Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

Return filing


'Return filing' - 54 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • कोरोना का कहर: अब 30 जून तक फाइल कर सकेंगे मार्च, अप्रैल, मई की GST रिटर्न

    कोरोना का कहर: अब 30 जून तक फाइल कर सकेंगे मार्च, अप्रैल, मई की GST रिटर्न

    मंगलवार को केंद्रीय राज्यमंत्री अनुराग ठाकुर के साथ प्रेस कॉन्फ्रेंस में मौजूद निर्मला सीतारमण ने वित्तवर्ष 2018-19 की इनकम टैक्स रिटर्न की डेडलाइन को 30 जून तक बढ़ा दिया.

  • Coronavirus: इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने सरकार को चेताया, 31 मार्च की समयसीमा बढ़ाने की मांग

    Coronavirus: इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने सरकार को चेताया, 31 मार्च की समयसीमा बढ़ाने की मांग

    आयकर विभाग के कर्मचारियों के दो प्रमुख संघों ने केन्द्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (CBDT) को 31 मार्च की समयसीमा को लेकर चेताया है. इन संघों ने कहा है कि अगर सीबीडीटी समय सीमा नहीं बढ़ाता है तो यह आयकर विभाग के कर्मचारियों के स्वास्थ्य के साथ ‘‘भयंकर भूल’’ होगी. वहीं भारतीय राजस्व सेवा अधिकारियों के संगठन ने कहा है कि बोर्ड इस मामले को सक्रियता के साथ सरकार के समक्ष रख रहा है.

  • GST के वार्षिक रिटर्न दाखिल करने की अंतिम तारीख बढ़ाकर 30 नवंबर की गई

    GST के वार्षिक रिटर्न दाखिल करने की अंतिम तारीख बढ़ाकर 30 नवंबर की गई

    इससे पहले, वार्षिक GST रिटर्न दाखिल करने की अंतिम तारीख 31 अगस्त थी. केंद्रीय अप्रत्यक्ष कर एवं सीमाशुल्क बोर्ड ने एक बयान में कहा कि आकलन वर्ष 2017-18 के लिए फॉर्म GSTR-9 / GSTR-9A में वार्षिक रिटर्न और फॉर्म GSTR-9C में समाधान विवरण दाखिल करने की अंतिम तिथि को 31 अगस्त, 2019 से बढ़ाकर 30 नवंबर, 2019 कर दिया गया है.

  • जीएसटी के वार्षिक रिटर्न दाखिल करने की अंतिम तारीख तीन माह बढ़ाकर 30 नवंबर की

    जीएसटी के वार्षिक रिटर्न दाखिल करने की अंतिम तारीख तीन माह बढ़ाकर 30 नवंबर की

    वार्षिक माल एवं सेवाकर (जीएसटी) रिटर्न दाखिल करने की अंतिम तारीख तीन महीना बढ़ाकर 30 नवंबर कर दिया गया है.

  • सरकार ने आयकर रिटर्न दाखिल करने की अंतिम तिथि बढ़ाई, अब यह होगी आखिरी तारीख

    सरकार ने आयकर रिटर्न दाखिल करने की अंतिम तिथि बढ़ाई, अब यह होगी आखिरी तारीख

    वित्त मंत्रालय ने इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने की तारीख को आगे बढ़ा दिया है. अब करदाता 31 अगस्त 2019 तक अपने रिटर्न फाइल कर सकेंगे. पहले यह तारीख 31 जुलाई थी. 1 महीने का समय मिल जाने से लोगों को अपना आईटीआर भरने में एक महीने का अतिरिक्त समय मिल गया है. यह फैसला केंद्र सरकार और सीबीडीटी यानी केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड द्वारा लिया गया है.

  • इनकम टैक्स रिटर्न (ITR) कैसे फाइल करें - स्टेप बाई स्टेप गाइड

    इनकम टैक्स रिटर्न (ITR) कैसे फाइल करें - स्टेप बाई स्टेप गाइड

    इनकम टैक्स रिटर्न, यानी आयकर रिटर्न (Income Tax Return) दाखिल करने, यानी फाइल करने के लिए अब कुछ ही दिन बचे हैं. वित्तवर्ष 2018-19 के लिए इनकम टैक्स रिटर्न दाखिल करने की आखिरी तारीख 31 अगस्त है. समय रहते इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने से सबसे बड़ा लाभ यह होता है कि अंतिम दिनों में जल्दबाज़ी में रिटर्न फाइल करते समय हो सकने वाली गड़बड़ियों और गलतियों की गुंजाइश खत्म हो जाती है. इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने का सबसे आसान तरीका है, ई-फाइलिंग, यानी इनकम टैक्स रिटर्न को ऑनलाइन फाइल करना, सो आइए, जानते हैं ई-फाइलिंग का तरीका.

