NDTV Khabar

Rss chief


'Rss chief' - 87 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • मातृशक्ति के प्रति सम्मान की शिक्षा हमें घर से प्रारंभ करनी होगी : मोहन भागवत

    मातृशक्ति के प्रति सम्मान की शिक्षा हमें घर से प्रारंभ करनी होगी : मोहन भागवत

    राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघ चालक मोहन भागवत ने कहा कि मातृशक्ति के प्रति सम्मान की शिक्षा हमें घर से प्रारंभ करनी होगी क्योंकि ऐसा अपराध करने वाले की भी बहन और माता हैं. लालकिला मैदान में जीयो गीता संस्थान द्वारा एक दिवसीय गीता प्रेरणा महोत्सव 2019 का आयोजन किया गया था.

  • BJP-Shiv Sena के झगड़े पर इशारों में RSS प्रमुख मोहन भागवत की नसीहत- स्वार्थ काफी खराब चीज, आपस में लड़ने से दोनों को नुकसान

    BJP-Shiv Sena के झगड़े पर इशारों में RSS प्रमुख मोहन भागवत की नसीहत- स्वार्थ काफी खराब चीज, आपस में लड़ने से दोनों को नुकसान

    वहीं, महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर बरकरार सस्पेंस के बीच सूत्रों के हवाले से खबर आई है कि अगले हफ्ते महाराष्ट्र में सरकार का गठन हो सकता है.

  • अयोध्या फैसले पर संघ प्रमुख मोहन भागवत ने दी प्रतिक्रिया, कहा- संघ का काम...

    अयोध्या फैसले पर संघ प्रमुख मोहन भागवत ने दी प्रतिक्रिया, कहा- संघ का काम...

    अयोध्‍या के बाद काशी और मथुरा को लेकर किए गए सवाल के जवाब में मोहन भागवत ने कहा कि संघ मनुष्‍य का निर्माण करता है, आंदोलन करना संघ का काम नहीं है. मस्जिद को जमीन दिए जाने के निर्णय को लेकर किए गए सवाल के जवाब में मोहन भागवत ने कहा कि यह सरकार से कहा गया है, वो देखे. मुझे इसमें कुछ नहीं कहना है. मोहन भागवत ने कहा कि कोर्ट के निर्णय की तरह हमारा स्‍टेटमेंट भी साफ है.

  • RSS प्रमुख से मिलने नागपुर पहुंचे नितिन गडकरी बोले- शिवसेना से बात हो रही है, फडणवीस को ही बनना चाहिए CM

    RSS प्रमुख से मिलने नागपुर पहुंचे नितिन गडकरी बोले- शिवसेना से बात हो रही है, फडणवीस को ही बनना चाहिए CM

    यह सब कुछ ऐसे समय हो रहा है जब सीएम बीजेपी का एक प्रतिनिधिमंडल आज महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मिलने जा रहा है.

  • हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर ने अटूट संघर्ष करके बनाया अपना मुकद्दर

    हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर ने अटूट संघर्ष करके बनाया अपना मुकद्दर

    हरियाणा (Haryana) में साल 2014 के विधानसभा चुनाव में मनोहरलाल खट्टर (Manohar Lal Khattar) के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने अपार सफलता हासिल की थी. उनकी मेहनत के प्रतिफल के रूप में पार्टी ने उन्हें मुख्यमंत्री बनाकर सत्ता की बागडोर सौंपी. वास्तव में मनोहरलाल खट्टर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ और बीजेपी के समर्पित कार्यकर्ता रहे हैं और इन संगठनों के लिए उन्होंने अपना जीवन समर्पित किया है. आस्था और समर्पण भाव के कारण ही उन्होंने विवाह नहीं किया. खट्टर आज जिस मुकाम पर हैं वहां तक पहुंचने में उनको कड़ा संघर्ष करना पड़ा है. उनके मुकद्दर ने उनका तब साथ दिया जब देश की सत्ता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हाथ में आई. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से निकटता के कारण उनका मुख्यमंत्री पद तक पहुंचने का रास्ता बन सका.

  • अकाल तख्त प्रमुख ने RSS पर बैन लगाने की रखी मांग, कहा- यह तो देश को...

    अकाल तख्त प्रमुख ने RSS पर बैन लगाने की रखी मांग, कहा- यह तो देश को...

