NDTV Khabar

Resignation


'Resignation' - 440 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • स्वरा भास्कर ने किया इस्तीफे का ऐलान, लिखा- यह रायता मेरे बस का नहीं है...

    स्वरा भास्कर ने किया इस्तीफे का ऐलान, लिखा- यह रायता मेरे बस का नहीं है...

    स्वरा भास्कर (Swara Bhasker) ने अपनी दमदार एक्टिंग से फिल्म इंडस्ट्री में खूब पहचान बनाई है. फिल्मों के अलावा स्वरा भास्कर (Swara Bhasker) अपने ट्वीट्स के लिए भी खूब जानी जाती हैं. लेकिन हाल ही में उन्होंने अपने इस्तीफे का ऐलान कर दिया है. इस बात की जानकारी उन्होंने खुद ट्वीट करके दी है.

  • इटली के प्रधानमंत्री गियुसेप्पे कोंटे का इस्तीफा

    इटली के प्रधानमंत्री गियुसेप्पे कोंटे का इस्तीफा

    इटली के प्रधानमंत्री गियुसेप्पे कोंटे ने इस्तीफे की घोषणा कर दी. इसके पहले उन्होंने अपने डिप्टी और गठबंधन साझेदार मत्तेओ साल्विनी पर निजी और पार्टी हितों के लिए एक नया राजनीतिक संकट पैदा करने पर तीखा हमला बोला था. 

  • झारखंड कांग्रेस अध्यक्ष का इस्तीफा, राहुल गांधी को सौंपा त्याग पत्र

    झारखंड कांग्रेस अध्यक्ष का इस्तीफा, राहुल गांधी को सौंपा त्याग पत्र

    यह दूसरी बार है, जब उन्होंने पद से इस्तीफा दिया है. लोकसभा चुनाव के परिणामों के बाद कांग्रेस दो समूहों में विभाजित हो गई थी. एक का नेतृत्व अजय कुमार तो दूसरे का नेतृत्व पूर्व मंत्री सुबोधकांत सहाय और अन्य कर रहे थे.

  • कांग्रेस के इस राज्यसभा सांसद ने धारा 370 पर नेहरू के विचार बताए और पार्टी छोड़ दी

    कांग्रेस के इस राज्यसभा सांसद ने धारा 370 पर नेहरू के विचार बताए और पार्टी छोड़ दी

    कांग्रेस (Congress) के राज्यसभा के व्हिप भुभनेश्वर कलीटा (Bhubaneswar Kalita)पर अपने सांसदों को व्हिप जारी कर उनकी उपस्थिति सुनिश्चित करने की ज़िम्मेदारी थी लेकिन धारा 370 (Article 370) पर कांग्रेस के रुख का विरोध करते हुए वे पार्टी छोड़ गए. अब खबर है कि आर्टिकल 370 को खत्म करने पर मतदान में कई कांग्रेसी सांसद गैरहाजिर रहेंगे. कांग्रेस के सांसद भुभनेश्वर कलीटा ने एक पत्र में कहा है कि 'आज कांग्रेस ने मुझे कश्मीर मुद्दे के बारे में व्हिप जारी करने को कहा है. जबकि सच्चाई ये है कि देश का मिजाज पूरी तरह से बदल चुका है और ये व्हिप देश की जनभावना के खिलाफ है.'

  • सपा के सुरेन्द्र सिंह नागर, संजय सेठ, कांग्रेस के भुवनेश्वर कालिता ने दिया राज्यसभा से इस्तीफा

    सपा के सुरेन्द्र सिंह नागर, संजय सेठ, कांग्रेस के भुवनेश्वर कालिता ने दिया राज्यसभा से इस्तीफा

