NDTV Khabar

Mutual funds


'Mutual funds' - 39 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • कम पैसे निवेश कर करोड़पति बनने का है ये रास्ता, टॉप 5 निवेश विकल्प

    कम पैसे निवेश कर करोड़पति बनने का है ये रास्ता, टॉप 5 निवेश विकल्प

    सुनिश्चित निवेश कर करोड़पति बनने का सपना सभी का होता है. इतना ही नहीं लोग, खासतौर पर नौकरीपेशा, यह चाहते हैं कि रिटायरमेंट तक करोड़पति बन जाऊं. असल ज़िन्दगी में ऐसा कोई तरीका नहीं होता, जिसमें कुछ हज़ार रुपये का निवेश हमें करोड़ों रुपये का रिटर्न दे सके. अगर कुछ ऐसा होगा भी, तो हाथ आने वाले करोड़ों रुपये पर टैक्स देना पड़ेगा, और रकम फिर कम हो जाएगी. आप कानूनी तरीके से करोड़ों रुपये की कमाई कर सकते हैं, लेकिन अब यह टैक्स फ्री नहीं रही है. इस बार बजट में वित्त मंत्री अरुण जेटली ने इस पर टैक्स लगा दिया है. 

  • Mutual funds क्या हैं, इसके बारे में पूरी जानकारी यहां पढ़ें

    Mutual funds क्या हैं, इसके बारे में पूरी जानकारी यहां पढ़ें

    अगर आप नौकरीपेशा हैं और घर के खर्चे के बाद कुछ पैसा बचा पाते हैं और इसकी हाल फिलहाल में कोई आवश्यकता नहीं है तो आप इसे निवेश कर सकते हैं. क्यों यदि आप निवेश नहीं कर रहे हैं तो आप गलती कर रहे हैं, आप अपना नुकसान खुद कर रहे हैं. कारण साफ है कि अगर 10 साल यह पैसा ऐसा ही पड़ा रहा तो यह आपको क्या देगा. कुछ नहीं. इतना ही नहीं इसकी कीमत तब तक कम हो चुकी होगी और पैसा का बाजार मूल्ट घट चुका होगा. यानी 10 साल बाद जब आप यह पैसा लेकर बाजार में जाएंगे तक इतने पैसे में कम सामान खरीदेंगे जो आप आज खरीद पाते.

  • एचडीएफसी म्यूचुअल फंड को आईपीओ के लिए सेबी की मंजूरी

    एचडीएफसी म्यूचुअल फंड को आईपीओ के लिए सेबी की मंजूरी

    एचडीएफसी एसेट मैनेजमेंट कंपनी को आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (आईपीओ) के लिए भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) की मंजूरी मिल गई है. यह देश की सबसे बड़ी म्यूचुअल फंड कंपनी है. कंपनी ने सेबी के पास आईपीओ के लिए दस्तावेज मार्च में जमा कराए थे. 22 जून को कंपनी को इस पर सेबी का ‘निष्कर्ष’ मिल गया है. किसी कंपनी को सार्वजनिक निर्गम लाने के लिए सेबी का निष्कर्ष जरूरी होता है. 

  • निवेशकों का अप्रैल में म्यूचुअल फंड में 1.4 लाख करोड़ रुपये का निवेश, एयूएम 23.25 लाख करोड़ पहुंचा

    निवेशकों का अप्रैल में म्यूचुअल फंड में 1.4 लाख करोड़ रुपये का निवेश, एयूएम 23.25 लाख करोड़ पहुंचा

    निवेशकों ने अप्रैल महीने में म्यूचुअल फंड योजनाओं में 1.4 लाख करोड़ रुपये का निवेश किया है. इससे म्यूचुअल फंड कंपनियों के प्रबंधन के तहत परिसंपत्ति (एयूएम) बढ़कर 23.25 करोड़ रुपये पर पहुंच गयी, जो कि पिछले महीने से 9 प्रतिशत अधिक है. एसोसिएशन आफ म्यूचुअल फंड्स इन इंडिया (एम्फी) के ताजा आंकड़ों से यह जानकारी मिली है. 

