NDTV Khabar

Monsoon session in parliament


'Monsoon session in parliament' - 19 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • SC-ST संशोधन बिल पर हंगामा, लोकसभा में खड़गे बोले- 4 महीने तक क्यों सो रही थी सरकार?, राजनाथ ने कहा- इस सत्र में लाएंगे बिल

    SC-ST संशोधन बिल पर हंगामा,  लोकसभा में खड़गे बोले- 4 महीने तक क्यों सो रही थी सरकार?, राजनाथ ने कहा- इस सत्र में लाएंगे बिल

    गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि कैबिनेट ने कल ही बिल पास किया है. सुप्रीम कोर्ट के फैसले से सवाल उठा था. हम इस सत्र में बिल पास कराना चाहेंगे. 

  • 'महिला आरक्षण' से महिला आयोग को आपत्ति, अध्यक्ष बोलीं- इससे नेताओं की बेटियों और पत्नियों को फायदा

    'महिला आरक्षण' से महिला आयोग को आपत्ति, अध्यक्ष बोलीं- इससे नेताओं की बेटियों और पत्नियों को फायदा

    राष्ट्रीय महिला आयोग की कार्यवाहक अध्यक्ष रेखा शर्मा ने शुक्रवार को कहा कि आरक्षण की व्यवस्था को लेकर उन्हें ‘आपत्तियां’ हैं. उन्होंने दलील दी कि महिलाओं को राजनीति में अपने दम पर जगह बनानी चाहिए क्योंकि आरक्षण से सिर्फ कुछ नेताओं की बेटियों और पत्नियों को मदद मिलेगी. शर्मा का यह बयान ऐसे समय में आया है जब विपक्षी दल , खासकर कांग्रेस , सरकार से यह मांग कर रहे हैं कि लोकसभा और विधानसभाओं में 33 फीसदी सीटें आरक्षित करने के प्रावधान वाले महिला आरक्षण विधेयक को संसद के मानसून सत्र में पारित कराया जाए. 

  • ... जब 15 साल पहले अटल सरकार के खिलाफ लाया गया था अविश्वास प्रस्ताव

    ... जब 15 साल पहले अटल सरकार के खिलाफ लाया गया था अविश्वास प्रस्ताव

    मोदी सरकार आज विपक्ष के द्वारा लाए गये अविश्वास प्रस्ताव का सामना कर रही है. संसद के मॉनसून सत्र के तीसरे दिन लोकसभा में विपक्ष के अविश्वास प्रस्ताव पर बहस हो रही है. यह बीते 15 सालों में ऐसा पहली बार है, जब संसद में सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाया गया हो. इससे पहले साल 2003 में तत्कालीन कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस नीत विपक्ष ने अटल बिहारी वाजपेयी सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पेश किया था और उस पर वोटिंग भी हुई थी. अगर आज विपक्ष का अविश्वास प्रस्ताव फेल होता है, तो मोदी सरकार भी अटल सरकार की तरह ही सरकार बचाने में कामयाब हो जाएगी. हालांकि, मोदी सरकार के पास जितनी संख्या है, उससे सरकार के ऊपर किसी तरह का खतरा नहीं है. 

  • PM मोदी को चुनौती देने के बाद पहली बार संसद में बोलेंगे राहुल गांधी, क्या सच में आएगा भूकंप?

    PM मोदी को चुनौती देने के बाद पहली बार संसद में बोलेंगे राहुल गांधी, क्या सच में आएगा भूकंप?

    संसद के मॉनसून सत्र के तीसरे दिन लोकसभा में मोदी सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पर बहस को लेकर अब सब कुछ तय हो गया है. लोकसभा स्पीकर की ओर से सभी पार्टियों को उनकी संख्या के आधार पर समय बांट दिये गये हैं. वहीं, बीजेपी ने भी अपनी ओर से लोकसभा में पार्टी की ओर से बोलने वाले वक्ताओं की लिस्ट जारी कर दी है. मगर आज लोकसभा में अविश्वास प्रस्ताव पर बहस के दौरान सबकी नजरें कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के भाषण पर होगी. क्योंकि जब से उन्होंने मोदी सरकार से संसद में 15 मिनट बोलने का समय मांगा है, तब से यह पहली बार होगा जब राहुल गांधी लोकसभा में बोलेंगे. यानी पीएम मोदी को चुनौती देने के बाद यह पहला मौका होगा, जब राहुल गांधी संसद में बोलेंगे. राहुल गांधी का लोकसभा में संबोधन इसलिए भी अहम है क्योंकि उन्होंने सार्वजनिक मंचों से बार-बार कहा था कि जब वह संसद में 15 मिनट बोलेंगे तो भूकंप आ जाएगा. 

