NDTV Khabar

Railway


'Railway' - more than 1000 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • आरपीएफ के डीआईजी ने रेलवे अफसर की पत्नी से रात में ट्रेन में की अश्लील हरकत, मामला दर्ज

    आरपीएफ के डीआईजी ने रेलवे अफसर की पत्नी से रात में ट्रेन में की अश्लील हरकत, मामला दर्ज

    जबलपुर के रेलवे प्रोटेक्शन फोर्स (आरपीएफ) के डीआईजी के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है. डीआईजी विजय खातरकर ने कथित रूप से चलती ट्रेन में तड़के रेलवे के एक अधिकारी की पत्नी से अश्लील हरकत की. उनके खिलाफ छेड़छाड़ करने की शिकायत दर्ज कराई गई है. जबलपुर में राजकीय रेलवे पुलिस (जीआरपी) ने इस मामले में रिपोर्ट दर्ज की है.

  • अब डीआईजी साहब के ही खिलाफ लगा छेड़खानी का आरोप, रेलवे अधिकारी की पत्नी ने दर्ज कराया केस

    अब डीआईजी साहब के ही खिलाफ लगा छेड़खानी का आरोप, रेलवे अधिकारी की पत्नी ने दर्ज कराया केस

    सोमवार तड़के चलती ट्रेन में रेलवे अधिकारी की पत्नी से छेड़छाड़ करने के मामले में रेलवे प्रोटेक्शन फोर्स (आरपीएफ) के उप महानिरीक्षक विजय खातरकर के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है.  हालांकि, उप महानिरीक्षक (डीआईजी) की गिरफ्तारी अभी तक नहीं हो पाई है. राजकीय रेलवे पुलिस (जीआरपी) के अधीक्षक सुनील जैन ने बताया, ‘‘सीनियर डिविजनल स्तर के रेलवे अधिकारी की पत्नी अपनी 6 साल की बेटी के साथ इंदौर-जबलपुर ओवरनाइट एक्सप्रेस से जबलपुर आ रही थी. एसी-1 कोच में उनका रिजर्वेशन था.

  • पटना जा रही ‘अपर इंडिया एक्सप्रेस’ के 2 डिब्बे पटरी से उतरे, कोई हताहत नहीं 

    पटना जा रही ‘अपर इंडिया एक्सप्रेस’ के 2 डिब्बे पटरी से उतरे, कोई हताहत नहीं 

    पटना जा रही ‘अपर इंडिया एक्सप्रेस’ के दो डिब्बे रविवार को बक्सर जिले के चौसा स्टेशन के निकट पटरी से उतर गए. इस घटना में कोई हताहत नहीं हुआ है. चौसा के स्टेशन मास्टर मंसूर आलम ने बताया कि घटना में किसी के हताहत होने की खबर नहीं है क्योंकि ट्रेन की गति बेहद कम थी. घटना स्टेशन के पूर्वी केबिन के निकट सुबह 11:49 बजे की है.  

  • लोकसभा में 18 सालों में पहली बार आधी रात तक चली बहस, इस मुद्दे पर चर्चा हुई पूरी

    लोकसभा में 18 सालों में पहली बार आधी रात तक चली बहस, इस मुद्दे पर चर्चा हुई पूरी

    पिछले 18 सालों में पहली बार ऐसा हुआ जब लोकसभा में देर रात तक चर्चा हुई. रेलवे की अनुदान मांगों पर चर्चा रात में करीब 12 बजे तक चली. इस चर्चा के दौरान विपक्ष के संसद सदस्य भी मौजूद रहे.

  • अब टिकटों के लिए नहीं होगी मारामारी? अक्टूबर से ट्रेनों में बढ़ जाएंगी 4 लाख आरक्षित सीटें! जानिये क्या है रेलवे की योजना

    अब टिकटों के लिए नहीं होगी मारामारी? अक्टूबर से ट्रेनों में बढ़ जाएंगी 4 लाख आरक्षित सीटें! जानिये क्या है रेलवे की योजना

    यात्रियों के लिए आने वाले समय में रेल का आरक्षित टिकट आसानी से उपलब्ध हो सकता है. रेलवे ऐसे उपाय करने जा रही है, जिससे अक्टूबर से गाड़ियों में आरक्षित यात्रा के लिए रोजाना चार लाख से अधिक सीटें (बर्थ) बढ़ेंगी.

