NDTV Khabar

Mumbai court


'Mumbai court' - 350 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • पायल तड़वी सुसाइड केस : आरोपियों को पोस्ट ग्रेजुएशन पूरा करने की इजाजत नहीं मिली

    पायल तड़वी सुसाइड केस : आरोपियों को पोस्ट ग्रेजुएशन पूरा करने की इजाजत नहीं मिली

    बंबई हाईकोर्ट ने पायल तड़वी आत्महत्या मामले में आरोपी तीन महिला डॉक्टरों को यहां बीवाईएल नायर अस्पताल से पोस्ट ग्रेजुएशन (स्नातकोत्तर) की पढ़ाई पूरी करने की अनुमति देने से शुक्रवार को इनकार कर दिया. तीनों महिलाओं पर तड़वी को आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप है.

  • शीना बोरा हत्याकांड: बॉम्बे हाईकोर्ट ने पीटर मुखर्जी को दी जमानत

    शीना बोरा हत्याकांड: बॉम्बे हाईकोर्ट ने पीटर मुखर्जी को दी जमानत

    बॉम्बे हाईकोर्ट ने शीना बोरा हत्याकांड मामले में गिरफ्तार पीटर मुखर्जी को गुरुवार को जमानत दे दी. इसके साथ ही अदालत ने कहा कि प्रथमदृष्टया पीटर मुखर्जी के खिलाफ अपराध में शामिल होने के सबूत नहीं है.

  • पूर्व CEO चंदा कोचर से रकम वसूली के लिए ICICI Bank पहुंचा हाईकोर्ट

    पूर्व CEO चंदा कोचर से रकम वसूली के लिए ICICI Bank पहुंचा हाईकोर्ट

    कर्मचारी को किए गए भुगतान को वापस लेने का प्रावधान मुनाफा कम होने या फिर कर्मचारी के अनैतिक गतिविधियों में शामिल होने की स्थित में लागू किया जा सकता है. यह हलफनामा कोचर की उस याचिका के जवाब में दाखिल किया गया है, जिसमें उन्होंने अपनी बर्खास्तगी को चुनौती दी है। कोचर का कहना है कि उन्होंने बैंक को स्वेच्छा से छोड़ दिया था और उसके बाद उन्हें बर्खास्त किया गया.

  • मुश्किल में आतंक का सरगना हाफिज सईद, पाकिस्तान की कोर्ट ने टेरर फंडिंग के आरोप तय किए

    मुश्किल में आतंक का सरगना हाफिज सईद, पाकिस्तान की कोर्ट ने टेरर फंडिंग के आरोप तय किए

    पंजाब पुलिस के आतंकवाद निरोधक विभाग (CTD) ने सईद और उसके सहयोगियों के खिलाफ ‘‘आतंकवाद वित्तपोषण’’ के आरोपों में पंजाब प्रांत के विभिन्न शहरों में 23 प्राथमिकी दर्ज की थीं और जमात -उद-दावा प्रमुख को 17 जुलाई को गिरफ्तार किया था.

  • संघ विचारक की भविष्यवाणी, 2022 में NDA से राष्ट्रपति उम्मीदवार होंगे शरद पवार

    संघ विचारक की भविष्यवाणी, 2022 में NDA से राष्ट्रपति उम्मीदवार होंगे शरद पवार

    संघ परिवार पर 43 किताबें लिख चुके नागपुर के संघ विचारक दिलीप देवधर ने महाराष्ट्र के पूरे राजनीतिक घटनाक्रम पर टिप्पणी करते हुए दावा किया है कि महाराष्ट्र में शनिवार को भाजपा की सरकार गठन में शरद पवार (Sharad Pawar) की भी मौन सहमति है.

  • अजित पवार ने क्यों छोड़ा चाचा शरद का साथ? पढ़ें- इनसाइड स्टोरी

    अजित पवार ने क्यों छोड़ा चाचा शरद का साथ? पढ़ें- इनसाइड स्टोरी

    विधानसभा चुनावों में पार्टी के प्रमुख शरद पवार के एक अन्य भाई के पोते रोहित पवार ने जीत दर्ज की. जानकारों की मानें तो रोहित के उदय से अजित पवार (Ajit Pawar) के अंदर असुरक्षा की भावना और बढ़ी.