  • मोदी सरकार के खिलाफ चार साल में लाया गया पहला अविश्वास प्रस्ताव गिरा

    मोदी सरकार के खिलाफ चार साल में लाया गया पहला अविश्वास प्रस्ताव गिरा

    मोदी सरकार के खिलाफ विपक्ष के पहला अविश्वास प्रस्ताव (No-confidence motion) गिर गया है. अविश्वास प्रस्ताव पर आज लगभग 12 घंटे की चर्चा के बाद हुए मत-विभाजन में 451 सदस्यों ने हिस्सा लिया जिसमें अविश्वास प्रस्ताव के पक्ष में 126 वोट पड़े जबकि विरोध में 325 मत पड़े.

  • अविश्वास प्रस्ताव पर बहस से पहले बोले PM मोदी : लोकतंत्र के लिए आज का दिन अहम, भारत हमें करीब से देख रहा है

    अविश्वास प्रस्ताव पर बहस से पहले बोले PM मोदी : लोकतंत्र के लिए आज का दिन अहम, भारत हमें करीब से देख रहा है

    संसद के मॉनसून सत्र का तीसरा दिन काफी अहम है. आज लोकसभा में मोदी सरकार के खिलाफ विपक्ष के अविश्वास प्रस्ताव पर बहस होगी. पूरे देश की निगाहें इस बात पर टिकी हैं कि आज लोकसभा में क्या होगा और कांग्रेस और सरकार को जो समय दिये गये हैं, उनमें किस तरह की बातों को उठाया जाएगा. हालांकि, अविश्वास प्रस्ताव पर बहस से पहले पीएम मोदी ने रचनात्मक और व्यवधान मुक्त बहस की उम्मीद जताई है. 

  • NEWS FLASH: गीतकार गोपालदास नीरज नहीं रहे, 93 वर्ष की उम्र में हुआ निधन, दिल्‍ली के एम्‍स में ली आखिरी सांस

    NEWS FLASH: गीतकार गोपालदास नीरज नहीं रहे, 93 वर्ष की उम्र में हुआ निधन, दिल्‍ली के एम्‍स में ली आखिरी सांस

    सबरीमाला में महिलाओं के प्रवेश पर पांबदी के मामले में सुप्रीम कोर्ट की संविधान पीठ आज सुनवाई करेगा. सीनियर वकील इंदिरा जय सिंह ने दलील दी है कि धार्मिक स्थानों पर लिंग के आधार पर भेदभाव की इजाजत नहीं दी जा सकती.

  • संसद के मॉनसून सत्र में इस बार इन विधेयकों पर होगी सबकी नजर, जानें और क्या हैं खास

    संसद के मॉनसून सत्र में इस बार इन विधेयकों पर होगी सबकी नजर, जानें और क्या हैं खास

    आज से संसद का मॉनसून सत्र शुरू हो गया है. हालांकि, पीएम मोदी ने सत्र शुरू होने से पहले सभी दलों से अपील की कि इस सत्र के समय का सर्वाधिक फायदा उठाया जाए. उन्होंने यह भी कहा कि कोई भी सांसद या दल अगर किसी मुद्दे पर चर्चा करना चाहता है तो सरकार उसके लिए हमेशा तैयार है. दरअसल, मॉनसून सत्र कई मायनों में खास है, क्योंकि ऐसे कई विधेयक हैं, जो इस सत्र में पास हो सकते हैं. इसके लिए सरकार ने पहले ही कांग्रेस और अन्य दलों से इन विधेयकों पर समर्थन की अपील की है. तीन तलाक, महिला आरक्षण और हलाला जैसे विधेयक भी इस सत्र में पास हो सकते हैं. मगर कांग्रेस और अन्य विपक्षी पार्टियां सरकार को घेरने की तैयारी में हैं. तो चलिए जानते हैं कि इस सत्र में कौन-कौन से विधेयक प्रस्तावित हैं और क्या खास है इस मॉनसून सत्र में...

  • मॉनसून सत्र भी धुलेगा? संसद में कई दौर की बैठकों के बाद भी अंदेशा बरकरार

    मॉनसून सत्र भी धुलेगा? संसद में कई दौर की बैठकों के बाद भी अंदेशा बरकरार

    क्या मॉनसून सत्र का वही हाल होगा जो बजट सत्र के दूसरे हिस्से का हुआ? मंगलवार को संसद में कई दौर की बैठकों के बाद भी ये अंदेशा बना हुआ है. कांग्रेस से लेकर टीडीपी के अपने-अपने मुद्दे हैं और सरकार को घेरने की तैयारी भी.

  • लंबे अरसे बाद राज्यसभा में नजर आए सचिन तेंदुलकर, सांसद नरेश अग्रवाल ने उठाया था सवाल

    लंबे अरसे बाद राज्यसभा में नजर आए सचिन तेंदुलकर, सांसद नरेश अग्रवाल ने उठाया था सवाल

    मास्टर ब्लास्टर और राज्यसभा के मनोनीत सदस्य सचिन तेंदुलकर जारी मानसून सत्र में पहली बार उच्च सदन में दिखाई दिए. वे प्रश्नकाल के दौरान पूरे समय सदन में रहे. हाल ही में राज्यसभा में समाजवादी पार्टी के सांसद नरेश अग्रवाल ने सचिन तेंदुलकर और अभिनेत्री रेखा की सदन में गैरमौजूदगी को लेकर सवाल उठाए थे.

