NDTV Khabar

Narmada


'Narmada' - 78 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • सरदार सरोवर की ऊंचाई और जलस्तर को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने नोटिस जारी किया

    सरदार सरोवर की ऊंचाई और जलस्तर को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने नोटिस जारी किया

    सरदार सरोवर बांध की ऊंचाई और जलस्तर के मामले में सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार, गुजरात, मध्यप्रदेश और महाराष्ट्र सरकार के साथ-साथ नर्मदा कंट्रोल अथॉरिटी को नोटिस जारी किया है. कोर्ट इस मामले की सुनवाई 26 सितंबर को करेगा. बांध का जलस्तर बढ़ाने के खिलाफ याचिका दाखिल की गई है और लोगों को विस्थापित करने के आदेश देने की गुहार लगाई गई है.

  • गुजरात की जिद और मध्यप्रदेश में नर्मदा में डूबता जीवन, ग्रामीण जाएं तो जाएं कहां? देखें - VIDEO

    गुजरात की जिद और मध्यप्रदेश में नर्मदा में डूबता जीवन, ग्रामीण जाएं तो जाएं कहां? देखें - VIDEO

    जैसे-जैसे नर्मदा का जलस्तर बढ़ रहा है, सरदार सरोवर भरता जा रहा है. इसके साथ ही मध्यप्रदेश के कई गांव इतिहास का हिस्सा बनते जा रहे हैं. गुजरात इतनी हड़बड़ी में है कि उसने सरदार सरोवर बांध को भरने के समय की शर्तों का भी उल्लंघन कर दिया. इसको लेकर मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने केंद्र सरकार को खत लिखा है. मांग की गई है कि इस संबंध में जल्द से जल्द बैठक बुलाई जाए. NDTV के पास नर्मदा में डूबते गांवों के कुछ ऐसे वीडियो हैं जिनमें गांव और उनमें रहने वाले लोगों की पीड़ा खुद बयां हो रही है. नर्मदा की धाराएं गांवों में घुसकर उन्हें लीलने पर आमादा हैं. नदी की धाराओं और ग्रामीणों की आंखों से बहती अश्रु धाराओं में प्रतिस्पर्धा चल रही है. अपनी जमीन, अपने गांव, अपने घर और अपनी स्मृतियों के डूबने की पीड़ा, अपनी जड़ों से जुदा होने की पीड़ा, सरकार के बेसहारा छोड़ देने की पीड़ा इन ग्रामीणों के लिए असहनीय है.

  • मेधा पाटकर का अनशन समाप्त, 9 सितंबर को सरकार से होगी चर्चा

    मेधा पाटकर का अनशन समाप्त, 9 सितंबर को सरकार से होगी चर्चा

    नौ दिन से अनशन कर रहीं मेधा पाटकर ने सोमवार को रात में अपना आंदोलन समाप्त कर दिया. मेधा पाटकर ने व्रत तोड़ा और इसके साथ 9 दिन से जारी उनका बेमियादी अनशन ख़त्म हो गया. बताया जाता है कि 9 सितंबर को मेधा की भोपाल में सरदार सरोवर के विस्थापितों से जुड़े सारे मुद्दों पर सरकार से चर्चा होगी.

  • मेधा पाटकर के अनशन का आठवां दिन, मनाने के लिए पहुंचीं मंत्री विजयलक्ष्मी साधौ

    मेधा पाटकर के अनशन का आठवां दिन, मनाने के लिए पहुंचीं मंत्री विजयलक्ष्मी साधौ

    एक सप्ताह से अनशन कर रहीं मेधा पाटकर की मान-मनौव्वल का दौर जारी है. मध्यप्रदेश के गृहमंत्री के बाद अब जिले की प्रभारी मंत्री डॉ विजयलक्ष्मी साधौ मेधा पाटकर को मनाने के लिए सत्याग्रह स्थल पर पहुंचीं. साधौ ने मुख्यमंत्री से मोबाइल पर मेधा पाटकर की 7 मिनट बात करवाई. हालांकि इससे कोई हल नहीं निकला. यह दूसरी मर्तबा है जब सीएम कमलनाथ से मेधा पाटकर की चर्चा बेनतीजा रही. प्रभारी मंत्री डॉ साधौ और मुख्यमंत्री कमलनाथ का अनशन समाप्त करने का निवेदन मेधा पाटकर ने अस्वीकार कर दिया. मेधा पाटकर की तबियत निरंतर बिगड़ती जा रही है.