  • RRB Recruitment: सरकार ने कहा- 2.94 लाख से अधिक पदों पर भर्ती कर रहा है रेलवे

    RRB Recruitment: सरकार ने कहा- 2.94 लाख से अधिक पदों पर भर्ती कर रहा है रेलवे

    RRB Recruitment: सरकार ने बताया कि रेलवे (Railway) में इस साल एक जून को 2.98 लाख से अधिक पद खाली थे और 2.94 लाख कर्मचारियों के लिए भर्ती की प्रक्रिया चल रही है. रेल मंत्री पीयूष गोयल ने बुधवार को लोकसभा में कहा कि रेलवे में पिछले एक दशक में 4.61 लाख से अधिक लोगों की भर्ती की गयी. उन्होंने भर्ती की प्रक्रिया को लगातार चलने वाली प्रक्रिया बताते हुए कहा, ‘‘1,51,843 पदों के लिए परीक्षाएं आयोजित की गयी हैं और 2019-20 में 1,42,577 पदों के लिए परीक्षा आयोजित की जाएंगी. इसमें आर्थिक तौर पर कमजोर वर्गों (ईडब्ल्यूएस) के आरक्षण को ध्यान में रखा गया है.’’ बता दें कि रेलवे भर्ती बोर्ड पैरामेडिकल कैटेगरी (RRB Paramedical) के तहत विभिन्न पदों पर भर्ती के लिए परीक्षा आयोजित करने जा रहा है.  परीक्षा 19, 20 और 21 जुलाई को आयोजित की जाएगी. इस परीक्षा के बाद रेलवे एनटीपीसी (RRB NTPC),  मिनिस्ट्रियल एंड आइसोलेटिड कैटेगरी और ग्रुप डी (RRC Group D) की भर्ती परीक्षा आयोजित करेगा.

  • गोवा एयरपोर्ट पर रेलवे स्टेशन जैसे नजारा, जमीन पर सो रहे थे टूरिस्‍ट, भड़के अधिकारी

    गोवा एयरपोर्ट पर रेलवे स्टेशन जैसे नजारा, जमीन पर सो रहे थे टूरिस्‍ट, भड़के अधिकारी

    सत्तारूढ़ पार्टी की सहयोगी गोवा फॉरवर्ड पार्टी के उपाध्यक्ष दुर्गादास कामत समेत कई इंटरनेट यूजर्स ने राज्य के हवाईअड्डे के रेलवे स्टेशन में तब्दील हो जाने को लेकर चिंता जाहिर की.

  • Railway Jobs: रेलवे में 10वीं पास के लिए 2,167 पदों पर होगी भर्ती, आवेदन की आखिरी तारीख नजदीक

    Railway Jobs: रेलवे में 10वीं पास के लिए 2,167 पदों पर होगी भर्ती, आवेदन की आखिरी तारीख नजदीक

    RRB Recruitment 2019: रेलवे में निकले 2167 पदों पर आवेदन की आखिरी तारीख नजदीक है. रेलवे कनीय अभियंता, वाणिज्यिक क्लर्क और अन्य कई पदों पर भर्ती करेगा. इन पदों पर आवेदन करने की आखिरी तारीख 12 जुलाई है.  ये भर्ती स्टॉफ के रिएंगेजमेंट के लिए है. रिटायर हो चुके रेलवे कर्मचारी ही इन पदों पर आवेदन कर सकते हैं. अगर आप इन पदों पर आवेदन करना चाहते हैं तो नीचे दी गई जानकारी को ध्यान से पढ़ने के बाद ही अप्लाई करें. RRB Recruitment 2019 Railway Jobs

  • RRB NTPC Admit Card: जानिए रेलवे एनटीपीसी परीक्षा से जुड़ी हर जानकारी

    RRB NTPC Admit Card: जानिए रेलवे एनटीपीसी परीक्षा से जुड़ी हर जानकारी

    रेलवे में एनटीपीसी (RRB NTPC) के पदों पर होने वाली भर्ती परीक्षा की तारीख (RRB NTPC Exam Date) आने वाले दिनों में जारी कर दी जाएगी. एनटीपीसी परीक्षा इस महीने होना मुश्किल है क्योंकि रेलवे भर्ती बोर्ड (Railway Recruitment Board) इस महीने पैरामैडिकल कैटेगरी की भर्ती परीक्षा आयोजित कर रहा है. इस महीने की  19, 20 और 21 तारीख को पैरामैडिकल की परीक्षा आयोजित हो रही है.

