NDTV Khabar

Rajasthan assembly elections 2018


'Rajasthan assembly elections 2018' - 226 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • राजनीति की भट्टी में पिघलाया जा रहा स्टील प्रेम...

    राजनीति की भट्टी में पिघलाया जा रहा स्टील प्रेम...

    पहले देश के तीन राज्य के लोगों ने सत्ता में बैठे राजनीतिक दलों में बदलाव किया. नई पार्टी सत्ता पर आसीन हुई, और गद्दी पर आने के बाद उसने जो दूसरा बड़ा काम किया, वह था - बड़ी संख्या में प्रशासनिक फेरबदल. मीडिया में इसे 'प्रशासनिक सर्जरी' कहा गया. 'सर्जरी' किसी खराबी को दुरुस्त करने के लिए की जाती है. ज़ाहिर है, इससे ऐसा लगता है कि इनके आने से पहले प्रशासन में जो लोग थे, वे सही नहीं थे. अब उन्हें ठिकाने (बेकार के पद) लगाया जा रहा है, जैसा व्यक्तिगत रूप से बातचीत के दौरान एक नेता ने थोड़ा शर्माते हुए कहा था, "पहले उनके लोगों ने मलाई खाई, अब हमारे लोगों की बारी है..."

  • तीसरी बार राजस्थान के मुख्यमंत्री बने अशोक गहलोत के पास है कुल इतनी संपत्ति

    तीसरी बार राजस्थान के मुख्यमंत्री बने अशोक गहलोत के पास है कुल इतनी संपत्ति

    पहली बार 1 दिसबंर 1998 में वो मुख्यमंत्री बने थे और पांच साल तक कांग्रेस सरकार चलाई थी. साल 2008 में कांग्रेस पार्टी राजस्थान में फिर से सत्ता में आई और गहलोत दूसरी बार मुख्यमंत्री बने थे.

  • अशोक गहलोत तीसरी बार बने राजस्थान के सीएम, शपथ ग्रहण समारोह में दिखी विपक्ष की एकजुटता

    अशोक गहलोत तीसरी बार बने राजस्थान के सीएम, शपथ ग्रहण समारोह में दिखी विपक्ष की एकजुटता

    गहलोत तीसरी बार राजस्थान के मुख्यमंत्री बने हैं. राज्य में तीसरी बार मुख्यमंत्री बनने वाले वह चौथे नेता हैं. गहलोत से पहले भैंरो सिंह शेखावत और हरिदेव जोशी तीन-तीन बार मुख्यमंत्री रहे. हालांकि मोहन लाल सुखाड़िया सबसे अधिक चार बार इस पद पर रहे. गहलोत 1998 में पहली बार और 2008 में दूसरी बार मुख्यमंत्री बने थे. इंदिरा गांधी के समय से राजनीति में सक्रिय गहलोत केंद्र में मंत्री भी रहे हैं. राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी में कई अहम पदों पर रह चुके गहलोत तीन बार कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष रहे हैं. गहलोत ने राजनीति के अलावा 1971 में बांग्लादेश के मुक्ति संग्राम के दौरान पश्चिम बंगाल में बांग्लादेशी शरणार्थियों के शिविरों में काम किया और कई सामाजिक गतिविधियों में शामिल रहे.

  • 2019 में लोकसभा चुनाव जीतने के लिए अब कांग्रेस को संभाल कर रखने होंगे 65 'कदम'

    2019 में लोकसभा चुनाव जीतने के लिए अब कांग्रेस को संभाल कर रखने होंगे 65 'कदम'

    कई सालों के बाद कांग्रेस को खुशी नसीब हुई है. उसके आज तीन-तीन मुख्यमंत्रियों का शपथग्रहण है. छत्तीसगढ़ में रविवार को भूपेश बघेल को सीएम बनाने का ऐलान किया है. इस फैसले कांग्रेस ने एक तीर से दो शिकार किए हैं. बघेल ओबीस समुदाय से आते हैं.