    एक ओर जहां केंद्र सरकार राज्यसभा में जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 खत्म करने का ऐलान करने जा रही थी तो दूसरी ओर से दो सांसद विपक्ष को झटका देने की तैयारी में थे. राज्यसभा में सोमवार को समाजवादी पार्टी के सुरेन्द्र सिंह नागर, संजय सेठ और कांग्रेस के भुवनेश्वर कालिता के इस्तीफे की घोषणा की गयी.  राज्यसभा की बैठक शुरू होने पर सभापति एम वेंकैया नायडू ने नागर, सेठ और कालिता के इस्तीफे के बारे में सदन को जानकारी दी. उन्होंने बताया कि इन सदस्यों ने दो अगस्त को अपने अपने इस्तीफे दिये जिन्हें स्वीकार कर लिया गया है. राज्यसभा में उत्तर प्रदेश का प्रतिनिधित्व कर रहे सुरेंद्र सिंह नागर का कार्यकाल चार जुलाई 2022 तक था. संजय सेठ सपा संस्थापक मुलायम सिंह यादव के करीबी माने जाते थे. राज्यसभा में उनका कार्यकाल भी 2022 तक था.    

  • लंबे समय से नाराज चल रहीं अलका लांबा आखिरकार देंगी आम आदमी पार्टी से इस्तीफा

    लंबे समय से नाराज चल रहीं अलका लांबा आखिरकार देंगी आम आदमी पार्टी से इस्तीफा

    आम आदमी पार्टी (आप) से नाराज चल रहीं विधायक अल्का लांबा ने प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा देने का फैसला कर लिया है और आगामी दिल्ली विधानसभा चुनाव निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर लड़ेंगी.

  • समाजवादी पार्टी के सांसद सुरेन्द्र सिंह नागर ने इस्तीफा दिया, सभापति नायडू ने किया मंजूर

    समाजवादी पार्टी के सांसद सुरेन्द्र सिंह नागर ने इस्तीफा दिया, सभापति नायडू ने किया मंजूर

    समाजवादी पार्टी (सपा) के राज्यसभा सदस्य सुरेन्द्र सिंह नागर ने शुक्रवार को राज्यसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया. सूत्रों के अनुसार नागर ने राज्यसभा के सभापति एम वेंकैया नायडू से मुलाकात की और उन्हें अपना त्यागपत्र सौंप दिया. सभापति कार्यालय के आधिकारिक सूत्रों ने नागर द्वारा त्यागपत्र दिए जाने की पुष्टि की. उन्होंने बताया कि नायडू ने उनका इस्तीफा स्वीकार कर लिया है.

  • क्या कांग्रेस छोड़ सकते हैं नवजोत सिंह सिद्धू? इस्तीफा स्वीकार होने के बाद अगले कदम को लेकर अटकलें तेज

    क्या कांग्रेस छोड़ सकते हैं नवजोत सिंह सिद्धू? इस्तीफा स्वीकार होने के बाद अगले कदम को लेकर अटकलें तेज

    नवजोत सिह सिद्घू (Navjot Singh Sidhu) का अगला कदम क्या होगा, इसे लेकर रहस्य बना हुआ है क्योंकि 14 जुलाई को ट्विटर पर अपना इस्तीफा सार्वजनिक करने के बाद से उन्होंने इस बारे में कुछ भी नहीं कहा है.

  • नवजोत सिंह के पंजाब कैबिनेट से इस्तीफा देने के बाद शत्रुघ्न सिन्हा ने की तारीफ लेकिन निर्णय से हैं अचंभित

    नवजोत सिंह के पंजाब कैबिनेट से इस्तीफा देने के बाद शत्रुघ्न सिन्हा ने की तारीफ लेकिन निर्णय से हैं अचंभित

    नवजोत सिंह सिद्धू के पंजाब कैबिनेट से इस्तीफा देने के बाद रविवार को उनकी पार्टी के ही सहयोगी शत्रुघ्न सिन्हा ने उनकी तारीफ की है.  हालांकि उन्होंने कहा कि वे सिद्धू के इस्तीफे के फैसले से अचंभित हैं.

