NDTV Khabar

Rafale deal news


'Rafale deal news' - 59 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • राफेल पर फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति ओलांद के खुलासे पर बोले अरुण जेटली- वह अपनी ही बात काट रहे हैं

    राफेल पर फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति ओलांद के खुलासे पर बोले अरुण जेटली- वह अपनी ही बात काट रहे हैं

    राफेल सौदे में रिलायंस के लिए लॉबिंग करने के आरोप में घिरी मोदी सरकार के बचाव में वित्त मंत्री अरुण जेटली ने फेसबुक पर पोस्ट लिखा है.

  • राफेल पर बवाल: राहुल पर अरुण जेटली का पलटवार- पब्लिक डिस्कोर्स लाफ्टर चैलेंज नहीं कि आप किसी को गले लगाओ या आंख मारो

    राफेल पर बवाल: राहुल पर अरुण जेटली का पलटवार- पब्लिक डिस्कोर्स लाफ्टर चैलेंज नहीं कि आप किसी को गले लगाओ या आंख मारो

    राफेल सौदे पर फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद के दावे के बाद  बैकफुट पर आ रही मोदी सरकार के वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के आरोपों पर पलटवार किया है और सीधा हमला बोला है. राफेल पर मचे बवाल के बाद अरुण जेटली ने राहुल गांधी के गले लगने और आंख मारने वाली घटना पर तंज कसा है और उनकी भाषा को लेकर भी उनकी बुद्धि पर सवाल उठाया है.  दरअसल, फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद के ने राफेल सौदे को लेकर खुलासा किया कि करीब 58,000 करोड़ रुपए के राफेल करार में दसाल्ट एविएशन के लिए साझेदार के तौर पर रिलायंस डिफेंस के नाम का प्रस्ताव भारत सरकार ने ही रखा था और फ्रांस के पास कोई अन्य विकल्प नहीं था. 

  • फ्रांस्वा ओलांद अपने बयान पर कायम, कहा- मोदी सरकार में नए फॉर्मूले के तहत रिलायंस का नाम तय हुआ

    फ्रांस्वा ओलांद अपने बयान पर कायम, कहा- मोदी सरकार में नए फॉर्मूले के तहत रिलायंस का नाम तय हुआ

    Rafale Deal: फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद (François Hollande) ने एनडीटीवी से इस बात की पुष्टि की है कि अनिल अंबानी के रिलायंस समूह को भारत सरकार के कहने पर चुना गया .ओलांद के दफ्तर की तरफ से एनडीटीवी को फ्रांस में दी गई सूचना में साफ किया गया है कि ऑफसेट पार्टनर के तौर पर रिलायंस को लेकर हमारे पास कोई विकल्प नहीं था.

  • राफेल पर तकरार: फ्रांस्वा ओलांद के खुलासे के बाद कांग्रेस और मोदी सरकार के बीच जुबानी जंग शुरू, 15 प्वाइंट्स में जानें पूरा विवाद

    राफेल पर तकरार: फ्रांस्वा ओलांद के खुलासे के बाद कांग्रेस और मोदी सरकार के बीच जुबानी जंग शुरू, 15 प्वाइंट्स में जानें पूरा विवाद

    राफेल सौदे पर फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद के दावे के बाद भारत में सियासी घमासान जारी है. राफेल सौदे को लेकर भारी राजनीतिक विवाद पैदा होने पर सरकार ने शनिवार को कहा कि दसाल्ट के लिए साझेदार के तौर पर रिलायंस डिफेंस का चयन करने में उसकी ‘कोई भूमिका’ नहीं थी. फ्रांस ने भी कहा कि इस सौदे के लिए किसी भारतीय औद्योगिक सहयोगी के चयन में वह किसी भी तरह शामिल नहीं था. उधर, राफेल विनिर्माता दसाल्ट एविएशन ने स्पष्ट किया है कि ऑफसेट की शर्तों को पूरा करने के लिए रिलायंस डिफेंस लिमिटेड से साझेदारी का फैसला उसका अपना था. हालांकि, फ्रांस्वा ओलांद के बयान के बाद जहां एक ओर कांग्रेस मोदी सरकार पर आरोप लगा रही है, वहीं मोदी सरकार इस मामले में अपनी भूमिका से इनकार कर रही है. राफेल सौदे पर फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद के बयान को लेकर सरकार पर राहुल गांधी के वार पर पलटवार करते हुए भाजपा ने कांग्रेस को ‘‘भ्रष्टाचार की जननी’’ करार दिया और आरोप लगाया कि संप्रग शासन के दौरान बाहरी कारणों से राफेल सौदे को अंतिम रूप नहीं देने का दबाव था. वहीं राहुल गांधी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा है कि फ्रांस्वा ओलांद जो कह रहे हैं उसका मतलब यह है कि भारत के प्रधानमंत्री चोर हैं.

