NDTV Khabar

Shri Ram Mandir Ayodhya


'Shri ram mandir ayodhya' - 9 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • अयोध्या में होने जा रहे भूमि पूजन पर क्या कहा रावण के पुजारी ने?

    अयोध्या में होने जा रहे भूमि पूजन पर क्या कहा रावण के पुजारी ने?

    अयोध्या से 650 किलोमीटर दूर नोएडा में रावण के मंदिर के पुजारी को भी राम नगरी में भव्य मंदिर के शिलान्यास की घड़ी का बेसब्री से इंतजार है. गौतम बुद्ध नगर के बिसरख इलाके में रावण का मंदिर स्थित है. उसके पुजारी महंत रामदास का कहना है कि पांच अगस्त को अयोध्या में राम मंदिर के भूमि पूजन का उन्हें बेसब्री से इंतजार है और यह रस्म संपन्न होने के बाद वह लोगों में मिठाई बाटेंगे.  महंत रामदास ने ''पीटीआई-भाषा'' से टेलीफोन पर बातचीत में कहा' अगर रावण ना होता, तो कोई भी श्री राम को नहीं जानता और अगर राम नहीं होते तो दुनिया को रावण के बारे में नहीं पता चलता'. उन्होंने कहा कि वह अयोध्या में राम मंदिर के शिलान्यास को लेकर बेहद प्रसन्न हैं. शिलान्यास के बाद वह लोगों में लड्डू बांट कर खुशी मनाएंगे. मंदिर का शिलान्यास एक बहुत शुभ घटनाक्रम है. वहां भव्य राम मंदिर का निर्माण होने पर उन्हें बहुत खुशी होगी. 

  • पीले रंग में रंगी अयोध्या: 'राममय' हुई कांग्रेस, नहीं दोहराना चाहती 5 अगस्त 2019?

    पीले रंग में रंगी अयोध्या: 'राममय' हुई कांग्रेस, नहीं दोहराना चाहती 5 अगस्त 2019?

    बुधवार को होने वाले भूमि पूजन कार्यक्रम की तैयारी अयोध्या में जोर-शोर से चल रही है. पूरे शहर को पीले रंग को रंग दिया गया है. तो इस बीच राजनीतिक गलियारों में इसको गुणा-भाग भी जारी है. जहां कुछ राजनीतिक दलों ने इससे थोड़ी बना रखी है. वहीं कांग्रेस पूरी तरह राममय नजर आ रही है. पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी ने कहा है कि अयोध्या में भूमि पूजन राष्ट्रीय एकता का कार्यक्रम बनना चाहिए. अयोध्या को लेकर कांग्रेस की ओर से अभी तक काफी सधी प्रतिक्रियाएं देखने को मिली हैं. दिग्विजय सिंह जरूर भूमि पूजन के मुहूर्त को लेकर कई ट्वीट किए हों लेकिन पार्टी की ओर से उनके बयानों को तवज्जो नहीं दी गई है. कांग्रेस नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री मनीष तिवारी ने राम मंदिर निर्माण को लेकर देशवासियों को बधाई दी है. उन्होंने एक वीडियो शेयर करते हुए ट्वीट किया, 'रघुपति राघव राजाराम,पतित पावन सीताराम, सीताराम सीताराम,भज प्यारे तू सीताराम ईश्वर अल्लाह तेरो नाम, सब को सन्मति दे भगवान. यह गांधी जी का प्रिय भजन था.' कांग्रेस प्रवक्ता तिवारी ने कहा, 'अब अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन होने जा रहा है. मैं सभी देशवासियों और श्रद्धालुओं को कोटि कोटि बधाई देता हूं.'

  • नहीं मिला था एक सवाल का जवाब? अयोध्या पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले की बड़ी बातें क्या थीं

    नहीं मिला था एक सवाल का जवाब? अयोध्या पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले की बड़ी बातें क्या थीं

    बीते साल 9 नवंबर को सुप्रीम कोर्ट ने एक लंबी सुनवाई के बाद अयोध्या में मंदिर-मस्जिद विवाद पर फैसला सुनाया था. 100 सालों से ज्यादा समय से चले रहे इस विवाद को तत्कालीन प्रधान न्यायाधीश जस्टिस रंजन गोगोई की अगुवाई में संवैधानिक पीठ ने इस पर फैसला सुनाया कि विवादित जमीन पर हक हिंदुओं का है. इसके साथ ही सरकार को यह भी आदेश दिया कि मुस्लिम पक्ष को अलग से 5 एकड़ जमीन दी जाए. हालांकि इस फैसले के बाद भी कई पुनर्विचार याचिकाएं दाखिल की गईं लेकिन सुप्रीम कोर्ट में सभी याचिकाओं को खारिज कर दिया गया. 