  • देश के दो हजार से ज्यादा IAS-IPS अफसर संपत्तियों का ब्यौरा देने में निकले 'डिफॉल्टर'

    देश के दो हजार से ज्यादा  IAS-IPS अफसर संपत्तियों का ब्यौरा देने में निकले 'डिफॉल्टर'

    देश के दो हजार से ज्यादा आईएएस-आईपीएस(IAS & IPS) अपनी संपत्तियों का ब्यौरा(IPR) देने में डिफॉल्टर साबित हुए हैं. वर्ष 2018 का रिटर्न भरने में भी सुस्ती दिख रही है. ऐसे में 31 जनवरी के बाद ऐसे अफसरों की संख्या बढ़ सकती है.

  • सीबीडीटी ने आयकर रिटर्न और ऑडिट रिपोर्ट जमा करने की तिथि बढ़ाकर 31 अक्टूबर की

    सीबीडीटी ने आयकर रिटर्न और ऑडिट रिपोर्ट जमा करने की तिथि बढ़ाकर 31 अक्टूबर की

    एक पखवाड़े के भीतर यह दूसरा मौका है जब आयकर रिटर्न भरने की समयसीमा बढ़ायी गयी है. जिनके खातों का ऑडिट जरूरी होता है, इससे पहले, केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) ऐसे करदाताओं के लिये रिटर्न भरने की समयसीमा को 30 सितंबर से बढ़ाकर 15 अक्टूबर कर दिया था.

  • आयकर रिटर्न भरने की अंतिम दिन तक सवा पांच करोड़ से अधिक रिटर्न दाखिल 

    आयकर रिटर्न भरने की अंतिम दिन तक सवा पांच करोड़ से अधिक रिटर्न दाखिल 

    कुल रिटर्न दाखिल करने वालों की आधिकारिक संख्या प्रक्रिया पूरी होने के बाद अगले कुछ दिन में जारी की जाएगी. पिछले साल करीब 3.2 करोड़ लोगों ने आयकर रिटर्न दाखिल किए गए. रिटर्न दाखिल करने वालों की संख्या में वृद्धि के लिये अधिकारियों ने मुख्यतौर पर दो वजहें बताईं हैं.

  • इनकम टैक्स रिटर्न (ITR) फाइल करना है बेहद आसान - स्टेप बाई स्टेप गाइड

    इनकम टैक्स रिटर्न (ITR) फाइल करना है बेहद आसान - स्टेप बाई स्टेप गाइड

    इनकम टैक्स भरने के दो दिन बचे हैं. 31 अगस्‍त इनकम टैक्स (आयकर रिटर्न ITR return) फाइल करने की अंतिम तारीख है. अकसर यह होता है कि करदाता आखिरी पलों में ही टैक्स रिटर्न फाइल करते हैं और उस समय जल्दबाजी में गलती होने की संभावना और परेशानी होना लाजमी सा हो जाता है. अच्छा हो यदि इनकम टैक्स की ई-फाइलिंग समय रहते कर ली जाए. ऑनलाइन रिटर्न फाइल करने का तरीका आसान है. आइए जानें यह तरीका .

  • ITR Filing Last Date: अब 31 अगस्त तक भर सकेंगे इनकम टैक्स रिटर्न, सरकार ने बढ़ाई अंतिम तारीख

    ITR Filing Last Date: अब 31 अगस्त तक भर सकेंगे इनकम टैक्स रिटर्न, सरकार ने बढ़ाई अंतिम तारीख

    आयकर रिटर्न भरने वालों के लिए अच्छी खबर है. सेंट्रल बोर्ड ऑफ डायरेक्ट टैक्सेज (सीबीडीटी) ने इनकम टैक्स रिटर्न फाइल की आखिरी तारीख 31 अगस्त तक बढ़ा दी है. पहले इनकम टैक्स रिटर्न भरने की आखिरी तारीख 31 जुलाई थी. इस तरह जिन्होंने अभी तक आयकर रिटर्न दाखिल नहीं किया है उनके लिए अच्छी खबर है.

  • सरकारी कर्मचारियों के बड़ी राहत की खबर, एकल रिटर्न का सुझाव

    सरकारी कर्मचारियों के बड़ी राहत की खबर, एकल रिटर्न का सुझाव

    संसद की एक समिति ने सरकारी कर्मचारियों के लिए अपनी संपत्तियों और देनदारियों का ब्योरा देने के लिए साल में सिर्फ एक रिटर्न भरने का सुझाव दिया है. लोकपाल कानून के तहत कई रिटर्न भरने की अनिवार्यता है. कार्मिक एवं प्रशिक्षण विभाग (डीओपीटी) द्वारा तैयार संशोधित मसौदे के अनुसार अब एक सरकारी कर्मचारी जिनमें मंत्री भी शामिल हैं, को पद पर आने के छह महीने के भीतर अपनी संपत्तियों और देनदारियों की घोषणा करनी होगी. 