  • अशोक गहलोत, कमलनाथ और भूपेश बघेल आज लेंगे CM पद की शपथ, विपक्षी एकता का होगा प्रदर्शन

    अशोक गहलोत, कमलनाथ और भूपेश बघेल आज लेंगे CM पद की शपथ, विपक्षी एकता का होगा प्रदर्शन

    मध्यप्रदेश में कांग्रेस विधायक दल के नेता कमलनाथ सोमवार को यहां एक भव्य समारोह में मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे. कमलनाथ दोपहर 1 बजे शपथ लेंगे.

  • बीजेपी शासन के दौरान 6 महीने जेल में रहा यह किसान नेता, अब बीजेपी प्रत्याशी को ही दी चुनाव में पटखनी

    बीजेपी शासन के दौरान 6 महीने जेल में रहा यह किसान नेता, अब बीजेपी प्रत्याशी को ही दी चुनाव में पटखनी

    बलवान पूनिया ने राजस्थान के हनुमानगढ़ जिले के भद्रा विधान सभा क्षेत्र से बीजेपी प्रत्याशी संजीव कुमार को लगभग 23 हजार वोटों से मात दी है. आपको बता दें कि संजीव कुमार 2013 में बीजेपी टिकट से यहां चुनाव जीते थे, जबकि 1998 में कांग्रेस केे टिकट से जीत हासिल की थी, लेकिन इस बार बलवान पूनिया ने धूल चटा दी. 

  • तीन राज्यों में बीजेपी की हार पर बोले पार्टी नेता- कुछ लोग पार्टी में तानाशाह हो गए थे, प्रभु सद्‌बुद्धि दें

    तीन राज्यों में बीजेपी की हार पर बोले पार्टी नेता- कुछ लोग पार्टी में तानाशाह हो गए थे, प्रभु सद्‌बुद्धि दें

    राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनावों में बीजेपी की हार पर यूपी के वरिष्ठ नेता आईपी सिंह ने कुछ पार्टी नेताओं को तानाशाह बताते हुए कहा- प्रभु उन्हें सद्बुद्धि दें.

  • सबसे धनी उम्मीदवार वोटों के मामले में साबित हुई कंगाल, जमानत भी नहीं बचा पाई

    सबसे धनी उम्मीदवार वोटों के मामले में साबित हुई कंगाल, जमानत भी नहीं बचा पाई

    इस बार विधानसभा चुनाव में सबसे अमीर प्रत्याशी जमींदारा पार्टी की कामिनी जिंदल (घोषित आय 287 करोड़ रुपए) थीं. पिछली विधानसभा में सबसे धनी विधायक रही कामिनी गंगानगर सीट पर इस बार अपनी जमानत तक नहीं बचा सकीं. केवल 4887 मतों के साथ वे छठे स्थान पर रहीं. रोचक बात यह है कि गंगानगर की चर्चित सीट पर निर्दलीय राजकुमार गौड़ विजयी रहे जो कांग्रेस के बागी हैं.

  • जब-जब जिस पार्टी ने किया किसानों की कर्ज माफी का किया वादा, उसने मारी चुनाव में बाजी!

    जब-जब जिस पार्टी ने किया किसानों की कर्ज माफी का किया वादा, उसने मारी चुनाव में बाजी!

    कांग्रेस ने इन चुनावों के दौरान वादा किया कि उनकी सरकार बनने के बाद 10 दिनों के भीतर किसानों का कर्ज माफ कर दिया जाएगा. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने खुद कई रैलियों को संबोधित करते हुए यह वादा किया था और घोषणा पत्र में भी इसका जिक्र किया गया. इतना ही नहीं कांग्रेस ने किसानों के मुद्दों को लेकर नरेंद्र मोदी सरकार पर निशाना भी साधा. इसके बाद कांग्रेस ने पांच राज्यों में से राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में जीत भी हासिल की.

  • अशोक गहलोतः जादूगर के बेटे की राजनीति में जादुई चालें चलने की कहानी

    अशोक गहलोतः  जादूगर के बेटे की राजनीति में जादुई चालें चलने की कहानी

    Ashok Gehlot: Age, Biography, Education, Wife, Caste, Net Worth : राजस्थान के मुख्यमंत्री बनाए गए अशोक गहलोत के बारे में जानिए.

