NDTV Khabar

Nitish


'Nitish' - more than 1000 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • VIDEO: जीप को धक्का मारकर ले जा रहे थे पुलिसकर्मी, तेजस्वी यादव ने वीडियो शेयर कर नीतीश पर यूं किया हमला

    VIDEO: जीप को धक्का मारकर ले जा रहे थे पुलिसकर्मी, तेजस्वी यादव ने वीडियो शेयर कर नीतीश पर यूं किया हमला

    उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल पर एक वीडियो शेयर कर नीतीश कुमार पर निशाना साधा. तेजस्वी यादव द्वारा शेयर किए इस वीडियो में देखा जा सकता है कि पुलिसकर्मी एक जीप को धक्का मारकर ले जा रहे हैं.

  • बाहुबली निर्दलीय विधायक अनंत सिंह ने दिल्ली की साकेत कोर्ट में किया सरेंडर

    बाहुबली निर्दलीय विधायक अनंत सिंह ने दिल्ली की साकेत कोर्ट में किया सरेंडर

    अनंत सिंह ने गुरुवार देर शाम अपना तीसरा वीडियो जारी करते हुए कहा था कि वह पुलिस के सामने नहीं बल्कि अदालत में आत्मसमर्पण करेंगे. सिंह के घर से एक एके-47 राइफल और ग्रेनेड बरामद हुआ था और वह गिरफ्तारी से बचने के लिए करीब एक सप्ताह से फरार हैं. वह इससे पहले दो ऐसे वीडियो जारी कर चुके हैं.

  • तेजस्वी यादव बोले, बिहार की कानून व्यवस्था मरणासन्न हालत में, पुलिस का काम अपने आकाओं की...

    तेजस्वी यादव बोले, बिहार की कानून व्यवस्था मरणासन्न हालत में, पुलिस का काम अपने आकाओं की...

    बिहार के पुलिस महानिदेशक के एक बयान के बहाने आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने राज्य की खराब कानून व्यवस्था को लेकर सरकार पर निशाना साधा है. तेजस्वी यादव ने एक फेसबुक पोस्ट के जरिये नीतीश कुमार सरकार पर तल्ख टिप्पणी की है. तेजस्वी ने लिखा, 'बिहार की लचर कानून व्यवस्था अब मरणासन्न अवस्था में पहुंच चुकी है.

  • जगन्नाथ मिश्र के निधन पर राजकीय शोक मनाने को लेकर नीतीश कुमार पर भड़के शिवानंद तिवारी, कहा- क्या यह भ्रष्टाचार का महिमा मंडन नही?

    जगन्नाथ मिश्र के निधन पर राजकीय शोक मनाने को लेकर नीतीश कुमार पर भड़के शिवानंद तिवारी, कहा- क्या यह भ्रष्टाचार का महिमा मंडन नही?

    इससे पहले शिवानंद तिवारी (Shivanand Tivary) ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) पर हमला किया था. उन्होंने (Shivanand Tivary) मंगलवार को कहा था कि नीतीश कुमार के लिए बिहार को विशेष राज्य का दर्जा दिलाना निष्ठा का सवाल नहीं है, यह उनके लिए राजनीतिक नारेबाजी का हिस्सा मात्र है.

  • कभी नीतीश कुमार को चांदी सिक्कों से तौला था अनंत सिंह ने, पढ़ें बिहार के इस बाहुबली के ऊपर था किसका हाथ

    कभी नीतीश कुमार को चांदी सिक्कों से तौला था अनंत सिंह ने, पढ़ें बिहार के इस बाहुबली के ऊपर था किसका हाथ

    बिहार में मोकामा से निर्दलीय बाहुबली विधायक अनंत सिंह का जेल जाना तय है यह बात वह भी जानते हैं. जब से उनके पैतृक घर से  AK-47 राइफल, हैंड ग्रेनेड और 26 राउंड गोलियां बरामद हुई है तब से ही अनंत सिंह बार बार यही कह रहे हैं कि उन्हें सांसद ललन सिंह के इशारे पर फंसाया गया है और अब कोर्ट से ही उन्हें न्याय मिलेगा. अनंत सिंह के घर पर राबड़ी देवी के कार्यकाल में भी छापेमारी हुई थी और घंटों तक दोनों तरफ़ से फ़ायरिंग हुई लेकिन उस समय की राजनीतिक परिस्थिति में अनंत सिंह पर नीतीश कुमार और ललन सिंह का आशीर्वाद था और वह विधायक जनता दल यूनाइटेड के टिकट पर चुने गये थे.

