NDTV Khabar

Rain in Bihar


'Rain in Bihar' - 73 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • Rain In Delhi: दिल्ली-NCR को है बारिश का इंतजार, लेकिन मौसम विभाग से आई ये रिपोर्ट

    Rain In Delhi:  दिल्ली-NCR को है बारिश का इंतजार, लेकिन मौसम विभाग से आई ये रिपोर्ट

    मौसम विभाग के वरिष्ठ वैज्ञानिक  नरेश कुमार ने बताया है कि दिल्ली-एनसीआर, पंजाब-हरियाणा में अगले 5 दिन तक बारिश कोई आसार नहीं है. हालांकि उन्होंने कहीं किसी इलाके में छिटपुट बारिश की संभावना जताई है. कुल मिलाकर इस इलाके में 5 दिन की तक गर्मी और उमस झेलनी पड़ेगी. उन्होंने बताया कि बिहार और उत्तर पूर्व के राज्यों में अगले दो दिन में भारी बारिश का अनुमान है.  

  • बिहार में बाढ़ के बाद अब डेंगू बनी बड़ी समस्या, 1400 से ज्यादा मामले आए सामने

    बिहार में बाढ़ के बाद अब डेंगू बनी बड़ी समस्या, 1400 से ज्यादा मामले आए सामने

    बता दें कि प्रशासन की तरफ से जारी आंकड़ों के अनुसार राज्यभर में डेंगू से प्रभावित मरीजों में 20 फीसदी मरीज की उम्र 17 साल या इससे कम है. राज्य सरकार की तरफ से खासतौर पर छात्रों के लिए एक एडवाइजरी भी जारी की गई है. जिसमें उनसे पूरे बाजू का शर्ट पहनने को कहा गया है. 

  • करीब एक महीने की देरी के बाद 10 अक्टूबर से लौटेगा मानसून: आईएमडी

    करीब एक महीने की देरी के बाद 10 अक्टूबर से लौटेगा मानसून: आईएमडी

    मौसम विभाग ने एक पूर्वानुमान में कहा, 'राजस्थान में औसत समुद्र तल से करीब डेढ़ किमी ऊपर छह अक्टूबर के आस-पास हवा के उच्च दबाव का क्षेत्र बनने के कारण उत्तर पश्चिमी भारत से 10 अक्तूबर के करीब दक्षिण-पश्चिम मानसून की वापसी शुरू होने की उम्मीद है.' 

  • Bihar: बाढ़ के बाद महामारी की आशंकाओं के बीच अस्पताल अलर्ट पर, जारी किए टोल फ्री नंबर

    Bihar: बाढ़ के बाद महामारी की आशंकाओं के बीच अस्पताल अलर्ट पर, जारी किए टोल फ्री नंबर

    पूरे प्रदेश में डेंगू और चिकनगुनया से प्रभावित लोगों की संख्या 900 के पार पहुंच गई है. जिसमें अकेले पटना में क़रीब 520 मामले हैं. शनिवार को डेंगू के 120 मामले पॉजिटिव पाए गए. जबकि चिकनगुनिया के भी 70 से ज़्यादा मामले सामने आ चुके हैं. महामारी की आशंकाओं के बीच बिहार सरकार ने सभी अस्पतालों को अलर्ट पर रखते हुए सभी सुविधाओं को जनता के लिए उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं.

  • बिहार में बाढ़ और बारिश के बाद अब डेंगू-चिकनगुनिया की मार, मरीजों की संख्या 900 के पार पहुंची

    बिहार में बाढ़ और बारिश के बाद अब डेंगू-चिकनगुनिया की मार, मरीजों की संख्या 900 के पार पहुंची