  • राफेल मामला : PM मोदी के इस्तीफे की मांग को लेकर कांग्रेस 27 सितम्बर को निकालेगी मार्च

    राफेल मामला : PM मोदी के इस्तीफे की मांग को लेकर कांग्रेस 27 सितम्बर को निकालेगी मार्च

    महाराष्ट्र कांग्रेस प्रमुख अशोक चव्हाण ने शनिवार को संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए मोदी पर प्रहार किया और दावा किया मोदी के लिए देश हित से ऊपर दोस्तों का व्यापारिक हित है.

  • राफेल डील पर तमाम आरोप-प्रत्यारोपों के बीच दसाल्ट एविएशन के CEO का वीडियो सामने आया

    राफेल डील पर तमाम आरोप-प्रत्यारोपों के बीच दसाल्ट एविएशन के CEO का वीडियो सामने आया

    राफेल डील पर तमाम आरोप-प्रत्यारोप के बीच फ्रांस में पीएम मोदी द्वारा राफेल डील करने से करीब 17 दिन पहले दसाल्ट के सीईओ एरिक ट्रैपियर का एक वीडियो सामने आया है.

  • राफेल डील पर कांग्रेस के आरोपों पर सीतारमण का पलटवार, कहा- “राहुल का पूरा खानदान चोर”

    राफेल डील पर कांग्रेस के आरोपों पर सीतारमण का पलटवार, कहा- “राहुल का पूरा खानदान चोर”

    रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने एक ट्वीट कर कहा है, सत्ता से बाहर होने की निराशा कांग्रेस में साफ देखी जा सकती है.

  • NEWS FLASH : शिखर धवन ने चौका लगाकर पूरा किया शतक, 95 गेंदों में 15 चौके और एक छक्‍का लगाया

    NEWS FLASH : शिखर धवन ने चौका लगाकर पूरा किया शतक, 95 गेंदों में 15 चौके और एक छक्‍का लगाया

    देश-दुनिया की राजनीति, खेल एवं मनोरंजन जगत से जुड़े समाचार इसी एक पेज पर जानें...

  • राफेल सौदे को लेकर भाजपा ने राहुल गांधी पर साधा निशाना, कांग्रेस पार्टी को बताया भ्रष्टाचार की जननी

    राफेल सौदे को लेकर भाजपा ने राहुल गांधी पर साधा निशाना, कांग्रेस पार्टी को बताया भ्रष्टाचार की जननी

    उन्होंने कहा कि राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के खिलाफ जिन शब्दों का इस्तेमाल किया, वैसे शब्दों का इस्तेमाल आजाद भारत में आज तक किसी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने प्रधानमंत्री के खिलाफ नहीं किया है. बिना किसी गुण और काबिलियत के, सिर्फ और सिर्फ अपने परिवार के कारण कांग्रेस अध्यक्ष बने राहुल गांधी से कोई और उम्मीद की भी नहीं जा सकती है.

  • राफेल डील पर बोले राहुल गांधी: फ्रांस्वा ओलांद भारत के प्रधानमंत्री को चोर कह रहे हैं

    राफेल डील पर बोले राहुल गांधी: फ्रांस्वा ओलांद भारत के प्रधानमंत्री को चोर कह रहे हैं

    राफेल सौदे (Rafale Deal)  को लेकर फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांस्वा होलांद (Francois Hollande) के बयान के बाद भारत में सियासी घमासान मच गया है. फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद का कहना है कि अनिल अंबानी के रिलायंस का नाम उन्हें भारत सरकार ने सुझाया था. उनके पास और कोई विकल्प नहीं था. बयान के बाद राहुल गांधी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस किया. राहुल गांधी ने मीडिया के सामने सबसे पहले फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति के बयान को पढ़ा.

