया ने कहा, ‘‘महामारी के कारण छात्रों का बहुत नुकसान हो रहा है. स्कूल में बच्चे को जैसी शिक्षा और विकास मिलता है, वह ऑनलाइन संभव नहीं है. हमारा लक्ष्य सिर्फ बच्चों को हो रहे नुकसान में कमी लाना है. इसलिए, ऑनलाइन या सेमी-ऑनलाइन शिक्षा आज की जरूरत है.'' 

  • दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा,'ऑनलाइन शिक्षा स्कूल का विकल्प नहीं है'

    दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा,'ऑनलाइन शिक्षा स्कूल का विकल्प नहीं है'

    कोविड-19 महामारी के कारण ऑनलाइन या सेमी-ऑनलाइन शिक्षा प्रणाली की समीक्षा करने के लिए सिसोदिया चिराग दिल्ली के एक सरकारी स्कूल में शिक्षकों और अभिभावकों से चर्चा कर रहे थे.

  • NEP पर मनीष सिसोदिया ने कहा- बोर्ड परीक्षा सरल बनाने से छात्रों के रट्टा लगाने की समस्या हल नहीं होगी

    NEP पर मनीष सिसोदिया ने कहा- बोर्ड परीक्षा सरल बनाने से छात्रों के रट्टा लगाने की समस्या हल नहीं होगी

    दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया (Delhi Deputy Chief Minister Manish Sisodia) का कहना है कि नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति (NEP) में बोर्ड परीक्षा को सरल बनाने के प्रस्ताव से रट्टा लगाने की समस्या हल नहीं होगी, क्योंकि शिक्षा प्रणाली अब भी मूल्यांकन प्रणाली का गुलाम बनी रहेगी. दिल्ली के शिक्षा मंत्री सिसोदिया ने कहा कि नीति सार्वजनिक शिक्षा प्रणाली में सुधार लाने में विफल है तथा निजी शिक्षा पर ध्यान केन्द्रित करती है और कुछ सुधार वास्तविकता पर आधारित नहीं हैं. सिसोदिया ने कहा, ‘‘हमारी शिक्षा प्रणाली हमेशा से मूल्यांकन प्रणाली का गुलाम रही है और आगे भी रहेगी. बोर्ड परीक्षाएं सरल बनाने से मूल समस्या हल नहीं होगी जो कि रट्टा लगाना है. जोर अब भी वार्षिक परीक्षाओं पर रहेगा, जरूरत सत्र के अंत में छात्रों का मूल्यांकन करने से जुड़ी अवधारणा को दूर करने की है, चाहे यह सरल हो या कठिन.''

Advertisement

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com