  • नर्मदा बचाओ आंदोलन: छोटा बड़दा में नर्मदा चुनौती सत्याग्रह जारी, आठवें दिन बिगड़ी मेधा पाटकर की सेहत 

    नर्मदा बचाओ आंदोलन: छोटा बड़दा में नर्मदा चुनौती सत्याग्रह जारी, आठवें दिन बिगड़ी मेधा पाटकर की सेहत 

    उन्होंने कहा कि एक तरफ लोग मर रहे हैं और पीएम मोदी ऐसे में अपना जन्मदिन मनाना चाहते हैं, लेकिन किसी के मरण दिन पर जन्मदिन मनाना शोभा नहीं देता. विकास के नाम पर यह अमानवीय चेहरा है और पर्यटन के नाम पर कश्मीर की झील की तरह इसे बताया जा रहा है.

  • पीएम मोदी ने सरदार सरोवर भरने पर खुशी जताई, मेधा पाटकर का 'नर्मदा चुनौती सत्याग्रह' जारी

    पीएम मोदी ने सरदार सरोवर भरने पर खुशी जताई, मेधा पाटकर का 'नर्मदा चुनौती सत्याग्रह' जारी

    पीएम नरेन्द्र मोदी ने ट्वीट कर सरदार सरोवर में जलस्तर 134 फीट तक पहुंचने को भले ही ऐतिहासिक बताया लेकिन वहीं सामाजिक कार्यकर्ता मेधा पाटकर “नर्मदा चुनौती सत्याग्रह” में चौथे दिन भी अनशन पर बैठी हुई हैं. बुधवार को मध्यप्रदेश के गृहमंत्री बाला बच्चन ने आंदोलन का समर्थन करते हुए मेधा पाटकर से आंदोलन खत्म करने की गुजारिश की और कहा कि वे आंदोलनकारियों की मांग को मुख्यमंत्री के सामने रखेंगे.

  • केंद्र और गुजरात सरकार की 192 गांवों और एक नगर को डुबोने की साजिश : नर्मदा बचाओ आंदोलन

    केंद्र और गुजरात सरकार की 192 गांवों और एक नगर को डुबोने की साजिश : नर्मदा बचाओ आंदोलन

    नर्मदा बचाओ आंदोलन की नेता मेधा पाटकर छोड़ा बड़दा में नर्मदा चुनौती अनिश्चितकालीन सत्याग्रह में तीसरे दिन भी अपने साथियों के साथ बैठी रहीं. आंदोलनकारियों का आरोप है कि केंद्र और गुजरात सरकार 192 गांवों और एक नगर को बिना पुनर्वास डुबाने की साजिश रच रहा है, जबकि वहां आज भी 32,000 परिवार रहते हैं. इस स्थिति में बांध में 138.68 मीटर पानी भरने से 192 गांव और एक नगर की जल हत्या होगी.

  • सरदार सरोवर में जलस्तर बढ़ने से खतरे में डूब प्रभावित क्षेत्र, मेधा पाटकार ने की बांध के गेट खोलने की मांग

    सरदार सरोवर में जलस्तर बढ़ने से खतरे में डूब प्रभावित क्षेत्र, मेधा पाटकार ने की बांध के गेट खोलने की मांग

    इंदिरा सागर परियोजना और ओंकारेश्वर परियोजना के बांधों से छोड़े गए पानी का सीधा असर बड़वानी जिले के सरदार सरोवर डूब क्षेत्र पर देखने को मिल रहा है.  यहां लगातार जलस्तर बढ़ता नजर आ रहा है.

  • मध्य प्रदेश में बाढ़: अब तक 32 लोगों की मौत, कई इलाकों का संपर्क टूटा, 150 को राहत शिविर में पहुंचाया गया

    मध्य प्रदेश में बाढ़: अब तक 32 लोगों की मौत, कई इलाकों का संपर्क टूटा, 150 को राहत शिविर में पहुंचाया गया

    मंदसौर के हैदरवास गांव में बाढ़ से प्रभावित डेढ़ सौ लोगों को राहत शिविर में पहुंचाया गया है.

