NDTV Khabar

Pinarayi vijayan


'Pinarayi vijayan' - 71 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • देशभर के कई राज्यों में बाढ़ से मचा हाहाकार: केरल से लेकर महाराष्ट्र तक, हर तरफ पानी ही पानी- दर्जनों की मौत

    देशभर के कई राज्यों में बाढ़ से मचा हाहाकार: केरल से लेकर महाराष्ट्र तक, हर तरफ पानी ही पानी- दर्जनों की मौत

    पिनराई विजयन सरकार ने रेड अलर्ट जारी कर दिया है और सभी स्कूल-कॉलेजों को बंद करने का ऐलान किया है. वहीं कोच्चि इंटरनेशनल एयरपोर्ट के रनवे पर पानी भर जाने के कारण रविवार तक सभी उड़ानें स्थगित कर दी है. अन्य राज्य मध्य प्रदेश, कर्नाटक, तमिलनाडु, गोवा, आंध्र प्रदेश, पश्चिम बंगाल, गुजरात और ओडिशा राज्यों के कई हिस्सों में बाढ़ के कारण लोगों का जीवन अस्त-व्यस्त हो गया है. भारतीय मौसम विभाग के मुताबिक अभी भी इन राज्यों में अगले दो दिन तक भारी बारिश होने की संभावना जताई है.

  • केरल: CM पिनराई विजयन के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी करने के मामले में अब तक 119 लोगों पर केस दर्ज, विपक्ष ने सीएम योगी से की तुलना

    केरल: CM पिनराई विजयन के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी करने के मामले में अब तक 119 लोगों पर केस दर्ज, विपक्ष ने सीएम योगी से की तुलना

    यह आंकड़े केरल के सीएम ने सामने लाए थे जिसका खुलासा उन्होंने यूडीएफ नेता एमके मुनीर के जवाब में किया था. मंगलवार को एक बार फिर यह मामला विधानसभा में चर्चा का विषय बना. राज्य में विपक्ष के नेता रमेश चेनिथाला ने कहा, 'पिनराई विजयन यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ के कदमों पर चल रहे हैं. अगर कोई विजयन के खिलाफ अपना मुंह खोलता है तो उसके खिलाफ कार्रवाई होती है.

  • पीएम मोदी के शपथ ग्रहण समारोह में नहीं जाएंगी ममता बनर्जी, कहा- एक घंटे पहले तक जाने का प्लान था लेकिन अब....

    पीएम मोदी के शपथ ग्रहण समारोह में नहीं जाएंगी ममता बनर्जी, कहा- एक घंटे पहले तक जाने का प्लान था लेकिन अब....

    पीएम मोदी के 30 मई को होने वाले शपथ ग्रहण समारोह के लिए तैयारियां जोरो से चल रही हैं. देश विदेश के मेहमानों को न्योता भेजा गया है. भारत में जिन नेताओं को पीएम का धुर विरोधी माना जाता है, उन्होंने भी समारोह में आने के लिए हामी भर दी है. इन नेताओं में दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल मुख्य हैं. लेकिन पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी इस समारोह में शामिल नहीं होंगी.

  • KCR के प्लान को झटका: तीसरा मोर्चा बनाने की कवायद में तेलंगाना CM की रणनीति को स्टालिन का 'साथ' नहीं?

    KCR के प्लान को झटका: तीसरा मोर्चा बनाने की कवायद में तेलंगाना CM की रणनीति को स्टालिन का 'साथ' नहीं?

    इसके बाद वह डीएमके के अध्यक्ष स्टालिन से मिलने वाले थे, इसको लेकर तेलंगाना सीएमओ ने बयान भी जारी किया था. लेकिन मंगवार को डीएमके से जुड़े सूत्रों ने कहा कि स्टालिन 19 मई को होने वाले आखिरी चरण के लोकसभा चुनाव के लिए प्रचार में 'बिजी' हैं. इसके जरिए उन्होंने संकेत दिए कि तेलंगाना सीएमओ द्वारा घोषित की गई 13 मई को होने वाली बैठक नहीं होगी. द्रमुक अध्यक्ष के करीबी सूत्रों ने बताया कि राज्य में चार सीटों के लिए होने वाले उपचुनाव के प्रचार में स्टालिन ‘व्यस्त’ रहेंगे. हालांकि, केसीआर की बेटी और सांसद के के. कविता ने बादा में कहा कि अभी तक कोई बैठक तय नहीं हुई है.