  • टिक टॉक पर पाबंदी के लिए मुंबई हाईकोर्ट पहुंची महिला, वीडियो ऐप पर लगाया यह आरोप

    टिक टॉक पर पाबंदी के लिए मुंबई हाईकोर्ट पहुंची महिला, वीडियो ऐप पर लगाया यह आरोप

    इस साल जुलाई में मुंबई पुलिस ने हिंसा भड़काने और धार्मिक समूहों के बीच रंजिश बढ़ाने के लिए टिकटॉक पर वीडियो पोस्ट करने के लिए कुछ लोगों के खिलाफ दो मामले दर्ज किए थे.’ अगले सप्ताह एक खंडपीठ के समक्ष याचिका पर सुनवाई होने की उम्मीद है.

  • आरे में पेड़ कटाई का मामला अब 16 दिसंबर को होगी सुनवाई, फिलहाल मेट्रो कारशेड का निर्माण कार्य चलता रहेगा

    आरे में पेड़ कटाई का मामला अब 16 दिसंबर को होगी सुनवाई, फिलहाल मेट्रो कारशेड का निर्माण कार्य चलता रहेगा

    मुंबई नगर निगम की ओर से मुकुल रोहतगी ने बताया कि पेड़ों की कटाई और पौधे लगाने व उनके बचने की संभावना समेत विस्तृत ब्योरा अदालत को सौंपा गया. कोर्ट को इससे जुड़े तस्वीर भी उपलब्ध करवाए गए. वरिष्ठ अधिवक्ता मुकुल रोहतगी ने कहा कि अब तक 20900 पौधे लगाए जा चुके हैं.

  • मुंबई: हाईकोर्ट ने RBI से पूछा- PMC बैंक के जमाकर्ताओं की मदद के लिए क्या कदम उठाए हैं?

    मुंबई: हाईकोर्ट ने RBI से पूछा- PMC बैंक के जमाकर्ताओं की मदद के लिए क्या कदम उठाए हैं?

    बंबई हाईकोर्ट ने सोमवार को भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) से यह जानने की कोशिश की कि उसने घोटाले की मार झेल रहे पंजाब एंड महाराष्ट्र को-ऑपरेटिव (पीएमसी) बैंक के जमाकर्ताओं के हितों की रक्षा के लिए क्या कदम उठाए हैं. न्यायमूर्ति एस.सी. धर्माधिकारी और न्यायमूर्ति आर.आई. छागला की खंडपीठ बैंक के जमाकर्ताओं की ओर से दायर याचिकाओं पर सुनवाई कर रही है.

  • Aarey Case: सुप्रीम कोर्ट और पेड़ न काटने के फैसले पर बरकरार, नहीं रुकेगा निर्माण कार्य

    Aarey Case: सुप्रीम कोर्ट और पेड़ न काटने के फैसले पर बरकरार, नहीं रुकेगा निर्माण कार्य

    मुंबई के आरे में पेड़ काटे जाने के मामले में सुप्रीम कोर्ट ने फिलहाल यथास्थिति बरकरार रखने का फैसला दिया है. यानी और पेड़ नहीं काटे जाएंगे.

  • आरे में पेड़ों की कटाई पर रोक के आदेश को शिवसेना ने बताया पर्यावरणविदों की नैतिक जीत

    आरे में पेड़ों की कटाई पर रोक के आदेश को शिवसेना ने बताया पर्यावरणविदों की नैतिक जीत

    मेट्रो कोच शेड के लिए मुंबई की आरे कॉलोनी में और पेड़ काटने से प्रशासन को रोकने के सुप्रीम कोर्ट के आदेश की शिवसेना ने सराहना की है. शिवसेना ने सोमवार को कहा कि यह पर्यावरणविदों के लिए ‘नैतिक जीत’ है .