    बिहार में बाढ़, बारिश और जल जमाव से बुरे हालात हैं. राज्य में 160 से ज़्यादा लोगों की मौत हो चुकी है जबकि अब महामारी का ख़तरा मंडरा रहा है. पूरे प्रदेश में डेंगू और चिकनगुनया से प्रभावित लोगों की संख्या 900 के पार पहुंच गई है. जिसमें अकेले पटना में क़रीब 520 मामले हैं. शनिवार को डेंगू के 120 मामले पॉजिटिव पाए गए. जबकि चिकनगुनिया के भी 70 से ज़्यादा मामले सामने आ चुके हैं. वहीं पटना में हुई बाढ़ से दुदर्शा के बाद चारो ओर से घिरे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को केंद्रीय मंत्री राम विलास पासवान का साथ मिला है.  हालांकि पासवान ने पटना का जल जमाव का कोई ज़िक्र तो नहीं किया लेकिन उन्होंने शनिवार को एक ट्वीट कर ज़रूर कहा कि राज्य के मुखिया के तौर पर आपने सुशासन की नयी परिभाषा लिखी है.   

  • भाजपा जलजमाव के बहाने आख़िर नीतीश कुमार को निशाने पर क्यों रख रही है?

    भाजपा जलजमाव के बहाने आख़िर नीतीश कुमार को निशाने पर क्यों रख रही है?

    बिहार की राजधानी पटना में जलजमाव के बहाने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को जितना विपक्षी राष्ट्रीय जनता दल (राजद) की आलोचना का सामना नहीं करना पड़ रहा है उससे कहीं अधिक आलोचना उनको अपने सहयोगी भाजपा के नेताओं की झेलनी पड़ रही है जिसका नेतृत्व केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह कर रहे हैं.

  • पटना की मेयर जलजमाव के मुद्दे पर संवाददाता सम्मेलन में क्यों पानी पानी हो गयीं? देखें VIDEO

    पटना की मेयर जलजमाव के मुद्दे पर संवाददाता सम्मेलन में क्यों पानी पानी हो गयीं? देखें VIDEO

    पटना शहर में जल जमाव को लेकर प्रभावित इलाकों में सभी जनप्रतिनिधियों के खिलाफ गुस्‍सा है फिर चाहे वो मंत्री हों, विधायक या मेयर. इसका अंदाज़ा इन सबों को है लेकिन अब अपनी गलतियों को स्वीकार करने की बजाय मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर सारा ठीकरा फ़ोड़ने की एक रणनीति के तहत ये लोग बारी-बारी से संवादाता सम्मेलन कर रहे हैं.

  • Bihar Floods: पटना में अब भी कई जगह जलजमाव, अब डेंगू और चिकनगुनिया का बढ़ा खतरा

    Bihar Floods: पटना में अब भी कई जगह जलजमाव, अब डेंगू और चिकनगुनिया का बढ़ा खतरा

    राजधानी पटना में बारिश थमने के बाद भी कई इलाकों में अभी भी पानी जमा है. कुछ इलाकों में पानी निकाला गया है जहां अब महामारी का ख़तरा बन गया है.

  • Rain News: दिल्ली में शाम तक हल्की बारिश, मध्य प्रदेश में बादलों का डेरा, जानें अन्य राज्यों का हाल

    Rain News: दिल्ली में शाम तक हल्की बारिश, मध्य प्रदेश में बादलों का डेरा, जानें अन्य राज्यों का हाल

    मौसम विभाग ने शाम तक दिल्ली  में हल्की बारिश होने की संभावना जताई है. मौसम विभाग के अधिकारी ने बताया कि सुबह साढ़े आठ बजे न्यूनतम तापमान 23.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जो कि सामान्य से एक डिग्री अधिक था. आर्द्रता 85 प्रतिशत रही. मौसम विभाग ने शाम को बादल छाए रहने के साथ हल्की बारिश का अनुमान जताया है.