  • नीतीश कुमार का वादा- अगले साल तक बिहार के हर घर को नल का पानी मिलेगा

    नीतीश कुमार का वादा- अगले साल तक बिहार के हर घर को नल का पानी मिलेगा

    बिहार के मुख्यमंत्री अपने तीसरे कार्यकाल में अब हर वर्ष अपनी सरकार का रिपोर्ट कार्ड तो जारी नहीं करते लेकिन स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर राजधानी पटना के गांधी मैदान से अपने भाषण में सरकार के कामकाज, खासकर सात निश्चय पर अभी तक हुए कामों का लेखाजोखा जरूर दे देते हैं. बृहस्पतिवार को भी अपने भाषण में चुनाव के एक वर्ष पूर्व नीतीश कुमार ने हर घर में नल का जल अगले साल तक पहुंचाने का वादा किया. नीतीश का कहना है कि अधिकांश वादे पूरे किए जा चुके हैं.

  • बिहार पुलिस को नीतीश का आदेश मानने में क्यों है परेशानी?

    बिहार पुलिस को नीतीश का आदेश मानने में क्यों है परेशानी?

    बिहार में 15 अगस्त से पुलिस विभाग में बहुत सारे फेरबदल किए जा रहे हैं. इनमें प्रमुख है कि किसी दाग़ी पुलिस अधिकारी के ज़िम्मे अब थाने का प्रभार नहीं होगा. लेकिन पुलिस वालों का कहना है कि इससे पुलिस बल का मनोबल गिरेगा.

  • अनुच्छेद 370 पर सवाल को नीतीश कुमार ने टाला, राज्यसभा में जेडीयू के नेता ने कहा- ....अब बीजेपी का ही एजेंडा चलेगा

    अनुच्छेद 370 पर सवाल को नीतीश कुमार ने टाला, राज्यसभा में जेडीयू के नेता ने कहा- ....अब बीजेपी का ही एजेंडा चलेगा

    जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के मुद्दे पर आधिकारिक रूप से भले ही लोकसभा और राज्यसभा में जनता दल यूनाइटेड ने विरोध किया हो लेकिन यह अब पार्टी के लिए गले की हड्डी बनता जा रहा है.  हालांकि इस मुद्दे पर जनसमर्थन और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के स्टैंड के कारण नाराज़गी के बाद राज्यसभा में पार्टी के संसदीय दल के नेता रामचंद्र प्रसाद सिंह ने सफ़ाई दी थी कि चूंकि इस संबंध में बिल पारित हो गया है और नया क़ानून बन गया हैं इसलिए अब पार्टी पूरी तरह केंद्र सरकार के पीछे है.

  • कश्मीर पर आखिर सुशील मोदी ने नीतीश कुमार को सलाह दे डाली

    कश्मीर पर आखिर सुशील मोदी ने नीतीश कुमार को सलाह दे डाली

    पिछले दो दिनों से बिहार के मुख्यमंत्री और जनता दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार को आर्टिकल 370 के मुद्दे पर विरोधियों से ज़्यादा अपने सहयोगियों और समर्थकों से सलाह और नसीहत मिल रही हैं. हर मुद्दे पर राजद को कोसने वाले नीतीश कुमार मंत्रिमंडल के उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी ने भी इस मुद्दे पर नीतीश कुमार को कुछ सलाह दी है.

  • आर्टिकल 370 हटाने के मुद्दे पर अब नीतीश की पार्टी पड़ी नरम, रुख बदलने का यह है कारण

    आर्टिकल 370 हटाने के मुद्दे पर अब नीतीश की पार्टी पड़ी नरम, रुख बदलने का यह है कारण

    जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) में आर्टिकल 370 (Article 370) के अधिकांश प्रावधानों को हटाए जाने के मुद्दे पर विरोध दर्ज करा चुका जनता दल यूनाइटेड (JDU)अब इस मुद्दे पर जनभावना के आगे नतमस्तक होता नजर आ रहा है. बुधवार को जेडीयू ने संसद में इस मुद्दे पर अपने विरोध के पक्ष में सफाई दी कि यदि आर्टिकल 370 को हटाने का समर्थन किया जाता तो जॉर्ज फर्नांडिस (George Fernandes) की आत्मा को दुख पहुंचता. उन्होंने इस मुद्दे पर सन 1996 में ही अपना रुख तय कर दिया था. जेडीयू ने कहा है कि अब जब एक बार कानून बन गया तो वह देश का कानून हो गया और हम सब साथ हैं.