  • अशोक गहलोत होंगे राजस्थान के मुख्यमंत्री, सचिन पायलट चुने गए डिप्टी सीएम

    अशोक गहलोत होंगे राजस्थान के मुख्यमंत्री, सचिन पायलट चुने गए डिप्टी सीएम

    राजस्थान में कांग्रेस की जीत के बाद से ही इस बात पर सबकी नजरें टिकीं थीं कि आखिर राजस्थान का सीएम कांग्रेस किसे बनाती है. मगर अब राजस्थान के सीएम पर से सस्पेंस खत्म हो गया है. राहुल गांधी ने अशोक गहलोत के नाम पर मंजूरी दे दी है.

  • मुख्यमंत्री पर मंथन : राजस्थान के मुख्यमंत्री होंगे अशोक गहलोत, सचिन पायलट डिप्टी सीएम, छत्तीसगढ़ पर सस्‍पेंस

    मुख्यमंत्री पर मंथन : राजस्थान के मुख्यमंत्री होंगे अशोक गहलोत, सचिन पायलट डिप्टी सीएम, छत्तीसगढ़ पर सस्‍पेंस

    मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में मुख्यमंत्री के नाम पर बना सस्पेंस खत्म हो गया है और लोकसभा चुनाव 2019 से पहले अनुभव को तरजीह देते हुए कांग्रेस ने कमलनाथ के नाम को मुख्यमंत्री पद लिए हरी झंडी दे दी है. हालांकि, राजस्थान (Rajasthan) और छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) पर फैसला अभी भी बाकी है. राजस्थान में मुख्यमंत्री के नाम को लेकर सुबह से शुरू हुआ सियासी ड्रामा देर रात तक चला. मगर तब भी किसी एक नाम पर सहमति नहीं बनी. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने राजस्थान और छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्रियों पर फैसला शुक्रवार के लिए टाल दिया है क्योंकि वह इस विषय पर पार्टी नेताओं से और चर्चा करना चाहते हैं. सूत्रों के अनुसार गांधी ने छत्तीसगढ़ के नये मुख्यमंत्री पर फैसला करने के लिए गुरुवार को प्रदेश के पार्टी नेताओं से चर्चा की मगर दावेदारों से और चर्चा करने के लिए फैसला शुक्रवार के लिए टाल दिया. कांग्रेस अध्यक्ष ने राजस्थान के मुख्यमंत्री पद के दावेदारों अशोक गहलोत और सचिन पायलट के साथ कई बैठकें कीं, लेकिन उनके बीच कोई सहमति नहीं बन पायी. पायलट ने इस शीर्ष पद के लिए दावा किया. राहुल गांधी के निवास के बाहर पायलट के समर्थकों ने उनके समर्थन में नारे भी लगाए.

  • जनता ने चंदा देकर चुनाव लड़वाया और बीजेपी-कांग्रेस को धूल चटाकर विधायक बन गया यह कर्जदार किसान

    जनता ने चंदा देकर चुनाव लड़वाया और बीजेपी-कांग्रेस को धूल चटाकर विधायक बन गया यह कर्जदार किसान

    लोकतंत्र में सब संभव है. राजस्थान के विधानसभा चुनाव में एक विरला उदाहरण सामने आया जहां एक कर्ज से दबे रहने वाले किसान ने बीजेपी और कांग्रेस के दमदार उम्मीदवारों को धूल चटा दी. और चुनाव में भी इस किसान को कोई राशि खर्च नहीं करनी पड़ी. चुनाव पर भारी व्यय करने में असमर्थ यह किसान जनता द्वारा एकत्रित पैसों से चुनाव लड़ा और विधायक चुना गया.

