NDTV Khabar

Metoo campaign


'Metoo campaign' - 44 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • यौन उत्पीड़न मामले में विकास बहल को मिली क्लीन चिट तो कंगना रनौत की बहन ने कहा- तुम्हारा हिसाब...

    यौन उत्पीड़न मामले में विकास बहल को मिली क्लीन चिट तो कंगना रनौत की बहन ने कहा- तुम्हारा हिसाब...

    विकास बहल (Vikas Bahl) को क्लीच चिट मिलने के बाद कंगना रनौत (Kangana Ranaut) की बहन रंगोली चंदेल (Rangoli Chandel) ने निर्देशक विकास बहल (Vikas Bahl)और बॉलीवुड एक्टर आलोकनाथ (Aloknath) पर निशाना साधा है.

  • 'सुपर 30' के डायरेक्टर विकास बहल को बड़ी राहत, Metoo मामले में मिली क्लीन चिट

    'सुपर 30' के डायरेक्टर विकास बहल को बड़ी राहत, Metoo मामले में मिली क्लीन चिट

    मीटू मूवमेंट (Metoo Campaign) के तहत फिल्म निर्देशक विकास बहल (Vikas Bahl) पर भी सेक्सुअल हैरेसमेंट के आरोप लगे थे, जिसके बाद उन्हें ऋतिक रोशन (Hritik Roshan) स्टारर फिल्म 'सुपर 30' (Super 30) से बाहर कर दिया गया था. हालांकि अब जांच कमेटी में विकास बहल को क्लीन चिट मिल गई है. जिसके बाद विकास बहल (Vikas Bahl) की दोबारा 'सुपर 30' में एंट्री हो गई है.

  • तनुश्री दत्ता के वकील ने नाना पाटेकर पर लगाया यह गंभीर आरोप, कही यह बात...

    तनुश्री दत्ता के वकील ने नाना पाटेकर पर लगाया यह गंभीर आरोप, कही यह बात...

    तनुश्री दत्ता (Tanushree Dutta) के वकील नितिन सातपुते ने स्पष्ट कहा है कि मीटू (MeToo) मामले में पुलिस ने अभिनेता नाना पाटेकर (Nana Patekar) को क्लीनचिट नहीं दी है.

  • प्रवासी भारतीय सम्मलेन में एमजे अकबर की एक तस्वीर ने कराई सरकार की किरकिरी

    प्रवासी भारतीय सम्मलेन में एमजे अकबर की एक तस्वीर ने कराई सरकार की किरकिरी

    वाराणसी में आज शुरू हुए प्रवासी भारतीय सम्मेलन में आए मेहमानों को यही बताया जा रहा है कि एमजे अकबर विदेश राज्यमंत्री है. सरकार की एक बुकलेट में अकबर की फोटो के साथ उनका पद विदेश राज्यमंत्री लिखा है जबकि वे करीब तीन माह पहले ही इस पद से हट चुके हैं. इस गड़बड़ी से सरकार की किरकिरी हो रही है.

  • 'संजू' के डायरेक्टर राजकुमार हिरानी ने यौन उत्पीड़न के आरोपों पर तोड़ी चुप्पी, महिला को कुछ इस तरह दिया जवाब...

    'संजू' के डायरेक्टर राजकुमार हिरानी ने यौन उत्पीड़न के आरोपों पर तोड़ी चुप्पी, महिला को कुछ इस तरह दिया जवाब...

    महिला 2018 में आई उनकी फिल्म 'संजू' (Sanju) में उनके साथ काम कर चुकी है. राजकुमार हिरानी (Rajkumar Hirani) ने आरोपों से इनकार किया है.

  • #MeToo: फिल्म निर्माता राजकुमार हिरानी पर यौन उत्पीड़न का आरोप, 'संजू' के दौरान हुई घटना

    #MeToo: फिल्म निर्माता राजकुमार हिरानी पर यौन उत्पीड़न का आरोप, 'संजू' के दौरान हुई घटना

    फिल्म निर्माता राजकुमार हिरानी (Rajkumar Hirani) पर एक महिला ने यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया है. महिला ‘संजू’ फिल्म के दौरान हिरानी के साथ काम कर रही थी. हिरानी ने इस आरोप से इंकार किया है. 

