NDTV Khabar

No Confidence Motion


'No confidence motion' - 74 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • मेघालय में एमडीए सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव सदन में गिरा

    मेघालय में एमडीए सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव सदन में गिरा

    मुख्यमंत्री कोनराड के संगमा के नेतृत्व वाली मेघालय डेमोक्रेटिक एलायंस (MDA) की सरकार के खिलाफ विपक्षी दल कांग्रेस द्वारा सदन में बुधवार को पेश अविश्वास प्रस्ताव ध्वनिमत से गिर गया. विधानसभा अध्यक्ष मेटबा लिंगदोह ने करीब साढ़े सात घंटे की बहस के बाद अविश्वास प्रस्ताव को मतदान के लिए सदन के पटल पर रखा. प्रस्ताव पर सदन में पक्ष और विपक्ष के विधायकों ने चर्चा में हिस्सा लिया. विपक्ष ने कोयला खनन, कोविड-19 हालात, सामान्य स्वास्थ्य समस्याओं सहित तमाम मुद्दों को उठाया. सदन में विपक्ष के नेता मुकुल संगमा ने विशेष रूप से कोयला खनन और परिवहन का मुद्दा उठाया.

  • कर्नाटक : कांग्रेस के अविश्वास प्रस्ताव पर बोले CM बीएस येदियुरप्पा- "मुझे कोई आपत्ति नहीं"

    कर्नाटक : कांग्रेस के अविश्वास प्रस्ताव पर बोले CM बीएस येदियुरप्पा-

    कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने संवाददाताओं से कहा, "मुझे कोई आपत्ति नहीं है. उन्हें अविश्वास प्रस्ताव लाने दीजिए. हर छह महीने में उन्हें अविश्वास प्रस्ताव लाना चाहिए ताकि मैं अगले छह महीने के लिए सुरक्षित रहूंगा." 

  • केरल सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाएगी कांग्रेस, जानिए वजह

    केरल सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाएगी कांग्रेस, जानिए वजह

    केरल (Kerala) के विपक्ष के नेता रमेश चेन्निथला (Ramesh Chennithala) ने कहा है कि कांग्रेस पार्टी सोमवार को विधानसभा में राज्य सरकार (Kerala Government) के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाएगी, जिसमें आरोप लगाया जाएगा कि सरकार COVID-19 के बहाने और पिछले 4 वर्षों के दौरान बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार में शामिल है.

  • राजस्थान के सियासी संकट के बीच 6 प्वाइंट्स में जानिए- क्या है विश्वास और अविश्वास प्रस्ताव?

    राजस्थान के सियासी संकट के बीच 6 प्वाइंट्स में जानिए- क्या है विश्वास और अविश्वास प्रस्ताव?

    राजस्थान कांग्रेस में चली महीने भर की खींचतान के बाद अब मुख्यमंत्री अशोक गहलोत शुक्रवार से शुरू हो रही विधानसभा के विशेष सत्र में भारतीय जनता पार्टी की चुनौती का सामना कर रहे हैं. बीजेपी ने गुरुवार को घोषणा की थी कि पार्टी गहलोत सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लेकर आएंगी. यानी अब गहलोत को सदन में अपना बहुमत साबित करना होगा. गहलोत शुरू से ही दावा करते रहे हैं कि उनके पास बहुमत का आंकड़ा है. यहां तक कि सचिन पायलट सहित 19 विधायकों के बगावत कर देने के बावजूद भी वो गवर्नर से इस दावे के साथ मिले थे कि उनके पास बहुमत है. लेकिन ये तो तय था कि विधानसभा सत्र शुरू होने के बाद उन्हें अविश्वास प्रस्ताव का सामना करना पड़ सकता है.

  • राजस्थान : कांग्रेस ने पेश किया विश्वास प्रस्ताव, हमने यहां गोवा-MP नहीं बनने दिया : शांति धारीवाल

    राजस्थान : कांग्रेस ने पेश किया विश्वास प्रस्ताव, हमने यहां गोवा-MP नहीं बनने दिया : शांति धारीवाल

