NDTV Khabar

Nitish kumar


'Nitish kumar' - more than 1000 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • नीतीश कुमार की अगुवाई में चुनाव लड़ने पर रामविलास पासवान का बड़ा बयान, कहा- अगर बीजेपी कहेगी तो इस बार ...

    नीतीश कुमार की अगुवाई में चुनाव लड़ने पर रामविलास पासवान का बड़ा बयान, कहा- अगर बीजेपी कहेगी तो इस बार ...

    बता दें कि इस साल हुए लोकसभा चुनाव में लोकजन शक्ति पार्टी  ने अपने सभी छह सीटें जीतीं हैं. ऐसे में विधानसभा चुनाव में पार्टी पहले की तुलना में ज्यादा सीटों पर चुनाव लड़ सकती है. बिहार में फिलहाल पार्टी के पास सिर्फ दो विधायक हैं. जबकि बीजेपी के पास 52 और जेडीयू के पास 67. 

  • TOP 5 NEWS: पीएम मोदी ने लॉन्च किया राष्ट्रीय पशु रोग नियंत्रण कार्यक्रम, चिन्मयानंद पर पीड़िता ने लगाया ब्लैकमेल कर रेप करने का आरोप

    TOP 5 NEWS: पीएम मोदी ने लॉन्च किया  राष्ट्रीय पशु रोग नियंत्रण कार्यक्रम, चिन्मयानंद पर पीड़िता ने लगाया ब्लैकमेल कर रेप करने का आरोप

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उत्तर प्रदेश के मथुरा जिले में राष्ट्रीय पशु रोग नियंत्रण कार्यक्रम को लॉन्च किया. उन्होंने कहा पर्यावरण और पशुधन हमेशा से ही भारत के आर्थिक चिंतन का महत्वपूर्ण हिस्सा रहा है.

  • नीतीश कुमार ही बिहार में NDA का चेहरा बने रहेंगे : रामविलास पासवान

    नीतीश कुमार ही बिहार में NDA का चेहरा बने रहेंगे : रामविलास पासवान

    केंद्रीय मंत्री और लोक जनशक्ति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष रामविलास पासवान ने कहा है कि नीतीश कुमार को लेकर कोई बात नहीं है. नीतीश कुमार बिहार में NDA का चेहरा हैं और आगे भी वही चेहरा रहेंगे. रामविलास पासवान ने पटना में संवाददाताओं से बातचीत में कहा कि नीतीश कुमार को लेकर कोई विवाद नहीं है. उन्होंने कहा कि 'बीजेपी के नेताओं से मेरी बातचीत होती रहती है और बीजेपी के कुछ नेता कह देंगे तो वह पार्टी लाइन नहीं हो जाएगी.'

  • सुशील मोदी के बाद अब रामविलास पासवान भी बोले- नीतीश हैं एनडीए का चेहरा और रहेंगे

    सुशील मोदी के बाद अब रामविलास पासवान भी बोले- नीतीश हैं एनडीए का चेहरा और रहेंगे

    पासवान ने कहा कि BJP के नेताओं से मेरी बातचीत होती रहती है. बिहार में NDA की सरकार है और सरकार रहेगी. 2020 के चुनाव में उनके अनुसार 200 से ज्यादा सीटें NDA जीतेगी. जहां तक चेहरा का सवाल है तो रामविलास पासवान ने साफ किया कि नीतीश कुमार चेहरा है और वही चेहरा रहेंगे. किसी के कहने से चेहरा बदल नहीं जाता है. भाजपा नेताओं के बयान पर उन्होंने कहा कि इसका कोई अर्थ नहीं है जब तक की कोई आधिकारिक बयान पार्टी की तरफ से ना आए.

  • BJP नेता के सवाल उठाने पर बोले सुशील मोदी- बिहार में नीतीश कुमार हैं NDA के कैप्टन, बदलाव का सवाल ही नहीं

    BJP नेता के सवाल उठाने पर बोले सुशील मोदी- बिहार में नीतीश कुमार हैं NDA के कैप्टन, बदलाव का सवाल ही नहीं

    भाजपा के विधान परिषद सदस्य (एमएलसी) संजय पासवान ने इस बात पर जोर देने की कोशिश की कि जद(यू) के राष्ट्रीय अध्यक्ष (नीतीश कुमार) के प्रति उनके मन में असम्मान की भावना नहीं है. लेकिन इस बात का जिक्र किया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम पर ही राजग के सभी घटक दलों को वोट मिले थे. पासवान ने सोमवार को कहा था कि लगातार तीन कार्यकाल तक हम (भगवा दल) नीतीश कुमार के लिए खड़े रहे. समय आ गया है कि वह बदले में भाजपा को एक मौका दें. लोकसभा चुनाव से साबित हो गया है कि उन्हें भी वोट पाने के लिए नरेंद्र मोदी की जरूरत है.

