NDTV Khabar

Oil prices News in Hindi


'Oil prices' - 140 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • 10 साल में UPA से ज़्यादा 4 साल में NDA ने उत्पाद शुल्क चूस लिया...

    10 साल में UPA से ज़्यादा 4 साल में NDA ने उत्पाद शुल्क चूस लिया...

    तेल की बढ़ी क़ीमतों पर तेल मंत्री धर्मेंद्र प्रधान का तर्क है कि यूपीए सरकार ने 1.44 लाख करोड़ रुपये तेल बॉन्ड के ज़रिए जुटाए थे,जिस पर ब्याज की देनदारी 70,000 करोड़ बनती है. मोदी सरकार ने इसे भरा है. 90 रुपये तेल के दाम हो जाने पर यह सफ़ाई है तो इसमें भी झोल है. सरकार ने तेल के ज़रिए 'आपका तेल' निकाल दिया है. ऑनिद्यो चक्रवर्ती ने हिसाब लगाया है कि यूपीए ने 2005-6 से 2013-14 के बीच जितना पेट्रोल डीज़ल की एक्साइज़ ड्यूटी से नहीं वसूला उससे करीब तीन लाख करोड़ ज़्यादा उत्पाद शुल्क एनडीए ने चार साल में वसूला है. उस वसूली में से दो लाख करोड़ चुका देना कोई बहुत बड़ी रक़म नहीं है.

  • निजी तेल कंपनियों की कमाई का सरकार के पास हिसाब नहीं, सरकारी कंपनियों ने किया 12 लाख करोड़ का कारोबार

    निजी तेल कंपनियों की कमाई का सरकार के पास हिसाब नहीं, सरकारी कंपनियों ने किया 12 लाख करोड़ का कारोबार

    सरकारी तेल कंपनियों ने वर्ष 2017-18 में तेल बेचकर 12 लाख करोड़  का कारोबार और 68 हजार करोड़ रुपये का मुनाफा कमाया है. खुद सरकार संसद में यह बता चुकी है.

  • तेल की कीमतों को लेकर नितिन गडकरी का बड़ा दावा, सेना की नौकरी में कटौती, 5 बड़ी खबरें

    तेल की कीमतों को लेकर नितिन गडकरी का बड़ा दावा, सेना की नौकरी में कटौती, 5 बड़ी खबरें

    केन्द्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने कहा है कि पेट्रोलियम मंत्रालय इथेनॉल फैक्ट्री लगा रहा है, जिसकी मदद से डीजल 50 रुपये में और पेट्रोल मात्र 55 रुपये में मिल सकेगा. वहीं, पश्चिम बंगाल में हिंदू कार्ड के जरिए जनाधार बढ़ाने में जुटी बीजेपी को जवाब देने के लिए ममता बनर्जी ने भी दांव खेला है.

  • यशवंत सिन्हा ने कहा- तेल की बढ़ती कीमतों के खिलाफ विपक्ष सड़क पर क्यों नहीं? अब किस बात का इंतजार

    यशवंत सिन्हा ने कहा- तेल की बढ़ती कीमतों के खिलाफ विपक्ष सड़क पर क्यों नहीं? अब किस बात का इंतजार

    यशवंत सिन्हा ने पेट्रोल और डीजल की कीमतों में जबरदस्त बढ़ोतरी करने के लिए केंद्र सरकार की खूब आलोचना की और इस मुद्दे को लेकर विपक्षी दलों द्वारा विरोध प्रदर्शन नहीं किए जाने पर निराशा जताई.

  • पेट्रोल-डीजल के दामों में कटौती या भद्दा मज़ाक?

    पेट्रोल-डीजल के दामों में कटौती या भद्दा मज़ाक?

    पेट्रोल डीजल के दाम में लगातार सोलह दिन बढ़ोतरी के बाद बुधवार को राहत मिली- लेकिन किसी मज़ाक की तरह. लोगों की लगातार गुहार के बाद सिर्फ एक पैसे की कटौती. सरकार ने फिर साफ़ कर दिया कि या तो लोग सस्ता पेट्रोल ले लें या फिर विकास होने दें.

  • ऐसे कम हो सकते हैं पेट्रोल-डीजल के दाम, सरकार के पास है ये विकल्प

    ऐसे कम हो सकते हैं पेट्रोल-डीजल के दाम, सरकार के पास है ये विकल्प

    तेल की लगातार बढ़ती कीमतों से सभी परेशान हैं. सरकार अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की बढ़ती कीमतों का हवाला दे रही है. बात तो सही है मगर यह समस्या का हल नहीं है. हो सकता है कि ईरान संकट के चलते आने वाले दिनों में कच्चे तेल की कीमतें और भी बढ़ सकती हैं. सरकार को इस पर लगाम लगानी ही होगी, मगर सबसे बड़ा सवाल है कैसे?