  • Budget 2019 Highlights: स्वास्थ्य क्षेत्र को मिले 62,398 करोड़ रूपये, बीते दो वित्तीय वर्षों के मुकाबले सर्वाधिक

    Budget 2019 Highlights: स्वास्थ्य क्षेत्र को मिले 62,398 करोड़ रूपये, बीते दो वित्तीय वर्षों के मुकाबले सर्वाधिक

    वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने शुक्रवार को आगामी वित्त वर्ष 2019-2020 के लिए स्वास्थ्य क्षेत्र को 62,659.12 करोड़ रूपये देने की घोषणा की है. यह धनराशि बीते दो वित्तीय वर्षों में दी गई धनराशि से कहीं अधिक है. साल 2018-2019 के लिए पेश बजट में इस क्षेत्र को 52,800 करोड़ रूपये दिये गए थे.

  • Budget 2019: रेलवे को आवंटित हुए 65,837 करोड़ रुपए, इसी साल शुरू होगा स्टेशनों को मॉडर्न बनाने का काम

    Budget 2019: रेलवे को आवंटित हुए 65,837 करोड़ रुपए, इसी साल शुरू होगा स्टेशनों को मॉडर्न बनाने का काम

    केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने शुक्रवार को पेश किए गए बजट में रेलवे के लिए 65,837 करोड़ रुपए आवंटित किए और उसे पूंजीगत खर्च के लिए अब तक की सर्वाधिक 1.60 लाख करोड़ रुपए की राशि वितरित की गई. रेलवे में पूंजीगत खर्च के लिए पिछले साल 1.48 लाख करोड़ रुपए तय किए गए थे, जबकि बजट आवंटन 55,088 करोड़ रुपए था.

  • सैलरी क्‍लास बैठी थी आस लगाए, बजट हो गया गांव-गरीब, किसान और महिलाओं के नाम

    सैलरी क्‍लास बैठी थी आस लगाए, बजट हो गया गांव-गरीब, किसान और महिलाओं के नाम

    मिडिल क्‍लास बैठी रही आस लगाए और वित्तमंत्री गांव-गरीब, किसान, महिला के नाम कर गई बजट. पीएम मोदी अपनी प्रतिक्रिया देने आए तो वह भी कहकर चले गए कि गरीब, देश के विकास का पावर हाउस बनेंगे. इस बजट से गरीबों को बल मिलेगा और युवाओं को बेहतर कल मिलेगा.

  • Budget 2019: बजट के बाद क्या सस्ता हुआ और किसके बढ़े दाम, यहां पढ़ें पूरी लिस्ट

    Budget 2019: बजट के बाद क्या सस्ता हुआ और किसके बढ़े दाम, यहां पढ़ें पूरी लिस्ट

    दूसरे कार्यकाल के पहले आम बजट में अर्थव्यवस्था को गति देने के लिए मीडिया, विमानन, बीमा और एकल ब्रांड खुदरा क्षेत्र में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) के नियमों को उदार करने का प्रस्ताव किया गया है. बजट में बुनियादी आर्थिक और सामाजिक ढांचा के विस्तार, पेंशन और बीमा योजनाओं को आम लोगों की पहुंच के दायरे में ले जाने के विभिन्न प्रस्ताव किए गए हैं.

  • जब वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने पलटकर पूछ लिया- 1 करोड़ रुपये कैश में निकाल कर कोई क्या करेगा

    जब वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने पलटकर पूछ लिया- 1 करोड़ रुपये कैश में निकाल कर कोई क्या करेगा

    बजट पेश करने के बाद वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर मीडिया को सवालों के जवाब दिए. उनसे पूछा गया कि सरकार इतने बड़े बहुमत के साथ आई है लेकिन मीडिल क्लास के उम्मीदों को दरकिनार करते हुए 1 करोड़ रुपये बैंक से निकालने पर 2 फीसदी का टीडीएस लगा दिया साथ ही पेट्रोल-डीजल पर भी एक्साइज ड्यूटी को बढ़ा दिया है. इस पर वित्त मंत्री ने उल्टा सवाल पूछ लिया कि आप 1 करोड़ रुपये कैश निकालकर क्या करोगे मुझे समझ नहीं आ रहा है.

  • Budget 2019: गांव, गरीब और किसान को क्या मिला? इंडस्‍ट्रीज, रेलवे को सरकार ने क्‍या दिया?

    Budget 2019: गांव, गरीब और किसान को क्या मिला? इंडस्‍ट्रीज, रेलवे को सरकार ने क्‍या दिया?

    उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) ने अपने पहले कार्यकाल में ‘न्यू इंडिया’ के लिए काम शुरू कर दिया था. अब इन कार्यों की रफ्तार बढ़ाई जाएगी और आगे चलकर लालफीताशाही को और कम किया जाएगा. उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने पहले कार्यकाल में काम को पूरा कर के दिखाया. आम चुनाव में मतदाताओं ने काम करने वाली सरकार के पक्ष में मत दिया. उन्होंने कहा कि हमने अंतिम छोर तक कार्यक्रमों को पहुंचाया. अब कार्यक्रमों की रफ्तार तेज की जाएगी और लालफीताशाही को कम किया जाएगा. बजट में देश के तीन करोड़ खुदरा कारोबारियों और दुकानदारों को पेंशन सुविधा के तहत लाने की भी घोषणा की गयी है.

  • Budget 2019: अमीरों पर लगाम, मध्‍यम वर्ग को थोड़ी राहत और गांव-गरीब-महिला पर मेहरबान

    Budget 2019: अमीरों पर लगाम, मध्‍यम वर्ग को थोड़ी राहत और गांव-गरीब-महिला पर मेहरबान

    सरकार ने चालू वित्त वर्ष 2019-20 के लिए राजकोषीय घाटे के लक्ष्य को घटाकर सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) का 3.3 प्रतिशत कर दिया है. पहले इसके 3.4 प्रतिशत रहने का अनुमान लगाया गया था. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने 2019-20 का बजट पेश करते हुए कहा कि चालू वित्त वर्ष के लिए राजकोषीय घाटे के लक्ष्य को 3.3 प्रतिशत किया जा रहा है. सरकार ने फरवरी में 2019-20 का अंतरिम बजट पेश करते हुए राजकोषीय घाटा 3.4 प्रतिशत रहने का अनुमान लगाया था.

  • बजट 2019: टैक्‍स स्‍लैब नहीं बदला, घर-गाड़ी खरीदने पर छूट की घोषणा

    बजट 2019: टैक्‍स स्‍लैब नहीं बदला, घर-गाड़ी खरीदने पर छूट की घोषणा

    बैंकों से एक साल में एक करोड़ रुपये की अधिक की निकासी पर अब दो फीसदी टीडीएस (टैक्स डिडक्टेड एट सोर्स) लगेगा. यानी, बैंकों से एक करोड़ रुपये से ज्यादा की निकासी करने पर दो फीसदी कर चुकाना पड़ेगा. वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने शुक्रवार को संसद में मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का पहला पूर्ण बजट पेश करते हुए एक साल में एक करोड़ रुपये से ज्यादा की निकासी पर दो फीसदी टीडीएस लगाने की घोषणा की.

  • बजट 2019 : प्रचंड बहुमत पाने वाली मोदी सरकार ने आपको क्या दिया, 10 प्वाइंट्स में जानें

    बजट 2019 :  प्रचंड बहुमत पाने वाली मोदी सरकार ने आपको क्या दिया, 10 प्वाइंट्स में जानें

    'गांव, गरीब और किसान' तथा प्रत्येक नागरिक के जीवन को ‘‘अधिक सरल’’ बनाने के लक्ष्य के साथ पेश किए गये नरेन्द्र मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल के पहले आम बजट में अर्थव्यवस्था को गति देने के लिए मीडिया, विमानन, बीमा और एकल ब्रांड खुदरा क्षेत्र में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) के नियमों को उदार करने का प्रस्ताव किया गया है. बजट में बुनियादी आर्थिक और सामाजिक ढांच के विस्तार, पेंशन और वीमा योजाओं को आम लोगों की पहुंच के दायरे में ले जाने के विभिन्न प्रस्ताव किए गए है. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा शुक्रवार को लोकसभा में पेश किए गए वित्त वर्ष 2019-20 के अपने बजट भाषण में कहा कि हालिया चुनाव में एक आकर्षक और मजबूत भारत की उम्मीदें लहरा रही थीं और लोगों ने एक ऐसी सरकार को चुना जिसने काम कर के दिखाया. उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) ने अपने पहले कार्यकाल में ‘न्यू इंडिया’ के लिए काम शुरू कर दिया था. अब इन कार्यों की रफ्तार बढ़ाई जाएगी और आगे चलकर लालफीताशाही को और कम किया जाएगा. उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने पहले कार्यकाल में काम को पूरा कर के दिखाया. आम चुनाव में मतदाताओं ने काम करने वाली सरकार के पक्ष में मत दिया.