    राजस्थान (Rajasthan) में कांग्रेस (Congress) के बीच मची आंतरिक कलह का पटाक्षेप हो चुका है. बीते सोमवार राज्य के पूर्व उपमुख्यमंत्री और कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष सचिन पायलट (Sachin Pilot) ने राहुल गांधी (Rahul Gandhi) और प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) से मुलाकात की थी. जिसके बाद वह एक बार फिर कांग्रेस के हाथ से हाथ मिलाते हुए नजर आए. राजस्थान में आज (शुक्रवार) से विधानसभा का विशेष सत्र शुरू हो चुका है, यानी एक ओर गहलोत सरकार के एजेंडों में कई बिलों को पास कराना होगा, तो वहीं अविश्वास-विश्वास प्रस्ताव को लेकर सियासी संग्राम भी शुरू हो गया है. दरअसल भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने अशोक गहलोत सरकार (Ashok Gehlot Govt) के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने का ऐलान किया था. जिसके बाद मुख्यमंत्री गहलोत ने कहा था कि वह सदन में विश्वास प्रस्ताव लेकर आएंगे. दोपहर में सत्र की कार्यवाही शुरू होते ही कांग्रेस के प्रमुख व्हिप महेश जोशी ने विश्वास प्रस्ताव को लेकर स्पीकर को नोटिस दिया. जिसके बाद गहलोत सरकार में कानून और संसदीय कार्य मंत्री शांति कुमार धारीवाल ने सदन में विश्वास प्रस्ताव रखा. उन्होंने कहा कि हमने यहां (राजस्थान) गोवा, एमपी नहीं बनने दिया.

  • कर्नाटक: विधानसभा अध्यक्ष केआर रमेश के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने पर विचार कर रही है बीजेपी

    कर्नाटक:  विधानसभा अध्यक्ष केआर रमेश के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने पर विचार कर रही है बीजेपी

    सत्ता में आने के एक दिन बाद बीजेपी इस बात पर विचार कर रही है कि अगर विधानसभा अध्यक्ष के. आर. रमेश कुमार ने खुद पद नहीं छोड़ा तो वह उनके खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाएगी.

  • EDMC कमिश्नर को हटाने के लिए आज लाया जाएगा अविश्वास प्रस्ताव, AAP ने BJP पर लगाया यह आरोप

    EDMC कमिश्नर को हटाने के लिए आज लाया जाएगा अविश्वास प्रस्ताव, AAP ने BJP पर लगाया यह आरोप

    पूर्वी दिल्ली नगर निगम यानी EDMC के कमिश्नर डॉ. रणबीर सिंह को हटाने के लिए सोमवार को पूर्वी दिल्ली नगर निगम की विशेष बैठक बुलाई गई है. बैठक में नगर निगम कमिश्नर को हटाने के लिए अविश्वास प्रस्ताव लाया जाएगा. अविश्वास प्रस्ताव पास होने के बाद उपराज्यपाल अनिल बैजल के पास जाएगा और अनिल बैजल उसको गृह मंत्रालय के पास भेजेंगे.

  • जानें, संसद में राहुल गांधी के गले मिलने के अंदाज पर पहली बार पीएम मोदी ने क्या कहा

    जानें, संसद में राहुल गांधी के गले मिलने के अंदाज पर पहली बार पीएम मोदी ने क्या कहा

    संसद के मॉनसून सत्र के दौरान जब कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी अविश्वास प्रस्ताव के पक्ष में अपनी बात रखते हुए अचानक पीएम मोदी से गले जाकर मिले थे, तो उसके बाद भारतीय जनता पार्टी के नेताओं ने कड़ी प्रतिक्रिया दर्ज कराई थी. हालांकि, उस घटना पर पीएम मोदी ने कुछ नहीं कहा था. मगर अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राहुल के गले मिलने वाली घटना पर चुप्पी तोड़ी है. समाचार एजेंसी एएनआई को दिये इंटरव्यू के दौरान एक प्रश्न के जवाब में पीएम मोदी ने राहुल के गले मिलने वाली घटना का जिक्र किया है और इसे बच्चों वाली हरकत बताया है. 

  • संसद में पीएम मोदी से गले मिले राहुल गांधी, अब कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने शुरू किया ये 'खास अभियान'

    संसद में पीएम मोदी से गले मिले राहुल गांधी, अब कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने शुरू किया ये 'खास अभियान'

    संसद के मॉनसून सत्र (Monsoon session of parliament)  में अविश्वास प्रस्ताव के दौरान राहुल गांधी का पीएम मोदी से गले मिलने की घटना को कांग्रेस पूरी तरह से अपने फायदे के लिए भुनाने की जुगत में जुट गई है. कांग्रेस कार्यकर्ता अब गले मिलने की घटना को अपना एक कैंपेन बना चुके हैं और घृणा की राजनीति के खिलाफ इसका इस्तेमाल करने लगे हैं. दरअसल, मंगलवारर को दिल्ली के कनॉट प्लेस इलाके में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने 'फ्री हग' कैंपेन चलाया और लोगों में घृणा को खत्म करने की अपील की. 

  • पीएम मोदी से गले मिलने का महीनों से इंतजार कर रहे थे राहुल गांधी!

    पीएम मोदी से गले मिलने का महीनों से इंतजार कर रहे थे राहुल गांधी!

    कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का पीएम मोदी से गले मिलना अभी भी लोगों के जहन से मिटा नहीं है. संसद के मॉनसून सत्र के तीसरे दिन अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा के दौरान जब राहुल गांधी भाषण देते वक्त अचानक पीएम मोदी से जाकर गले मिले, तो लोगों को अपनी आंखों पर विश्वास नहीं हो रहा था कि आखिर संसद में यह अचानक हुआ कैसे? मगर सूत्रों की मानें तो राहुल गांधी के जिस गले मिलने वाले प्रकरण की चर्चा चहुंओर हो रही है, उसके इंतजार में राहुल गांधी करीब कई महीनों से थे. दरअसल, शुक्रवार को अविश्वास प्रस्ताव के दौरान राहुल गांधी के गले मिलने वाली घटना ने मीडिया में काफी लाइमलाइट पाया था. मगर सूत्रों की मानें तो राहुल गांधी का यह फैसला त्वरित और स्वत: स्फूर्त नहीं था, बल्कि इसकी ताक में वह काफी पहले से थे. राहुल गांधी करीब तीन महीने से इस पल का इंतजार कर रहे थे कि पीएम मोदी को कैसे सार्वजनिक तौर पर गले लगाया जाए और एक खास तरह का संदेश दिया जाए. 

  • PM मोदी से राहुल के गले मिलने वाली तस्वीर का मुंबई कांग्रेस ने किया कुछ इस तरह इस्तेमाल... दीवारों पर सटे पोस्टर

    PM मोदी से राहुल के गले मिलने वाली तस्वीर का मुंबई कांग्रेस ने किया कुछ इस तरह इस्तेमाल... दीवारों पर सटे पोस्टर

    संसद के मॉनसून सत्र (Monsoon session of parliament) में अविस्वास प्रस्ताव के ऊपर चर्चा के दौरान राहुल गांधी का पीएम मोदी से अचानक गले मिलने की बात सबकी जुबां पर है. विपक्ष जहां इसकी तारीफ कर रहा है, वहीं मोदी सरकार और बीजेपी इसकी आलोचना कर रही है. मगर मुंबई कांग्रेस ने राहुल गांधी का पीएम मोदी से गले लगने की तस्वीर का एक अलग तरह से इस्तेमाल किया है. कांग्रेस ने अब दीवारों पर इसके पोस्टर लगाने शुरू कर दिये हैं, जो अब सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. बता दें कि शुक्रवार को संसद में अविश्वास प्रस्ताव के पक्ष में चर्चा के दौरान राहुल गांधी ने पीएम मोदी को गले लगाया था. 

  • पीएम मोदी ने बताया- राहुल गांधी ने संसद में उन्हें क्यों लगाया था गले, जानें वजह

    पीएम मोदी ने बताया- राहुल गांधी ने संसद में उन्हें क्यों लगाया था गले, जानें वजह

    पीएम मोदी ने विपक्ष पर अविश्वास प्रस्ताव के मुद्दे पर निशाना साधा और राहुल गांधी द्वारा गले लगाने पर भी टिप्पणी की. पीएम मोदी ने कहा कि, ''संसद में मैंने उनसे पूछा कि इस अविश्वास प्रस्ताव को लाने का कारण बताइये...लेकिन जब वे कोई कारण नहीं बता सके तो वो गले पड़ गए. हालांकि कोई संतोषजनक उत्तर नहीं दिया''.

  • BJP की पूर्व सहयोगी पार्टी का ऐलान: भाजपा संपर्क भी करेगी तो हम 2019 के लिए NDA में शामिल नहीं होंगे

    BJP की पूर्व सहयोगी पार्टी का ऐलान: भाजपा संपर्क भी करेगी तो हम 2019 के लिए NDA में शामिल नहीं होंगे

    आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री और टीडीपी के अध्यक्ष एन चंद्रबाबू नायडू ने शनिवार को कहा कि भाजपा अगर 2019 के आम चुनाव के लिए संपर्क करे तब भी उनकी पार्टी राजग में शामिल नहीं होगी. उन्होंने साथ ही कहा कि राजग सरकार के खिलाफ लाया गया अविश्वास प्रस्ताव ‘नैतिकता बनाम बहुमत’ की लड़ाई थी. नायडू ने कहा कि तेदेपा राज्य के लोगों के लिए न्याय सुनिश्चित करने की खातिर 2014 में राजग में शामिल हुई थी और ‘हम सत्ता के भूखे नहीं है. हमें कभी भी कैबिनेट सीटों की आकांक्षा नहीं रही.’ उन्होंने कहा , ‘हमने आंध्र प्रदेश को न्याय दिलाने के लिए उनके (भाजपा सरकार) साथ चार साल इंतजार किया लेकिन उन्होंने राज्य के लोगों के साथ धोखा किया। हम कैसे यकीन कल लें कि वे दोबारा ऐसा नहीं करेंगे.’