  • पत्रकार गौरव सावंत पर यौन शोषण का आरोप, कहा- ले रहा हूं वकीलों की सलाह, करूंगा कानूनी कार्रवाई

    पत्रकार गौरव सावंत पर यौन शोषण का आरोप, कहा- ले रहा हूं वकीलों की सलाह, करूंगा कानूनी कार्रवाई

    द हिंदू न्यूज पेपर की पूर्व हेल्थ एडिटर विद्या कृष्णन ने बताया कि जब यह घटना हुई, उस वक्त उन्होंने द पॉयनियर अखबार ज्वाइन किया था. उन्होंने बताया कि यह घटना उस वक्त हुई जब वह पंजाब के ब्यास में भारतीय सेना द्वारा आयोजित एक मिलिट्री ड्रिल को कवर करने गई थीं. यह उनका दिल्ली से बाहर पहला असाइनमेंट था. पहले से डिफेंस पत्रकार के तौर पर ख्याति पा चुके सावंत भी इस ट्रिप पर थे. विद्या सेना के उस वाहन में अकेली महिला थी, जिसमें पत्रकारों की टीम को ले जाया जा रहा था.

  • #MeToo: असम में महिला पुलिसकर्मी ने IPS पर लगाए यौन उत्पीड़न के आरोप

    #MeToo: असम में महिला पुलिसकर्मी ने IPS पर लगाए यौन उत्पीड़न के आरोप

    बॉलीवुड और राजनीति गलियारों तक पहुंचने के बाद अब आईपीएस अधिकारी का नाम भी 'मी टू' (MeToo) अभियान में निशाने पर आया है. असम के एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी पर उसकी एक सहकर्मी ने यौन शोषण के आरोप लगए हैं. माजुली (मुख्यालय) पुलिस की अतिरिक्त अधीक्षक लीना डोले ने अतिरिक्त महानिदेशक (कानून और व्यवस्था) मुकेश अग्रवाल पर छह वर्ष पहले उसका यौन उत्पीड़न करने का आरोप लगाया. अग्रवाल इस पर प्रतिक्रिया देने के लिए मौजूद नहीं हुए.

  • एमजे अकबर ने कोर्ट में दर्ज कराया बयान: मेरी कही गई सारी बातें सत्य हैं, मुझ पर लगाए गए सारे आरोप झूठे

    एमजे अकबर ने कोर्ट में दर्ज कराया बयान: मेरी कही गई सारी बातें सत्य हैं, मुझ पर लगाए गए सारे आरोप झूठे

    भारत में #MeToo अभियान की जद में आने वाले पूर्व केंद्रीय मंत्री एमजे अकबर ने पत्रकार प्रिया रमानी के खिलाफ मानहानि मामले में आज यानी बुधवार को दिल्ली की एक अदालत में अपना बयान दर्ज कराया. एमजे अकबर ने कोर्ट में अपना बयान दर्ज कराया. उन्होंने अपने स्टेटमेंट में कहा कि मैं कल्कत्ता के बॉयस स्कूल और प्रेसिडेंसी कॉलेज से पढ़ा. कॉलेज के बाद मैं पत्रकारिता के क्षेत्र में आ गया. बहुत कम समय में मैं संडे नामक पत्रिका का संपादक बना. 1983 में मैंने द टेलिग्राफ़ शुरू किया. फिर मैं 1993 तक एशियन ऐज का संपादक रहा. फिर इंडिया टुडे का एडिटोरियल डारेक्टर रहा. फिर संडे गार्डियन का फ़ाउंडिंग एडिटर रहा. इसके साथ ही मैंने कई किताबें लिखीं (कोर्ट में अपनी लिखीं किताबें पेश कीं ).

  • #MeToo: पूर्व केंद्रीय मंत्री एमजे अकबर कोर्ट में दर्ज कराएंगे अपना बयान, पत्रकार के खिलाफ मानहानि का है मामला

    #MeToo: पूर्व केंद्रीय मंत्री एमजे अकबर कोर्ट में दर्ज कराएंगे अपना बयान, पत्रकार के खिलाफ मानहानि का है मामला

    भारत में #MeToo अभियान की जद में आने वाले पूर्व केंद्रीय मंत्री एमजे अकबर पत्रकार प्रिया रमानी के खिलाफ मानहानि मामले में आज यानी बुधवार को दिल्ली की एक अदालत में अपना बयान दर्ज कराएंगे. दरअसल, 18 अक्टूबर को मामले की सुनवाई में एमजे अकबर कोर्ट के समक्ष पेश नहीं हुए थे. अगर अदालत एमजे अकबर के बयान से संतुष्ट हो जाती है तो फिर कोर्ट के सामने पेश होने के लिए पत्रकार प्रिया रमानी को नोटिस भेजा जाएगा. बता दें कि 18 अक्टूबर को दिल्ली की एक अदालत ने पत्रकार प्रिया रमानी के खिलाफ एम.जे. अकबर के आपराधिक मानहानि मुकदमे को स्वीकार कर लिया और कहा कि 31 अक्टूबर को भाजपा नेता का बयान दर्ज किया जाएगा. अतिरिक्त मुख्य महानगर दंडाधिकारी समर विशाल ने कहा, "मैं आईपीसी की धारा 500 (मानहानि के लिए सजा) के तहत अपराध का संज्ञान लेता हूं."