  • क्या नीतीश कुमार के लिए सिद्धांत सर्वोपरि हैं?

    क्या नीतीश कुमार के लिए सिद्धांत सर्वोपरि हैं?

    आर्टिकल 370 के मुद्दे पर केंद्र की भारतीय जनता पार्टी को अपने सहयोगी नीतीश कुमार की जनता दल यूनाइटेड से निराशा हाथ लगी. लोकसभा और राज्यसभा दोनों सदनों में जनता दल यूनाइटेड के नेताओं ने न केवल विरोध में भाषण दिया बल्कि सदन का बहिष्कार भी किया. जबकि इस मुद्दे की गंभीरता और जनता में इसको लेकर आम लोगों के बीच जो सरकार के प्रति भावना है उसके बाद बीएसपी, आम आदमी पार्टी जैसे विपक्षी दल सरकार के समर्थन में आगे आए. लेकिन सवाल है कि इस सबके बावजूद आख़िर इस मुद्दे पर अपनी पार्टी की पुराने लाइन और सिद्धांत पर नीतीश क्यों टिके रहे. इसके लिए आपको पांच वर्ष के एक घटनाक्रम पर भाजपा के एक वरिष्ठ नेता का कमेंट जानना होगा.

  • धारा 370 हटाने के पक्ष में नहीं जेडीयू, कहा- सरकार ने नीतीश कुमार से सलाह नहीं ली

    धारा 370 हटाने के पक्ष में नहीं जेडीयू, कहा- सरकार ने नीतीश कुमार से सलाह नहीं ली

    हंगामे और लंबी बहस के बाद आखिरकार सरकार ने धारा 370 और जम्मू-कश्मीर के पुनर्गठन का प्रस्ताव राज्यसभा में पारित करा लिया. लेकिन एनडीए के सहयोगी दल जेडीयू की शिकायत है कि उनसे सलाह नहीं ली गई. धारा 370 और जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन बिल पर जेडीयू ने खुद को सरकार के रुख से अलग कर लिया है. जेडीयू के प्रधान महासचिव केसी त्यागी ने एनडीटीवी से कहा कि इस मसले पर नीतीश से कोई राय-मशविरा मोदी सरकार ने नहीं किया. यह एनडीए का एजेंडा नहीं है.

  • पीएम नरेंद्र मोदी के एक फैसले के बाद बीजेपी उसके सहयोगियों की मजबूरी बन गई

    पीएम नरेंद्र मोदी के एक फैसले के बाद बीजेपी उसके सहयोगियों की मजबूरी बन गई

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने अपने एक निर्णय से राजनीति में एक नए अध्याय की शुरुआत कर दी है जिससे भाजपा (BJP) के सहयोगी भी अब उसके बिना नहीं चलने वाले. केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने राज्यसभा में जैसे ही आर्टिकल 370 (Article 370) को खत्म करने की घोषणा की तो पहली बार सदन के अंदर और बाहर इस मुद्दे पर समर्थन करने की बीजेपी के विरोधियों में भी होड़ दिखी. बीजेपी के एक सहयोगी जनता दल यूनाइटेड के अलावा हर सहयोगी के मुंह से वाह-वाह निकल रहा था. बीजेपी की घोर विरोधी बहुजन समाज पार्टी (BSP), अरविंद केजरीवाल की 'आप' (AAP), चंद्रबाबू नायडू की तेलगू देशम और उसके अलावा हर मुद्दे पर अपना अलग स्टैंड लेने वाली जगनमोहन रेड्डी की वाईएसआर कांग्रेस ने जहां इस मुद्दे पर अपना समर्थन देने में कोई देरी नहीं की.