  • जनता ने चंदा देकर चुनाव लड़वाया और बीजेपी-कांग्रेस को धूल चटाकर विधायक बन गया यह कर्जदार किसान

    जनता ने चंदा देकर चुनाव लड़वाया और बीजेपी-कांग्रेस को धूल चटाकर विधायक बन गया यह कर्जदार किसान

    लोकतंत्र में सब संभव है. राजस्थान के विधानसभा चुनाव में एक विरला उदाहरण सामने आया जहां एक कर्ज से दबे रहने वाले किसान ने बीजेपी और कांग्रेस के दमदार उम्मीदवारों को धूल चटा दी. और चुनाव में भी इस किसान को कोई राशि खर्च नहीं करनी पड़ी. चुनाव पर भारी व्यय करने में असमर्थ यह किसान जनता द्वारा एकत्रित पैसों से चुनाव लड़ा और विधायक चुना गया.

  • राजस्थान में सीएम पद की रस्साकशी के बीच सचिन पायलट ने समर्थकों से की यह अपील...

    राजस्थान में सीएम पद की रस्साकशी के बीच सचिन पायलट ने समर्थकों से की यह अपील...

    राजस्थान में मुख्यमंत्री की कुर्सी को लेकर रस्साकशी जारी है. सचिन पायलट (Sachin Pilot) और अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) दिल्ली में डेरा डाले हुए हैं. उनके समर्थकों का भी सब्र जवाब दे रहा है. राजस्थान के करौली में कथित तौर पर सचिन पायलट के समर्थकों ने हंगामा किया और हाइवे जाम कर दिया.

  • राजस्थान, MP में सीएम पर अब भी सस्पेंस, जानिये कौन है सोनिया गांधी की पसंद...

    राजस्थान, MP में सीएम पर अब भी सस्पेंस, जानिये कौन है सोनिया गांधी की पसंद...

    राजस्थान और मध्यप्रदेश में कौन बनेगा मुख्यमंत्री इसे लेकर सस्पेंस अभी बना हुआ है. ज्योतिरादित्य सिंधिया अभी दिल्ली में ही हैं. इस संकट का हल निकालने के लिए बैठकों का दौर अब भी जारी है. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने अशोक गहलोत (Ashok gehlot) और सचिन पायलट (Sachin Pilot) के साथ आज बैठक भी की, लेकिन अभी कोई हल नहीं निकल सका है. सचिन पायलट जहां राहुल गांधी की पसंद बताए जा रहे हैं, वहीं सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) चाहती हैं गहलोत मुख्यमंत्री बनें.

  • मध्यप्रदेश में सीएम पर सस्पेंस 'खत्म', भोपाल में कांग्रेस कार्यालय के बाहर लगे बधाई वाले पोस्टर...

    मध्यप्रदेश में सीएम पर सस्पेंस 'खत्म', भोपाल में कांग्रेस कार्यालय के बाहर लगे बधाई वाले पोस्टर...

    विधानसभा चुनाव परिणाम के बाद कांग्रेस में राजस्थान और मध्यप्रदेश में सीएम पद को लेकर माथापच्ची जारी है. सूत्रों की मानें तो ज्योतिरादित्य सिंधिया (jyotiraditya Scindia) पर कमलनाथ (Kamal Nath) का पलड़ा भारी है. इस बीच मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल स्थित कांग्रेस कार्यालय के बाहर पोस्टर लगे दिखाई दे रहे हैं, जिनमें कमलनाथ को मुख्यमंत्री बनने पर बधाई दी गई है.

  • चुनावी नतीजों के बाद संसद भवन में आमने-सामने हुए PM मोदी-राहुल गांधी, जानिये कैसा रहा रिएक्शन

    चुनावी नतीजों के बाद संसद भवन में आमने-सामने हुए PM मोदी-राहुल गांधी, जानिये कैसा रहा रिएक्शन

    पांच राज्यों में हुए विधानसभा चुनाव के परिणाम आने के बाद पीएम मोदी (PM Modi) और राहुल गांधी (Rahul Gandhi) का आमना-सामना हुआ, लेकिन दोनों में कोई बात नहीं हुई. दोनों नेता 17 साल पहले संसद पर हुए आतंकी हमले के दौरान मारे गए लोगों के लिए आयोजित श्रद्धांजलि कार्यक्रम में शामिल हुए थे.