  • Ayodhya Ram Mandir Bhoomi Pujan Updates: भूमि पूजन से पहले दीये से जगमगा उठी राम नगरी अयोध्या

    Ayodhya Ram Mandir Bhoomi Pujan Updates: भूमि पूजन से पहले दीये से जगमगा उठी राम नगरी अयोध्या

    अयोध्या में राम मंदिर भूमि पूजन की भव्य तैयारियां चल रही हैं. लेकिन आज सुबह ही खबर आ गई है कि वहां एक और पुजारी को कोरोना संक्रमण हो गया है. जिसकी वजह से प्रशासन सकते में आ गया है.  मिली जानकारी के मुताबिक रामलला के सहायक पुजारी प्रेम कु्मार तिवारी के रिपोर्ट में पुष्टि हुई है. इससे पहले शुक्रवार को एक सहायक पुजारी प्रदीप दास और राम मंदिर की सुरक्षा में तैनात 14 पुलिसकर्मी कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं. वहीं रामलला के मुख्य पुजारी सतेंद्र की कोरोना रिपोर्ट नेगिटेव आई है लेकिन ऐहतियातन उनको पूजा से दूर रखा गया है. दूसरी ओर से बुधवार को होने वाले इस कार्यक्रम की तैयारियां जोरों पर हैं. सदियों बाद पूरे अयोध्या शहर को सजाने में अधिकारियों लगी हैं. नीचे दी गई तस्वीरों और वीडियो में आप देख सकते हैं कि अयोध्या में को किस तरह बदल दिया गया है. कई सौ सालों तक विवाद का केंद्र रही अयोध्या ने बदहाली का दौर देखा है. विकास, रोजगार और अच्छी सुविधाओं का इंतजार करते-करते अयोध्यावासियों का शायद अब सपना पूरा हो जाए. फिलहाल 5 अगस्त तक होने वाले इस कार्यक्रम के हर पल की तस्वीरों और खबरों को आप यहां Live देख सकते हैं.

  • राम मंदिर से कितनी बदलेगी अयोध्या की सूरत? राम मंदिर न्यास के ट्रस्टी बोले- मंदिर बनने से बढ़ेगी अर्थव्यवस्था, लोगों को मिलेगा रोजगार

    राम मंदिर से कितनी बदलेगी अयोध्या की सूरत? राम मंदिर न्यास के ट्रस्टी बोले- मंदिर बनने से बढ़ेगी अर्थव्यवस्था, लोगों को मिलेगा रोजगार

    राम मंदिर के भूमि पूजन के इंतजामों के बीच अयोध्या की तस्वीर कितनी बदलेगी यह एक अहम सवाल है. इस मुद्दे पर एनडीटीवी ने श्री रामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र' ट्रस्ट के ट्रस्टी विमलेंद्र प्रताप मिश्रा से बात की. विमलेंद्र प्रताप मिश्रा ने शहर के विकास पर कहा कि राम मंदिर बनने से अयोध्या की सूरत बदलने में मदद मिलेगी.

  • नृपेंद्र मिश्र रामलला के दरबार पहुंचे, मंदिर निर्माण का खाका खींचा

    नृपेंद्र मिश्र रामलला के दरबार पहुंचे, मंदिर निर्माण का खाका खींचा

    अधिकारियों के साथ बैठक कर उन्होंने मंदिर निर्माण कार्य का आकलन किया. दौरे के दौरान यहां के कमिश्नर एमपी अग्रवाल, जिलाधिकारी अनुज कुमार झा और ट्रस्ट के महामंत्री चंपत राय भी नृपेंद्र मिश्र के साथ रहे. इस दौरान उन्होंने राम जन्मभूमि परिसर में करीब तीन घंटे बिताए. इसके बाद श्री रामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के स्थानीय सदस्यों और जिम्मेदार अधिकारियों के साथ बैठक कर शिलाओं को लाने वाले रास्ते का निरीक्षण किया. 

  • श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के अध्‍यक्ष नृत्‍य गोपाल दास ने कहा, "राम मंदिर बनाने में नहीं लिया जाएगा सरकारी सहयोग"

    श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के अध्‍यक्ष नृत्‍य गोपाल दास ने कहा,

    श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के नव मनोनीत अध्यक्ष महंत नृत्यगोपाल दास ने कहा कि जो भक्तजन चाहें, वे दान दे सकते हैं लेकिन सरकार से इस कार्य में कोई आर्थिक सहयोग पाने की कामना नहीं है.

  • अयोध्या में VHP और शिवसेना की रैली की तैयारी, निर्मोही अखाड़े ने जताया एतराज़

    अयोध्या में VHP और शिवसेना की रैली की तैयारी, निर्मोही अखाड़े ने जताया एतराज़

    अयोध्या में 25 नवंबर को होने वाली विश्व हिंदू परिषद (व्हीएचपी) और उद्धव ठाकरे की रैली पर मंदिर की जमीन के दावेदार निर्मोही अखाड़े को एतराज़ है. व्हीएचपी कानून से मंदिर बनाने की मांग को लेकर अयोध्या में रैली कर रहा है जबकि अखाड़ा चाहता है कि मंदिर जबरदस्ती नहीं बल्कि समझौते से बने. राम जन्म भूमि मंदिर के मुख्य पुजारी ने भी इसे व्हीएचपी और शिवसेना की चुनाव से पहले की राजनीति बताया है.

  • संतों ने राम मंदिर निर्माण के लिए सरकार से अध्यादेश लाने या काननू बनाने की मांग की

    संतों ने राम मंदिर निर्माण के लिए सरकार से अध्यादेश लाने या काननू बनाने की मांग की

    संतों ने इस बात पर जोर दिया कि अदालत को भी जन-भावनाओं का आदर करना चाहिए. यहां आयोजित दो दिवसीय संत समागम का रविवार को समापन हो गया.

Advertisement

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com