  • बिहार में भाजपा नेताओं को अचानक नीतीश कुमार के नेतृत्व से क्यों होने लगी है बोरियत?

    बिहार में भाजपा नेताओं को अचानक नीतीश कुमार के नेतृत्व से क्यों होने लगी है बोरियत?

    मुख्यमंत्री और जनता दल यूनाइटेड के अध्यक्ष नीतीश कुमार ने शनिवार को रांची में झारखंड के आगामी विधानसभा चुनाव के मद्देनज़र अपने पार्टी के कार्यकर्ताओं को संबोधित किया. जहां उन्होंने शराबबंदी पर रघुबर दास सरकार को घेरा और बताया कि कैसे बिहार हर मामले में झारखंड से आगे निकल चुका हैं.

  • राजद नेता शिवानंद तिवारी का सीएम नीतीश कुमार पर हमला, कहा- अब BJP आपको ढोने को तैयार नहीं...

    राजद नेता शिवानंद तिवारी का सीएम नीतीश कुमार पर हमला, कहा- अब BJP आपको ढोने को तैयार नहीं...

    शिवानंद तिवारी ने आगे लिखा कि इस बीच क्या परिवर्तन हो गया कि भाजपा के मंत्री से विधायक तक नीतीश कुमार पर हमलावर दिखाई दे रहे हैं ! भाजपा के लोग दावा कर रहे हैं कि विगत लोक सभा चुनाव में बिहार में भी जीत के पीछे नीतीश जी की छवि नहीं बल्कि मोदी जी का चेहरा था. इस दावे को ग़लत भी नहीं कहा जा सकता. विगत लोक सभा चुनाव संभवत: पहला ऐसा चुनाव था जिसमें नीतीश जी की ओर से चुनाव घोषणा पत्र नहीं छापा गया.

  • बिहार NDA में CM पद को लेकर तकरार? BJP एमएलसी ने नीतीश को दी नसीहत- डिप्टी CM के हवाले कर देनी चाहिए सत्ता

    बिहार NDA में CM पद को लेकर तकरार? BJP एमएलसी ने नीतीश को दी नसीहत- डिप्टी CM के हवाले कर देनी चाहिए सत्ता

    साथ ही संजय पासवान ने कहा, 'नीतीश कुमार के काम पर पूरा भरोसा है. लेकिन बिहार में उन्हें 15 साल हो गए, इस बार हमारे डिप्टी सीएम को पूरा मौका मिलना चाहिए. हम प्रमुख मुद्दों पर काम करेंगे और बिहार की जनता हमें जिताएगी.'

  • झारखंड में शराबबंदी को लेकर नीतीश कुमार ने साधा निशाना, बोले- ये कितनी गंदी बात है...

    झारखंड में शराबबंदी को लेकर नीतीश कुमार ने साधा निशाना, बोले- ये कितनी गंदी बात है...

    रांची में अपनी पार्टी द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में नीतीश कुमार ने कहा, 'यह क्या तरीक़ा है भाई...ये कितनी गंदी बात है.' हालांकि नीतीश ने रघुबर दास का नाम नहीं लिया, लेकिन उनका इशारा साफ़ था.

  • अगले साल बिहार विधानसभा चुनाव में नीतीश कुमार की जीत आखिर क्यों तय?

    अगले साल बिहार विधानसभा चुनाव में नीतीश कुमार की जीत आखिर क्यों तय?

    बिहार विधानसभा का चुनाव अगले साल होना है और जब उसके पहले कई अन्य राज्यों में चुनाव होना है तो उस परिप्रेक्ष्य में बिहार के विधानसभा चुनाव को लेकर भविष्यवाणी जल्दीबाजी होगी लेकिन जो संकेत मिल रहे हैं उससे तो केवल एक बात साफ लग रही है, और वह है नीतीश कुमार का एक बार फिर मुख्यमंत्री चुना जाना. खासकर इस कथन को बल बिहार की राजधानी पटना में पिछले दिनों तीन अलग-अलग घटनाओं से मिला. इनका एक-दूसरे से कोई सम्बंध नहीं था लेकिन सबका राजनीतिक अर्थ एक था.