  • नर्मदा बांध प्रभावितों के पुनर्वास का सवाल दशकों बाद भी अपनी जगह बरकरार

    नर्मदा बांध प्रभावितों के पुनर्वास का सवाल दशकों बाद भी अपनी जगह बरकरार

    नर्मदा बचाओ आंदोलन का राजघाट सत्याग्रह गुरुवार-शुक्रवार के बीच देर रात बांध के गेट खोलने का आदेश जारी करने और बड़वानी कलेक्टर के आश्वासन पर स्थगित किया गया है. सभी प्रभावितों का सरकार और आंदोलन के प्रतिनिधियों के साथ ज्वाइंट सर्वे कराया जाएगा. सरकारी पुनर्वास समितियों में आंदोलन के प्रतिनिधियों को भी शामिल किया जाएगा. नर्मदा घाटी विकास प्राधिकरण के मंत्री से जल्द मुलाकात कराई जाएगी. लेकिन सवाल है कि क्यों कोई मेधा पाटकर 39 सालों बाद भी नर्मदा बचाने खड़ी हो रही हैं.

  • कंप्यूटर बाबा ने संभाली नदी न्यास अध्यक्ष पद की कुर्सी, नर्मदा परिक्रमा के लिए की हेलीकॉप्टर की मांग

    कंप्यूटर बाबा ने संभाली नदी न्यास अध्यक्ष पद की कुर्सी,  नर्मदा परिक्रमा के लिए की हेलीकॉप्टर की मांग

    कंप्यूटर बाबा ने जब पदभार संभाला तो उनके एक तरफ धार्मिक न्यास एवं धर्मस्व विभाग के कैबिनेट मंत्री पीसी शर्मा तो दूसरी तरफ कांग्रेस के दिग्गज नेता और मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह मौजूद थे.

  • मध्य प्रदेश: क्या कारण है कि कांग्रेस के भीतर ही दिग्विजय सिंह के खिलाफ उठने लगे विरोध के स्वर?

    मध्य प्रदेश: क्या कारण है कि कांग्रेस के भीतर ही दिग्विजय सिंह के खिलाफ उठने लगे विरोध के स्वर?

    मध्य प्रदेश की राजनीति में पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह की दखलअंदाजी कांग्रेस के नेताओं को रास नहीं आ रही है. चुनाव से पहले दिग्विजय सिंह के खिलाफ कांग्रेस नेताओं के बीच सुगबुगाहट थी जो अब सत्ता में वापसी के बाद खुलकर सुनाई देने लगी है. वन मंत्री उमंग सिंघार ने तो सिंह को उन्हीं के बेटे मंत्री जयवर्धन सिंह द्वारा सिंहस्थ घोटाले पर दी गई क्लीनचिट का जिक्र कर आइना दिखाया है.

  • चुनाव में जिन मामलों पर 'शिवराज सरकार' को घेरा था, उन्हीं मुद्दों पर 'कमलनाथ सरकार' की मुश्किलें बढ़ी

    चुनाव में जिन मामलों पर 'शिवराज सरकार' को घेरा था, उन्हीं मुद्दों पर 'कमलनाथ सरकार' की मुश्किलें बढ़ी

    मध्य प्रदेश के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने मंदसौर के किसान गोलीकांड और नर्मदा नदी के तट पर हुए पौधरोपण में भ्रष्टाचार को मुद्दा बनाया था, मगर मंत्रियों के बयानों ने कमलनाथ सरकार की मुसीबतें बढ़ा दी हैं, क्योंकि गृह और वन मंत्री के बयानों ने पूर्ववर्ती सरकार का परोक्ष रूप से बचाव जो किया है. कांग्रेस के बड़े नेताओं ने ही सरकार पर सवाल उठा दिए हैं. राज्य सरकार के दो मंत्रियों के बयान कांग्रेस की मंशा के अनुरूप नहीं रहे. भाजपा विधायक हर्ष विजय गहलोत के सवाल पर गृहमंत्री बाला बच्चन ने लिखित में जवाब देते हुए कहा था, "मंदसौर के पिपलिया मंडी में अनियंत्रित भीड़ को नियंत्रित करने और सरकार व निजी संपत्ति की रक्षा के लिए पुलिस ने आत्मरक्षार्थ गोली चलाई थी. गोली चलाने का आदेश मल्हारगढ़ के तत्कालीन अनुविभागीय अधिकारी, राजस्व (एसडीएम) श्रवण भंडारी ने दिया था."

  • महाराष्ट्र: नर्मदा नदी में नाव पलटने से 6 लोगों की मौत 

    महाराष्ट्र: नर्मदा नदी में नाव पलटने से 6 लोगों की मौत 

    महाराष्ट्र के नंदुरबार जिले में मंगलवार को नर्मदा नदी में एक नाव पलटने (Boat Capsize) से 6 लोगों की मौत हो गई. एक अधिकारी ने बताया कि अब तक कुल 36 लोगों को बचाया गया है और उन्हें एक स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया है. अधिकारी ने बताया कि नाव पर करीब 60 लोग सवार थे. वे लोग मकर सक्रांति के अवसर पर पूजा अर्चना करने जा रहे थे, तभी नाव पलट गई.

