NDTV Khabar

Rajya sabha


'Rajya sabha' - 768 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • पूर्व पीएम डॉ. मनमोहन सिंह ने छठवीं बार ली राज्यसभा सदस्य के रूप में शपथ

    पूर्व पीएम डॉ. मनमोहन सिंह ने छठवीं बार ली राज्यसभा सदस्य के रूप में शपथ

    पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह (Manmohan Singh) ने शुक्रवार को राज्यसभा के सदस्य के रूप में छठवीं बार शपथ ली. राज्यसभा के सभापति एम वेंकैया नायडू ने 86 वर्षीय सिंह को अपने कक्ष में शपथ दिलाई.

  • नीरज शेखर अब बीजेपी से राज्यसभा में पहुंचे, निर्विरोध निर्वाचित

    नीरज शेखर अब बीजेपी से राज्यसभा में पहुंचे, निर्विरोध निर्वाचित

    भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी नीरज शेखर सोमवार को राज्यसभा के लिए निर्विरोध निर्वाचित हुए. चुनाव अधिकारी एवं विशेष सचिव बृजभूषण दुबे ने 'भाषा' से कहा, ''आज सोमवार नाम वापसी की समय सीमा समाप्त होने के बाद नीरज शेखर को निर्विरोध निर्वाचित घोषित कर दिया गया.'' उल्लेखनीय है कि राज्य में राज्यसभा की एक सीट के लिए हुए उपचुनाव में भाजपा उम्मीदवार नीरज शेखर का निर्विरोध निर्वाचन पहले ही तय हो गया था क्योंकि उनके अलावा किसी और ने नामांकन नहीं किया था.

  • पूर्व पीएम मनमोहन सिंह छठी बार राज्यसभा सदस्य बने, राजस्थान से निर्विरोध निर्वाचित

    पूर्व पीएम मनमोहन सिंह छठी बार राज्यसभा सदस्य बने, राजस्थान से निर्विरोध निर्वाचित

    राजस्थान में राज्यसभा की एक सीट के लिए हुए उपचुनाव में कांग्रेस के डॉ मनमोहन सिंह निर्विरोध निर्वाचित हुए हैं. निर्वाचन अधिकारी एवं विधानसभा सचिव प्रमिल कुमार माथुर ने सोमवार को अपराह्न तीन बजे के बाद नाम वापसी का समय निकल जाने पर डॉ सिंह को निर्विरोध निर्वाचित घोषित किया. माथुर ने इस अवसर पर सिंह का निर्वाचन प्रमाण पत्र उनके द्वारा अधिकृत सरकारी मुख्‍य सचेतक डा महेश जोशी ने प्राप्‍त किया.

  • पीएम मोदी बोले, आजादी के 75 साल पूरे होने पर बदल जाएगा संसद भवन का स्वरूप

    पीएम मोदी बोले, आजादी के 75 साल पूरे होने पर बदल जाएगा संसद भवन का स्वरूप

    आवास समिति, लोकसभा के तत्वावधान में नार्थ ऐवन्यू डूप्लेक्स फ्लैट्स के उद्घाटन कार्यक्रम में पीएम मोदी ने कहा, 'सरकार ने इसे गंभीरता से लिया है. संसद भवन का अच्छी तरह से उपयोग किया जाए, या कोई और भवन बनाने की जरूरत है. अधिकारी इस पर दिमाग लगा रहे हैं.' उन्होंने कहा कि आजादी के 75 साल पूरा होने पर इस काम को करना चाहिए.

  • कांग्रेस के लिए खुशखबरी, डॉ. मनमोहन सिंह का राज्यसभा जाना तय

    कांग्रेस के लिए खुशखबरी, डॉ. मनमोहन सिंह का राज्यसभा जाना तय

    लगभग तीन दशक तक संसद के उच्च सदन राज्यसभा के सदस्य रहे पूर्व प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह एक बार फिर सदन में पहुंचने के लिए कांग्रेस प्रत्याशी के रूप में मंगलवार को राजस्थान से नामांकन पत्र दाखिल करने जा रहे हैं. राजधानी जयपुर पहुंचने पर पार्टी की राज्य इकाई के प्रमुख तथा उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने उनका स्वागत किया. कुल 200 सदस्यों वाली राजस्थान विधानसभा में कांग्रेस के पास 100 विधायक हैं, और इनके अलावा उनके पास 12 निर्दलीयों तथा बहुजन समाज पार्टी (BSP) के छह विधायकों का समर्थन भी है, सो, डॉ. मनमोहन का निर्वाचन निश्चित है. दूसरी ओर, राज्य के प्रमुख विपक्षी दल भारतीय जनता पार्टी (BJP) के पास सिर्फ 73 विधायक हैं, इसलिए उन्होंने अब तक किसी प्रत्याशी की घोषणा नहीं की है.

