NDTV Khabar

Media freedom


'Media freedom' - 13 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • भारत में सरकार द्वारा आलोचक मीडिया संस्थानों को परेशान किया जा रहा : अमेरिकी विदेश विभाग

    भारत में सरकार द्वारा आलोचक मीडिया संस्थानों को परेशान किया जा रहा : अमेरिकी विदेश विभाग

    ट्रंप प्रशासन ने शुक्रवार को दावा किया कि 2017 में भारत में सरकार के आलोचक रहे मीडिया संस्थानों पर कथित तौर पर दबाव बनाया गया या उन्हें परेशान किया गया.

  • मीडिया की स्वतंत्रता को लेकर पाकिस्तानी मीडिया में उठी आवाज

    मीडिया की स्वतंत्रता को लेकर पाकिस्तानी मीडिया में उठी आवाज

    पाकिस्तान के 50 से ज्यादा पत्रकारों, संपादकों, स्तम्भ लेखकों और मीडिया की स्वतंत्रता चाहने वाले संगठनों के प्रतिनिधियों ने देश में मीडिया पर नियंत्रण स्थापित करने की कोशिश के विरुद्ध एक याचिका पर हस्ताक्षर किए.

  • CJI दीपक मिश्रा ने कहा, इलेक्‍ट्रॉनिक मीडिया ये नहीं सोच सकता कि वो रातों रात पोप बन सकता है

    CJI दीपक मिश्रा ने कहा, इलेक्‍ट्रॉनिक मीडिया ये नहीं सोच सकता कि वो रातों रात पोप बन सकता है

    चीफ जस्टिस ने कहा कि क्या कुछ लोग तख्त पर बैठकर कुछ भी लिख सकते हैं? क्या ये पत्रकारिता है? उन्‍होंने कहा कि हालांकि मैं हमेशा प्रेस की आजादी का पक्षधर हूं लेकिन कैसे कोई किसी के बारे में कुछ भी बोलना शुरू कर देता है. इसकी कोई सीमा होती है.

  • प्रेस क्‍लब में दिग्‍गज पत्रकारों ने की मीडिया पर हमले और 'असहमति' पर चर्चा

    प्रेस क्‍लब में दिग्‍गज पत्रकारों ने की मीडिया पर हमले और 'असहमति' पर चर्चा

    मीडिया पर हुए हालिया हमलों, चाहे वो कर्नाटक में विधानसभा के आदेश पर दो पत्रकारों को एक साल के लिए जेल की सजा सुनाया जाना हो या फिर दिल्‍ली के सोनिया विहार इलाके में 'द कारवां मैगजीन' के रिपोर्टर की भीड़ द्वारा पिटाई का मामला हो, इन तमाम मुद्दों पर चर्चा करने के लिए शनिवार को दिल्‍ली के प्रेस क्‍लब ऑफ इंडिया में पत्रकारिता जगत के दिग्‍गज इकट्ठा हुए.

  • प्राइम टाइम इंट्रो : आखिर क्‍या हो रहा है इस मीडिया में...

    प्राइम टाइम इंट्रो : आखिर क्‍या हो रहा है इस मीडिया में...

    इतना भी घबराने की ज़रूरत नहीं है. बस जानने की ज़रूरत है कि इस मीडिया में क्या हो रहा है. फिर आपको समझ आ जाएगा कि आपके साथ क्या होने जा रहा है. डराने वाले ताकतवर होते हैं, यह बात सही है. पर उसका क्या करेंगे जिसके पास ताकत नहीं होती मगर जो डरता नहीं है.

  • प्राइम टाइम इंट्रो : भारतीय प्रेस जोखिम उठा रहा है या सत्ता के सामने सिर झुका रहा है?

    प्राइम टाइम इंट्रो : भारतीय प्रेस जोखिम उठा रहा है या सत्ता के सामने सिर झुका रहा है?

    कहीं से भी मीडिया को लेकर अच्छी ख़बर नहीं है. ऐसा क्यों हो रहा है, क्या जनता को स्वतंत्र मीडिया नहीं चाहिए, क्या स्वतंत्र मीडिया की चाह सिर्फ कुछ लोगों तक ही सीमित है. मीडिया का कारोबार काफी तेज़ी से बढ़ रहा है. दुनिया में भी और भारत में भी. लेकिन क्या आपके जीने की परिस्थितियां पहले से बेहतर हुई हैं, क्या आपको लगता है कि राजनीति में जवाबदेही आ गई है, या सबकुछ धारणा ही है, जैसा चल रहा था वैसा ही चल रहा है. लोगों का भरोसा इसी मीडिया पर क्यों है जिसकी स्वतंत्रता, निष्पक्षता को लेकर दुनिया भर में सवाल उठ रहे हैं.