  • मध्यप्रदेश में कांग्रेस के प्रजापति विधानसभा के अध्यक्ष चुने गए, बीजेपी ने किया मार्च

    मध्यप्रदेश में कांग्रेस के प्रजापति विधानसभा के अध्यक्ष चुने गए, बीजेपी ने किया मार्च

    कांग्रेस विधायक नर्मदा प्रसाद प्रजापति मंगलवार को मध्यप्रदेश की 15वीं विधानसभा के अध्यक्ष चुने गए. विधानसभा अध्यक्ष पद के लिए अपनी पार्टी के उम्मीदवार के नाम का प्रस्ताव पेश न करने को लेकर मुख्य विपक्षी दल बीजेपी ने संदन से वॉकआउट कर दिया. बीजेपी के सारे विधायक पैदल मार्च करते हुए राजभवन गए, इस मांग के साथ कि अध्यक्ष का निर्वाचन दुबारा हो. पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इसे लोकतंत्र की हत्या करार दिया.

  • मध्य प्रदेश के चुनावी रण में साधु-संतों का 'यह फैसला' कांग्रेस के लिए बन सकती है संजीवनी!

    मध्य प्रदेश के चुनावी रण में साधु-संतों का 'यह फैसला' कांग्रेस के लिए बन सकती है संजीवनी!

    जबलपुर में शुक्रवार को साधु-संतों ने 'नर्मदा संसद' का आयोजन किया और इस दौरान उन्होंने विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को समर्थन देने का ऐलान कर दिया नर्मदा नदी के तट पर 'नर्मदा संसद' का आयोजन कंप्यूटर बाबा ने किया.

  • 'स्टैच्यू ऑफ यूनिटी' के अनावरण पर बोला सरदार पटेल का परिवार- PM मोदी ने बड़ा काम किया, पूरी दुनिया देख रही

    'स्टैच्यू ऑफ यूनिटी' के अनावरण पर बोला सरदार पटेल का परिवार- PM मोदी ने बड़ा काम किया, पूरी दुनिया देख रही

    गुजरात के केवड़िया में पीएम मोदी ने जब सरदार पटेल की प्रतिमा स्टैच्यू ऑफ यूनिटी का अनावरण किया, तो यह सरदार बल्लभभाई पटेल के परिवार के लिए गौरव की बात थी. सरदार पटेल के नाती-पोते ने काफी गर्व महसूस किया. बता दें कि सरदार पटेल की प्रतिमा स्टैच्यू ऑफ लिबर्टी सो दोगुना लंबा है और करीब 2989 करोड़ रुपये की लागत से बनी है. यह गुजरात में नर्मदा बांध के पास में है. 

  • सरदार पटेल की प्रतिमा 'स्टैच्यू ऑफ यूनिटी' का भव्य अनावरण, जानें कितने बजे क्या होगा

    सरदार पटेल की प्रतिमा 'स्टैच्यू ऑफ यूनिटी' का भव्य अनावरण, जानें कितने बजे क्या होगा

    दुनिया की सबसे ऊंची प्रतिमा के रूप में सरदार वल्लभभाई पटेल ( Vallabhbhai Patel) की स्टैच्यू ऑफ यूनिटी  (Statue of Unity)  का आज यानी बुधवार को गुजरात में नर्मदा नदी के तट पर पीएम मोदी ने अनावरण किया. यह समारोह सरदार पटेल की 31 अक्टूबर को जयंती के मौके पर आयोजित है. इसके लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पहुंचे. सरदार पटेल की 182 मीटर ऊंची प्रतिमा को विश्व की सबसे ऊंची प्रतिमा बताया जा रहा है. गुजरात के राज्यपाल ओपी कोहली, मुख्यमंत्री विजय रूपाणी, गृह राज्यमंत्री प्रदीप सिंह जडेजा और मुख्य सचिव जे एन सिंह ने अहमदाबाद हवाई अड्डे पर प्रधानमंत्री मोदी की अगवानी की. जानें बुधवार को स्टैच्यू ऑफ यूनिटी के अनावरण के कार्यक्रम का मिनट टू मिनट...