  • आर्टिकल 370 को लेकर बहस में संविधान की प्रति फाड़ी थी, अब जा सकती है इनकी राज्यसभा सदस्यता

    आर्टिकल 370 को लेकर बहस में संविधान की प्रति फाड़ी थी, अब जा सकती है इनकी राज्यसभा सदस्यता

    जम्मू-कश्मीर की महबूबा मुफ्ती के नेतृत्व वाली पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) के दो राज्यसभा सांसदों पर उनके संसद में असंसदीय व्यवहार को लेकर कठोर कार्रवाई की तलवार लटकने लगी है. उनके आपत्तिजनक आचरण का मामला एथिक्स कमेटी को भेजा जा सकता है. उप राष्ट्रपति और राज्यसभा के सभापति एम वेंकैया नायडू दोनों सांसदों के दुर्व्यहार का प्रकरण आचरण समिति को भेजने का विचार कर रहे हैं. यदि दोनों सांसद दोषी पाए जाते हैं तो उनकी सदस्यता निरस्त की जा सकती है.

  • संसद के वर्तमान सत्र में लोकसभा में 137 प्रतिशत, राज्यसभा में 103 प्रतिशत हुआ काम

    संसद के वर्तमान सत्र में लोकसभा में 137 प्रतिशत, राज्यसभा में 103 प्रतिशत हुआ काम

    संसदीय मामलों की समिति द्वारा बुधवार को जारी एक बयान के अनुसार, 17वीं लोकसभा का पहला सत्र कई मायनों में ‘‘ऐतिहासिक’’ रहा क्योंकि सदन में सामाजिक और आर्थिक गतिविधियों से संबंधित लगभग सभी विधेयक पारित किए गए.

  • J&K पुनर्गठन बिल को कांग्रेस ने संवैधानिक त्रासदी बताया, अमित शाह बोले- जम्‍मू-कश्‍मीर भारत का अभिन्‍न अंग

    J&K पुनर्गठन बिल को कांग्रेस ने संवैधानिक त्रासदी बताया, अमित शाह बोले- जम्‍मू-कश्‍मीर भारत का अभिन्‍न अंग

    कांग्रेस की ओर से अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि जो अनुच्‍छेद 370 को हटाया जा रहा है वह नियम के खिलाफ है. संविधान के खिलाफ है. रातों रात नियमों की अनदेखी की जा रही है. ऐसे में अमित शाह ने पूछा कि किस नियम की अनदेखी हो रही है. अधीर रंजन चौधरी का कहना था कि यह मामला यून में है ऐसे में हमें यह कदम नहीं उठाना चाहिए. कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी के इस बयान पर गृहमंत्री अमित शाह ने सवाल खड़े कर दिए और पूछा कि क्‍या कांग्रेस जम्‍मू-कश्‍मीर को देश का आंतरिक मामला नहीं मानती है? अमित शाह ने कहा कि जब देश जम्‍मू-कश्‍मीर की बात करता है तो उसमें पीओके और अक्‍साई चीन भी शामिल है.

  • जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हटाने के लिए मोदी सरकार ने क्यों चुना यही समय?

    जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हटाने के लिए मोदी सरकार ने क्यों चुना यही समय?

    मोदी सरकार को अनुच्छेद 370 पर राज्य सभा में आम आदमी पार्टी और बसपा जैसी पार्टियों का भी अप्रत्याशित रूप से समर्थन मिला. जबकि अन्य मुद्दों पर इन दलों की अक्सर ही भाजपा नीत सरकार से तकरार रही है.