  • राफेल डील पर फ्रांस्वा ओलांद का खुलासे के बाद अब कांग्रेस के निशाने पर अब फ्रांस सरकार

    राफेल डील पर फ्रांस्वा ओलांद का खुलासे के बाद अब कांग्रेस के निशाने पर अब फ्रांस सरकार

    राफेल सौदे में फ्रांस और दसॉल्ट एविएशन द्वारा पूर्व राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद के बयान से किनारा करने के बाद कांग्रेस ने शनिवार को कहा कि फ्रांस का बयान जितना खुलासा करता है, उससे कहीं ज्यादा तथ्यों को छिपाने वाला है. कांग्रेस के प्रवक्ता मनीष तिवारी ने ट्वीट कर कहा, "फ्रांस का बयान जितना खुलासा करता है, उससे कहीं ज्यादा छिपाने वाला है.

  • राफेल सौदे पर राहुल गांधी हमलावर , बोले- प्रधानमंत्री ने अनिल अंबानी के साथ सेना पर ऐसे की 'सर्जिकल स्ट्राइक'

    राफेल सौदे पर राहुल गांधी हमलावर , बोले- प्रधानमंत्री ने अनिल अंबानी के साथ सेना पर ऐसे की 'सर्जिकल स्ट्राइक'

    राफेल सौदे पर फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद के खुलासे के बाद कि भारत सरकार ने ही उन्हें अनिल अंबानी का नाम सुझाया था, पर भारत में अब सियासी घमासान जारी हो गया है. काफी समय से मोदी सरकार पर राफेल में घोटाले का आरोप लगा रही कांग्रेस को फ्रांस्वा ओलांदे के बयान ने मजबूती दी है और अब राहुल गांधी लगातार मोदी सरकार पर हमला बोल रहे हैं. शनिवार को राहुल गांधी ने ताजा ट्वीट कर एक बार फिर से मोदी सरकार को घेरा और पीएम मोदी पर जवानों की शहादत का अपमान करने का आरोप लगाया. बता दें कि राफेल डील को लेकर फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद ने कहा कि अनिल अंबानी के रिलायंस का नाम उन्हें भारत सरकार ने सुझाया था. उनके पास और कोई विकल्प नहीं था. एक फ़्रेंच अखबार को दिए इंटरव्यू में ओलांद ने कहा कि भारत सरकार के नाम सुझाने के बाद ही दसॉल्ट एविएशन ने अनिल अंबानी की रिलायंस डिफेंस से बात शुरू की.

  • Rafale Deal: शुरू से विवादों में रही है राफेल डील, 15 प्वाइंट्स में जानें कब क्या हुआ

    Rafale Deal: शुरू से विवादों में रही है राफेल डील, 15 प्वाइंट्स में जानें कब क्या हुआ

    राफेल डील (Rafale Deal) को लेकर फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद के खुलासे के बाद मचे घमासान के बीच फ्रांस सरकार और डसॉल्ट एविएशन का भी बयान आ गया है. एक तरीके से दोनों ने ओलांद के बयान से किनारा कर लिया है. फ्रांस सरकार ने कहा है कि इस सौदे के लिए भारतीय औद्योगिक साझेदारों को चुनने में फ्रांस सरकार की कोई भूमिका नहीं थी. तो दूसरी तरफ राफेल विमानों की निर्माता डसॉल्ट एविएशन ने कहा है कि डसॉल्ट ने खुद रिलायंस ग्रुप के साथ साझीदारी करने का फैसला किया था. दरअसल, फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद ने एक फ़्रेंच अखबार को दिए इंटरव्यू में कहा कि रिलायंस का नाम खुद भारत सरकार ने सुझाया था. उनके इस बयान से विपक्ष के आरोपों को बल मिला और विपक्ष सरकार पर हमलावर है. आइये आपको बताते हैं राफेल डील की शुरू से अब तक की पूरी कहानी. 

