NDTV Khabar

Nobel winner kailash satyarthi News in Hindi


'Nobel winner kailash satyarthi' - 7 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • चोरों के लिए महज कागज का टुकड़ा था नोबेल पुरस्कार का प्रशस्ति-पत्र, जंगल में पड़ा मिला

    चोरों के लिए महज कागज का टुकड़ा था नोबेल पुरस्कार का प्रशस्ति-पत्र, जंगल में पड़ा मिला

    नोबेल पुरस्कार विजेता कैलाश सत्यार्थी को मिला प्रशस्ति-पत्र स्वयं सत्यार्थी या देश के लिए कितना भी महत्व रखता हो, चोरों के लिए वह एक कागज के टुकड़े से ज्यादा मायने नहीं रखता था. चोरों ने उसे रद्दी समझकर ही जंगल में फेंक दिया था. दिल्ली पुलिस ने काफा मशक्कत करने के बाद वह प्रशस्ति-पत्र आखिरकार खोज ही लिया. चोरी की वारदात को एक माह से अधिक समय बीतने के बाद यह अहम दस्तावेज दिल्ली के संगम विहार क्षेत्र में जंगल से बरामद हुआ.

  • बड़े नोटों के चलन पर रोक से बच्चों के खिलाफ अपराध पर ‘कुछ’ अंकुश जरूर लगेगा : कैलाश सत्यार्थी

    बड़े नोटों के चलन पर रोक से बच्चों के खिलाफ अपराध पर ‘कुछ’ अंकुश जरूर लगेगा : कैलाश सत्यार्थी

    नोबेल पुरस्कार विजेता सामाजिक कार्यकर्ता कैलाश सत्यार्थी ने कालेधन के खिलाफ सरकार की ताजा कार्रवाई को ‘स्वागत योग्य’ बताते हुए कहा है कि इससे बच्चों के खिलाफ संगठित अपराधों में कुछ कमी जरूर आएगी.

  • नोबेल शांति पुरस्कार विजेता कैलाश सत्यार्थी ने की प्रधानमंत्री से मुलाकात

    नोबेल शांति पुरस्कार विजेता कैलाश सत्यार्थी ने की प्रधानमंत्री से मुलाकात

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को नोबेल शांति पुरस्कार विजेता कैलाश सत्यार्थी से मुलाकात की और उन्हें विश्व प्रतिष्ठित पुरस्कार जीतने पर बधाई दी। प्रधानमंत्री से मुलाकात के दौरान सत्यार्थी ने 'स्वच्छ भारत अभियान' और 'सांसद आदर्श ग्राम योजना' में योगदान के प्रति उत्सुकता दिखाई।

  • ओबामा ने नोबेल पुरस्कार जीतने पर कैलाश सत्यार्थी, मलाला को बधाई दी

    ओबामा ने नोबेल पुरस्कार जीतने पर कैलाश सत्यार्थी, मलाला को बधाई दी

    अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने भारत में बाल मजदूरी के खिलाफ अभियान चलाने वाले कैलाश सत्यार्थी और पाकिस्तान की मलाला यूसुफजई को नोबेल शांति पुरस्कार जीतने पर बधाई देते हुए कहा कि यह उन लोगों की जीत है, जो प्रत्येक मनुष्य का सम्मान बरकरार रखने के लिए प्रयासरत हैं।

  • भारत के सत्यार्थी, पाकिस्तानी की मलाला को शांति का नोबेल पुरस्कार

    भारत के सत्यार्थी, पाकिस्तानी की मलाला को शांति का नोबेल पुरस्कार

    भारत और पाकिस्तान के सामाजिक कार्यकर्ताओं क्रमश: कैलाश सत्यार्थी और मलाला यूसुफजई ने शुक्रवार को 2014 के लिए शांति का नोबेल पुरस्कार संयुक्त रूप से जीता। दोनों को यह पुरस्कार संकटग्रस्त उपमहाद्वीप में बाल अधिकारों को प्रोत्साहित करने के उनके कार्य के लिए प्रदान किया जाएगा।

  • कैलाश सत्यार्थी : बाल अधिकारों के लिए संघर्ष के अगुआ

    कैलाश सत्यार्थी : बाल अधिकारों के लिए संघर्ष के अगुआ

    नोबल शांति पुरस्कार विजेता कैलाश सत्यार्थी ने इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग की नौकरी छोड़कर पिछले तीन दशक से ज्यादा समय से बाल अधिकारों की रक्षा और उन्हें और मजबूती से लागू करवाने के लिए खुद को समर्पित कर दिया, 80 हजार बाल श्रमिकों को मुक्त कराया और उन्हें जीवन में नई उम्मीद दी।

  • कैलाश सत्यार्थी : नोबेल शांति पुरस्कार विजेता के बारे में पांच प्रमुख बातें

    कैलाश सत्यार्थी : नोबेल शांति पुरस्कार विजेता के बारे में पांच प्रमुख बातें

    कैलाश सत्यार्थी एक इलेक्ट्रिकल इंजीनियर थे, जो 26 वर्ष की आयु में बाल अधिकारों के लिए काम करने लगे। कैलाश सत्यार्थी ने वर्ष 1983 में बालश्रम के खिलाफ 'बचपन बचाओ आंदोलन' की स्थापना की। उनका यह संगठन अब तक 80,000 से ज़्यादा बच्चों को बंधुआ मजदूरी, मानव तस्करी और बालश्रम के चंगुल से छुड़ा चुका है...

Advertisement

 

Nobel winner kailash satyarthi वीडियो

Nobel winner kailash satyarthi से जुड़े अन्य वीडियो »