NDTV Khabar

Right of women


'Right of women' - 8 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • Right Age For Pregnancy: क्या है गर्भधारण करने की सही उम्र , 30 के बाद बेबी प्लानिंग और Complications

    Right Age For Pregnancy: क्या है गर्भधारण करने की सही उम्र , 30 के बाद बेबी प्लानिंग और Complications

    Late Pregnancy Complications and Warning Signs: अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के पर जानते हैं महिलाओं की सेहत से जुड़ी जरूरी बातें. जानते हैं कि क्‍या वाकई 25 से 30 साल के बीच की उम्र में प्रेग्नेंसी सबसे (Chances of Getting Pregnant after 30) बेस्ट है. और अगर 30 के बाद प्रेगनेंसी प्‍लान (Late Pregnancy) की जाए तो इसमें क्‍या खतरे (Risk) हो सकते हैं और इनसे कैसे बचा जा सकता है. चलिए इन सब पर जानकारी लेते हैं डॉक्‍टर ज्‍योत‍ि गुप्‍ता से.

  • रविशंकर प्रसाद ने क्यों कहा- मैं मोदी सरकार का कानून मंत्री हूं, राजीव गांधी सरकार का नहीं

    रविशंकर प्रसाद ने क्यों कहा- मैं मोदी सरकार का कानून मंत्री हूं, राजीव गांधी सरकार का नहीं

    तीन तलाक बिल मंगलवार को राज्यसभा में पारित हो गया. इस तरह आखिरकार इस चर्चित विधेयक को संसद की अंतिम मंजूरी भी मिल गई. अब राष्ट्रपति की स्वीकृति के साथ यह कानून का रूप ले लेगा. तीन तलाक बिल पर राज्यसभा में चर्चा के दौरान विधि एवं न्याय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने न सिर्फ इसके पक्ष में तर्क दिए बल्कि कांग्रेस को निशाना भी बनाया. उन्होंने शाहबानो मामले में सुप्रीम कोर्ट के फैसले को पलटने के लिए पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की सरकार द्वारा लाए गए विधेयक का जिक्र करते हुए कांग्रेस पर कड़ा प्रहार किया. प्रसाद ने कहा कि ‘मैं नरेंद्र मोदी सरकार का कानून मंत्री हूं, राजीव गांधी सरकार का कानून मंत्री नहीं हूं.’

  • लोकसभा के बाद राज्यसभा में भी तीन तलाक बिल पास, सरकार ने 'ऐतिहासिक दिन' बताया

    लोकसभा के बाद राज्यसभा में भी तीन तलाक बिल पास, सरकार ने 'ऐतिहासिक दिन' बताया

    Triple Talaq Bill: विपक्ष के कड़े ऐतराज और बिल को सेलेक्ट कमेटी में भेजने की मांग के बीच तीन तलाक बिल (Triple Talaq Bill) राज्यसभा से पास हो गया. राज्यसभा में बिल के समर्थन में 99, जबकि विरोध में 84 वोट पड़े.

  • NDA में सहयोगी पार्टी जदयू ने बताया वह क्यों कर रही है तीन तलाक बिल का विरोध

    NDA में सहयोगी पार्टी जदयू ने बताया वह क्यों कर रही है तीन तलाक बिल का विरोध

    कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने मंगलवार को कहा कि तीन तलाक संबंधी विधेयक मुस्लिम महिलाओं को न्याय दिलाने के मकसद से लाया गया है और उसे किसी राजनीतिक चश्मे से नहीं देखा जाना चाहिये. उन्होंने कहा कि उच्चतम न्यायालय द्वारा एक फैसले में इस प्रथा पर रोक लगाने के बावजूद तीन तलाक की प्रथा जारी है. इस विधेयक को लोकसभा से पिछले सप्ताह पारित किया जा चुका है.

  • इन्स्टैंट ट्रिपल तलाक को गैरकानूनी घोषित करने के लिए नया बिल लोकसभा में हुआ पेश: 10 खास बातें

    इन्स्टैंट ट्रिपल तलाक को गैरकानूनी घोषित करने के लिए नया बिल लोकसभा में हुआ पेश: 10 खास बातें

    इन्स्टैंट ट्रिपल तलाक को गैरकानूनी घोषित करने के लिए पिछली बार राज्यसभा में पारित नहीं हो पाए और अब लैप्स हो चुके बिल को शुक्रवार को लोकसभा में नए सिरे से पेश किया गया. मुस्लिम महिला (वैवाहिक अधिकार संरक्षण) विधेयक, 2019 उस अध्यादेश की जगह लाया गया, जो फरवरी में BJP-नीत नरेंद्र मोदी सरकार ने जारी किया था. बिल पिछली बार राज्यसभा में पारित नहीं हो पाया था. अब चंद्रबाबू नायडू की तेलुगूदेशम पार्टी (TDP) के छह में से चार सांसदों के गुरुवार को BJP में शामिल हो जाने की वजह से संसद के उच्च सदन में NDA की संख्या कुछ बढ़ गई है, जिनके पास कुल 245 में 102 सदस्य हैं.

  • दूसरे धर्म में शादी करने वाली पारसी महिला 'टॉवर ऑफ साइलेंस' में जा सकेगी

    दूसरे धर्म में शादी करने वाली पारसी महिला 'टॉवर ऑफ साइलेंस' में जा सकेगी

    दूसरे धर्म में शादी करने वाली पारसी महिला को माता- पिता की मृत्यु पर प्रार्थना के लिए टॉवर ऑफ साइलेंस जाने की इजाजत दी जाएगी. वलसाड के पारसी अंजुमन ट्रस्ट की तरफ से सुप्रीम कोर्ट से यह बात कही गई है. ट्रस्ट ने फैसला किया है कि जब भी महिला के माता-पिता के अंतिम संस्कार की रस्में होंगी, महिला व उसकी बहन को टॉवर ऑफ साइलेंस इजाजत होगी.

  • शरीयत में तीन तलाक का कोई प्रावधान नहीं है, इसका अंत होना चाहिए : वेंकैया नायडू

    शरीयत में तीन तलाक का कोई प्रावधान नहीं है, इसका अंत होना चाहिए  : वेंकैया नायडू

    तीन तलाक के मुद्दे पर चौतरफा चल रही चर्चाओं के बीच केंद्रीय मंत्री एम. वेंकैया नायडू ने जोर दे कर कहा कि तीन तलाक कोई धार्मिक मुद्दा नहीं है और शरीयत में इसका कोई प्रावधान नहीं है. 

  • छत्तीसगढ़ में पुलिस पर महिलाओं से बलात्कार का आरोप, मानवाधिकार आयोग ने नोटिस भेजा

    छत्तीसगढ़ में पुलिस पर महिलाओं से बलात्कार का आरोप, मानवाधिकार आयोग ने नोटिस भेजा

    राष्ट्रीय मनावाधिकार आयोग ने छत्तीसगढ़ में पुलिसकर्मियों द्वारा 16 महिलाओं के साथ बलात्कार, यौन और शारीरिक हमले को लेकर राज्य सरकार को नोटिस भेजा है और कहा है कि इसके लिए राज्य सरकार परोक्ष रूप से जिम्मेदार है.

Advertisement

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com