  • सैलरी लेने वालों के लिए खबर, गलत रिटर्न भरा तो इनकम टैक्स विभाग उठाएगा ये बड़ा कदम

    सैलरी लेने वालों के लिए खबर, गलत रिटर्न भरा तो इनकम टैक्स विभाग उठाएगा ये बड़ा कदम

    इनकम टैक्स भरने का समय है. समय रहते आयकर रिटर्न (ITR) दाखिल करने वालों को फायदा होगा. वहीं, कई बार देखा गया है कि कुछ लोग आयकर रिटर्न फाइल करते हुए गलत जानकारी देते हैं. अकसर लोग टैक्स बचाने के चक्कर में ऐसा करते हैं. ऐसे रिटर्न भरने वालों को आयकर विभाग ने हाल ही में चेताया है. 

  • खुद भरना चाहते हैं अपना ITR, ये है आसान तरीका

    खुद भरना चाहते हैं अपना ITR, ये है आसान तरीका

    इनकम टैक्स भरने की आखिरी तारीख में ज्यादा दिन नहीं बचे हैं. 31 जुलाई इनकम टैक्स (आयकर रिटर्न ITR return) फाइल करने की अंतिम तारीख है. अकसर यह होता है कि करदाता आखिरी पलों में ही टैक्स रिटर्न फाइल करते हैं और उस समय जल्दबाजी में गलती होने की संभावना और परेशानी होना लाजमी सा हो जाता है. अच्छा हो यदि इनकम टैक्स की ई-फाइलिंग समय रहते कर ली जाए. ऑनलाइन रिटर्न फाइल करने का तरीका आसान है. आइए जानें यह तरीका .

  • आईटीआर (ITR) ऑनलाइन भरने का आसान है तरीका

    आईटीआर (ITR) ऑनलाइन भरने का आसान है तरीका

    एक साल में किए जाने वाले सभी महत्वपूर्ण कार्यों में इनकम टैक्स रिटर्न फाइलिंग भी शामिल होता है. इनकम टैक्स रिटर्न (Income Tax Return) फाइल करना कई बार काफी जटिल लगता है.

  • रिटर्न भरने वालों पर सख्ती के बाद अपने कर्मचारियों को आयकर विभाग ने दी यह सलाह

    रिटर्न भरने वालों पर सख्ती के बाद अपने कर्मचारियों को आयकर विभाग ने दी यह सलाह

    आयकर अधिकारियों के मनमानी करने की शिकायतें बढ़ने से चिंतित आयकर विभाग ने उनके लिए नए दिशानिर्देश जारी कर उनसे करदाताओं के साथ विनम्रता से पेश आने के लिए कहा है. करदाता सेवा निदेशालय ( टीपीएस ) ने 16 अप्रैल को यह दिशानिर्देश जारी किए. टीपीएस निदेशालय को कुछ साल पहले करदाता और कर अधिकारियों के बीच बातचीत को आसान बनाने के साथ करदाताओं की शिकायतों के निवारण के लिए बनाया गया था.

  • रिटर्न भरने वालों पर सख्ती के बाद अपने कर्मचारियों को आयकर विभाग ने दी यह सलाह

    रिटर्न भरने वालों पर सख्ती के बाद अपने कर्मचारियों को आयकर विभाग ने दी यह सलाह

    आयकर अधिकारियों के मनमानी करने की शिकायतें बढ़ने से चिंतित आयकर विभाग ने उनके लिए नए दिशानिर्देश जारी कर उनसे करदाताओं के साथ विनम्रता से पेश आने के लिए कहा है. करदाता सेवा निदेशालय ( टीपीएस ) ने 16 अप्रैल को यह दिशानिर्देश जारी किए. टीपीएस निदेशालय को कुछ साल पहले करदाता और कर अधिकारियों के बीच बातचीत को आसान बनाने के साथ करदाताओं की शिकायतों के निवारण के लिए बनाया गया था.

  • नया आयकर रिटर्न (ITR) फॉर्म मांग रहा सैलरी की ज्यादा जानकारी | 10 बातें

    नया आयकर रिटर्न (ITR) फॉर्म मांग रहा सैलरी की ज्यादा जानकारी | 10 बातें

    आयकर भरने वालों के लिए विभाग ने नया आईटीआर फॉर्म नोटिफाई किया है. यह फॉर्म वित्तीय वर्ष 2018-19 से लागू होगा. नया फॉर्म आयकरदाताओं से ज्यादा जानकारी मांग रहा है. सैलरी स्ट्रक्टर और प्रॉपर्टी से आय पर ज्यादा जानकारी ली जा रही है. एक पन्ने का आईटीआर फॉर्म-1 (सहज) को विभाग ने नोटिफाई किया है.