    कुछ दिन पहले ही संघ संचालक मोहन भागवत ने देश में हो रही मॉब लिंचिंग की अलग-अलग घटनाओं को लेकर एक बड़ा बयान दिया था. उन्होंने कहा था कि ‘भीड़ हत्या' (लिंचिंग) पश्चिमी तरीका है और देश को बदनाम करने के लिए भारत के संदर्भ में इसका इस्तेमाल नहीं किया जाना चाहिए. बता दें कि विजयदशमी के मौके पर यहां के रेशमीबाग मैदान में ‘शस्त्र पूजा' के बाद स्वयंसेवकों को संबोधित करते हुए मोहन भागवत ने  यह बात कही थी. उन्होंने कहा था कि 'लिंचिंग' शब्द की उत्पत्ति भारतीय लोकाचार से नहीं हुई.

  • RSS प्रमुख मोहन भागवत के बयान पर भड़के ओवैसी, कहा- भारत न कभी हिन्दू राष्ट्र था, न है और न बनेगा' 

    RSS प्रमुख मोहन भागवत के बयान पर भड़के ओवैसी, कहा- भारत न कभी हिन्दू राष्ट्र था, न है और न बनेगा' 

    RSS सरसंघचालक मोहन भागवत (Mohan Bhagwa) के हिन्दू राष्ट्र वाले बयान पर AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने जमकर हमला बोला. ओवैसी ने कहा, 'भागवत भारत को हिंदू राष्ट्र बताकर यहां मेरा इतिहास मिटा नहीं सकते.

  • RSS प्रमुख मोहन भागवत बोले- सबसे ज्यादा सुखी मुसलमान भारत में मिलेगा, क्योंकि हम हिंदू हैं

    RSS प्रमुख मोहन भागवत बोले- सबसे ज्यादा सुखी मुसलमान भारत में मिलेगा, क्योंकि हम हिंदू हैं

    भारत की विविधता की प्रशंसा करते हुए उन्होंने कहा कि पूरा देश एक सूत्र से बंधा है. उन्होंने कहा, ‘भारत के लोग विविध संस्कृति, भाषाओं, भौगोलिक स्थानों के बावजूद खुद को एक मानते हैं.’ भागवत ने कहा कि एकता के इस अनूठे अहसास के कारण मुस्लिम, पारसी और अन्य जैसे धर्मों से संबंधित लोग देश में सुरक्षित महसूस करते हैं. उन्होंने कहा, ‘पारसी भारत में काफी सुरक्षित हैं और मुस्लिम भी खुश हैं.’

  • TOP 5 NEWS: तीन वैज्ञानिकों को मिला भौतिकी का नोबेल, लिंचिंग को लेकर संघ प्रमुख ने दिया बड़ा बयान

    TOP 5 NEWS: तीन वैज्ञानिकों को मिला भौतिकी का नोबेल, लिंचिंग को लेकर संघ प्रमुख ने दिया बड़ा बयान

    स्वीडन की राजधानी स्टॉकहोम में मंगलवार को भौतिकी का नोबेल प्राइज 2019 तीन वैज्ञानिकों जेम्स पीबल्स, मिशेल मेयर और डिडिएर क्वेलोज को प्रदान किया गया.

  • RSS के स्थापना दिवस पर संघ प्रमुख मोहन भागवत ने 'हिन्दू राष्ट्र' को लेकर दिया बड़ा बयान, कहा- हम सब तो...

    RSS के स्थापना दिवस पर संघ प्रमुख मोहन भागवत ने 'हिन्दू राष्ट्र' को लेकर दिया बड़ा बयान, कहा- हम सब तो...

    उन्होंने कहा कि हमारी स्थल सीमा व जल सीमाओं पर सुरक्षा सतर्कता पहले से अच्छी है. केवल स्थल सीमापर रक्षक व चौकियों की संख्या व जल सीमापर (द्वीपों वाले टापुओं की) निगरानी अधिक बढ़ानी पड़ेगी. देश के अन्दर भी उग्रवादी हिंसा में कमी आयी है. उग्रवादियों के आत्मसमर्पण की संख्या भी बढ़ी है.

  • मॉब लिंचिंग को लेकर संघ प्रमुख मोहन भागवत का बड़ा बयान, कहा- देश को बदनाम करने के लिए...