  • यौन उत्पीड़न के आरोप के बाद कास्टिंग डायरेक्टर मुकेश छाबड़ा 'किजी और मैनी' से बाहर

    यौन उत्पीड़न के आरोप के बाद कास्टिंग डायरेक्टर मुकेश छाबड़ा 'किजी और मैनी' से बाहर

    फॉक्स स्टार ने ट्वीट कर कहा, "एक जिम्मेदार संगठन के रूप में स्टार इंडिया कार्यस्थल पर महिलाओं के यौन उत्पीड़न के आरोपों को बहुत गंभीरता से लेता है. इसलिए फॉक्स स्टार स्टूडियोज ने फिल्म 'किजी और मैनी' के निर्देशक मुकेश छाबड़ा की सेवाओं को रद्द कर दिया है.

  • एमजे अकबर 31 अक्टूबर को दर्ज कराएंगे बयान, वकील ने कहा, 'प्रिया रमानी के ट्वीट से मेरे क्‍लाइंट की पिछले 40 साल की छवि हुई खराब'

    एमजे अकबर 31 अक्टूबर को दर्ज कराएंगे बयान, वकील ने कहा, 'प्रिया रमानी के ट्वीट से मेरे क्‍लाइंट की पिछले 40 साल की छवि हुई खराब'

    मोदी सरकार में केंद्रीय विदेश राज्य मंत्री एमजे अकबर ने #MeToo अभियान के तहत अपने ऊपर लगे सेक्सुअल हैरासमेंट (यौन शोषण) के आरोपों के बाद अपने पद से बुधवार को इस्तीफा दे दिया. एमजे अकबर के इस्तीफे को सरकार ने स्वीकार कर लिया है. हालांकि, इस्तीफा देने के बाद एमजे अकबर ने कहा कि वह अपने दम पर आगे की कानूनी लड़ाई लड़ेंगे. आज यानी गुरुवार को दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट में पत्रकार प्रिया रमानी के खिलाफ एम जे अकबर के आपराधिक मानहानि मामले पर सुनवाई हुई.

  • #MeToo के आरोपों से घिरे एमजे अकबर ने दिया इस्तीफा, मानहानि केस में आज सुनवाई, मामले से जुड़ी 10 बड़ी बातें

    #MeToo के आरोपों से घिरे एमजे अकबर ने दिया इस्तीफा, मानहानि केस में आज सुनवाई, मामले से जुड़ी 10 बड़ी बातें

    केंद्रीय मंत्री एमजे अकबर ने भारत में चल रहे #MeToo कैंपेन के तहत अपने ऊपर लगे सेक्सुअल हैरासमेंट (यौन शोषण) के आरोपों के बाद अपने पद से बुधवार को इस्तीफा दे दिया. हालांकि, एमजे अकबर ने यह इस्तीफा आरोप लगने के तुरंत बाद नहीं दिया है, बल्कि पहले तो उन्होंने अपने ऊपर लगे आरोपों के खिलाफ पत्रकार रमानी पर मानहानि का मुकदमा किया, उसके बाद बात को आगे बढ़ता देख उन्होंने इस्तीफे का फैसला किया. यही वजह है कि आज यानी गुरुवार को दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट में पत्रकार प्रिया रमानी के खिलाफ एम जे अकबर के आपराधिक मानहानि मामले पर सुनवाई होगी. रमानी ने अकबर पर यौन दुर्व्यवहार के आरोप लगाये हैं. MeToo कैंपेन के तहत यौन उत्पीड़न के आरोपों के चलते उन्होंने प्रधानमंत्री कार्यालय को अपना इस्तीफा भेज दिया है. दरअसल, अकबर पर 20 महिलाओं ने यौन शोषण का आरोप लगाया है. इससे पहले एजमे अकबर ने इस्तीफा देने के बाद कहा कि वह न्याय के लिए व्यक्तिगत लड़ाई लड़ते रहेंगे. उन्होंने कहा कि अब वह निजी तौर पर केस लड़ेंगे. उनहोंने पीएम मोदी और सुषमा स्वराज का शुक्रिया अदा भी किया.

  • एमजे अकबर का इस्तीफा: आरोप लगाने वाली पत्रकार प्रिया रमानी ने कही यह बात, जानिये किसने क्या कहा...

    एमजे अकबर का इस्तीफा: आरोप लगाने वाली पत्रकार प्रिया रमानी ने कही यह बात, जानिये किसने क्या कहा...

