NDTV Khabar

Mughal


'Mughal' - 46 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • मुगल हमारे हीरो कैसे हो सकते हैं : योगी आदित्यनाथ ने बदला आगरा म्यूज़ियम का नाम

    मुगल हमारे हीरो कैसे हो सकते हैं : योगी आदित्यनाथ ने बदला आगरा म्यूज़ियम का नाम

     इतिहासकार इस बात पर विभाजित हैं कि क्या मुगल शासकों ने अपने तीन शताब्दी के शासन के दौरान हिंदुओं पर अत्याचार किए थे. मराठा योद्धा और16 वीं शताब्दी के राजा छत्रपति शिवाजी महाराज अपने जीवन के अधिकांश समय मुगलों से लड़े और वह अपनी सैन्य विजय के लिए जाने जाते हैं. 

  • 25 मई का इतिहास: आज ही के दिन हुआ था शहजादे सलीम और नूरजहां का निकाह

    25 मई का इतिहास: आज ही के दिन हुआ था शहजादे सलीम और नूरजहां का निकाह

    2013 में वह 25 मई का ही दिन था, जब 80 वर्ष के एक जापानी पर्वतारोही ने सबसे अधिक उम्र में दुनिया के सबसे ऊंचे पर्वत शिखर एवरेस्ट पर चढ़ने का रिकॉर्ड अपने नाम किया. देश दुनिया के इतिहास में 25 मई की तारीख पर दर्ज अन्य प्रमुख घटनाओं का सिलसिलेवार ब्यौरा इस प्रकार है:

  • आज की तारीख यानी 27 अप्रैल मुगल सल्तनत से जुड़ी घटनाओं की है गवाह

    आज की तारीख यानी 27 अप्रैल मुगल सल्तनत से जुड़ी घटनाओं की है गवाह

    इस दिन मुगल शासकों से जुड़ी तीन बड़ी घटनाएं इतिहास का हिस्सा बनीं. 1526 में 27 अप्रैल के दिन ही बाबर ने दिल्ली का तख्तो-ताज संभाला था. 1606 में बादशाह जहांगीर ने आज ही के दिन बगावत पर उतरे अपने पुत्र खुसरो को गिरफ्तार किया और 1748 में एक बार फिर वह 27 अप्रैल का ही दिन था जब मुगल बादशाह मोहम्मद शाह का निधन हुआ.

  • 21 अप्रैल का इतिहास: पानीपत की पहली लड़ाई में बाबर की जीत से भारत में मुगल शासन की पड़ी थी नींव

    21 अप्रैल का इतिहास: पानीपत की पहली लड़ाई में बाबर की जीत से भारत में मुगल शासन की पड़ी थी नींव

    21 अप्रैल का दिन देश के इतिहास में एक निर्णायक मोड़ लेकर आया. 1526 में वह 21 अप्रैल का ही दिन था, जब काबुल के शासक जहीरूद्दीन मोहम्मद बाबर और दिल्ली की सल्तनत के सम्राट इब्राहिम लोदी के बीच पानीपत की पहली लड़ाई हुई. इस लड़ाई में बाबर ने जहां तोपों का इस्तेमाल किया वहीं लोदी ने हाथियों की परंपरागत ताकत के दम पर जंग लड़ी, लेकिन बाबर की सेना संख्या में कम होने के बावजूद लोदी की सेना पर भारी पड़ी. इस लड़ाई में लोदी मारा गया और भारत में मुगल साम्राज्य की नींव पड़ी.

  • क्या शाहीन बाग से मुगल राज आ जाएगा?

    क्या शाहीन बाग से मुगल राज आ जाएगा?

    शाहीन बाग का धरना शांतिपूर्ण ही रहा, कोई हिंसा नहीं हुई फिर भी इस धरने को लेकर सरकार के मंत्री से लेकर बीजेपी के सांसदों ने क्या-क्या नहीं कहा. इस धरने को लेकर खतरे की ऐसी-ऐसी कल्पना पेश की गई जैसे लगा कि भारत में कोई शासन व्यवस्था ही नहीं है. किसी मोहल्ले की भीड़ आकर दिल्ली पर मुगल राज कायम कर देगी. मुगलों का राज मोहल्ले से नहीं निकला था. इतिहास का इस तरह से देखा जाना आबादी के उस हिस्से को बीमार करने लगेगा जिन्हें यह समझाया जा रहा है कि एक मोहल्ले में धरने पर बैठे लोग हिन्दुस्तान जैसे विशाल मुल्क पर मुगल राज कायम कर देंगे. इस शाहीन बाग को बदनाम करने के लिए क्या-क्या नहीं हुआ.