  • बिहार स्कूल बोर्ड की क्या हालत थी किसी से छिपी नहीं, कैसे-कैसे लोग टॉप करते थे देखकर शर्म आती थी : नीतीश कुमार

    बिहार स्कूल बोर्ड की क्या हालत थी किसी से छिपी नहीं, कैसे-कैसे लोग टॉप करते थे देखकर शर्म आती थी : नीतीश कुमार

    बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने माना कि अपने राज्य के फ़र्ज़ी टॉपर को मीडिया ख़ासकर TV पर देखकर उन्हें भी शर्म आती थी. नीतीश कुमार ने शिक्षक दिवस पर एक समारोह में कहा कि आज से दो साल पहले बिहार स्कूल बोर्ड की क्या हालत थी वो किसी से छिपी नहीं है. कैसे-कैसे लोग टॉप करते थे जिन्हें देखकर शर्म आती थी. नीतीश ने कहा कि अब बोर्ड को चुस्त-दुरुस्त किया गया है और अब कोई गड़बड़ी नहीं होती है. नीतीश ने बिहार में शिक्षा व्यवस्था के संदर्भ में माना कि गुणवत्ता पर ध्यान देना है. लेकिन उन्होंने कहा कि ये पूरे विश्व की समस्या है. राज्य में जितना हो सकता हैं 'उन्नयन योजना' के तहत सुधार किया जा रहा है.

  • तेजस्वी ने जेडीयू के नए नारे पर कहा- आत्मविश्वास इतना घट गया कि ‘ठीके तो है‘ पर आ गए

    तेजस्वी ने जेडीयू के नए नारे पर कहा- आत्मविश्वास इतना घट गया कि ‘ठीके तो है‘ पर आ गए

    जनता दल यूनाइटेड के लिए अपने नेता नीतीश कुमार के लिए एक नए नारे के साथ पोस्टर लगाना कुछ महंगा सौदा साबित हो रहा है. हर दिन उनके सत्ता में सहयोगी से लेकर विपक्ष, कोई न कोई तंज कर देता है. बुधवार को विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने कहा कि पूरी जनता दल यूनाइटेड और नीतीश कुमार का आत्मविश्वास इतना कम हो गया है कि अब ‘ठीके है‘ में चले गए हैं.

  • JDU के नए नारे 'क्यूं करें विचार, ठीके तो है नीतीश कुमार' पर RJD का पलटवार- 'क्यों ना करें विचार, बिहार जो है...'

    JDU के नए नारे 'क्यूं करें विचार, ठीके तो है नीतीश कुमार' पर RJD का पलटवार- 'क्यों ना करें विचार, बिहार जो है...'

    जदयू ने अगले बिहार विधानसभा के मद्देनजर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की तस्वीर वाला पोस्टर पटना के वीरचंद पटेल मार्ग स्थित अपने प्रदेश मुख्यालय पर एक पोस्टर लगाया जिस पर लिखा है, 'क्यूं करें विचार, ठीके तो है नीतीश कुमार.'

  • बिहार : सुशील मोदी को पसंद नहीं आया जेडीयू का यह कदम, कहा- विकास पर ध्यान दीजिए

    बिहार : सुशील मोदी को पसंद नहीं आया जेडीयू का यह कदम, कहा- विकास पर ध्यान दीजिए

    बिहार में जनता दल यूनाइटेड (JDU) को उनकी सहयोगी बीजेपी के वरिष्ठ नेता और उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी ने कुछ सलाह दी है. सुशील मोदी जनता दल यूनाइटेड द्वारा अगले साल होने वाले विधानसभा के मद्देनजर अभी से चुनावी होर्डिंग लगाए जाने से खुश नहीं हैं.