  • Mumbai's Aarey case: सुप्रीम कोर्ट ने कहा, इलाके का एक या 2 फीसदी भी वन क्षेत्र में आता है तो पेड़ नहीं काटे जा सकते हैं, 5 बड़ी बातें

    Mumbai's Aarey case: सुप्रीम कोर्ट ने कहा, इलाके का एक या 2 फीसदी भी वन क्षेत्र  में आता है तो पेड़ नहीं काटे जा सकते हैं, 5 बड़ी बातें

    सुप्रीम कोर्ट ने मुंबई की आरे कॉलोनी में ‘मेट्रो कार शेड’ बनाने के लिए पेड़ काटे जाने पर फिलहाल रोक लगा दी है और इस संबंध में दायर याचिका पर सुनवाई के लिए 21 अक्टूबर की तारीख नियत की है. इस इलाके में करीब 2700 पेड़ों को काटने से बचाने के लिए प्रदर्शन भी हुआ था जिसके समर्थन में बॉलीवुड इंडस्ट्री के लोग भी खड़े थे. इस मामले में बीजेपी जहां विकास के नाम पर पेड़ों के काटने के पक्ष में खड़ी थी और दावा कर रही थी बदले में कई पेड़ लगाए गए हैं तो शिवसेना सरकार के इस फैसले खिलाफ थी. प्रदर्शन के दौरान शिवसेना नेता प्रियंका चतुर्वेदी सहित 29 लोगों को हिरासत में लिया गया था. इससे पहले हाईकोर्ट ने यहां पर पेड़ों को काटने से रोकने से इनकार कर दिया था और दो दिन के भीतर ही करीब कई पेडों के काटे जाने की खबर है. इसी बीच छात्रों के एक संगठन ने इस मामले में सुप्रीम कोर्ट से गुहार लगाई है.

  • Aarey Forest: सुप्रीम कोर्ट ने आरे में पेड़ों की कटाई रोकी, कहा- सरकार बताए कितने पौधे लगाए हैं

    Aarey Forest: सुप्रीम कोर्ट ने आरे में पेड़ों की कटाई रोकी, कहा- सरकार बताए कितने पौधे लगाए हैं

    मुंबई के आरे में काटे जा रहे पेड़ों को बचाने के लिए छात्रों की ओर से दी गई याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने आदेश दिया है कि फिलहाल कोई पेड़ नहीं काटा जाएगा और यथास्थिति बनाए रखी जाए. इसके साथ ही मामले की अगली सुनवाई 21 अक्टूबर तक के लिए तय कर दी है.

  • Updates: सुप्रीम कोर्ट का आदेश, मुंबई के आरे में फिलहाल कोई पेड़ नहीं काटा जाएगा

    Updates: सुप्रीम कोर्ट का आदेश, मुंबई के आरे में फिलहाल कोई पेड़ नहीं काटा जाएगा

    मुंबई के आरे में पेड़ों को बचाने के लिए दी याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि फिलहाल कोई पेड़ नहीं काटा जाएगा. इस मामले की सुनवाई जस्टिस अरुण मिश्रा और जस्टिस अशोक भूषण की बेंच कर रही है. आपको बता दें कि छात्रों के एक प्रतिनिधिमंडल ने आरे के पेड़ों को बचाने के लिए सुप्रीम कोर्ट में गुहार लगाई थी. छात्रों ने CJI को इस मामले में एक चिट्ठी लिखी जिसमें कहा गया था कि उन्हें अपने विशेषाधिकारों का इस्तेमाल करते हुए मामले की तुरंत सुनवाई करने चाहिए और  पेड़ों के कटने पर रोक लगानी चाहिए. छात्रों की अपील में कहा गया है कि 4 अक्टूबर से ग़ैर क़ानूनी तरीके से पेड़ों को काटा जा रहा है और शांतिपूर्ण विरोध करने वालों को हिरासत में लिया गया है. इस बीच इस मामले में गिरफ़्तार 29 लोगों को सशर्त ज़मानत मिल गई थी जिन्हें देर रात रिहा कर दिया गया. ज़मानत की शर्त में इन्हें प्रदर्शन में भाग नहीं लेने को कहा गया है. दूसरी तरफ़ आरे में पुलिस की नाकेबंदी अभी भी जारी है लेकिन धारा 144 को हटा लिया गया है. 