  • नीतीश कुमार को गुस्सा क्यों आता है

    नीतीश कुमार को गुस्सा क्यों आता है

    इस बात में कोई विवाद नहीं हैं कि जलजमाव के बहाने चमकी बुखार की तरह नीतीश कुमार को मीडिया का एक तबका जिसकी भक्ति उनके सहयोगी भाजपा सरकारों और नेताओं के लिए जगज़ाहिर हैं के निशाने पर वो एक बार फिर हैं. नीतीश सरकार ने पटना के टाउन प्लानिंग की अपने शासन काल में जमकर उपेक्षा की इस बात पर कोई दो मत नहीं हैं. इसका खामियाजा पटना के लोगों को उठाना पड़ रहा है. लेकिन यह भी सच है कि जिस नगर विकास विभाग, नगर निगम या अन्य संस्थाओं ( जिनका जिम्मेदारी राजधानी पटना का विकास करना है) के बॉस भाजपा के लोग रहे. खासकर उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी. पटना में सभी विधायक भाजपा के हैं.

  • पटना के ड्रेनेज सिस्‍टम पर कितना ध्‍यान दिया गया?

    पटना के ड्रेनेज सिस्‍टम पर कितना ध्‍यान दिया गया?

    आप चैनलों पर बाढ़ का कवरेज देख रहे होंगे. लेकिन थोड़ा ध्यान से देखिए. आप देख रहे होंगे कि नाव पर रिपोर्टर है जो पानी दिखा रहा है. परेशान लोग चीख रहे हैं और सरकार को कोस रहे हैं. मंत्री बादलों को कोस रहे हैं और आश्वासन दे रहे हैं. स्क्रीन पर सरकार को कोसने वाले नारे लिखे गए हैं. कहां हैं सरकार से लेकर शर्म करो नीतीश कुमार तक. यहां तक बिल्कुल ठीक है और लोगों की परेशानी को सामने लाना बेहद ज़रूरी भी लेकिन सुबह से शाम तक इसी तरह रिपोर्टिंग देखते देखते क्या आप जान पाते हैं कि पटना शहर में नगर विकास को लेकर पिछले दिनों क्या हुआ, क्या यह सिर्फ प्रकृति की मार थी या अफसरों और योजना बनाने वालों की लापरवाही थी. इस संकट का ज़िम्मेदार कौन है?

  • गृह राज्य मंत्री किशन रेड्डी ने बिहार की बाढ़ पर जताई चिंता, कहा- जरूरत पर रवानगी के लिए तैयार हैं अर्द्धसैनिक बल

    गृह राज्य मंत्री किशन रेड्डी ने बिहार की बाढ़ पर जताई चिंता, कहा- जरूरत पर रवानगी के लिए तैयार हैं अर्द्धसैनिक बल

    केंद्रीय गृह राज्य मंत्री जी किशन रेड्डी ने बिहार में बाढ़ की स्थिति को गंभीर बताते हुए राज्य को हर संभव मदद का आश्वासन दिया.

  • बिहार के पानी-पानी होने की कहानी

    बिहार के पानी-पानी होने की कहानी

    गनीमत है कि बगल की गंगा के कारण पटना में पानी नहीं जमा है. आप सोच रहे होंगे कि इस तबाही के बाद पटना गंभीर हो जाएगा तो आप फणीश्वर नाथ रेणु को पढ़िए. बाढ़ पर उससे अच्छी रिपोर्टिंग आपको नहीं मिलेगी. 1975 की बाढ़ का रिपोर्ताज ऋणजल धनजल नाम से प्रकाशित है. उसमें जो पटना दिख रहा है वो आज भी वैसा ही है. समय की सारी अवधारणाओं को ध्वस्त करते हुए अपनी अव्यवस्थाओं से परे पटना के लोग लाचार सरकार की तरफ नहीं

  • पटना में जलजमाव के लिए जिम्मेदार कौन?

    पटना में जलजमाव के लिए जिम्मेदार कौन?

    पटना में जो जलजमाव देखा जा रहा है वैसा पिछले कुछ दशकों में नहीं देखा गया. जलजमाव की जो तस्‍वीरें और वीडियो हर घंटे सामने आ रहे हैं उसमें बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उनके सहयोगी BJP के उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी की छवि को धोकर रख दिया है.

