NDTV Khabar

New goa chief minister


'New goa chief minister' - 3 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • गोवा का CM बनने के बाद क्या बोले प्रमोद सावंत? देर रात दो बजे ली शपथ, 10 बड़ी बातें

    गोवा का CM बनने के बाद क्या बोले प्रमोद सावंत? देर रात दो बजे ली शपथ, 10 बड़ी बातें

    सीएम मनोहर पर्रिकर के निधन के बाद गोवा में जारी सियासी उठापटक पर विराम लग गया है. प्रमोद सावंत (Pramod Sawant) गोवा के नए मुख्यमंत्री (Chief Minister of Goa) बन गए हैं. प्रमोद सावंत ने (Pramod Sawant) रात 2 बजे राजभवन में आयोजित समारोह में पद और गोपनीयता की शपथ ली. प्रमोद सावंत (Pramod Sawant News) को गोवा की राज्यपाल मृदुला सिन्हा ने पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई. प्रमोद सावंत (Pramod Sawant News) के साथ-साथ दो डिप्टी सीएम ने भी शपथ ली. MGP के सुदिन धवलिकर और गोवा फॉरवर्ड पार्टी (GFP) के विजय सरदेसाई डिप्टी सीएम बनाए गए हैं. सोमवार देर रात आयोजित समारोह में प्रमोद सावंत और दो डिप्टी सीएम के अलावा 9 विधायकों ने भी मंत्री पद की शपथ ली. शपथ समारोह से पहले प्रमोद सावंत ने कहा कि पार्टी ने जो जिम्मेदारी मुझे दी है उसे निभाने की मेरी पूरी कोशिश रहेगी. मैं जो भी कुछ हूं मनोहर पर्रिकर की वजह से ही हूं. उन्होंने ही मुझे राजनीति में लाया और उन्हीं के बदौलत मैं गोवा विधानसभा का स्पीकर बना.

  • मनोहर पर्रिकर के निधन के बाद गोवा का नया CM कौन? गठबंधन के सहयोगी दल और बीजेपी में नहीं बन पाई सहमति

    मनोहर पर्रिकर के निधन के बाद  गोवा का नया CM कौन? गठबंधन के सहयोगी दल और बीजेपी में नहीं बन पाई सहमति

    गोवा में मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर के कैंसर से निधन के बाद से राज्य में नए मुख्यमंत्री की तलाश हो रही है. क्षेत्रीय दलों के साथ यहां गठबंधन सरकार चली रही बीजेपी अपनी पार्टी से ही किसी नेता को नए सीएम दावेदार के रूप में पेश करना चाहती है, मगर एक प्रमुख सहयोगी दल के विधायक ने खुद की दावेदारी ठोककर बीजेपी को मुश्किल में डाल दिया है.

  • अमेरिकी फर्म से रिश्वत के आरोप : सीबीआई जांच की मांग करेंगे गोवा के मुख्यमंत्री पारसेकर

    अमेरिकी फर्म से रिश्वत के आरोप : सीबीआई जांच की मांग करेंगे गोवा के मुख्यमंत्री पारसेकर

    गोवा के मुख्यमंत्री लक्ष्मीकांत पारसेकर ने रविवार को कहा कि वह इन आरोपों की सीबीआई जांच की मांग करेंगे कि न्यूजर्सी आधारित एक विनिर्माण प्रबंध कंपनी ने राज्य में जल विकास परियोजना के लिए भारतीय अधिकारियों को रिश्वत दी थी।