  • मैं प्रेस की आजादी के खिलाफ नहीं, 'फर्जी मीडिया' के खिलाफ हूं : डोनाल्ड ट्रंप

    मैं प्रेस की आजादी के खिलाफ नहीं, 'फर्जी मीडिया' के खिलाफ हूं : डोनाल्ड ट्रंप

    अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि वह केवल 'फर्जी खबरों' के खिलाफ हैं, लेकिन प्रेस की आजादी के खिलाफ नहीं. ट्रंप ने कंसर्वेटिव पॉलिटिकल एक्शन कांफ्रेंस में कहा, 'मैं मीडिया के खिलाफ नहीं हूं. मैं प्रेस के विरुद्ध नहीं हूं.'

  • प्राइम टाइम इंट्रो : क्या पत्रकारों की विश्वसनीयता कठघरे में?

    प्राइम टाइम इंट्रो : क्या पत्रकारों की विश्वसनीयता कठघरे में?

    पत्रकार को चमचा होने की ज़रूरत नहीं है. उसे संदेहवादी होना चाहिए. मतलब सरकार के हर दावे को संदेह की निगाह से देखे. यह वाक्य अमेरिका के अस्ताचल राष्ट्रपति ओबामा का है. पद छोड़ने से 48 घंटे पहले ओबामा ने व्हाइट हाउस के पत्रकारों से बात करते हुए अंग्रेज़ी में इस वाक्य को यूं कहा, "You are not supposed to be sycophants, you are supposed to be skeptics."

  • प्राइम टाइम इंट्रो : अरुण जेटली ने इतिहास का हवाला देकर मीडिया से किया सवाल

    प्राइम टाइम इंट्रो : अरुण जेटली ने इतिहास का हवाला देकर मीडिया से किया सवाल

    वित्त मंत्री अरुण जेटली भुवनेश्वर में मेक इन उड़ीसा कांक्लेव में बोल रहे थे. उन्होंने ऐसा भारी सवाल दाग़ दिया है कि जवाब देने से पहले आपको 2016 से चलकर 1947 में जाना होगा. 69 साल पीछे जाकर उस समय के अख़बारों के पन्ने पलट कर ही वित्त मंत्री जेटली के सवालों का जवाब दिया जा सकता है.

  • ऐसे मामलों में राजनीति नहीं होनी चाहिए तो क्या वीडियो गेम खेलना चाहिए

    ऐसे मामलों में राजनीति नहीं होनी चाहिए तो क्या वीडियो गेम खेलना चाहिए

    आए दिन कोई न कोई नेता या संवैधानिक प्रमुख, अपने ठोंगे से मूंगफली की तरह उलट कर ये सुझाव बांटने लगता है कि ऐसे मामलों में राजनीति नहीं होनी चाहिए. हम कंफ्यूज़ हैं कि वो कौन से ‘ऐसे मामले’ हैं जिन पर राजनीति नहीं हो सकती है.

  • पत्रकारिता पर लगाम की कोशिश?

    पत्रकारिता पर लगाम की कोशिश?

    दुनिया के किसी भी लोकतंत्र के लिए ज़रूरी है कि उसका नागरिक अपने अधिकारों, कर्तव्यों को समझे और इसके लिए बेहद ज़रूरी है कि वो सही सूचनाओं से लैस हो। झूठी, खराब या अधकचरी सूचनाओं से लैस नागरिक लोकतंत्र के लिए घातक हो सकता है।

  • भारत में प्रेस की आजादी का स्तर गिरा, 140वें स्थान पर

    भारत में प्रेस की आजादी का स्तर गिरा, 140वें स्थान पर

    वर्ल्ड फ्रीडम इंडेक्स में भारत का स्तर 179 देशों की सूची में और गिर गया है। इस सूचकांक में भारत वर्ष 2002 के मुकाबले नौ स्थान नीचे गिरकर 140वें नंबर पर पहुंच गया और चिंतकों का कहना है कि यह ‘‘विश्व के सबसे बड़े लोकतंत्र’’ के हिसाब से शोचनीय हालत है।

  • बिहार में मीडिया आजाद नहीं : जस्टिस काटजू

    बिहार में मीडिया आजाद नहीं : जस्टिस काटजू

    प्रेस काउंसिल ऑफ इंडिया के चेयरमैन जस्टिस मार्कंडेय काटजू ने कहा है कि बिहार में भले ही कानून-व्यवस्था की हालत सुधर गई हो, लेकिन मीडिया पर सरकार का काफी दबाव है।