NDTV Khabar

Natural disaster


'Natural disaster' - 8 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • प्राकृतिक आपदा पर जल्द प्रतिक्रिया देती हैं महिलाएं : शोध

    प्राकृतिक आपदा पर जल्द प्रतिक्रिया देती हैं महिलाएं : शोध

    किसी आपातकाल की स्थिति के दौरान परिस्थिति से निपटने के लिए महिलाएं जल्द तैयार हो जाती हैं, लेकिन अक्सर पुरुषों को अपने जीवन में ऐसा करने में परेशानी होती है. एक शोध के जरिए यह खुलासा हुआ है. शोधपत्र की प्रमुख लेखिका अमेरिका स्थित कोलोराडो विश्वविद्यालय की मेलिसा विलारिएल ने कहा, "हमने यह भी पाया कि कई बाधाएं हैं जो एक आपदा की स्थिति में महिलाओं को नुकसान पहुंचाती हैं. खासकर तब, जब निर्णय लेने की स्थिति में उन्हें पीछे रखा जाता है."

  • ये सिर्फ तस्वीरें नहीं आपदा के दौरान मानव संघर्ष की कहानियां हैं

    ये सिर्फ तस्वीरें नहीं आपदा के दौरान मानव संघर्ष की कहानियां हैं

    'गूंज' पिछले दो दशकों में अपने आपदा-राहत और पुनर्वास कार्यों के लिए पूरे देश भर में जाना जाता है. इसी कड़ी में गूंज ने पिछले 2 दशकों से जमीनी हकीकत से मिली सीख व आपदा मिथकों और इसकी वास्तविकताओं पर आधारित एक प्रदर्शनी का आयोजन किया इसमें 45 तस्वीरें हैं जिन्हें गूंज के संस्थापक और रमन मैग्सेसे पुरस्कार से सम्मानित अंशु गुप्ता ने खुद खींची हैं. भारत भर में आपदाओं को करीब से देखने व अपनी व्यक्तिगत यात्रा के दौरान ये तस्वीरें लीं गईं हैं जो आपको कश्मीर से लेकर केरल, असम से लेकर गुजरात तक आपदाओं से रुबरु कराती हैं.

  • प्राइम टाइम इंट्रो: कुदरत के साथ खिलवाड़ कब तक?

    प्राइम टाइम इंट्रो: कुदरत के साथ खिलवाड़ कब तक?

    बाढ़, सूखा, अगलगी अब ये सब पुराने शब्द हो चुके हैं. इनकी जगह आपदा का इस्तेमाल होने लगा है. आपदा के साथ खूबी ये है कि प्रबंधन आराम से लग जाता है. वन न रहे, पर्यावरण न रहे, नदी न रहे, तालाब न रहे मगर आपदा प्रबंधन जब तक है चिंता की बात नहीं है. पर्यावरण मंत्रालय के तहत होता तो थोड़ा भरोसा कम भी होता मगर अच्छी बात यह है कि आपदा प्रबंधन गृह मंत्रालय के तहत है. वन विभाग उन जगहों पर भी है जहां वन नहीं हैं. जहां वन के नाम पर उद्यान लगाए जा रहे हैं जबकि उद्यान विभाग भी अलग से है.

  • सूखे की समस्या प्राकृतिक नहीं बल्कि मानवजनित आपदा है : विशेषज्ञ

    सूखे की समस्या प्राकृतिक नहीं बल्कि मानवजनित आपदा है : विशेषज्ञ

    देश में सूखे की समस्या से करीब 33 करोड़ की आबादी पीड़ित है और इसके समाधान के प्रति हमारा रवैया अपर्याप्त है। यह प्राकृतिक आपदा नहीं, बल्कि मानवजनित आपदा है। शुक्रवार को नई दिल्ली में सूखे पर हुए राष्ट्रीय सम्मेलन में विशेषज्ञों ने ये बातें कहीं।

  • राकेश कुमार मालवीय : आपदाओं से खुद कैसे लड़ता है समाज...?

    राकेश कुमार मालवीय : आपदाओं से खुद कैसे लड़ता है समाज...?

    हमारे यहां सरकारें बने हुए कितने साल हुए - 60 साल, 70 साल.. पैकेज शब्द कितने सालों से प्रचलन में आया - 20 साल, 30 साल और समाज, वह तो सदियों से जिंदा है...

  • बिहार में भी फिर महसूस किए गए भूकंप के झटके, मृतकों की संख्या 40 के पार

    बिहार में भी फिर महसूस किए गए भूकंप के झटके, मृतकों की संख्या 40 के पार

    बिहार के विभिन्न इलाकों में भूकंप के दौरान 32 लोगों की मौत हो गई और 133 लोग घायल हो गए।

  • पीएम मोदी ने कहा, भूकंप प्रभावितों तक पहुंचने की कोशिश जारी, बुलाई उच्चस्तरीय बैठक

    पीएम मोदी ने कहा, भूकंप प्रभावितों तक पहुंचने की कोशिश जारी, बुलाई उच्चस्तरीय बैठक

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को कहा कि वह भारत और नेपाल में भूकंप प्रभावित लोगों तक पहुंचने की दिशा में काम कर रहे हैं।

  • नेपाल में आए भयंकर भूकंप से भारी तबाही, 1500 से ज्यादा लोगों की मौत

    नेपाल में आए भयंकर भूकंप से भारी तबाही, 1500 से ज्यादा लोगों की मौत

    भूकंप का केंद्र नेपाल की राजधानी काठमांडू से 83 किलोमीटर उत्तर-पश्चिम में था। काठमांडू की घाटी में भूकंप के कारण भारी नुकसान की खबर है। यहां कई इमारतें गिरने के कारण आसमान में धूल का गुबार देखा गया है, कई सड़कें धंस गई हैं।