  • सर्वदलीय बैठक में बोले पीएम नरेंद्र मोदी-गोरक्षा के नाम पर हिंसा करने वालों पर हो कठोर कार्रवाई

    सर्वदलीय बैठक में बोले पीएम नरेंद्र मोदी-गोरक्षा के नाम पर हिंसा करने वालों पर हो कठोर कार्रवाई

    लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने संसद का मानसून सत्र शुरू होने से पहले आज (रविवार) एक सर्वदलीय बैठक बुलाई.

  • मानसून सत्र में 16 नए विधेयक पेश करेगी सरकार

    मानसून सत्र में 16 नए विधेयक पेश करेगी सरकार

    संसद के आगामी मानसून सत्र में लोकसभा और राज्यसभा में कम से कम 16 नए विधेयक पेश किए जाएंगे.

  • जीएसटी बिल को लेकर कैसे और क्यों कांग्रेस का समर्थन चाहती है नरेंद्र मोदी सरकार...

    जीएसटी बिल को लेकर कैसे और क्यों कांग्रेस का समर्थन चाहती है नरेंद्र मोदी सरकार...

    हालांकि क्षेत्रीय दल इस बिल को समर्थन देने के लिए सहमत हो चुके हैं, और उनके समर्थन के बाद सरकार को आवश्यक दो-तिहाई बहुमत पा लेना संभवतः मुश्किल नहीं होगा, लेकिन उन्हें कांग्रेस का समर्थन इसलिए ज़रूरी है, ताकि वह संसद का कार्यवाही को चलने दे, और बिल पेश किया जा सके...

  • संसद में हंगामा चरम पर, हाथापाई तक की नौबत आई

    संसद में हंगामा चरम पर, हाथापाई तक की नौबत आई

    संसद के मौजूदा मॉनसून सत्र में हंगामा यूं तो हर दिन हो रहा है, लेकिन मंगलवार को यह कई हदों को पार कर गया। यहां तक कि हाथापाई की नौबत तक आ गई। विपक्ष और सत्ता पक्ष इस बात पर उलझे थे कि ललितगेट और व्यापमं के मुद्दे पर बहस किस नियम के तहत हो।

  • संसद में टकराव जारी, सोनिया ने नगा समझौते पर उठाए सवाल

    संसद में टकराव जारी, सोनिया ने नगा समझौते पर उठाए सवाल

    संसद में जारी टकराव के बीच कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने नगा समझौते पर सवाल उठाए हैं। उन्होंने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि सरकार ने इस समझौते को लेकर उत्तर-पूर्व के कई मुख्यमंत्रियों से बात नहीं की। यह समझौता सरकार का घमंड दिखाता है।

  • ललितगेट और व्यापमं घोटाला, क्या बनी रहेगी विपक्षी एकता?

    ललितगेट और व्यापमं घोटाला, क्या बनी रहेगी विपक्षी एकता?

    मॉनसून सत्र का तीसरा दिन, संसद के दोनों सदन ललितगेट और व्यापमं मामले पर हंगामे के साथ शुरू हुये और फिर जब तक भी चले हंगामा ही होता रहा। इस बीच सदन के नेता अरुण जेटली ने विपक्षी पार्टियों के नेताओं के साथ बैठक करनी चाही लेकिन कोई नेता उस मीटिंग में गया नहीं।

  • संसद के हंगामे पर दयाशंकर मिश्र : हंगामा राजनीति का 'सलमान खान', सब इसी के भरोसे!

    संसद के हंगामे पर दयाशंकर मिश्र : हंगामा राजनीति का 'सलमान खान', सब इसी के भरोसे!

    तो, मंजिल सबकी बस एक, हंगामा है! किसानों को सैकड़ों के चेक अब भी भेजे जा रहे हैं, महाराष्ट्र में अच्छे दिनों की 'डबल सरकारों' के बाद भी आत्महत्याओं का दौर जारी है। आए दिन दंगों के डर और बवाल की खबरें हंगामों के भंवर में डूब रही हैं, तो कौन होगा, जिसे हंगामे से मोहब्बत न हो।

  • बाबा की कलम से : मीडिया में लड़ी जा रही है संसद की लड़ाई

    बाबा की कलम से : मीडिया में लड़ी जा रही है संसद की लड़ाई

    संसद में बने गतिरोध पर सरकार और कांग्रेस के बीच शह और मात का खेल चल रहा है। सरकार को पता है कि कांग्रेस मॉनसून सत्र पर काले बादल की तरह मंडरा रही है तो संसद के शुरू होने के पहले ही विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने ट्वीट कर दिया कि एक कांग्रेसी नेता ने उन पर डिप्लोमेटिक पासपोर्ट लेने के लिए दबाव बनाया।

Advertisement