  • राफेल सौदे पर फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद के खुलासे के बाद हुईं ये 5 बड़ी बातें

    राफेल सौदे पर फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद के खुलासे के बाद हुईं ये 5 बड़ी बातें

    राफेल विमान सौदे में ‘ऑफसेट पार्टनर’ के संदर्भ में फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद के कथित बयान को लेकर कांग्रेस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोला और कहा कि अब साबित हो गया है कि ‘चौकीदार ही असली गुनहगार है.’

  • टॉप 5 खबरें : फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद के बयान पर घिरी मोदी सरकार, केजरीवाल ने पूछे 3 सवाल

    टॉप 5 खबरें :  फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद के बयान पर घिरी मोदी सरकार, केजरीवाल ने पूछे 3 सवाल

    फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद के खुलासे के बाद से भारत में राफेल डील को लेकर एक बार फिर से कांग्रेस ने मोदी सरकार पर हमले तेज कर दिये हैं. इसी बीच राफेल बनाने वाली कंपनी दसॉल्ट और फ्रांस सरकार की ओर से भी बयान आया है.

  • फ्रांस्वा ओलांद के खुलासे के बाद अब राफेल बनाने वाली कंपनी डसाल्ट एविएशन ने जारी किया बयान, पढ़ें क्या कहा

    फ्रांस्वा ओलांद के खुलासे के बाद अब राफेल बनाने वाली कंपनी डसाल्ट एविएशन ने जारी किया बयान, पढ़ें क्या कहा

    राफेल डील को लेकर फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद के ख़ुलासे के बाद अब डसाल्ट एविएशन (राफेल की निर्माता कंपनी) ने इस मामले पर बयान जारी किया है. डसाल्ट एविएशन ने कहा है कि यह दो सरकारों के बीच समझौता है. इसके अलावा ऑफ़सेट पार्टनर चुनने के लिए अलग समझौते का प्रावधान है.

  • राफेल पर सियासी घमासान: अरविंद केजरीवाल का मोदी सरकार पर हमला, PM मोदी से पूछे ये 3 बड़े सवाल

    राफेल पर सियासी घमासान: अरविंद केजरीवाल का मोदी सरकार पर हमला, PM मोदी से पूछे ये 3 बड़े सवाल

    राफेल सौदे (Rafale Deal) को लेकर फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद के बयान के बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल लगातार  मोदी सरकार पर हमला बोल रहे हैं. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के हमले के बाद दिल्ली के मुख्यमंत्राी अरविंद केजरीवाल ने  कई ट्वीट कर मोदी सरकार पर हमला बोला है और इस मामले में तीन सवाल पूछे हैं. आम आदमी पार्टी के मुखिया और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सरकार से सवाल पूछा कि आखिर केंद्र सरकार ने अनिल अंबानी को ही यह ठेका क्यों दिलवाया? गौरतलब है कि राफेल डील को लेकर फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद ने बड़ा ख़ुलासा किया है. उनका कहना है कि अनिल अंबानी के रिलायंस का नाम उन्हें भारत सरकार ने सुझाया था. उनके पास और कोई विकल्प नहीं था. एक फ़्रेंच अखबार को दिए इंटरव्यू में ओलांद ने कहा कि भारत सरकार के नाम सुझाने के बाद ही दसॉल्ट एविएशन ने अनिल अंबानी की रिलायंस डिफेंस से बात शुरू की. बता दें कि अप्रैल 2015 में जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी फ्रांस की यात्रा पर गए थे तब फ्रांस्वा ओलांद ही राष्ट्रपति थे. 

  • Rafale Deal Live Updates: ओलांद ने प्रधानमंत्री को 'चोर' कहा, सफाई दें मोदी : राहुल गांधी

    Rafale Deal Live Updates: ओलांद ने प्रधानमंत्री को 'चोर' कहा, सफाई दें मोदी : राहुल गांधी

    राफेल सौदे (Rafale Deal)  को लेकर फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांस्वा होलांद (Francois Hollande) के बयान के बाद भारत में सियासी घमासान मच गया है. फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद का कहना है कि अनिल अंबानी के रिलायंस का नाम उन्हें भारत सरकार ने सुझाया था.

Advertisement