  • राहुल गांधी ने बेहतरीन मौका गंवा दिया, भारतीय राजनीतिज्ञ की छवि को गंभीर नुकसान पहुंचाया : जेटली

    राहुल गांधी ने बेहतरीन मौका गंवा दिया, भारतीय राजनीतिज्ञ की छवि को गंभीर नुकसान पहुंचाया : जेटली

    राहुल गांधी पर फ्रांसीसी राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों के साथ बातचीत की कहानी गढ़ने का आरोप लगाते हुए केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली ने शनिवार को कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष ने विश्व के समक्ष किसी भारतीय राजनीतिज्ञ की छवि को गंभीर नुकसान पहुंचाया है.

  • अविश्वास प्रस्ताव: संजू से बेहतर मनोरंजन प्रदान किया यूपीए ने!

    अविश्वास प्रस्ताव: संजू से बेहतर मनोरंजन प्रदान किया यूपीए ने!

    कांग्रेस अध्यक्ष बनने के बाद पहली बार मिले इस बड़े मंच पर राहुल गांधी के बाद इन सब तमाम बातों के लिहाज से और स्कोर करने का अच्छा मौका था, लेकिन उन्होंने इसे इसे पूरी तरह से गंवा दिया. वास्तव में, यह अविश्वास प्रस्ताव विपक्ष के प्रहार, प्रधानमंत्री के जवाब से कहीं ज्यादा राहुल गांधी की ‘हगिंग और विंकिंग’ के लिए ज्यादा याद किया जाएगा

  • पीएम मोदी के भाषण पर विपक्ष की प्रतिक्रिया : कांग्रेस ने बताया 'ड्रामेबाजी', चंद्रबाबू नायडू ने कहा- पीएम खुद अहंकारी

    पीएम मोदी के भाषण पर विपक्ष की प्रतिक्रिया : कांग्रेस ने बताया 'ड्रामेबाजी', चंद्रबाबू नायडू ने कहा- पीएम खुद अहंकारी

    अविश्वास प्रस्ताव पर बहस के दौरान PM मोदी के भाषण को कांग्रेस ने 'ड्रामेबाजी' करार दिया है. पार्टी ने कहा कि पीएम मोदी से राफेल डील, नीरव मोदी, समेत अन्य मुद्दों पर सवाल पूछे गए, लेकिन उन्होंने किसी भी सवाल का जवाब नहीं दिया. कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि उनकी स्पीच 'ड्रामेबाजी' थी.

  • इतिहास के पन्नों को उलट PM मोदी ने बताया, आखिर क्यों वह कांग्रेस से नहीं मिलाना चाहते हैं आंखें

    इतिहास के पन्नों को उलट PM मोदी ने बताया, आखिर क्यों वह कांग्रेस से नहीं मिलाना चाहते हैं आंखें

    ससंद के मॉनसून सत्र का तीसरा दिन कई मायनों में खास और यादगार रहा. विपक्ष और सरकार के बीच आरोप-प्रत्यारोप के बाण तो चले ही, मगर कई ऐसे नजारे देखने को मिले, जिस पर सहसा विश्वास नहीं किया जा सकता. अविस्वास प्रस्ताव के पक्ष में एक ओर जहां कांग्रेस ने पीएम मोदी और उनकी सरकार पर कई आरोप लगाए और सवालों की बौछारें कीं, वहीं पीएम मोदी और मोदी सरकार की ओर से कांग्रेस के सवालों और आरोपों पर जवाब दिये गये और कई समस्याओं को लेकर कांग्रेस को ही जिम्मेदार ठहराया गया. लोकसभा में कांग्रेस की ओर से राहुल गांधी ने ताबड़तोड़ हमले किये और रोजगार से लेकर एमसएपी और राफेल पर मोदी सरकार को घेरा. मगर बाद में जब पीएम मोदी की बारी आई, तो उन्होंने भी राहुल गांधी के सवालों का जमकर जवाब दिया. इतना ही नहीं, राहुल गांधी के आंख मिलाने वाली बात पर पीएम मोदी ने कांग्रेस पर हमला बोला और इतिहास बोध कराते हुए कांग्रेस को ही कठघरे में ला खड़ा किया. 

  • अविश्वास प्रस्ताव की बाजी भले ही जीत गई हो मोदी सरकार, लेकिन 2019 में हो सकती है बड़ी मुश्किल

    अविश्वास प्रस्ताव की बाजी भले ही जीत गई हो मोदी सरकार, लेकिन 2019 में हो सकती है बड़ी मुश्किल

    संसद में पीएम मोदी की अगुवाई में भले ही एनडीए ने अविश्वास प्रस्ताव की बाजी जीत ली हो लेकिन उसके सामने कई चुनौतियां सामने खड़ी होने जा रही हैं. लोकसभा चुनाव से पहले आये इस अविश्वास प्रस्ताव में विपक्ष ने सरकार की दुखती रगों पर हाथ रखा है.

Advertisement

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com