  • ''वह दिन दूर नहीं, जब दिल्ली में मुगलों का राज वापस आ जाएगा'': BJP सांसद तेजस्वी सूर्या का बयान

    ''वह दिन दूर नहीं, जब दिल्ली में मुगलों का राज वापस आ जाएगा'': BJP सांसद तेजस्वी सूर्या का बयान

    लोकसभा में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा में भाग में लेते हुए भारतीय जनता पार्टी (BJP) के सांसद तेजस्वी सूर्या ने बुधवार को नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के खिलाफ हो रहे प्रदर्शन को लेकर अपनी प्रतिक्रिया दी. उन्होंने कहा, "जो आज दिल्ली के शाहीन बाग में हो रहा है, वह हमें इस बात का एहसास दिला रहा है कि अगर इस देश का बहुसंख्यक समाज सतर्क नहीं हुआ, देशभक्त भारतीय इसके खिलाफ खड़े नहीं हुए, तो वह दिन दूर नहीं, जब दिल्ली में मुगलों का राज वापस आ जाएगा."

  • Mughal Garden: 5 फरवरी से 8 मार्च तक आम लोगों के लिए खुला रहेगा मुगल गार्डन, जानिए इसकी खासियत, टाइमिंग और टिकट के बारे में

    Mughal Garden: 5 फरवरी से 8 मार्च तक आम लोगों के लिए खुला रहेगा मुगल गार्डन, जानिए इसकी खासियत, टाइमिंग और टिकट के बारे में

    पिछले साल मोनाको के प्रिन्स एल्बर्ट द्वितीय ने उद्यान में इस गुलाब को रोपा था. इस पुष्प प्रदर्शनी में प्रख्यात लोग जैसे पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, मदर टेरेसा, पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति जॉन एफ कैनेडी, महारानी एलिजाबेथ और पहले भारतीय प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू के नाम पर विभिन्न प्रकार के गुलाबों के नाम रखे गए हैं.

  • आम जनता के लिए 5 फरवरी से खुलेगा मुगल गार्डन, कर सकेंगे दुर्लभ गुलाबों का दीदार

    आम जनता के लिए 5 फरवरी से खुलेगा मुगल गार्डन, कर सकेंगे दुर्लभ गुलाबों का दीदार

    राष्ट्रपति भवन परिसर में स्थित यह आकर्षक उद्यान आम जनता के लिए पांच फरवरी को खोला जाएगा. राष्ट्रपति उद्यान के अधीक्षक पी. एन. जोशी ने रविवार को घोषणा की. इस बार लगभग 10,000 की संख्या में ट्यूलिप, 138 तरह के गुलाब और 70 तरह के लगभग 5000 मौसमी फूल आगंतुकों का स्वागत करेंगे.

  • आज का इतिहास: दुनिया को ताज महल का तोहफा देने वाले मुगल बादशाह शाहजहां का 22 जनवरी को हुआ था निधन

    आज का इतिहास: दुनिया को ताज महल का तोहफा देने वाले मुगल बादशाह शाहजहां का 22 जनवरी को हुआ था निधन

    22 जनवरी को मुगल शहंशांह शहाजहां का निधन हुआ था. शाहजहां के नाम से मशहूर मुगल बादशाह का असली नाम शहाबुद्दीन मुहम्मद खुर्रम था. शाहजहां पांचवें मुगल बादशाह थे जिन्होंने साल 1628 से 1658 तक शासन किया. शाहजहां के शासन काल में  मुगल स्थापत्य अपनी बुलंदी पर था. शाहजहां ने ही ताजमहल का निर्माण कराया था. यही नहीं उन्होंने राजधानी दिल्ली में लाल किला और जामा मस्जिद का निर्माण भी करवाया.

  • मुगल वंशज प्रिंस हबीबुद्दीन तुसी ने कहा, "अगर अयोध्‍या में बनेगा राम मंदिर तो दूंगा सोने की ईंट"

    मुगल वंशज प्रिंस हबीबुद्दीन तुसी ने कहा,

    तुसी का तर्क है अयोध्‍या में विवादित जमीन को लेकिर किसी भी पक्षकार के पास अपने पक्ष को साबित करने के लिए कोई दस्‍तावेज नहीं है. चूंकि वह मुगलों के वंशज हैं इसलिए जमीन पर उनका हक है.

  • स्वरा भास्कर ने कहा- 'मुगलों ने देश को बनाया था अमीर', सोशल मीडिया यूजर्स ने किया ट्रोल तो दिया ये जवाब

    स्वरा भास्कर ने कहा- 'मुगलों ने देश को बनाया था अमीर', सोशल मीडिया यूजर्स ने किया ट्रोल तो दिया ये जवाब

    स्वरा भास्कर ने एक ऐसा आर्टिकल शेयर किया है, जिसमें कहा गया है कि मुगलो ने भारत तो एक अमीर देश बनाया है. स्वरा (Swara Bhaskar) द्वारा शेयर किए गए आर्टिकल के अनुसार मुगल विजेता के रूप में भारत आए लेकिन वह उपनिवेशवादी नहीं बल्कि भारतीय के रूप में याद किए जाते हैं. उन्होंने व्यापार, विकसित सड़कों, समुद्री मार्गों, बंदरगाहों को प्रोत्साहित किया. मुगलों के दौर में हिंदू सबसे अमीर थे. 