    एमजे अकबर ने विदेश राज्यमंत्री के पद से इस्तीफा दे दिया है. #MeToo अभियान में यौन शोषण का आरोप लगने के बाद एमजे अकबर ने यह कदम उठाया है. इस्तीफे के बाद उन्होंने कहा कि, 'चूंकि मैंने निजी तौर पर कानून की अदालत में न्याय पाने का फैसला किया है, इसलिए मुझे यह उचित लगा कि मैं अपने पद से इस्तीफा दे दूं.' एमजे अकबर ने बयान जारी करके कहा कि मैंने निजी तौर पर अदालत में न्याय पाने का फ़ैसला किया है, मुझे यह उचित लगा कि पद छोड़ दूं और अपने ऊपर लगे झूठे इल्ज़ामों का निजी स्तर पर ही जवाब दूं. इसलिए मैंने विदेश राज्य मंत्री के पद से अपना इस्तीफ़ा दे दिया है. बता दें कि अकबर पर 20 महिला पत्रकारों ने यौन शोषण का आरोप लगाया है.

  • #MeToo: मोदी सरकार ने खारिज किया मेनका गांधी का प्रस्ताव, रिटायर्ड जज नहीं मंत्रियों से जांच कराने की तैयारी

    #MeToo: मोदी सरकार ने खारिज किया मेनका गांधी का प्रस्ताव, रिटायर्ड जज नहीं मंत्रियों से जांच कराने की तैयारी

    मी टू मुहिम के तहत यौन उत्पीड़न के आरोपों की जांच के लिए महिला एवं बाल विकास मंत्रालय ने रिटायर्ड जजों की कमेटी बनाने का प्रस्ताव दिया था. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सरकार की कैबिनेट ने केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी के प्रस्ताव को खारिज करते हुए जजों से जांच की बात ठुकरा दी है.

  • अकबर ने आरोपों के पीछे मंशा पर ही उठाए सवाल

    अकबर ने आरोपों के पीछे मंशा पर ही उठाए सवाल

    एम जे अकबर पर 14 महिला पत्रकारों के लगाए आरोप और उनके जवाब की स्टोरी को लेकर एक अध्ययन यह भी करना चाहिए कि हिन्दी अखबारों ने अकबर पर लगे आरोपों का किस पन्ने पर और कितना छोटा सा छापा और जब खंडन आया तो उनके खंडन को कहां छापा और कितनी प्रमुखता से छापा.

  • #MeToo: कांग्रेस ने प्रधानमंत्री मोदी की चुप्पी पर उठाए सवाल, पूछे इन सवालों के जवाब...

    #MeToo: कांग्रेस ने प्रधानमंत्री मोदी की चुप्पी पर उठाए सवाल, पूछे इन सवालों के जवाब...

    कांग्रेस ने विदेश राज्य मंत्री एमजे अकबर के खिलाफ कुछ महिलाओं द्वारा यौन उत्पीड़न का आरोप लगाए जाने को लेकर सोमवार को फिर नरेंद्र मोदी सरकार पर निशाना साधा और सवाल किया कि क्या प्रधानमंत्री पीड़ित महिलाओं के साथ हैं? पार्टी ने यह भी पूछा कि क्या अकबर पर आरोप लगाने वाली एक महिला पत्रकार के खिलाफ मानहानि का मामला दर्ज कराए जाने के पीछे प्रधानमंत्री मोदी का हाथ है? 

  • #MeToo: केंद्रीय मंत्री एमजे अकबर ने आरोप लगाने वाली महिला पत्रकार के खिलाफ मानहानि का केस किया

    #MeToo: केंद्रीय मंत्री एमजे अकबर ने आरोप लगाने वाली महिला पत्रकार के खिलाफ मानहानि का केस किया

    #MeToo कैंपेन में कई महिला पत्रकारों के यौन शोषण के आरोपों से घिरे विदेश राज्यमंत्री एमजे अकबर (MJ Akbar) ने महिला पत्रकार प्रिया रमानी (Priya Ramani) के ख़िलाफ़ मानहानि का केस दायर किया है. आपराधिक मानहानि की धारा IPC 499, 500 के तहत उन्होंने अपने वकील के ज़रिए ये केस दायर किया है. इस धारा के तहत दोषी पाए जाने पर दो साल तक की सज़ा का प्रावधान है. एक दिन पहले विदेश से लौटने के बाद एमजे अकबर ने कानूनी कार्रवाई की बात कही थी. एक लिखित बयान में ख़ुद को बेकसूर बताते हुए अकबर ने आरोपों को पूरी तरह गलत और मनगढ़ंत बताया है. अकबर ने कहा, झूठ के पैर नहीं होते लेकिन उसमें ज़हर होता है जिसे उन्माद में बदला जा सकता है.