NDTV Khabar

Mulayam singh yadav


'Mulayam singh yadav' - 789 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • समाजवादी पार्टी से समझौते को लेकर शिवपाल यादव का बड़ा बयान- 'अगले चुनाव में...'

    समाजवादी पार्टी से समझौते को लेकर शिवपाल यादव का बड़ा बयान- 'अगले चुनाव में...'

    संयुक्त प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष शिवपाल यादव (Shivpal Yadav) ने बुधवार को कहा कि अगले चुनाव में समाजवादी पार्टी (SP) से किसी तरह का कोई समझौता नहीं होगा.

  • मुलायम सिंह यादव मेडिकल कॉलेज को नए बैच के दाखिले की इजाजत नहीं मिली

    मुलायम सिंह यादव मेडिकल कॉलेज को नए बैच के दाखिले की इजाजत नहीं मिली

    यूपी के मेरठ के हापुड़ रोड पर खरखौदा में पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव के नाम से बने मुलायम सिंह यादव मेडिकल कॉलेज और अस्पताल की याचिका सुप्रीम कोर्ट ने खारिज कर दी, एमसीआई की रिपोर्ट के बाद नए दाखिलों पर रोक लगा दी गई थी जिसको लेकर याचिका दाखिल की गई थी.

  • लखनऊ कैंट सीट के उपचुनाव में सपा ने मुलायम सिंह की छोटी बहू का टिकट काटा

    लखनऊ कैंट सीट के उपचुनाव में सपा ने मुलायम सिंह की छोटी बहू का टिकट काटा

    लखनऊ कैंट विधानसभा सीट से समाजवादी पार्टी ने मुलायम सिंह यादव की छोटी बहू अपर्णा यादव का टिकट काट दिया है. लखनऊ की कैंट विधानसभा सीट पर बीजेपी की रीता बहुगुणा जोशी के इस्तीफे के बाद उपचुनाव होना है. सन 2017 में हुए पिछले विधानसभा चुनाव में अपर्णा यादव ही यहां से समाजवादी पार्टी की उम्मीदवार थीं. रीता जोशी यहां से चुनाव जीती थीं जबकि अपर्णा दूसरे नंबर पर थीं. चूंकि रीता जोशी इलाहबाद से पिछला लोकसभा चुनाव जीत गई हैं इसलिए विधानसभा सीट से उनके इस्तीफे के बाद यह सीट खाली हो गई है.

  • वजूद बचाने के लिए फिर एक हो सकता है मुलायम का कुनबा

    वजूद बचाने के लिए फिर एक हो सकता है मुलायम का कुनबा

    अखिलेश ने 2017 में यादव और उच्च जाति का वोट लेने के लिए कांग्रेस के साथ गठबंधन किया, लेकिन वहां सफलता नहीं मिली. इसके बाद 2019 के लोकसभा चुनाव में सपा ने सारे गिले शिकवे भुलाकर बसपा के साथ यादव और दलित के नाम पर गठबंधन किया. अखिलेश का यह प्रयोग भी सफल नहीं हुआ. मुलायम सिंह यादव 2017 में कांग्रेस और 2019 में बसपा से गठबंधन के विरोधी रहे हैं, लेकिन अखिलेश ने उनके सुझावों को दरकिनार कर दिया.

  • बंगले के बाद अब मुलायम सिंह यादव से मर्सिडीज भी वापस लेगी योगी सरकार, जानें पूरा मामला

    बंगले के बाद अब मुलायम सिंह यादव से मर्सिडीज भी वापस लेगी योगी सरकार, जानें पूरा मामला

    उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) सरकार द्वारा समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) संरक्षक और पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव (Mulayam singh yadav) को आवंटित आलीशान बंगला और लोहिया ट्रस्ट कार्यालय का भवन खाली कराए जाने के बाद अब उनकी मंहगी एसयूवी मर्सिडीज कार भी वापस ली जाने वाली है.

  • मुलायम के आह्वान के बावजूद आजम खान के समर्थन में नया आंदोलन नहीं करेगी समाजवादी पार्टी

    मुलायम के आह्वान के बावजूद आजम खान के समर्थन में नया आंदोलन नहीं करेगी समाजवादी पार्टी

    सपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता राजेन्द्र चौधरी ने मुलायम सिंह यादव द्वारा पिछले दिनों आजम के खिलाफ दर्ज हो रहे मुकदमों और अन्य कार्यवाही के खिलाफ आंदोलन खड़ा करने के आह्वान पर अमल की तैयारियों के बारे में पूछे जाने पर बताया 'हमारा आंदोलन तो पहले से ही चल रहा है. पिछली नौ अगस्त को इस मामले पर हर जिले में प्रदर्शन हो चुका है और पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव राज्यपाल से मिलकर आजम खां पर हो रही कार्रवाई का विरोध भी जता चुके हैं.' 