  • अमेरिका में लगी हैदराबाद के निजाम के हीरे के हार की बोली, बिकने जा रहा है इतने करोड़ का

    अमेरिका में लगी हैदराबाद के निजाम के हीरे के हार की बोली, बिकने जा रहा है इतने करोड़ का

    अमेरिका में शाही भारतीय आभूषणों के संग्रह के लिए 10.9 करोड़ डॉलर से अधिक की बोली लगाई गई. वैश्विक नीलामी घर 'क्रिस्टीज' के मुताबिक यह किसी भी भारतीय कला या आभूषण संबंधी वस्तुओं के लिए लगने वाली अब तक की सर्वाधिक बोली है.

  • शहीद इंस्पेक्टर के 4 साल के बेटे को गोद में लेकर फूट-फूटकर रो पड़े श्रीनगर के SSP, फोटो वायरल

    शहीद इंस्पेक्टर के 4 साल के बेटे को गोद में लेकर फूट-फूटकर रो पड़े श्रीनगर के SSP, फोटो वायरल

    श्रीनगर के एसएसपी हसीब मुगल, शहीद के 4 साल के बेटे उहबान को गोद में लेकर रो पड़े. आतंकी हमले में इंस्पेक्टर अरशद खान शहीद हो गए थे. बता दें कि जम्मू-कश्मीर के पुलिस अधिकारी अरशद अहमद खान ने रविवार को दिल्ली के एम्स में आखिरी सांस ली थी. ‘फादर्स डे’ के मौके पर ही उनके दो छोटे बच्चों उहबान और दामिन के सिर से पिता का साया उठ गया.

  • भारत पर हमलों के दौरान मुगलों और अफगानी हमलावरों का बेस था बालाकोट

    भारत पर हमलों के दौरान मुगलों और अफगानी हमलावरों का बेस था बालाकोट

    भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान में आतंकियों के ठिकानों पर हमला किया. यह हमला बालाकोट में किया गया. सूत्रों के मुताबिक बालाकोट वही जगह है जिसे कभी मुगलों और अफगानियों ने भारत पर हमलों के दोरान अपना बेस बनाया था.

  • Todays in History: मोहब्बत का अजीम तोहफा Taj Mahal बनवाने वाले मुगल बादशाह शाहजहां का आज हुआ था निधन

    Todays in History: मोहब्बत का अजीम तोहफा Taj Mahal बनवाने वाले मुगल बादशाह शाहजहां का आज हुआ था निधन

    History Today: 22 जनवरी को ही दुनिया को ताज महल के रूप में मोहब्बत का अजीम तोहफा देने वाले मुगल बादशाह शाहजहां का निधन हुआ था.

  • अब मुगल खानदान के ‘वंशज’ ने भाजपा को याद दिलाया राम मंदिर निर्माण का वादा, कहा- मंदिर जल्द बने

    अब मुगल खानदान के ‘वंशज’ ने भाजपा को याद दिलाया राम मंदिर निर्माण का वादा, कहा- मंदिर जल्द बने

    2019 के चुनावों से पहले अयोध्या में राम मंदिर के मुद्दे पर देशभर में छिड़ी चर्चा के बीच अब खुद मुगल खानदान के 'वंशज' ने इस मुद्दे को उठाया है. मुगल वंश के अंतिम बादशाह बहादुर शाह जफर का वंशज होने का दावा करने वाले याकूब हबीबउद्दीन तुसी ने भाजपा को राम मंदिर निर्माण का वादा याद दिलाते हुए कहा है कि वह इस मामले में भाजपा के सहयोगी दलों से मदद लेंगे.

  • यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ बोले- महाराणा प्रताप महान थे, अकबर नहीं

    यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ बोले- महाराणा प्रताप महान थे, अकबर नहीं

    उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मुगल बादशाह अकबर के बजाय राजपूत शासक महाराणा प्रताप को महान करार देते हुए कहा है कि महाराणा ने उस वक्त की सबसे बड़ी सैन्य ताकत के सामने जिस शौर्य और पराक्रम का परिचय दिया था, उसका उदाहरण बिरले ही मिलता है. 

  • एक बार फिर से मुग़ले आज़म

    एक बार फिर से मुग़ले आज़म

    के आसिफ़ ने 'मुगले आज़म' एक ऐसे दौर में बनाई थी जब हिंदुस्तान का दिल टूटा हुआ था. देश ने आजादी की एक बड़ी क़ीमत चुकाई थी और देश की दो आंखें कहलाने वाली हिंदू-मुस्लिम आबादी एक दूसरे को शक, शिकायत, नफरत सब तरह से देख रही थी. बेशक, आज़ादी के साथ देश को नए सिरे से बनाने का एक रचनात्मक जज्बा भी था जो उस दौर में बनी कई फिल्मों में लगातार दिखता रहा.

Advertisement

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com