  • NEWS FLASH : जम्‍मू में बस स्‍टैंड पर ग्रेनेड से हमला, दो पुलिसवाले घायल

    NEWS FLASH : जम्‍मू में बस स्‍टैंड पर ग्रेनेड से हमला, दो पुलिसवाले घायल

    पाकिस्‍तान की ओर से लगातार सीज फायर का उल्‍लंघन किया जा रहा है. नीदरलैंड के प्रधानमंत्री मार्क रुथ भारत की दो दिवसीय यात्रा पर आए हैं. पेट्रोल-डीजल की कीमतों में आज फिर बढ़ोतरी दर्ज की गई. तमिलनाडु में स्‍टरलाइट के खिलाफ प्रोटेस्‍ट जारी है. उधर गंगा दशहरा के अवसर पर वाराणसी और हरिद्वार में श्रद्धालुओं ने गंगा में डूबकी लगाई. महाराष्ट्र विधान परिषद के 6 सीटों पर हुए चुनाव के नतीजे आज घोषित किए जाएंगे. इसके अलावा देश-दुनिया, बिज़नेस जगत और खेल की दुनिया में हो रही हर बड़ी गतिविधियों के बारे में एक साथ एक ही पेज पर जानें.

  • 'तेल में आग': पेट्रोल-डीजल का दाम आसमान पर, कीमतों में राहत की कोई संभावना नहीं

    'तेल में आग': पेट्रोल-डीजल का दाम आसमान पर, कीमतों में राहत की कोई संभावना नहीं

    मोदी सरकार में लगातार बढ़ती तेल की कीमतों से लोग हलकान हैं. पेट्रोल और डीजल के दाम में कुछ अंतराल पर लगातार बढ़ोतरी देखने को मिल रही है, जिसके चलते लोगों में गुस्सा दिख रहा है. हालांकि, तेल की कीमतों को लेकर बढ़ती नाराज़गी के बीच इंडियन ऑयल के चेयरमैन संजीव सिंह ने संकेत दिया है कि फिलहाल कीमतों में राहत की संभावना नहीं है क्योंकि अंतरराष्ट्रीय तेल बाज़ार में अनिश्चितता का माहौल बना हुआ है.

  • तेल की कीमतों में फिलहाल राहत की संभावना नहीं : IOCL चेयरमैन

    तेल की कीमतों में फिलहाल राहत की संभावना नहीं : IOCL चेयरमैन

    तेल की कीमतों को लेकर बढ़ती नाराज़गी के बीच इंडियन ऑयल के चेयरमैन संजीव सिंह ने संकेत दिया है कि फिलहाल कीमतों में राहत की संभावना नहीं है क्यों कि अंतरराष्ट्रीय तेल बाज़ार में अनिश्चितता का माहौल बना हुआ है.

  • कच्चे तेल के दाम बढ़ने से रिजर्व बैंक अगस्त में दरें बढ़ाने को हो सकता है मजबूर: विश्लेषक

    कच्चे तेल के दाम बढ़ने से रिजर्व बैंक अगस्त में दरें बढ़ाने को हो सकता है मजबूर: विश्लेषक

    कच्चे तेल के दाम बढ़ने का देश में मुद्रास्फीति पर असर पड़ सकता है और इससे रिजर्व बैंक अगस्त में होने वाली मौद्रिक नीति समीक्षा में नीतिगत दर में 0.25 प्रतिशत की वृद्धि करने पर मजबूर होना पड़ सकता है. एक विदेशी ब्रोकरेज एजेंसी ने यह कहा है. एजेंसी ने कहा है , ‘हालांकि शीर्ष बैंक जून में होने वाली आगामी समीक्षा में यथास्थिति बनाये रख सकता है.’

  • कच्चे तेल के झटके से बचने को एनआरआई बांड जारी कर सकता है रिजर्व बैंक

    कच्चे तेल के झटके से बचने को एनआरआई बांड जारी कर सकता है रिजर्व बैंक

    कच्चे तेल की बढ़ती कीमतों के विदेशी मुद्रा भंडार पर पड़ने वाले असर को संभालने के लिए भारतीय रिजर्व बैंक 30 से 35 अरब डॉलर के एनआरआई बांड जारी कर सकता है, जिससे आयात कवर को संतोषजनक स्तर पर रखा जा सकेगा. बैंक ऑफ अमेरिका मेरिल लिंच की रिपोर्ट ब्रेंट के अनुमान को बढ़ाकर 71.8 डॉलर प्रति बैरल कर दिया गया है.

  • कर्नाटक चुनाव के समय पेट्रोल-डीजल की कीमतें नहीं बढ़ना संयोग: आईओसी

    कर्नाटक चुनाव के समय पेट्रोल-डीजल की कीमतें नहीं बढ़ना संयोग: आईओसी

    इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन (आईओसी) के चेयरमैन संजीव सिंह ने आज कहा कि पेट्रोल - डीजल की कीमतों में 24 अप्रैल से बदलाव नहीं करना इन्हें स्थिर बनाने के उद्देश्य से उठाया गया कदम है. उन्होंने कहा कि कर्नाटक चुनावों के समय यह होना महज संयोग है. उन्होंने कहा कि कीमतें स्थिर करने से पहले हर रोज यह 25-35 पैसे घट - बढ़ रहा था. इससे हर 15 दिन में ईंधन की कीमतें 2-3 रुपये बदल जाती थीं. 

