NDTV Khabar

Presidential elections in india


'Presidential elections in india' - 5 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • रामनाथ कोविंद के शपथग्रहण समारोह में शामिल हो सकते हैं बिहार के मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार

    रामनाथ कोविंद के शपथग्रहण समारोह में शामिल हो सकते हैं बिहार के मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार

    बिहार के मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार नए निर्वाचित राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद के शपथ ग्रहण समारोह में हिस्‍सा ले स‍कते हैं. गौरतलब है नीतीश कुमार ने विपक्ष से अलग रुख अपनाते हुए एनडीए के उम्‍मीदवार रामनाथ कोविंद का समर्थन किया था.

  • राष्ट्रपति चुनाव 2017 : मतदान केंद्र के भीतर अपना पेन भी नहीं ले जा सकेंगे मतदाता

    राष्ट्रपति चुनाव 2017 : मतदान केंद्र के भीतर अपना पेन भी नहीं ले जा सकेंगे मतदाता

    देश के अगले राष्‍ट्रपति के चुनाव के लिए 17 जुलाई यानी सोमवार को वोटिंग होनी है. रोचक बात यह है कि इस बार इस चुनाव में वोट डालने वाले अपना पेन भी मतदान केंद्र के अंदर नहीं ले जा सकेंगे.

  • बढ़ी ताकत के साथ भौगोलिक विस्तार की तैयारी में बीजेपी, राष्ट्रपति-उपराष्ट्रपति चुनाव पर सहयोगी दलों से होगा मंथन

    बढ़ी ताकत के साथ भौगोलिक विस्तार की तैयारी में बीजेपी, राष्ट्रपति-उपराष्ट्रपति चुनाव पर सहयोगी दलों से होगा मंथन

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में बीजेपी के सहयोगी दलों की एक बड़ी बैठक सोमवार शाम को दिल्ली में होने जा रही है. यूपी में विशाल जीत के बाद बीजेपी पूरे देश में अपनी बढ़ी ताकत का प्रदर्शन भी इस बैठक के ज़रिए करेगी. सोमवार की बैठक में देश भर के 32 राजनीतिक दल शामिल होंगे.

  • भारत में कैसे होता है राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति का चुनाव... आइए समझें

    भारत में कैसे होता है राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति का चुनाव... आइए समझें

    भारत में राष्ट्रपति के चुनाव का तरीका अमेरिका की तरह नहीं है. यहां पर संविधान में राष्ट्रपति के चुनाव की प्रक्रिया निहित है. माना जाता है कि भारत के संविधान निर्माताओं ने विभिन्न देशों की चुनाव पद्धतियों का खासा अध्ययन करने के बाद कई अच्छे प्रावधानों को शामिल किया. राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का पांच साल का कार्यकाल 24 जुलाई, 2017 को खत्म हो रहा है. वहीं उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी का कार्यकाल 10 अगस्त, 2017 को खत्म होने वाला है. उपराष्ट्रपति को जहां लोकसभा और राज्यसभा के इलेक्टेड एमपी चुनते हैं, वहीं राष्ट्रपति को इलेक्टोरल कॉलेज चुनता है जिसमें लोकसभा, राज्यसभा और अलग अलग राज्यों के विधायक होते हैं. भारत में राष्ट्रपति का चुनाव यही इलेक्टोरल कॉलेज करता है, जिसमें इसके सदस्यों का प्रतिनिधित्व आनुपातित होता है. यहां पर उनका सिंगल वोट ट्रांसफर होता है, पर उनकी दूसरी पसंद की भी गिनती होती है. इस प्रक्रिया को ऐसे आसानी से समझा जा सकता है.

  • रेड्डी के अलावा कभी सर्वसम्मति से नहीं हुआ राष्ट्रपति चुनाव

    रेड्डी के अलावा कभी सर्वसम्मति से नहीं हुआ राष्ट्रपति चुनाव

    देश में राष्ट्रपति के चौथे चुनाव के समय 1967 में सबसे अधिक 17 उम्मीदवार मैदान में थे जबकि राष्ट्रपति के पांचवे चुनाव के वक्त 15 प्रत्याशी मैदान में थे।