  • सुशील मोदी के सावन-भादों और खरमास में कम बिक्री के तर्क को अब नीतीश का भी समर्थन

    सुशील मोदी के सावन-भादों और खरमास में कम बिक्री के तर्क को अब नीतीश का भी समर्थन

    बिहार के वित्त मंत्री सुशील मोदी का रोना है कि कुछ चैनल वाले उनके इस बयान का मजाक उड़ा रहे हैं कि सावन-भादों में लोग कम ख़रीद-बिक्री करते हैं. लेकिन सुशील मोदी, जिन्होंने अपने इस मौसम से मंदी के लिंक का सिद्धांत बताया, को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का भी समर्थन सोमवार को मिला. नीतीश ने मोदी के सामने खाद्यान्न व्यापारियों के कार्यक्रम में कहा कि वे उनके तर्कों और तथ्यों से सहमत हैं.

  • नीतीश ने बिहार के व्यवसायियों को सुरक्षा की चिंता छोड़ने की सलाह दी

    नीतीश ने बिहार के व्यवसायियों को सुरक्षा की चिंता छोड़ने की सलाह दी

    बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार अपने हर कार्यक्रम में भाषण के दौरान कुछ दार्शनिक अंदाज़ में होते हैं. नीतीश कुमार सोमवार को बिहार के खाद्यान्न व्यवसायियों के एक कार्यक्रम में शामिल हुए. उन्होंने साफ-साफ कहा कि सुरक्षा की चिंता मत कीजिए. अगर आपको कोई समस्या आई तो हम तुरंत आपको सुरक्षा प्रदान करेंगे.

  • ब्लॉग : क्या नीतीश कुमार अब अपनी ही पार्टी जेडीयू के लिए 'कामचलाऊ' नेता बन गए हैं

    ब्लॉग :  क्या नीतीश कुमार अब अपनी ही पार्टी जेडीयू के लिए 'कामचलाऊ' नेता बन गए हैं

    क्या बिहार में सत्तारूढ़ जनता दल यूनाइटेड अपने सुप्रीमो नीतीश कुमार को अब 'कामचलाऊ' और 'अस्थायी'  मानती है. ये सवाल सोमवार को पार्टी दफ़्तर के बाहर लगाए गये नए होर्डिंग के बाद लोग पूछ रहे हैं.  रविवार शाम , पटना में पार्टी दफ़्तर के बाहर नए होर्डिंग लगाए गए जिसमें नारा  था , ‘क्यूं करे विचार ठीके तो है नीतीश कुमार’.  निश्चित रूप से जिसने भी स्लोगन लिखा होगा उसमें पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ख़ासकर नीतीश कुमार के क़रीबी आरसीपी सिंह के सहमति से  ही ये होर्डिंग लगायी होगी. लेकिन पार्टी के ही नेताओं को लगता है ये नारा लोगों को पच नहीं रहा. ठीके का मतलब बिहार की राजनीति और गांव घर में यही होता हैं कि वो बहुत अच्छे तो नहीं लेकिन ठीक ठाक कामचलाऊ हैं.

  • बिहार चुनाव को लेकर जेडीयू का नया नारा, 'क्यूं करें विचार, ठीके तो है नीतीश कुमार'

    बिहार चुनाव को लेकर जेडीयू का नया नारा, 'क्यूं करें विचार, ठीके तो है नीतीश कुमार'

    साल 2015 में बिहार में जिस नारे के दम पर नीतीश कुमार ने विधानसभा चुनाव जीता था इस बार उसमें थोड़ा सा बदलाव किया गया है. पिछली बार नारा था, 'बिहार में बहार है, नीतीशे कुमार है' इस नारे को गढ़ने में चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर का दिमाग़ था. लेकिन जो नया बदलाव किया गया है इसमें प्रशांत किशोर का कोई हाथ नहीं है. लेकिन साल 2020 में होने वाले चुनाव को लेकर जो नारा गढ़ा गया है वह है, 'क्यूं करें विचार, ठीके तो है नीतीश कुमार'. अब देखने वाली बात यह होगी कि बदली परिस्थितियों में नारे कितना काम करते हैं. लगातार तीन बार मुख्यमंत्री बन चुके नीतीश कुमार ने पिछला चुनाव आरजेडी+जेडीयू+कांग्रेस को मिलाकर महागठबंधन के बैनर तले लड़ा था. जिसमें इन तीन पार्टियों का वोटबैंक बीजेपी पर भारी पड़ गया था. नीतीश कुमार इससे पहले एनडीए में थे लेकिन नरेंद्र मोदी  को पीएम पद का चेहरा बनाए जाने पर वह नाराज हो गए और बीजेपी से नाता तोड़ लिया.