NDTV Khabar

Skymet


'Skymet' - 8 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • देर से दस्तक देगा मानसून, केरल में 7 जून तक आने की संभावना: स्काईमेट

    देर से दस्तक देगा मानसून, केरल में 7 जून तक आने की संभावना: स्काईमेट

    पहले स्काईमेट ने कहा था, केरल में मानसून 4 जून के आस-पास पहुंचेगा लेकिन अब स्काईमेट ने कहा, ताजा मौसम के हालात संकेत दे रहे हैं कि मानसून की शुरुआत अब 7 जून के आस-पास होगी. जिसमें 2 दिन आगे-पीछे हो सकते हैं. वहीं भारतीय मौसम विज्ञान विभाग ने कहा, केरल में मानसून के 6 जून तक आने की संभावना है जिसमें 4 दिन आगे-पीछे हो सकते हैं.

  • दिल्ली-एनसीआर में लोगों को अभी गर्मी से नहीं मिलेगी राहत, जानें अपने राज्य का हाल...

    दिल्ली-एनसीआर में लोगों को अभी गर्मी से नहीं मिलेगी राहत, जानें अपने राज्य का हाल...

    मौसम विभाग का कहना है कि आने वाले कुछ दिनों में लू का चलना और उच्चतर तापमान बना रहेगा. दिल्ली में मौसम का सबसे गर्म दिन रिकॉर्ड होने के एक दिन बाद शनिवार को तापमान में कुछ गिरावाट दर्ज की गई.

  • मध्यप्रदेश में भारी बारिश की आशंका, CM शिवराज ने ट्वीट कर लोगों से की यह अपील...

    मध्यप्रदेश में भारी बारिश की आशंका, CM शिवराज ने ट्वीट कर लोगों से की यह अपील...

    बीते एक महीने से जारी मॉनसून की सक्रियता के दौरान राज्यों में बारिश का स्तर असमान रहा है. मॉनसून के दायरे में आए दिल्ली सहित लगभग एक तिहाई राज्यों में बादल तो छाये रहे लेकिन बरसे नहीं. वहीं, महाराष्ट्र के कई इलाकों में बीते कई दिनों से भीषण बारिश से जन-जीवन अस्त-व्यस्त हो चुका है. इन सबके बीच मौसम विभाग ने मध्यप्रदेश में अगले 48 घंटों में भारी बारिश की आशंका जताई है. मौसम विभाग ने कहा कि भारी बारिश से राज्य में बाढ़ जैसे हालात हो सकते हैं. इसके बाद मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहन ने लोगों से सतर्क रहने को कहा है.

  • स्काईमेट का अनुमान, मॉनसून सामान्य रहेगा

    स्काईमेट का अनुमान, मॉनसून सामान्य रहेगा

    साल 2018 के लिए पूरे भारत में 97 फीसदी के साथ सामान्य मॉनसून की संभावना जताई गई है. निजी मौसम अनुमानकर्ता स्काईमेट ने मंगलवार को अपने कहा कि मध्य भारत में जून व सितंबर के बीच सबसे ज्यादा 108 फीसदी बारिश हो सकती है. इसमें 96 से 104 फीसदी के आंकड़े को सामान्य मॉनसून माना जाता है. 90 फीसदी से कम बारिश को कम माना जाता है और 95 फीसदी से कम को सामान्य से नीचे और 105 से 110 फीसदी के बीच को सामान्य से ऊपर माना जाता है.

  • स्काईमेट का अनुमान, मॉनसून सामान्य रहेगा

    स्काईमेट का अनुमान, मॉनसून सामान्य रहेगा

    साल 2018 के लिए पूरे भारत में 97 फीसदी के साथ सामान्य मॉनसून की संभावना जताई गई है. निजी मौसम अनुमानकर्ता स्काईमेट ने मंगलवार को अपने कहा कि मध्य भारत में जून व सितंबर के बीच सबसे ज्यादा 108 फीसदी बारिश हो सकती है. इसमें 96 से 104 फीसदी के आंकड़े को सामान्य मॉनसून माना जाता है. 90 फीसदी से कम बारिश को कम माना जाता है और 95 फीसदी से कम को सामान्य से नीचे और 105 से 110 फीसदी के बीच को सामान्य से ऊपर माना जाता है.

  • मॉनसून के सामान्य रहने की उम्मीद : स्काईमेट

    मॉनसून के सामान्य रहने की उम्मीद : स्काईमेट

    मौसम का पूर्वानुमान लगाने वाली एक निजी एजेंसी‘ स्काईमेट’ ने कहा कि देश में दक्षिण पश्चिम मॉनसून‘ सामान्य’ रहने की संभावना है. हालांकि, एजेंसी ने यह भी कहा है कि दक्षिणी प्रायद्वीप और पूर्वोत्तर भारत के एक बड़े हिस्से में इस मौसम में वर्षा ‘‘सामान्य से कम’’ होने के आसार हैं.

  • मौसम की इस रिपोर्ट ने बढ़ाई सरकार की सरदर्दी, फिर रुलाएगा अलनीनो!

    मौसम की इस रिपोर्ट ने बढ़ाई सरकार की सरदर्दी, फिर रुलाएगा अलनीनो!

    मौसम संबंधी जानकारी उपलब्ध कराने वाली वेबसाइट स्कायमेट के अनुसार इस साल (2017 में) भी मानसून सामान्य से कम रहेगा. वेबसाइट के अनुमान के मुताबिक, इस साल भी मॉनसून 95% के करीब होगा यानी सामान्य से कम रहेगा. हालांकि, अनुमान में 5% कम या ज्यादा का अंतर हो सकता है.

  • देश में अब तक सामान्य से 5 प्रतिशत अधिक बारिश

    देश में अब तक सामान्य से 5 प्रतिशत अधिक बारिश

    मौसम विभाग ने रविवार को कहा कि देश में अब तक सामान्य सीमा से पांच प्रतिशत अधिक बारिश हो चुकी है, वहीं उत्तर पश्चिम भारत, दक्षिण प्रायद्वीप और मध्य भारत में सामान्य से कम बारिश हुई है।