  • आरे मामला: आज सुप्रीम कोर्ट करेगा पेड़ कटाई के खिलाफ याचिका पर सुनवाई, पढ़ें 10 बड़ी बातें

    आरे मामला: आज सुप्रीम कोर्ट करेगा पेड़ कटाई के खिलाफ याचिका पर सुनवाई, पढ़ें 10 बड़ी बातें

    मुंबई की ऑरे कॉलोनी में जंगल कटाई का मामला अब सुप्रीम कोर्ट पहुंच गया है. दरअसल, बंबई हाईकोर्ट द्वारा पेड़ कटाई रोकने को लेकर दी गई याचिका को खारिज करने के बाद छात्रों ने इस मामले को लेकर सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की है. अपनी याचिका में छात्रों ने कहा कि है कि जिस तरह से पर्यावरण को दरकिनार कर बड़े स्तर पर पेड़ों की कटाई की जा रही है उसे समय रहते रोका जाना जरूरी है. बता दें ऑरे कॉलोनी में मुंबई मेट्रो शेड के लिए तीन हजार के करीब पेड़ों को काटा जाना है. राज्य सरकार के इस फैसले का शुरू से पर्यावरण विद और अन्य स्थानीय लोग विरोध कर रहे हैं. 

  • Aarey Protest Updates: आरे कॉलोनी जंगल प्रोटेस्ट मामले में शिवसेना नेता प्रियंका चतुर्वेदी को मुम्बई पुलिस ने हिरासत में लिया

    Aarey Protest Updates: आरे कॉलोनी जंगल प्रोटेस्ट मामले में शिवसेना नेता प्रियंका चतुर्वेदी को मुम्बई पुलिस ने हिरासत में लिया

    पर्यावरण प्रेमियों के अनुसार बीएमसी ने पेड़ों को काटने के लिए मिली अनुमति को अपने वेबसाइट पर नहीं डाला है और कानून के अनुसार वेबसाइट पर अनुमति की कॉपी को डालने के 15 दिनों के बाद पेड़ काटे जा सकते हैं. वहीं, कोर्ट में सुनवाई होने के बाद अब प्रशासन जंगल में पेड़ कटाई का काम आज शुरू कर सकता है. 

  • मुंबई : अदालत के आदेश के बाद पेड़ों की कटाई शुरू, पर्यावरण प्रेमियों ने जताया विरोध

    मुंबई : अदालत के आदेश के बाद पेड़ों की कटाई शुरू, पर्यावरण प्रेमियों ने जताया विरोध

    शुक्रवार की सुबह बॉम्बे हाईकोर्ट की ओर से आरे कॉलोनी में मेट्रो कारशेड बनाने के लिए 2702 पेड़ों को काटे जाने के खिलाफ दायर याचिका को खारिज करने के बाद शुक्रवार रात 8 बजे से ही पेड़ों को काटना शुरू कर दिया गया. इसके खिलाफ पर्यावरण प्रेमियों ने आरे कॉलोनी पहुंचकर विरोध करना शुरू कर दिया है. पर्यावरण प्रेमियों के अनुसार बीएमसी ने पेड़ों को काटने के लिए मिली अनुमति को अपने वेबसाइट पर नहीं डाला है और कानून के अनुसार वेबसाइट पर अनुमति की कॉपी को डालने के 15 दिनों के बाद पेड़ काटे जा सकते हैं.

  • सोशल मीडिया पर अफवाह फैलाने वालों को चेतावनी

    सोशल मीडिया पर अफवाह फैलाने वालों को चेतावनी

    सुप्रीम कोर्ट ने सोशल मीडिया पर अफवाहें फैलाने, चरित्र हनन करने, ट्रोल करने, धमकी देने इत्यादि को लेकर सरकार से तीन हफ्ते के भीतर गाइडलाइन बनाने को कहा है.

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com