  • 1996 के फॉर्मूले से देश को नया प्रधानमंत्री देने की कोशिश, तेलंगाना के सीएम बना रहे हैं रणनीति

    1996 के फॉर्मूले से देश को नया प्रधानमंत्री देने की कोशिश, तेलंगाना के सीएम बना रहे हैं रणनीति

    सूत्रों के मुताबिक इस दौरान उन्होंने '1996 फॉर्मूले' के आधार पर कांग्रेस और भाजपा के बिना तीसरा मोर्चा बनाने पर चर्चा की. केसीआर, पिछले कुछ वर्षों से 'तीसरे मोर्चे' के चेहरे बने हुए हैं. केसीआर कर्नाटक के मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी जैसे कांग्रेस सहयोगियों से भी संपर्क कर रहे हैं, जिनसे उन्होंने सोमवार बातचीत की. इसके अलावा द्रमुक अध्यक्ष एम. के. स्टालिन से भी 13 मई को मुलाकात करेंगे. लोकसभा चुनाव के नतीजे की तारीख नजदीक आ रही है, वैसे-वैसे केसीआई अपनी कोशिश में तेजी ला रहे हैं.

  • CPM के दफ्तर पर आधी रात में मारा छापा तो IPS के खिलाफ CM ने बैठाई जांच, मिली क्लीनचिट

    CPM के दफ्तर पर आधी रात में मारा छापा तो IPS के खिलाफ CM ने बैठाई जांच, मिली क्लीनचिट

    आईपीएस जॉन ने 24 जनवरी की मध्य रात्रि को एक मामले में कुछ आरोपियों की तलाश में माकपा के जिला कार्यालय पर छापा मारा था. जॉन के नेतृत्व में पुलिस दल माकपा की युवा इकाई डीवाईएफआई के कुछ नेताओं की तलाश में वहां पहुंचा था जो कथित तौर पर शहर के एक पुलिस थाने पर पथराव की घटना में शामिल थे. इसके बाद पार्टी की जिला इकाई के नेताओं की शिकायत पर जॉन के खिलाफ जांच के आदेश दिये गए.

  • सबरीमाला मंदिर में प्रवेश कर इतिहास बनाने वाली महिला को ससुराल वालों ने घर से निकाला

    सबरीमाला मंदिर में प्रवेश कर इतिहास बनाने वाली महिला को ससुराल वालों ने घर से निकाला

    एक हफ्ते पहले कनक दुर्गा की सास पर उनसे मारपीट का आरोप लगा था, जिसके बाद उन्हें कोझिकोडे मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराना पड़ा था.

  • सबरीमाला मंदिर: अमित शाह बोले- श्रद्धालु कैदी नहीं हैं, भाजपा उनके साथ खड़ी है

    सबरीमाला मंदिर: अमित शाह बोले- श्रद्धालु कैदी नहीं हैं, भाजपा उनके साथ खड़ी है

    अमित शाह ने कहा, 'पिनरायी विजयन सरकार जिस तरह सबरीमाला के संवेदनशील मामले को ले रही है, वह निराशाजनक है. केरल पुलिस युवा लड़कियों, माताओं एवं बुजुर्गों के साथ अमानवीय व्यवहार कर रही है, भोजन, आश्रय और पानी जैसी बुनियादी सुविधाओं के बिना उन्हें कठिन तीर्थ यात्रा के लिए मजबूर कर रही है.' उन्होंने कहा कि केरल सरकार लोगों के विश्वास को 'कुचलने' की कोशिश कर रही है, लेकिन भाजपा श्रद्धालुओं के साथ मजबूती से खड़ी रही. और साथ ही कहा कि हम एलडीएफ को लोगों की आस्था कुचलने नहीं देंगे.'