  • राहुल गांधी के इस्तीफे पर रॉबर्ट वाड्रा ने फेसबुक पर किया पोस्ट, लिख दी यह बात

    राहुल गांधी के इस्तीफे पर रॉबर्ट वाड्रा ने फेसबुक पर किया पोस्ट, लिख दी यह बात

    रॉबर्ट वाड्रा ने लिखा कि राहुल, मुझे आपसे सीखने को बहुत कुछ मिला है.हमारे देश में लगभग 65 प्रतिशत युवा (45 साल से कम उम्र के) हैं, जो आपके मार्गदर्शन में विश्वास रखते हैं.रॉबर्ट वाड्रा के मुताबिक राहुल गांधी ने अपने बेहद साहसिक और दृसंकल्पित व्यक्तित्व का परिचय दिया है. रॉबर्ट वाड्रा ने लिखा कि आपका जमीनी स्तर पर काम करने का और देश की जनता से और करीबियों से जुड़ने का निश्चय बहुत ही सराहनीय है.आपके इस कदम में मैं आपके साथ हूं क्योंकि जनसेवा किसी पदवी की महोताज नहीं होती. 

  • कर्नाटक संकट: कांग्रेस के 5 और विधायकों ने खटखटाया सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा

    कर्नाटक संकट: कांग्रेस के 5 और विधायकों ने खटखटाया सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा

    इन विधायकों ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दी है, जिसमें कहा गया है कि विधानसभा स्पीकर उनका इस्तीफा स्वीकार नहीं कर रहे हैं.

  • कर्नाटक संकट: बागी विधायकों के इस्तीफे पर स्पीकर ने कहा, मैं बिजली की गति से काम नहीं कर सकता

    कर्नाटक संकट: बागी विधायकों के इस्तीफे पर स्पीकर ने कहा, मैं बिजली की गति से काम नहीं कर सकता

    उन्होंने कहा कि उनसे बिजली की गति से काम करने की उम्मीद नहीं की जा सकती. न्यायालय के आदेश के बाद 10 बागी विधायकों के विधानसभा अध्यक्ष (विधानसभा अध्यक्ष) के समक्ष पेश होने और स्वीकार किए जाने के लिए नये सिरे से अपना इस्तीफा सौंपने के बाद विधानसभा अध्यक्ष के कदम को लेकर रहस्य बरकरार है.

  • कर्नाटक के 14 बागी विधायक इस्तीफे सौंपकर बेंगलुरु से मुंबई लौटे

    कर्नाटक के 14 बागी विधायक इस्तीफे सौंपकर बेंगलुरु से मुंबई लौटे

    कर्नाटक के 14 बागी विधायक बेंगलुरु में विधानसभा अध्यक्ष को अपने त्यागत्र सौंपकर गुरुवार की शाम को मुंबई के होटल में लौट आए. बीजेपी के एक नेता ने यह जानकारी दी.

  • Karnataka Crisis: कांग्रेस के दो और विधायकों ने विधानसभा अध्यक्ष को सौंपा इस्तीफा

    Karnataka Crisis: कांग्रेस के दो और विधायकों ने विधानसभा अध्यक्ष को सौंपा इस्तीफा

    कर्नाटक सरकार में मंत्री डीके शिवकुमार और जेडीएस विधायक शिवलिंगे गौड़ा बागी विधायकों से मुलाकात करने के लिए मुंबई पहुंच गए हैं. यहां उन्हें रोकने के लिए होटल के बाहर पुलिस बल और दंगा नियंत्रण पुलिस लगाई गई है.

  • कर्नाटक के बागी विधायक अब भी मुंबई में डटे, बोले- कभी नहीं छोड़ा शहर

    कर्नाटक के बागी विधायक अब भी मुंबई में डटे, बोले- कभी नहीं छोड़ा शहर

    कर्नाटक विधानसभा से इस्तीफा देने के बाद तीन दिन पहले मुंबई आए एक दर्जन विधायक अब भी यहीं डेरा डाले हुए हैं. कर्नाटक कांग्रेस के विधायक बी सी पाटिल की ओर से यह पुष्टि इन अटकलों के बाद आई कि विधायकों को पश्चिमी महाराष्ट्र में सतारा के पास रोककर रखा गया है.

  • उत्तर प्रदेश में करारी हार पर क्या प्रियंका गांधी भी महासचिव के पद से इस्तीफा देंगी?