  • लोकसभा में J&K पुनर्गठन बिल: कांग्रेस ने कहा- रातों रात नियमों की अनदेखी हुई, तो गृहमंत्री बोले- बताइए, कौनसे नियम तोड़े

    लोकसभा में J&K पुनर्गठन बिल: कांग्रेस ने कहा- रातों रात नियमों की अनदेखी हुई, तो गृहमंत्री बोले- बताइए, कौनसे नियम तोड़े

    इसमें कहा गया है कि 19 दिसंबर 2018 को राष्ट्रपति की अधिघोषणा के बाद जम्मू कश्मीर राज्य विधायिका की शक्ति इस सदन को है. यह सदन जम्मू कश्मीर पुनर्गठन विधेयक 2019 को विचार के लिये स्वीकार करता है. उन्होंने कहा कि हम दो केंद्रशासित प्रदेश बना रहे हैं जिसमें जम्मू कश्मीर केंद्र शासित क्षेत्र में अपनी विधायिका होगी जबकि लद्दाख बिना विधायी वाला केंद्रशासित क्षेत्र होगा. गृह मंत्री ने कहा, ‘राष्ट्रपति के अनुमोदन के बाद अनुच्छेद 370 के सभी खंड लागू नहीं होंगे.’ कांग्रेस के अधीर रंजन चौधरी और द्रमुक के टी आर बालू ने संकल्प पेश किये जाने का विरोध किया. बालू ने कहा कि 'यह अघोषित आपातकाल है.’ शाह ने सदन में जम्मू कश्मीर पुनर्गठन विधेयक, 2019 और जम्मू कश्मीर आरक्षण दूसरा संशोधन विधेयक 2019 भी पेश किये. इससे पहले राज्यसभा ने सोमवार को अनुच्छेद 370 की अधिकतर धाराओं को खत्म कर जम्मू कश्मीर एवं लद्दाख को दो केन्द्र शासित क्षेत्र बनाने संबंधी सरकार के दो संकल्पों को मंजूरी दे दी.

  • पार्टी के कड़े विरोध के बीच इस कांग्रेस नेता ने किया धारा 370 हटाने का समर्थन, Tweet कर लिखी यह बात

    पार्टी के कड़े विरोध के बीच इस कांग्रेस नेता ने किया धारा 370 हटाने का समर्थन, Tweet कर लिखी यह बात

    कांग्रेस नेता और पूर्व सांसद दीपेंदर हुड्डा (Deepender Hooda) ने जम्मू कश्मीर से धारा 370 हटाए जाने का समर्थन किया है. हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंदर सिंह हुड्डा (Bhupinder Singh Hooda) के बेटे दीपेंदर हुड्डा ने कहा कि यह निर्णय देश की अखंडता और जम्मू कश्मीर के हित में है. 

  • जम्मू कश्मीर की स्थिति सामान्य होने पर उसे मिल जाएगा राज्य का दर्जा: अमित शाह

    जम्मू कश्मीर की स्थिति सामान्य होने पर उसे मिल जाएगा राज्य का दर्जा: अमित शाह

    गृह मंत्री अमित शाह ने राज्यसभा में आश्वासन दिया कि जम्मू कश्मीर को केंद्र शासित क्षेत्र बनाने का कदम स्थाई नही है तथा स्थिति समान्य होने पर राज्य का दर्जा बहाल कर दिया जाएगा.

  • जम्मू-कश्मीर को दो केंद्र शासित प्रदेशों में बांटने वाला बिल राज्यसभा से पास- पक्ष में 121, विरोध में 61 वोट पड़े

    जम्मू-कश्मीर को दो केंद्र शासित प्रदेशों में बांटने वाला बिल राज्यसभा से पास- पक्ष में 121, विरोध में 61 वोट पड़े

    जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) को दो केंद्र शासित प्रदेशों में बांटने वाला बिल राज्यसभा (Rajya Sabha) में पास हो गया. जम्मू कश्मीर पुनर्गठन बिल के पक्ष में 125 और विरोध में 61 वोट पड़े. मंगलवार को यह बिल लोकसभा में पेश किया जाएगा.   