  • जानें आयकर कानून की धारा 80 सी, उठाएं इसका ज्यादा लाभ

    जानें आयकर कानून की धारा 80 सी, उठाएं इसका ज्यादा लाभ

    देश के हर नागरिक को अपनी आय पर कर देना होता है. कुछ लोगों को आय कम होने की वजह से कर से छूट प्राप्त होती है जबकि बाकी सभी को अपना आयकर रिटर्न दाखिल करना होता है. इसी के आधार पर सरकार को कर देना होता है. सरकार अपनी ओर से कई माध्यमों के जरिए लोगों को कर में छूट का लाभ देती है. देश के हर नागरिक को अपनी आय पर कर देना होता है. कुछ लोगों को आय कम होने की वजह से कर से छूट प्राप्त होती है जबकि बाकी सभी को अपना आयकर रिटर्न दाखिल करना होता है. इसी के आधार पर सरकार को कर देना होता है. सरकार अपनी ओर से कई माध्यमों के जरिए लोगों को कर में छूट का लाभ देती है. इसके लिए सरकार ने कई नियम बनाएं हैं. ये नियम आयकर कानून के तहत लोगों को छूट प्रदान करते हैं.  

  • सहारा MF को बंद करने के सेबी के आदेश पर सैट का स्थगन आदेश

    सहारा MF को बंद करने के सेबी के आदेश पर सैट का स्थगन आदेश

    सहारा समूह को प्रतिभूति अपीलीय न्यायाधिकरण (सैट) से कुछ राहत मिली है. सैट ने भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) द्वारा सहारा म्यूचुअल फंड को योजनाओं को बंद करने के लिए दिए गए आदेश पर स्थगन दे दिया है. इस मामले की अगली सुनवाई 26 अप्रैल को होगी. सहारा समूह ने एक बयान में कहा कि सेबी ने पिछले सप्ताह जारी आदेश में सहारा म्यूचुअल फंड्स को अपनी सभी योजनाएं बंद करने को कहा था.

  • सहारा MF को बंद करने के सेबी के आदेश पर सैट का स्थगन आदेश

    सहारा MF को बंद करने के सेबी के आदेश पर सैट का स्थगन आदेश

    सहारा समूह को प्रतिभूति अपीलीय न्यायाधिकरण (सैट) से कुछ राहत मिली है. सैट ने भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) द्वारा सहारा म्यूचुअल फंड को योजनाओं को बंद करने के लिए दिए गए आदेश पर स्थगन दे दिया है. इस मामले की अगली सुनवाई 26 अप्रैल को होगी. सहारा समूह ने एक बयान में कहा कि सेबी ने पिछले सप्ताह जारी आदेश में सहारा म्यूचुअल फंड्स को अपनी सभी योजनाएं बंद करने को कहा था.

  • Mutual funds में कम पैसे निवेश कर बनें करोड़पति, ये हैं टॉप 5 इनवेस्टमेंट ऑप्शन

    Mutual funds में कम पैसे निवेश कर बनें करोड़पति, ये हैं टॉप 5 इनवेस्टमेंट ऑप्शन

    सुनिश्चित निवेश कर अमीर बनने का सपना सभी का होता है. इतना ही नहीं लोग खासतौर पर नौकरी पेशा यह चाहते हैं कि रिटायरमेंट तक करोड़पति बन जाऊं. असल ज़िन्दगी में ऐसा कोई तरीका नहीं होता, जिसमें कुछ हज़ार रुपये का निवेश हमें करोड़ों रुपये का रिटर्न दे सके. अगर कुछ ऐसा होगा भी, तो हाथ आने वाले करोड़ों रुपये पर टैक्स देना पड़ेगा, और रकम फिर कम हो जाएगी.

