NDTV Khabar

Patna university student union election


'Patna university student union election' - 3 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • पटना यूनिवर्सिटी चुनाव : कैसे मात दी छात्र जनता दल यूनाइटेड ने एबीवीपी को, क्या था प्रशांत किशोर का रोल; 10 बातें

    पटना यूनिवर्सिटी चुनाव : कैसे मात दी छात्र जनता दल यूनाइटेड ने एबीवीपी को, क्या था प्रशांत किशोर का रोल; 10 बातें

    बिहार में लोकसभा और विधानसभा उपचुनाव के बाद सबसे ज़्यादा उत्सुकता पटना विश्वविद्यालय के परिणाम को लेकर थी. इसका एक बड़ा कारण इस चुनाव में जनता दल यूनाइटेड के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर बनाम भाजपा और उनके संगठन अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद का सीधा मुकाबला था. हाल के वर्षों में सत्ता के गलियारे से सड़क तक एक छात्र संघ के चुनाव को लेकर ऐसा संघर्ष देखने को नहीं मिला. लेकिन यह चुनाव प्रशांत किशोर ने कैसे अपने पक्ष में किया यह काफी रोचक रहा. इसे जानिए 10 प्रमुख पाइंट में -

  • पटना विश्वविद्यालय छात्र संघ चुनाव: जेडीयू ने अध्यक्ष पद किया कब्जा तो एबीवीपी ने अपने नाम किए तीन अहम पद

    पटना विश्वविद्यालय छात्र संघ चुनाव: जेडीयू ने अध्यक्ष पद किया कब्जा तो एबीवीपी ने अपने नाम किए तीन अहम पद

    महासचिव, उपाध्यक्ष और संयुक्त सचिव के पद एबीवीपी (ABVP) के मनिकांत मणि, अंजना, और राजा रवि जीते के नाम रहे. बता दें कि छात्र संघ चुनाव से पहले ही पदों पर जीत को लेकर राजनीति गर्माने लगी थी. बीते रविवार को चार विधायकों के बाद सोमवार को बीजेपी के तीन और विधायकों ने इस बार के चुनाव पर बयान जारी किया था.

  • उपेंद्र कुशवाहा का हमला, इतनी फजीहत के बाद जीत भी गए तो क्या प्रधानमंत्री बन जाएंगे?

    उपेंद्र कुशवाहा का हमला, इतनी फजीहत के बाद जीत भी गए तो क्या प्रधानमंत्री बन जाएंगे?

    राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) के घटक दलों के बीच विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है. केंद्रीय मंत्री और राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (रालोसपा) के प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा ने पटना विश्वविद्यालय छात्रसंघ चुनाव को लेकर अप्रत्यक्ष रूप से जेडीयू उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर पर निशाना साधा है. कुशवाहा ने मंगलवार को ट्वीट कर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को भी छात्रसंघ चुनाव में राजनीतिक दलों के बीच मचे घमासान के लिए आड़े हाथों लिया और कहा कि आने वाली पीढ़ी कैसे विश्वास करेगी कि आप भी उसी विश्वविद्यालय के छात्र रहे हैं. कुशवाहा ने आगे लिखा, 'जनाब! छात्रसंघ चुनाव को प्रतिष्ठा का प्रश्न बनाकर पुलिस, प्रशासन, विश्वविद्यालय सबको दंडवत करा दिया. इतनी फजीहत कराकर जीत भी गए तो क्या प्रधानमंत्री बन जाएंगे.'