  • कांग्रेस के इस राज्यसभा सांसद ने धारा 370 पर नेहरू के विचार बताए और पार्टी छोड़ दी

    कांग्रेस के इस राज्यसभा सांसद ने धारा 370 पर नेहरू के विचार बताए और पार्टी छोड़ दी

    कांग्रेस (Congress) के राज्यसभा के व्हिप भुभनेश्वर कलीटा (Bhubaneswar Kalita)पर अपने सांसदों को व्हिप जारी कर उनकी उपस्थिति सुनिश्चित करने की ज़िम्मेदारी थी लेकिन धारा 370 (Article 370) पर कांग्रेस के रुख का विरोध करते हुए वे पार्टी छोड़ गए. अब खबर है कि आर्टिकल 370 को खत्म करने पर मतदान में कई कांग्रेसी सांसद गैरहाजिर रहेंगे. कांग्रेस के सांसद भुभनेश्वर कलीटा ने एक पत्र में कहा है कि 'आज कांग्रेस ने मुझे कश्मीर मुद्दे के बारे में व्हिप जारी करने को कहा है. जबकि सच्चाई ये है कि देश का मिजाज पूरी तरह से बदल चुका है और ये व्हिप देश की जनभावना के खिलाफ है.'

  • अमित शाह ने बताई वजह, आर्टिकल 370 और 35A को हटाने का क्यों लिया गया फैसला? देखें उनका पूरा भाषण

    अमित शाह ने बताई वजह, आर्टिकल 370 और 35A को हटाने का क्यों लिया गया फैसला? देखें उनका पूरा भाषण

    गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने कहा कि जम्मू कश्मीर में आतंकवाद की जड़ भी 370 (Article 370) है. उन्होंने कहा कि जम्मू कश्मीर की जनता जम्हूरियत चाहती है. उन्होंने कहा कि 370 की वजह से ही जम्मू कश्मीर का विकास नहीं हुआ. उन्होंने कहा कि जम्मू कश्मीर में गरीबी के पीछे भी धारा 370 ही है. उन्होंने कहा कि 35 A के कारण ही हुनरमंद लोग जम्मू कश्मीर नहीं जाते.

  • सपा के सुरेन्द्र सिंह नागर, संजय सेठ, कांग्रेस के भुवनेश्वर कालिता ने दिया राज्यसभा से इस्तीफा

    सपा के सुरेन्द्र सिंह नागर, संजय सेठ, कांग्रेस के भुवनेश्वर कालिता ने दिया राज्यसभा से इस्तीफा

    एक ओर जहां केंद्र सरकार राज्यसभा में जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 खत्म करने का ऐलान करने जा रही थी तो दूसरी ओर से दो सांसद विपक्ष को झटका देने की तैयारी में थे. राज्यसभा में सोमवार को समाजवादी पार्टी के सुरेन्द्र सिंह नागर, संजय सेठ और कांग्रेस के भुवनेश्वर कालिता के इस्तीफे की घोषणा की गयी.  राज्यसभा की बैठक शुरू होने पर सभापति एम वेंकैया नायडू ने नागर, सेठ और कालिता के इस्तीफे के बारे में सदन को जानकारी दी. उन्होंने बताया कि इन सदस्यों ने दो अगस्त को अपने अपने इस्तीफे दिये जिन्हें स्वीकार कर लिया गया है. राज्यसभा में उत्तर प्रदेश का प्रतिनिधित्व कर रहे सुरेंद्र सिंह नागर का कार्यकाल चार जुलाई 2022 तक था. संजय सेठ सपा संस्थापक मुलायम सिंह यादव के करीबी माने जाते थे. राज्यसभा में उनका कार्यकाल भी 2022 तक था.    

  • जम्मू-कश्मीर से हटाई गई धारा 370 तो PDP नेता ने संसद में फाड़े कपड़े, जमकर मचाया बवाल

    जम्मू-कश्मीर से हटाई गई धारा 370 तो PDP नेता ने संसद में फाड़े कपड़े, जमकर मचाया बवाल

    राज्यसभा (Rajya Sabha) में हंगामे के बीच गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kahmir) से अनुच्छेद 370 (Article 370) हटाने का ऐलान कर दिया गया है. पीडीपी के राज्यसभा सांसद नजीर अहमद (Nazir Ahmad) और एमएम फैयाज (MM Fayaz) ने सरकार के फैसले का संसद परिसर में विरोध किया है.

  • BJP की सहयोगी पार्टी SAD राज्यसभा में मोदी सरकार के इस बिल का करेगी विरोध

    BJP की सहयोगी पार्टी SAD राज्यसभा में मोदी सरकार के इस बिल का करेगी विरोध

    पार्टी ने एक बयान में कहा कि अंतर-राज्यीय नदी जल विवाद (संशोधन) विधेयक का विरोध करने का फैसला पार्टी की कोर समिति की दिल्ली में हुई आपात बैठक में किया गया.

Advertisement