  • बिहार में बाढ़ से बिगड़े हालात: राहुल गांधी ने कार्यकर्ताओं को दिया निर्देश, कहा-बगैर देरी किए करें मदद

    बिहार में बाढ़ से बिगड़े हालात: राहुल गांधी ने कार्यकर्ताओं को दिया निर्देश, कहा-बगैर देरी किए करें  मदद

    उत्तर प्रदेश और बिहार में बीते कुछ दिनों से हो रही मुसलाधार बारिश ने कहर बरपाया हुआ है. दोनों राज्यों के कई जिलों में आम जनजीवन अस्तव्यस्त हो गया है. मौसम विभाग के अनुसार इन दोनों ही राज्यों के अलगे 48 घंटे बेहद अहम होने वाले हैं. विभाग ने रविवार को कहा था कि दोनों ही राज्यों के अगले दो से तीन दिन बेहद अहम होने वाले हैं. इस दौरान दोनों ही राज्यों में भारी से भारी बारिश  का अनुमान जताया गया है. विभाग के इस अलर्ट ने राज्य सरकारों की मुश्किलें और बढ़ा दी है.

  • उत्तर प्रदेश -बिहार के लिए अगले 48 घंटे बेहद अहम, मौसम विभाग ने जारी की चेतावनी

    उत्तर प्रदेश -बिहार के लिए अगले 48 घंटे बेहद अहम, मौसम विभाग ने जारी की चेतावनी

    बता दें कि इन दोनों राज्यों में अभी तक बारिश की वजह से 100 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई है. अकेले यूपी में कुल 93 लोगों की मौत हुई है. बिहार में शुक्रवार से हो रही लगातार बारिश की वजह से रेल यातायात और स्वास्थ्य सुविधाएं प्रभावित हुई हैं. मौसम विभाग के एक अधिकारी ने पूर्वानुमान जताया कि बिहार के अधिकतर इलाकों में अगले 48 घंटे तक मध्यम से भारी बारिश होगी और स्थिति तीन अक्टूबर के बाद सामान्य होगी.

  • Bihar, UP Rain News Updates : बाढ़ में फंसे लोगों को सुरक्षित जगह पर पहुंचाया जा रहा है

    Bihar, UP Rain News Updates : बाढ़ में फंसे लोगों को सुरक्षित जगह पर पहुंचाया जा रहा है

    बता दें कि मौसम विभाग द्वारा जारी अलर्ट के अनुसार बिहार और यूपी के कुछ जिलों में भारी से भारी बारिश हो सकती है. बिहार की राजधानी पटना में भी बारिश की वजह से जनजीवन प्रभावित हुआ है. वहीं, यूपी के सीएम ने बारिश के अलर्ट को देखते हुए सभी सरकारी अधिकारी की छुट्टी रद्द कर दी है.

  • बिहार में बारिश का सितम जारी: अस्पतालों में घुसा पानी, NDRF की कई टीमें राहत बचाव कार्य में जुटीं, अभी तक 27 की मौत

    बिहार में बारिश का सितम जारी: अस्पतालों में घुसा पानी, NDRF की कई टीमें राहत बचाव कार्य में जुटीं, अभी तक 27 की मौत

    भागलपुर जिले के बरारी थानाक्षेत्र में भारी बारिश के कारण अलग अलग अलग स्थानों पर दीवार गिरने से मलबे के नीचे दबकर छह लोगों की मौत हो गई जबकि एक अन्य व्यक्ति जख्मी हो गया. भागलपुर के जिलाधिकारी प्रणव कुमार ने बताया कि भारी बारिश के कारण बरारी थानाक्षेत्र स्थित हनुमान मंदिर की चहारदीवारी के अचानक गिर जाने से तीन लोगों की मौत हो गई जबकि एक अन्य व्यक्ति जख्मी हो गया.

Advertisement

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com