  • कच्चे तेल की कीमत 77 डॉलर प्रति बैरल के पार, देश में भाव स्थिर

    कच्चे तेल की कीमत 77 डॉलर प्रति बैरल के पार, देश में भाव स्थिर

    अमेरिका और ईरान के बीच बढ़ते तनाव की वजह से अंतर्राष्ट्रीय बाज़ार में कच्चे तेल की कीमत बढ़ती जा रही है. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के ईरान के साथ न्यूक्लियर डील तोड़ने के फैसले के ऐलान के बाद बुधवार को ब्रेन्ट क्रूड की कीमत प्रति बैरल 77 डॉलर के पार चली गई. यह नवंबर 2014 के बाद पहली बार है जब कच्चे तेल की कीमत 77 डॉलर प्रति बैरल से ऊपर चली गई है. 

  • तेल की कीमतें 2014 के बाद पहली बार 70 डॉलर से ऊपर

    तेल की कीमतें 2014 के बाद पहली बार 70 डॉलर से ऊपर

    तेल की कीमतें सोमवार को 70 डॉलर प्रति बैरल से ऊपर पहुंच गईं. नवंबर 2014 के बाद पहली बार तेल की कीमतों में इतना उछाल आया है. सीएनएन के मुताबिक, अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के 2015 ईरान परमाणु समझौते से अलग होने की संभावनाओं की वजह से तेहरान को और अधिक कच्चा तेल निर्यात करने की अनुमति मिली, जो तेल की कीमतें के बढ़ने के कारणों में से एक है.

  • यहां से भारत को देखो, बैंकर मायूस, मनरेगा के मज़दूर भूखे और तेल के दाम का खेल देखो...

    यहां से भारत को देखो, बैंकर मायूस, मनरेगा के मज़दूर भूखे और तेल के दाम का खेल देखो...

    ख़ुशी मनाइये कि कर्नाटक में चुनाव हैं वर्ना पेट्रोल का दाम 90 रुपये तक चला गया होता. पिछले 13 दिनों से पेट्रोल और डीज़ल के दाम नहीं बढ़ रहे हैं जबकि अंतरराष्ट्रीय बाज़ारों में कच्चे तेल का दाम बढ़ता ही जा रहा है. यह जादू कैसे हो रहा है?

  • कर्नाटक चुनाव के चलते तेल कंपनियों ने नहीं बढ़ाए पेट्रोल-डीजल के दाम

    कर्नाटक चुनाव के चलते तेल कंपनियों ने नहीं बढ़ाए पेट्रोल-डीजल के दाम

    कर्नाटक विधानसभा चुनाव में अब कुछ ही दिन शेष हैं, इसे देखते हुए सार्वजनिक क्षेत्र की तेल कंपनियों ने पेट्रोल और डीजल के दाम में होने वाली घटबढ रोक दी है. यहां तक कि अंतरराष्ट्रीय बाजार में इनके दाम में दो डॉलर प्रति बैरल की बढ़ोत्तरी के बावजूद स्थानीय खुदरा दाम में कोई बदलाव नहीं किया गया है. हालांकि, वित्त मंत्रालय ने आम आदमी को राहत पहुंचाने के लिए उत्पाद शुल्क में किसी भी तरह की कटौती करने से मना कर दिया है. ईंधन के दाम इस समय 55 महीने के उच्च स्तर पर चल रहे हैं.

  • घरेलू बाजार में एक साल में 28 फीसदी महंगा हुआ कच्चा तेल

    घरेलू बाजार में एक साल में 28 फीसदी महंगा हुआ कच्चा तेल

    अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल में लगातार तेजी रहने से घरेलू वायदा बाजार में तेल का भाव पिछले एक साल में करीब 28 फीसदी बढ़ा है जबकि पिछले तीन साल में देखें तो लोकल कमोडिटी एक्सचेंज पर कच्चे तेल के दाम में 32 फीसदी से ज्यादा का इजाफा हुआ है. 

  • सस्‍ता नहीं होगा पेट्रोल-डीजल, ये है वजह

    सस्‍ता नहीं होगा पेट्रोल-डीजल, ये है वजह

    सरकार ने अनौपचारिक तौर पर सार्वजनिक क्षेत्र की पेट्रोलियम कंपनियों से गुजरात में दिसंबर, 2017 में हुए चुनावों के मद्देनजर पेट्रोल और डीजल के दाम नहीं बढ़ाने को कहा था.

«123456»

Advertisement

 

Oil prices वीडियो

Oil prices से जुड़े अन्य वीडियो »