  • सबरीमाला मंदिर: देर रात CM के घर के बाहर प्रदर्शन, 70 लोग हिरासत में, केंद्रीय मंत्री बोले- आपातकाल से बुरे हालात

    सबरीमाला मंदिर: देर रात CM के घर के बाहर प्रदर्शन, 70 लोग हिरासत में, केंद्रीय मंत्री बोले- आपातकाल से बुरे हालात

    पहले हिंसा की हुई घटनाओं के बाद पुलिस ने श्रद्धालुओं पर पाबंदियां लगा दी थी. अब लोगों को रात में मंदिर परिसर में रुकने की अनुमति नहीं है. मंदिर प्रबंधन सोमवार को सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल करने जा रहा है, जिसमें सभी उम्र की महिलाओं के प्रवेश के लिए सुप्रीम कोर्ट के आदेश को लागू करने के लिए और वक्त की मांग की जाएगी.

  • सुप्रीम कोर्ट बोला- केरल को विदेशी फंड दिया जाए या नहीं, यह आदेश देने वाले हम कौन होते हैं

    सुप्रीम कोर्ट बोला- केरल को विदेशी फंड दिया जाए या नहीं, यह आदेश देने वाले हम कौन होते हैं

    केरल में आई सदी की सबसे बड़ी त्रासदी यानी बाढ़ के मामले में केरल में राहत के लिए विदेशी फंड की याचिका पर सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि हम ये कैसे कह सकते हैं कि राज्य को विदेशी फंड दिया जाए या नहीं. इसके साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने जल्द सुनवाई की मांग वाली याचिका खारिज कर दी. बता दें कि कुछ समय पहले ऐसी खबरें आईं थी कि संयुक्त अरब अमीरात ने केरल को 700 करोड़ रुपये की मदद की पेशकश की थी. हालांकि, बाद में खुद यूएई के राजदूत ने इस बात का खंडन किया था कि अभी तक यूएई सरकार ने ऐसा कोई प्रस्ताव केरल को नहीं दिया है. 

  • Kerala Flood: बाढ़ से तबाह केरल के लिए देशवासियों ने दिखाया बड़ा दिल, अब तक की इतने करोड़ की मदद

    Kerala Flood: बाढ़ से तबाह केरल के लिए देशवासियों ने दिखाया बड़ा दिल, अब तक की इतने करोड़ की मदद

    केरल में आई सदी की सबसे बड़ी त्रासदी यानी बाढ़ ने न सिर्फ कई जिंदगियों को काल के गाल में पहुंचाया, बल्कि वहां के लोगों को विकास के मायने में कई साल पीछे धकेल दिया. केरल में अब बाढ़ पीड़ितों के पुनर्वास के लिए जोर-शोर से काम हो रहा है. बाढ़ पीड़ितों की जिंदगी को पटरी पर लाने के लिए राहत का काम तेज कर दिया गया है. देश भर से आए दान अथवा मदद के रूप में केरल मुख्यमंत्री राहत कोष में अब तक 1027 करोड़ रुपये जमा हो गये हैं, जो मोदी सरकार द्वारा दी गई सहायता राशि से काफी ज्यादा है. हालांकि, मुख्यमंत्री राहत कोष में जितने पैसे आए हैं, उनमें राज्य सरकारों, जनता, कॉरपोरेट्स और संगठन की ओर से दी गई सहायता राशि भी शामिल है. बता दें कि बाढ़ से तबाह केरल को मोदी सरकार ने 600 करोड़ रुपये की अग्रिम आर्थिक मदद की है. 

  • #IndiaForKerala: केरल बाढ़ पीड़ितों की मदद को बढ़े हाथ, दान की गई रकम 10 करोड़ के पार

    #IndiaForKerala: केरल बाढ़ पीड़ितों की मदद को बढ़े हाथ, दान की गई रकम 10 करोड़ के पार

    केरल बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए NDTV और टाटा स्काई की मुहिम #IndiaForKerala में कई राज्यों के मुख्यमंत्रियों, केंद्रीय मंत्रियों, उद्योगपतियों के अलावा बॉलीवुड की हस्तियों ने भी शिरकत की. इस दौरान 10,32,06,207 करोड़ रुपये की मदद राशि जमा हुई. सबसे ज्यादा पांच करोड़ रुपये की मदद स्टॉक ब्रोकर और उद्योगपति प्रदीप भावनानी ने की. इसके अलावा स्पाइस जेट, हुंडई, फोर्ड इंडिया, हिताची सहित कई कंपनियों ने भी भीषण त्रासदी का शिकार हुए लोगों के लिए दान दिए.