  • नीतीश सरकार को पटना हाईकोर्ट की फटकार, कहा-लगता है सरकार को नागरिकों की सुरक्षा का ख्याल नहीं

    नीतीश सरकार को पटना हाईकोर्ट की फटकार, कहा-लगता है सरकार को नागरिकों की सुरक्षा का ख्याल नहीं

    मामले की सुनवाई शुक्रवार को मुख्य न्यायाधीश ए .पी .साही और न्यायाधीश अंजाना मिश्रा की खंडपीठ में हो रही थी. कोर्ट द्वारा यह पूछे जाने पर कि आखिर इन पदों को क्यों नहीं भरा जा रहा है. इस पर राज्य सरकार की तरफ से आश्वासन दिया गया कि अगले चार वर्षों में इन पदों पर नियुक्तियां कर दी जाएगी.

  • तेजस्वी ने दिल की बात की, लेकिन अब न तो नीतीश का नाम लिखा, न ही व्यंग्य किया

    तेजस्वी ने दिल की बात की, लेकिन अब न तो नीतीश का नाम लिखा, न ही व्यंग्य किया

    बिहार की राजनीति से विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव नदारद हैं. वे अपनी पार्टी और पूरे विपक्ष के लिए परेशानी का कारण बन चुके हैं क्योंकि बिहार की राजनीति में वे शायद पहले विपक्ष के नेता हैं जो विधानसभा सत्र में मात्र दो दिन दिखे. न तो उन्होंने बाढ़ प्रभावित इलाकों का दौरा किया न ही चमकी बुखार से प्रभावित लोगों से मिलने के लिए गए.

  • क्या बिहार में मुस्लिम नेताओं की मजबूरी बनते जा रहे हैं नीतीश कुमार?

    क्या बिहार में मुस्लिम नेताओं की मजबूरी बनते जा रहे हैं नीतीश कुमार?

    इन दिनों बिहार की राजनीति में इस बात पर सबसे ज़्यादा बहस होती है कि क्या बिहार में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार विपक्षी दलों के मुस्लिम नेताओं की पसंद के साथ मजबूरी बनते जा रहे हैं? दरअसल विपक्षी राजद और कांग्रेस के नेताओं के बीच सार्वजनिक रूप से नीतीश कुमार के कामकाज की तारीफ और फिर उनकी पार्टी में शामिल होने की होड़ लगी है. ऐसे में यह सवाल और भी ज्यादा पूछा जाने लगा है कि भले ही नीतीश कुमार बीजेपी के साथ सरकार चला हैं लेकिन वे क्या बिहार की राजनीति में सक्रिय मुस्लिम नेताओं की पहली पसंद हैं?

  • लोकसभा के बाद राज्यसभा में भी तीन तलाक बिल पास, सरकार ने 'ऐतिहासिक दिन' बताया

    लोकसभा के बाद राज्यसभा में भी तीन तलाक बिल पास, सरकार ने 'ऐतिहासिक दिन' बताया

    Triple Talaq Bill: विपक्ष के कड़े ऐतराज और बिल को सेलेक्ट कमेटी में भेजने की मांग के बीच तीन तलाक बिल (Triple Talaq Bill) राज्यसभा से पास हो गया. राज्यसभा में बिल के समर्थन में 99, जबकि विरोध में 84 वोट पड़े.

  • राज्यसभा में तीन तलाक बिल पर नीतीश कुमार ने इस तरह की मोदी सरकार की मदद

    राज्यसभा में तीन तलाक बिल पर नीतीश कुमार ने इस तरह की मोदी सरकार की मदद

    बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) अगले साल विधानसभा चुनाव बीजेपी (BJP) के साथ गठबंधन में ही लड़ेंगे. इसका संकेत मंगलवार को तीन तलाक (Teen Talaq Bill) के मुद्दे पर राज्यसभा (Rajya Sabha) में जनता दल यूनाइटेड (JDU) के रुख से मिला. जनता दल यूनाइटेड के राज्यसभा सांसदों के बिल के खिलाफ मतदान से यह बिल खतरे में पड़ सकता था. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के निर्देश पर ही पार्टी के सभी सांसदों ने बजाय मतदान में बाग लेने के सदन का बहिष्कार कर दिया. इससे केंद्र सरकार को न केवल राहत मिली बल्कि इस बिल के राज्यसभा में पारित होने का रास्ता भी आसान हो गया.