    उत्तर प्रदेश में करारी हार पर क्या प्रियंका गांधी भी महासचिव के पद से इस्तीफा देंगी?

    लोकसभा चुनावों में मिली हार के बाद कांग्रेस में इस्तीफ़ों का दौर जारी है. राहुल गांधी, मिलिंद देवड़ा के बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने भी कांग्रेस महासचिव पद से इस्तीफ़ा दे दिया है. अब सबकी नज़रें इस बात पर टिकी हैं क्या प्रियंका गांधी वाड्रा भी इस रेस में शामिल होंगी और कांग्रेस महासचिव का पद छोड़ेंगी? गौरतलब है कि लोकसभा चुनाव के ठीक पहले प्रियंका गांधी को कांग्रेस में महासचिव बनाया गया था उनको पूर्वांचल की जिम्मेदारी दी गई थी. कांग्रेस को लगता था कि प्रियंका गांधी उत्तर प्रदेश में ट्रंप कार्ड साबित होंगी. लेकिन नतीजा इसके विपरीत रहा.

  • Karnataka : क्या बदला जाएगा मुख्यमंत्री? जाने कर्नाटक संकट से जुड़ीं 12 बड़ी बातें

    Karnataka : क्या बदला जाएगा मुख्यमंत्री? जाने कर्नाटक संकट से जुड़ीं 12 बड़ी बातें

    कर्नाटक में सत्तारूढ़ जनता दल (एस)-कांग्रेस गठबंधन के एक दर्जन से अधिक विधायकों के इस्तीफे से उत्पन्न संकट के एक दिन बाद कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव गुलाम नबी आजाद ने आरोप लगाया कि भाजपा कर्नाटक में हमारी सरकार गिराने के लिए हमारे विधायकों को मुंबई ले गई है. कर्नाटक में हुई राजनीतिक संकट के बारे में पूछे गये एक सवाल के जवाब में आजाद ने यहां मीडिया को बताया, 'प्रधानमंत्री जी (नरेन्द्र मोदी) कहते हैं - सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास. ये तो टेलीविजन पर बहुत अच्छी चीजें लगती हैं. लेकिन जमीन पर नहीं है.' उन्होंने आगे कहा, 'माननीय प्रधानमंत्री की मौजूदगी में मैंने कहा था कि आपने (बीजेपी) हमारी सरकार हिमाचल प्रदेश में तोड़ दी. मणिपुर एवं गोवा में हमारे विधायकों को (सदन में) वोट नहीं देने दिया. बंगाल के विधायक ले जा रहे हो, आंध्रप्रदेश के विधायक ले जा रहे हो, गुजरात के विधायक ले जा रहे हो और अब आप कर्नाटक के विधायक ले जा रहे हो.' आजाद ने सवाल किया, 'इन सबका विश्वास कहां चला गया? और कहां है लोकतंत्र?' उन्होंने कहा, ‘‘लोकतंत्र पर तो हमारा विश्वास होता है, भरोसा होता है. पार्टी के चुनाव चिन्ह के आधार पर जनता अपना प्रतिनिधि चुनकर देती है और अगर उसमें कोई भी बाहुबली ताकत वाला इस तरह से करे, तो क्या होगा.’’

  • कांग्रेस की मुंबई इकाई में कलह, संजय निरूपम ने मिलिंद देवड़ा पर साधा निशाना, बोले- पार्टी ऐसे 'कर्मठ' लोगों से...

    कांग्रेस की मुंबई इकाई में कलह,  संजय निरूपम ने मिलिंद देवड़ा पर साधा निशाना, बोले- पार्टी ऐसे 'कर्मठ' लोगों से...

    संजय निरुपम ने देवड़ा पर निशाना साधते हुए आरोप लगाया कि वह राष्ट्रीय स्तर के पद के लिए बहुत उत्सुक हैं. निरुपम ने यह सुझाव देने के लिए भी मिलिंद देवड़ा की आलोचना की कि महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव तक मुम्बई पार्टी इकाई की देखरेख के लिए कांग्रेस के तीन वरिष्ठ नेताओं की एक समिति बनायी जाए.