  • स्टॉक ब्रोकर प्रदीप भावनानी ने केरल बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए 5 करोड़ रुपये का दान दिया

    स्टॉक ब्रोकर प्रदीप भावनानी ने केरल बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए 5 करोड़ रुपये का दान दिया

    NDTV और टाटा स्काई की मुहिम #IndiaForKerala से जुड़कर स्टॉक ब्रोकर और उद्योगपति प्रदीप भावनानी ने केरल बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए 5 करोड़ रुपये का दान दिया. उन्होंने कहा कि पांच करोड़ मैंने जापान के लिए भी दिया था. जापान के प्रधानमंत्री ने मुझे इसके लिए फोन कर थैंक्स बोला. उन्होंने कहा कि मानवता का कोई धर्म नहीं होता है. हमें इस समय यह देखना है कि केरल को मदद कैसे करें. हमें यह नहीं देखना की यूएई से सहायता मिली, ओमान से सहायता मिली. उसका नेगेटिव वर्जन हो. सरकार को 2 हजार 600 करोड़ जो केरल को जरूरत है उसे देना चाहिए. केरल के पुनर्निर्माण के लिए वहां टोटल 20 हजार से 30 हजार करोड़ की जरूरत है. यह छोटा उमाउंट नहीं है. 

  • हमें सिर्फ फंड से ही नहीं बल्कि हर तरह से केरल के लोगों की मदद करनी चाहिए : जावेद अख्तर

    हमें सिर्फ फंड से ही नहीं बल्कि हर तरह से केरल के लोगों की मदद करनी चाहिए : जावेद अख्तर

    NDTV और टाटा स्काई की मुहिम #IndiaForKerala से जुड़कर गीतकार जावेद अख्तर ने कहा कि हम उनकी तकलीफ नहीं समझ सकते हैं जिनपर यह गुजरा है. अभी एक चीज सबसे ज्यादा जरूरी है जिसपर कोई बात हुए बगैर वहां देना चाहिए वह है फंड की कमी. पानी उतरने के बाद तबाही और बड़ी हो जाएगी. अगर समय रहते हम काम नहीं करते हैं. कई तरह की बीमारी फैलने का खतरा है. हमें एक नागरिक की तरह सिर्फ फंड ही नहीं बल्कि हर तरह से मदद करना चाहिए. आज उनके सामने घर की समस्या है. 

  • केरल की जनता अलग नहीं, हम उसे पूरा सहयोग कर रहे हैं, करेंगे : नितिन गडकरी

    केरल की जनता अलग नहीं, हम उसे पूरा सहयोग कर रहे हैं, करेंगे : नितिन गडकरी

    NDTV और टाटा स्काई की मुहिम #IndiaForKerala से जुड़कर केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि हमने फैसला किया है कि जो हाईवे डैमेज हुआ है वह जल्द से जल्द रिपेयर हो, क्योंकि रोड अच्छे हो जाएंगे तो राहत बचाव कार्य में तेजी आएगी. उन्होंने कहा कि बड़े पैमाने पर सामाजिक संगठनों की तरफ से भी मदद मिल रही है. यह संकल्प बड़ा है. केरल की जनता अलग नहीं है. हम केरल को पूरा सहयोग करेंगे. उन्होंने कहा कि हमने एक फैसला किया है कि जहां ज्यादा बारिश होती है वहां सेमेंट-कंक्रीट रोड का निर्माण करेंगे, ताकि नुकसान कम से कम हो.