  • Mutual fund 'बढ़िया है', क्यों और किसलिए इसे समझें

    Mutual fund 'बढ़िया है', क्यों और किसलिए इसे समझें

    अगर आप नौकरीपेशा हैं और घर के खर्चे के बाद कुछ बचा पाते हैं और इसकी हाल फिलहाल में कोई आवश्यकता नहीं है तो आप इसे निवेश कर सकते हैं. यदि आप ऐसा नहीं करते हैं तो यहां पर आप अपना नुकसान कर रहे हैं. कारण साफ है कि अगर 10 साल यह पैसा ऐसा ही पड़ा रहा तो यह आपको क्या देगा. कुछ नहीं. इतना ही नहीं इसकी वैल्यू कम हो चुकी होगी और पैसा का बाजार मूल्ट घट चुका होगा. यानी आप इतने पैसे में कम सामान खरीदेंगे जो आप आज खरीद पाते. समझदार बनिए और बेहतर निवेश कीजिए.

  • अगर सहारा की किसी भी योजना में आपका पैसा लगा है, तब सेबी के फैसले की यह खबर जरूर पढ़ें

    अगर सहारा की किसी भी योजना में आपका पैसा लगा है, तब सेबी के फैसले की यह खबर जरूर पढ़ें

    बाजार नियामक सेबी ने सहारा म्यूचुअल फंड से अपनी सभी योजनाओं को समेटने को कहा है. सेबी के अनुसार कंपनी को एक योजना को छोड़कर सभी म्यूचुअल फंड योजनाओं को 21 अप्रेल 2018 तक बंद करना है. 

  • शेयर बाजार : म्यूचुअल फंड योजनाओं में हुआ 1.7 लाख करोड़ रुपये से ज्यादा का निवेश

    शेयर बाजार : म्यूचुअल फंड योजनाओं में हुआ 1.7 लाख करोड़ रुपये से ज्यादा का निवेश

    निवेशकों ने वित्त वर्ष 2017-18 में इक्विटी से संबद्ध म्यूचुअल फंड योजनाओं में 1.7 लाख करोड़ रुपये से ज्यादा का निवेश किया है. निवेश के लिहाज से म्यूचुअल फंड के लिए यह लगातार चौथा अच्छा साल रहा है. म्यूचुअल फंड कंपनियों के संगठन भारतीय म्यूचुअल फंड संघ (एएमएफआई) के आंकड़ों से यह बात स्पष्ट होती है. आंकड़ों के अनुसार समीक्षावधि में अच्छे निवेश प्रवाह के चलते इस तरह की म्यूचुअल फंड योजनाओं का परिसंपत्ति आधार 38% बढ़कर 7.5 लाख करोड़ रुपये हो गया. 

  • म्यूचुअल फंड योजनाओं में हुआ 1.7 लाख करोड़ रुपये से ज्यादा का निवेश

    म्यूचुअल फंड योजनाओं में हुआ 1.7 लाख करोड़ रुपये से ज्यादा का निवेश

    ऑनलाइन म्यूचुअल फंड निवेश कंपनी ग्रो के मुख्य परिचालन अधिकारी हर्ष जैन ने कहा कि म्यूचुअल फंड योजनाओं में निवेश बढ़ने की अहम वजह इस उद्योग और इसका वितरण करने वाले मंचों द्वारा जागरुकता अभियान चलाया जाना है.

  • रेग्युलर मंथली इनकम के ये शानदार 5 विकल्प, जिनसे आपको होगी नियमित आय

    रेग्युलर मंथली इनकम के ये शानदार 5 विकल्प, जिनसे आपको होगी नियमित आय

    रिटायरमेंट ले चुके लोगों के लिए अपने निवेश से नियमिट आय प्राप्त करना उनकी टॉप प्रायोरिटी होता है. यहां तक कि जो पार्ट टाइम काम कर रहे हों, वे भी यह कोशिश करते ही हैं कि रेग्युलर इनकम का सोर्स जरूर हो ताकि आमद बनी रही. ऐसे में बैंक फिक्स्ड डिपॉजिट (FD) बेहतरीन ऑप्शन माना जाता है. लेकिन क्या आप जानते हैं कि आपके पास पारंपरिक एफडी से इतर भी कई शानदार विकल्प मौजूद हैं.