  • आजम खान के खिलाफ दर्ज हुई शिकायत तो समर्थन में उतरे मुलायम सिंह यादव, कहा- जरूरत पड़ी तो...

    आजम खान के खिलाफ दर्ज हुई शिकायत तो समर्थन में उतरे मुलायम सिंह यादव, कहा- जरूरत पड़ी तो...

    समाजवादी पार्टी (SP) के सांसद आज़म खान (Azam Khan) के खिलाफ मोहम्मद अली जौहर यूनिवर्सिटी भूमि मामले से जुड़े केस दर्ज किए जाने पर पार्टी के संस्थापक मुलायम सिंह यादव (Mulayam Singh Yadav) ने इसे साजिश करार दिया.

  • लोकसभा में सीटें आवंटित : स्मृति ईरानी पहली पंक्ति में, राहुल गांधी दूसरी पंक्ति में बैठेंगे

    लोकसभा में सीटें आवंटित : स्मृति ईरानी पहली पंक्ति में, राहुल गांधी दूसरी पंक्ति में बैठेंगे

    लोकसभा में सीटों का आवंटन कर दिया गया है. यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी के साथ डीएमके के टीआर बालू को पहली पंक्ति में स्थान दिया गया है. राहुल गांधी इस बार भी दूसरी पंक्ति में ही बैठेंगे. उन्हें हराने वालीं बीजेपी सांसद व केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी को पहली पंक्ति में जगह मिली है. लोकसभा में सीटों के बंटवारे में समाजवादी पार्टी के नेता मुलायम सिंह को भी पहली पंक्ति में स्थान मिला है. पहली पंक्ति में पहली सीट पीएम मोदी की होगी. उनके बाद राजनाथ सिंह, अमित शाह व नितिन गडकरी की सीटें तय की गई हैं.

  • जब अटल जी के वजह से UP में मुलायम सिंह यादव की चली थी सबसे लंबी अवधि की सरकार!

    जब अटल जी के वजह से UP में मुलायम सिंह यादव की चली थी सबसे लंबी अवधि की सरकार!

    एनडीटीवी के कार्यक्रम के दौरान उन्होंने कहा कि सबसे ज्यादा लंबे अवधि तक मुलायम सिंह जी की जो सरकार चली, वह सरकार किसने चलवाई? वह सरकार अटल बिहारी वाजपेयी ने चलवाई. मैंने ही बात की थी अटल जी से..प्रमोद महाजन जी से.. कह रहा हूं खुलेआम.

  • विधानसभा उपचुनाव: SP को मुस्लिम वोट बैंक संजोने की चिंता, मायावती के अलग होने के बाद अखिलेश की बढ़ी चुनौती

    विधानसभा उपचुनाव: SP को मुस्लिम वोट बैंक संजोने की चिंता, मायावती के अलग होने के बाद अखिलेश की बढ़ी चुनौती

    सूत्र बताते हैं कि प्रदेश की जिन 12 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव होने हैं, उनमें से केवल एक रामपुर ही सपा के कब्जे में है. ऐसे में रामपुर पर कब्जा बरकरार रखने के साथ समाजवादी अन्य सीटों पर भी बेहतर प्रदर्शन चाहती है. इसके सपा मुखिया अखिलेश यादव विदेश से लौटने के बाद लगातार कार्यकर्ताओं के साथ बैठक कर रहे हैं. उपचुनाव के लिए सीटवार समीक्षा भी कर रहे हैं.

  • लोकसभा चुनाव में हार के बाद क्या सपा का कुनबा दोबारा होगा एकजुट? शिवपाल यादव ने दिया बड़ा बयान

    लोकसभा चुनाव में हार के बाद क्या सपा का कुनबा दोबारा होगा एकजुट? शिवपाल यादव ने दिया बड़ा बयान

    लोकसभा चुनाव में मिली करारी हार के बाद समाजवादी कुनबे के दोबारा एकजुट होने की खबरें आ रही थीं, लेकिन अब सपा से अलग होकर अपनी अलग पार्टी बनाने वाले शिवपाल सिंह यादव (Shivpal Singh Yadav) ने इन खबरों पर विराम लगा दिया है. प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) के प्रमुख शिवपाल सिंह यादव (Shivpal Singh Yadav) ने शुक्रवार को यहां कहा कि समाजवादी पार्टी (सपा) के साथ अब उनका चैप्टर बंद हो गया है. 

  • दोबारा अखिलेश के साथ आएंगे शिवपाल यादव? कौन बन रहा है राह में रोड़ा

    दोबारा अखिलेश के साथ आएंगे शिवपाल यादव? कौन बन रहा है राह में रोड़ा

    लगातार दो लोकसभा चुनाव और एक विधानसभा चुनाव हारने के बाद अखिलेश पर परिवार को एक करने का दबाव बढ़ा है. खासकर सपा संस्थापक मुलायम सिह यादव चाहते हैं कि पार्टी को खड़ा करने में योगदान देने वाले छोटे भाई शिवपाल सिह यादव को दोबारा साथ लाया जाए. लेकिन अखिलेश राजी नहीं हैं. उन्हें लगता है कि शिवपाल की एन्ट्री से पार्टी में उनके एकाधिकार और वर्चस्व को खतरा पैदा हो जाएगा.

  • सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव की फिर बिगड़ी तबीयत, गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में कराया गया भर्ती  

    सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव की फिर बिगड़ी तबीयत, गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में कराया गया भर्ती  

    मुलायम सिंह यादव (Mulayam Singh Yadav) को हाई शुगर की समस्या से चलते भर्ती किया गया था. हालांकि बाद में उनकी अस्पताल से छुट्टी दे दी गई थी. मेदांता अस्पताल की तरफ से अभी तक मुलायम सिंह यादव की सेहत को लेकर कोई भी जानकारी साझा नहीं की गई है.

  • मुलायम सिंह यादव से मिले यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, Tweet कर कही यह बात...

    मुलायम सिंह यादव से मिले यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, Tweet कर कही यह बात...

    उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के संरक्षक मुलायम सिंह यादव (Mulayam Singh Yadav) से उनके आवास पर मुलाकात की और उनका हाल जाना.

  • सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव की तबीयत बिगड़ी, लखनऊ के राम मनोहर लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान में भर्ती

    सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव की तबीयत बिगड़ी, लखनऊ के राम मनोहर लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान में भर्ती

    सपा (SP) संरक्षक मुलायम सिंह यादव (Mulayam Singh Yadav) की तबीयत बिगड़ने के बाद उन्हें लखनऊ के डॉ. राम मनोहर लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान में भर्ती कराया गया है.

  • मुलायम ने शुरू की यादव परिवार को एकजुट करने की कवायद, अखिलेश और शिवपाल से की बात...

    मुलायम ने शुरू की यादव परिवार को एकजुट करने की कवायद, अखिलेश और शिवपाल से की बात...

    हाल ही में संपन्न लोकसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के निराशाजनक प्रदर्शन को देखते हुए पार्टी के मुखिया मुलायम सिंह यादव (Mulayam Singh Yadav) ने बेटे अखिलेश (Akhilesh Yadav) और भाई शिवपाल (Shivpal Yadav) के बीच सुलह कराने की एक बार फिर कोशिश की.

  • लोकसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी की करारी हार पर पार्टी में मंथन जारी

    लोकसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी की करारी हार पर पार्टी में मंथन जारी

    लोकसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी(सपा) को महज पांच सीटें मिली हैं. पिछले चुनाव में भी सपा को पांच सीटें मिली थीं. पिछले चुनाव में सपा अकेले चुनाव लड़ी थी. इस बार उसका दो दलों -बहुजन समाज पार्टी (बसपा), राष्ट्रीय लोकदल (रालोद)- के साथ गठबंधन था. इस गठबंधन को अपराजेय माना जा रहा था. लेकिन ढाक के वही तीन पात. गठबंधन में बसपा को भले ही लाभ हुआ. उसने 10 सीटें जीत लीं, लेकिन बाकी दो दल जहां के तहां रह गए. मुलायम परिवार के तीन सदस्य चुनाव हार गए. रालोद अपने हिस्से की तीनों सीटें हार गया. इस चुनाव में सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव और पार्टी संस्थापक मुलायम सिंह यादव क्रमश: आजमगढ़ और मैनपुरी से चुनाव जीतने में कामयाब रहे.

  • UP Election Results 2019: यूपी में हाथी को रास आई साइकिल की सवारी, नुकसान में अखिलेश, कांग्रेस को केवल एक सीट

    UP Election Results 2019: यूपी में हाथी को रास आई साइकिल की सवारी, नुकसान में अखिलेश, कांग्रेस को केवल एक सीट

    2009 के चुनाव में 21 सीट जीतने वाली बसपा के लिये 2014 के चुनाव में शून्य पर सिमटने के बाद बसपा के लिये 2019 का लोकसभा चुनाव वजूद की लड़ाई बन गया था. बसपा उम्मीदवारों ने गाजीपुर, मेरठ और सहारनपुर सहित पूर्वी और पश्चिमी उत्तर प्रदेश की दर्जन भर सीटों पर बढ़त बना ली है. वहीं सपा को पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव की आजमगढ़ सीट के अलावा अपने परंपरागत गढ़ रामपुर, फिरोजाबाद और मैनपुरी सहित छह सीटों पर निर्णायक बढ़त के आधार इन सीटों को जीतने की उम्मीद है. गाजीपुर में बसपा के उम्मीदवार अफजाल अंसारी ने केन्द्रीय मंत्री और भाजपा उम्मीदवार मनोज सिन्हा से लगभग 40 हजार मतों से बढ़त बनायी हुयी. वहीं रामपुर से सपा के आजम खान भाजपा की जयाप्रदा से आगे हैं.