  • बाढ़ राहत पीड़ितों की मदद के लिए आयोजित कार्यक्रम में गाना गाएंगे जस्टिस केएम जोसेफ

    बाढ़ राहत पीड़ितों की मदद के लिए आयोजित कार्यक्रम में गाना गाएंगे जस्टिस केएम जोसेफ

    सुप्रीम कोर्ट के न्यायाधीशों की तरफ से केरल के मुख्यमंत्री आपदा राहत कोष में योगदान दिए जाने के बाद अब बाढ़ प्रभावित लोगों की मदद के लिए आयोजित एक कार्यक्रम में सोमवार को शीर्ष न्यायालय के न्यायाधीश न्यायमूर्ति केएम जोसेफ (Justice KM Joseph) गीत गाएंगे. मुख्य न्यायाधीश दीपक मिश्रा कार्यक्रम के मुख्य अतिथि होंगे, जहां न्यायमूर्ति जोसेफ दो गीत गाएंगे, जिसमें एक मलयाली और एक हिंदी गीत होगा. यह कार्यक्रम सुप्रीम कोर्ट की रिपोर्टिंग करने वाले पत्रकारों की तरफ से आयोजित किया गया है.

  • ये नफरत आपको दंगाई बना रही है, हमारी मोहब्बत आपको इंसान बनाएगी

    ये नफरत आपको दंगाई बना रही है, हमारी मोहब्बत आपको इंसान बनाएगी

    हम तुम्हारी हर झूठ पर भारी पड़ते हैं, भांडा फोड़ देते हैं और इस तरह आप धीरे-धीरे बदलते चले जाएंगे. नफरतों से सामान्य होना कितना सहज हो चुका है. मैं केरल नहीं गया. जाता तो गलत नहीं होता. उसके बाद भी किसी मदद करने वाले के चेहरे पर मेरा चेहरा लगाकर इस तरह से पेश किया जा रहा है ताकि कम दिमाग के लोग मान बैठे कि केरल जाना या बाढ़ पीड़ितों की मदद करना गलत है. कम दिमाग वालों में ऐसी मूर्खता होगी ही इसी भरोसे धारणा फैक्ट्री से ऐसी सामग्री बनाई जाती है. सोचिए जिसकी जगह मेरा चेहरा लगा है वह कितना अच्छा होगा. अपने कंधे पर एक बच्चे को बिठाकर ले जा रहा है. यह उस बंदे का अपमान है. हम समाज में ऐसे लोगों को तैयार कर रहे हैं जो इस तरह के झांसे में आ रहे हैं.

  • बाढ़ से तबाह केरल को उबारने में मोदी सरकार ने झोंकी ताकत, केंद्र ने अब तक क्या-क्या किया, जानें पूरी डिटेल

    बाढ़ से तबाह केरल को उबारने में मोदी सरकार ने झोंकी ताकत, केंद्र ने अब तक क्या-क्या किया, जानें पूरी डिटेल

    केरल में आई सदी की सबसे ब़ड़ी बाढ़ ने उसकी कमर तोड़ दी है. केरल में बाढ़ की तबाही से न सिर्फ लोगों की जानें गईं, बल्कि हजारों करोड़ रुपयों को नुकसान हुआ, जान-माल की क्षति हुई और जिंदगी बेपटरी हो गई है. केरल की बाढ़ ने उसे कई साल पीछे धकेल दिया. हालांकि, अब केरल में बाढ़ की त्रासदी से निपटने के लिए चारों ओर से मदद के हाथ भी उठे. केंद्र सरकार, राज्य सरकारें, और व्यक्तिगत तौर पर भी केरल की सबने जितन बन सका, उतनी मदद की. बहरहाल, केरल में अब राहत और बचाव का काम लगभग पूरा हो चुका है. जिंदगियों को पटरी पर लाने के लिए अब उनके पुनर्वास के काम पर हो रहा है. दरअसल, केरल में बाढ़ की स्थिति का जायजा लेने के लिए बीते दिनों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हवाई सर्वे किया और 500 करोड़ रुपये की अग्रिम सहायता की. इसके अलावा, कई राज्यों ने केरल के लिए मुख्यमंत्री राहत कोष से मदद का ऐलान किया और राहत सामग्रियां भेजी.