NDTV Khabar

Ravish kumar on gdp


'Ravish kumar on gdp' - 2 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • क्या आपको आपके हिन्दी के अख़बार ने ये सब बताया?

    क्या आपको आपके हिन्दी के अख़बार ने ये सब बताया?

    नोटबंदी ने लघु व मध्यम उद्योगों की कमर तोड़ दी है. हिन्दू मुस्लिम ज़हर के असर में और सरकार के डर से आवाज़ नहीं उठ रही है लेकिन आंकड़े रोज़ पर्दा उठा रहे हैं कि भीतर मरीज़ की हालत ख़राब है. भारतीय रिज़र्व बैंक के अनुसार मार्च 2017 से मार्च 2018 के बीच उनके लोन न चुकाने की क्षमता डबल हो गई है.

  • आर्थिक सर्वे : जो कहा है उसकी तो चर्चा ही नहीं है

    आर्थिक सर्वे : जो कहा है उसकी तो चर्चा ही नहीं है

    आर्थिक सर्वे को सिर्फ उसी नज़र से मत पढ़िए जैसा अख़बारों की हेडलाइन ने पेश किया है. इसमें आप नागरिकों के लिए पढ़ने और समझने के लिए बहुत कुछ है. दुख होता है कि भारत जैसे देश में आंकड़ों की दयनीय हालत है. यह इसलिए है ताकि नेता को झूठ बोलने में सुविधा रहे. कहीं आंकड़ें सोलह साल के औसत से पेश किए गए हैं तो कहीं आगे-पीछे का कुछ पता ही नहीं है. आप नहीं जान पाते कि कब से कब तक का है.