    मॉब लिंचिंग को लेकर संघ प्रमुख मोहन भागवत का बड़ा बयान, कहा- देश को बदनाम करने के लिए...

    उन्होंने कहा कि बीते कुछ वर्षों में भारत की सोच की दिशा में एक परिवर्तन आया है, जिसे न चाहने वाले व्यक्ति दुनिया में भी है और भारत में भी, और  निहित स्वार्थों के लिये ये शक्तियां भारत को दृढ़ और शक्ति संपन्न नहीं होने देना चाहतीं. देश की सुरक्षा पर संघ प्रमुख ने कहा कि सौभाग्य से हमारे देश के सुरक्षा सामर्थ्य की स्थिति, हमारे सेना की तैयारी, हमारे शासन की सुरक्षा नीति व हमारे अंतरराष्ट्रीय राजनीति में कुशलता की स्थिति इस प्रकार की बनी है कि इस मामले में हम लोग सजग और आश्वस्त हैं.

  • RSS प्रमुख भागवत ने घोषणा की, 'भारत हिंदू राष्ट्र है', कहा- जो भारत भूमि की भक्ति करता है, वह हिन्दू

    RSS प्रमुख भागवत ने घोषणा की, 'भारत हिंदू राष्ट्र है', कहा- जो भारत भूमि की भक्ति करता है, वह हिन्दू

    हिंदू राष्ट्र के दावे के बावजूद जब संस्था के प्रमुख समलैगिकता पर बात करते हैं तो लगता है कि आरएसएस अपनी गंभीर छवि बदलने में लगा हुआ है. भागवत ने कहा कि इस मुद्दे को चर्चा के जरिए सुलझाया जा सकता है. उन्होंने कहा, "महाभारत, प्राचीन सेनाओं में उदाहरण रहे हैं, वेदों में नहीं.' यह पहला मौका नहीं है, जब भागवत ने समलैंगिता पर संघ के रुख में बदलाव के संकेत दिए हैं. उन्होंने 2018 में तीन दिवसीय महा आयोजन 'भारत का भविष्य -आरएसएस का दृष्टिकोण' के दौरान कहा था कि समलैंगिक हैं और समाज को समय के साथ बदलने की जरूरत है. भागवत का अधिकांश भाषण आरएसएस के एक उदार चेहरे को पेश करने पर था, लेकिन उन्होंने असहमति के महत्व पर जोर दिया. उन्होंने कहा, 'हमारे यहां मतभेद हो सकता है, मनभेद नहीं.'

  • संघ प्रमुख मोहन भागवत ने दिया बड़ा बयान, कहा- एक भी हिन्दू को...

    संघ प्रमुख मोहन भागवत ने दिया बड़ा बयान, कहा- एक भी हिन्दू को...

    समन्वय बैठक के बाद संघ के एक पदाधिकारी ने कहा कि मोहन भागवतजी ने स्पष्ट कहा कि एक भी हिंदू को देश नहीं छोड़ना होगा.

  • RSS प्रमुख मोहन भागवत के बयान पर शुरू हुआ सियासी संग्राम, कांग्रेस और मायावती ने साधा हमला

    RSS प्रमुख मोहन भागवत के बयान पर शुरू हुआ सियासी संग्राम, कांग्रेस और मायावती ने साधा हमला

    आरएसएस के अखिल भारतीय प्रचार प्रमुख अरूण कुमार ने एक ट्वीट में कहा, 'जहां तक संघ का आरक्षण के विषय पर मत है, वह कई बार स्पष्ट किया जा चुका है कि अनुसूचित जाति (एससी), अनुसूचित जनजाति (एसटी), अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) और आर्थिक आधार पर पिछड़ों के आरक्षण का (आरएसएस) पूर्ण समर्थन करता है.'