  • विदेशी निवेशकों के लिए बाजार तक पहुंच होगी आसान, सेबी बोर्ड की बैठक में हुए कई अहम फैसले - 10 बड़ी बातें

    विदेशी निवेशकों के लिए बाजार तक पहुंच होगी आसान, सेबी बोर्ड की बैठक में हुए कई अहम फैसले - 10 बड़ी बातें

    बाजार नियामक भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) ने गुरुवार को पूंजी बाजार में कारोबार और उससे जुड़े कारोबारियों के क्षेत्र में व्यापक स्तर पर सुधारों को आगे बढ़ाने का निर्णय किया. इसमें जहां एक तरफ विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) के लिए भारतीय पूंजी बाजार में पहुंच को आसान बनाया गया है, वहीं एक ही एक्सचेंज में शेयर और जिंस दोनों का कारोबार करने के लिए मार्ग प्रशस्त कर दिया गया है. सेबी ने रेटिंग एजेंसियों के साथ-साथ म्यूचुअल फंड में हितों के टकराव को दूर करने के मकसद से एक-दूसरे में 10 प्रतिशत शेयरहोल्डिंग की सीमा तय कर दी. सेबी निदेशक मंडल की बैठक में ये निर्णय लिए गए. सेबी चेयरमैन अजय त्यागी ने इनकी जानकारी देते हुए कहा कि कंपनियों के कर्ज चुकाने में असफल रहने संबंधी खुलासा नियमों पर अभी और चर्चा की जरूरत है.

  • सरकार ने भारत-22 ईटीएफ से 14,500 करोड़ रुपये जुटाए

    सरकार ने भारत-22 ईटीएफ से 14,500 करोड़ रुपये जुटाए

    सरकार चालू वित्त वर्ष में अभी तक विनिवेश से 52,500 करोड़ रुपये जुटा चुकी है, जबकि लक्ष्य 72,500 करोड़ रुपये का है.

  • नोटबंदी के बाद इक्विटी म्यूचुअल फंड में निवेश 2.86 लाख करोड़ रुपये बढ़ा

    नोटबंदी के बाद इक्विटी म्यूचुअल फंड में निवेश 2.86 लाख करोड़ रुपये बढ़ा

    नोटबंदी के बाद पिछले 11 माह के दौरान शेयरों में निवेश करने वाली म्यूचुअल फंड योजनाओं में निवेश प्रवाह में 2.86 लाख करोड़ रुपये की वृद्धि दर्ज की गई. म्यूचुअल फंड उद्योग के ताजा आंकड़ों में यह जानकारी सामने आई है. विश्लेषकों के अनुसार, आठ नवंबर 2016 को नोटबंदी के बाद बैंक जमा में अचानक हुई वृद्धि और उसके बाद ब्याज दरें नीचे आने से इक्विटी म्यूचुअल कोषों में प्रवाह बढ़ गया.

  • म्यूचुअल फंडों ने शेयरों में 12 अरब डाले, एफपीआई को पीछे छोड़ा

    म्यूचुअल फंडों ने शेयरों में 12 अरब डाले, एफपीआई को पीछे छोड़ा

    घरेलू शेयरों में म्यूचुअल फंडों का निवेश अप्रैल-सितंबर की छमाही में 12 अरब डॉलर रहा है. खुदरा निवेशकों की रुचि बढ़ने की वजह से म्यूचुअल फंडों ने शेयर बाजारों में जोरदार निवेश किया.

  • छोटे शहरों में लोकप्रिय हो रहा है म्यूचुअल फंड

    छोटे शहरों में लोकप्रिय हो रहा है म्यूचुअल फंड

    छोटे शहरों के योगदान में वृद्धि का कारण बाजार नियामक सेबी तथा म्यूचुअल फंड कंपनियों के संगठन एएमएफआई द्वारा उठाए गए कदम हैं.

Advertisement