NDTV Khabar

Stone pelters in kashmir


'Stone pelters in kashmir' - 8 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • जम्मू कश्मीर में सुरक्षा बलों पर हमले का मामला, सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार को जारी किया नोटिस

    जम्मू कश्मीर में सुरक्षा बलों पर हमले का मामला, सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार को जारी किया नोटिस

    जम्मू कश्मीर में सुरक्षा बलों पर हमलों के मामले में बड़ी खबर सामने आ रही है. सुप्रीम कोर्ट इस पर विचार करेगा कि क्या ड्यूटी पर तैनात सुरक्षा बलों के मानवाधिकारों की सुरक्षा के लिए कोई नीति बनाई जा सकती है या नहीं. सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार, रक्षा मंत्रालय, जम्मू और कश्मीर और राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है.

  • जम्मू-कश्मीर : सुरक्षाबलों की कथित फायरिंग में तीन नागरिकों की मौत

    जम्मू-कश्मीर : सुरक्षाबलों की कथित फायरिंग में तीन नागरिकों की मौत

    जम्मू-कश्मीर के कुलगाम में शनिवार को सुरक्षाबलों की फायरिंग में तीन लोगों की मौत हो गई. इसमें एक 16 साल की लड़की भी शामिल है. बताया जा रहा है कि कुलगाम के रेडवनी इलाके में सेना की पेट्रोल टुकड़ी पर प्रदर्शनकारियों ने हमला कर दिया और वे पत्थर फेंकने लगे. इस बीच बचाव में सुरक्षाबलों ने फायरिंग कर दी. जिसकी चपेट में आने के बाद तीन नागरिकों की मौत हो गई.

  • कश्मीर के पत्थरबाज़ों का माफ़ी, न्यूज़ एंकरों को मिलेगी साफ़ी

    कश्मीर के पत्थरबाज़ों का माफ़ी, न्यूज़ एंकरों को मिलेगी साफ़ी

    2015 और 2016 के साल में चैनलों पर पत्थरबाज़ों की तस्वीर चलती थी. एंकरों की आंखों से उपले की तरह आग और धुआं निकल रहा था. एंकरों के चक्कर में आकर आप भी जिस-तिस को ललकारने में लगे थे. कितना प्रोपेगैंडा हुआ जिसका मकसद था आपकी ज़हन में हिन्दू मुस्लिम राजनीति की एक और परत बिछाना.

  • पत्थरबाज लड़की जो आज बन गई महिला फुटबॉल टीम की कप्तान, पढ़ें इनके संघर्ष की कहानी

    पत्थरबाज लड़की जो आज बन गई महिला फुटबॉल टीम की कप्तान, पढ़ें इनके संघर्ष की कहानी

    अफ्शां आशिक के संघर्ष की कहानी बड़ी ही दिलचस्प है. कभी सेना पर पत्थर फेंकने वाली लड़की आज कश्मीर महिला फुटबॉल टीम की कप्तान बन चुकी है.

  • सीएम महबूबा मुफ्ती ने 4,327 युवकों के खिलाफ पथराव के मामलों को वापस लेने का दिया आदेश

    सीएम महबूबा मुफ्ती ने 4,327 युवकों के खिलाफ पथराव के मामलों को वापस लेने का दिया आदेश

    जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने घाटी के उन युवकों को बड़ी राहत दी है, जिनके खिलाफ पथराव के मामलों में मुकदमा दर्ज था. मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने 4,327 युवकों के खिलाफ दर्ज पथराव के मामलों को वापस लेने का आदेश दिया है. एक आधिकारिक प्रवक्ता ने बताया कि पुलिस महानिदेशक एस पी वैद्य के नेतृत्व वाली विशेषाधिकार प्राप्त समिति की अनुशंसा के बाद यह कदम उठाया गया है. समिति ने आज महबूबा को रिपोर्ट सौंपी.

  • जम्मू-कश्मीर: घाटी में पहली बार पथराव करने वालों के खिलाफ FIR वापस लेने की सरकार ने की घोषणा

    जम्मू-कश्मीर: घाटी में पहली बार पथराव करने वालों के खिलाफ FIR वापस लेने की सरकार ने की घोषणा

    जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने घाटी में पहली बार पथराव करने में संलिप्त रहे युवाओं के खिलाफ प्राथमिकी वापस लेने की बुधवार को घोषणा की. महबूबा ने ट्वीट कर कहा कि यह इन युवा लड़कों और उनके परिवार के लिए आशा की एक किरण है.

  • कश्मीर को बचाना है तो मुनीर को आतंकवादी होने से बचाइए...

    कश्मीर को बचाना है तो मुनीर को आतंकवादी होने से बचाइए...

    टीवी चैनलों पर एंकर्स उचक-उचक कर चिल्ला रहे हैं. कश्मीर में ज़िंदा पकड़ा गया आतंकवादी. फिर मोबाइल पर रिकॉर्ड किए गए मुनीर के कबूलनामे को सुनाते हैं. वह बताता है कि उसे रायफल छीनने भेजा गया था. एटीएम लूटने भी. सूमो से आया. आज ही लौटना था. उसे कोई ट्रेनिंग नहीं मिली है. मुनीर के हर शब्द को सुनाया और स्क्रीन पर पढ़ाया भी जाता है.

  • फारूक़ अब्दुल्ला का विवादित बयान, बोले- पत्थरबाज देश के लिए लड़ रहे हैं

    फारूक़ अब्दुल्ला का विवादित बयान, बोले- पत्थरबाज देश के लिए लड़ रहे हैं

    नेशनल कॉन्‍फ्रेंस के नेता फारूक अब्दुल्ला ने भारत-पाकिस्तान के रिश्तों और कश्मीर में पत्थर मारने वाले युवाओं पर बड़ा बयान दिया है, जिससे एक बार फिर राजनीति गरमा गई है. फारूक अब्दुल्ला ने कहा कि कश्मीर में जो बच्चे पत्थर मारते हैं, उनका राज्य के टूरिज्म से कोई लेना-देना नहीं है वह अपने देश के लिए लड़ रहे हैं.