  • मायावती ने किया खुलासा: SP-BSP गठबंधन ने कांग्रेस के लिए क्यों छोड़ी अमेठी और रायबरेली सीट

    मायावती ने किया खुलासा: SP-BSP गठबंधन ने कांग्रेस के लिए क्यों छोड़ी अमेठी और रायबरेली सीट

    मायावती ने शनिवार को कांग्रेस पर मध्य प्रदेश की गुना लोकसभा सीट के बसपा उम्मीदवार को डरा-धमकाकर और खरीद-फरोख्त के जरिये अपने पक्ष में करने का आरोप लगाते हुए उनकी पार्टी में तोड़फोड़ न करने की चेतावनी दी थी. मुरैना के मेला ग्राउंड में मुरैना लोकसभा क्षेत्र से बसपा उम्मीदवार और हरियाणा सरकार के पूर्व मंत्री करतार सिंह भड़ाना के समर्थन में चुनावी सभा को सम्बोधित करते हुए मायावती ने आरोप लगाया, ‘हाल ही में मध्य प्रदेश के गुना संसदीय क्षेत्र से बसपा के प्रत्याशी को कांग्रेस ने डरा धमकाकर और खरीद फरोख्त के जरिये अपने पक्ष में किया है, जो एक बड़ा धोखा है.’

  • धर्म संसद: RSS प्रमुख मोहन भागवत के भाषण के बाद संतों ने किया हंगामा, लगाए 'मंदिर की तारीख बताओ' के नारे

    धर्म संसद: RSS प्रमुख मोहन भागवत के भाषण के बाद संतों ने किया हंगामा, लगाए 'मंदिर की तारीख बताओ' के नारे

    भागवत ने कहा, 'इलाहाबाद हाईकोर्ट ने भी माना है कि नीचे मंदिर है. अब वहां जो भी बनेगा राम मंदिर ही बनेगा. हमने मोदी सरकार से कहा था कि हम आपको तीन साल नहीं छेड़ेंगे. हमने उग्र भाषा में सरकार से कहा कि राम मंदिर बनना चाहिए. वहीं सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि राम मंदिर हमारी प्राथमिकता नहीं है.' साथ ही भागवत ने कहा कि सरकार अगर मंदिर के लिए काम करेगी तो राम का आशीर्वाद मिलेगा. हालांकि, सरकार ने यह जरूर किया है कि उन्होंने सुप्रीम कोर्ट में जाकर कहा कि वहां जिसकी जमीन है, उसे वह वापस की जाए.

  • अहमदाबाद से 210 किमी दूर हुई अमित शाह, मोहन भागवत और संतों के बीच बैठक, BJP अध्यक्ष बोले- मंदिर वहीं बनाएंगे

    अहमदाबाद से 210 किमी दूर हुई अमित शाह, मोहन भागवत और संतों के बीच बैठक, BJP अध्यक्ष बोले- मंदिर वहीं बनाएंगे

    लोकसभा चुनाव से पहले अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर कवायद तेज हो गई हैं. अयोध्या में राम मंदिर का निर्णाण कार्य जल्द से जल्द कैसे प्रारंभ हो इसके रास्ते तलाशने के लिए चर्चाओं का दौर जारी है. आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और हिंदू संतों ने शुक्रवार को अयोध्या में विवादित राम जन्मभूमि- बाबरी मस्जिद स्थल पर मंदिर निर्माण को लेकर आगे के रास्तों पर चर्चा की. यह जानकारी बैठक में हिस्सा लेने वाले धार्मिक नेताओं ने दी. उन्होंने बताया कि अहमदाबाद से 210 किलोमीटर दूर राजकोट में दो दिवसीय हिंदू आचार्य सभा बैठक में मौजूद भागवत और संतों ने स्पष्ट रूप से विचार व्यक्त किया कि मंदिर का निर्माण मई 2019 से पहले शुरू हो जाना चाहिए जब नरेंद्र मोदी सरकार का कार्यकाल समाप्त होगा. 

  • लोक संगठनों को सत्ता में बैठे लोगों का ‘सेवक’ नहीं होना चाहिए : संघ प्रमुख

    लोक संगठनों को सत्ता में बैठे लोगों का ‘सेवक’ नहीं होना चाहिए : संघ प्रमुख

    RSS प्रमुख ने कहा कि सत्ता में कई लोग हैं जो बदलाव लाना चाहते हैं लेकिन मौजूदा व्यवस्था के कारण उनके हाथ बंधे हैं. भागवत ने कहा कि लोक संगठनों को सत्ता की राजनीति से दूर रहना चाहिए..सत्ता एक व्यवस्था है. व्यवस्था का हिस्सा बनकर सत्ता कभी बदलाव लाने में मदद नहीं करती. सत्ता में कई लोग हैं जो बदलाव लाना चाहते हैं लेकिन सत्ता की व्यवस्था के कारण उनके हाथ बंधे हैं.