NDTV Khabar

Sugar production


'Sugar production' - 16 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • चालू सीजन में 300 लाख टन चीनी उत्पादन का अनुमान : एनएफसीएसएफ

    चालू सीजन में 300 लाख टन चीनी उत्पादन का अनुमान : एनएफसीएसएफ

    एनएफसीएसएफ की ओर से जारी आंकड़ों के अनुसार, गन्ना पेराई सत्र 2018-19 (अक्टूबर-सितंबर) में देशभर में चालू 400 से अधिक चीनी मिलों ने तीन जनवरी तक 10.83 करोड़ टन गन्नों की पेराई करके 113 लाख टन चीनी का उत्पादन किया है.

  • रिकॉर्ड उत्पादन से चीनी कीमतों में गिरावट

    रिकॉर्ड उत्पादन से चीनी कीमतों में गिरावट

    दिल्ली में चीनी-खांड के थोक बाजार में बीते सप्ताहांत कमजोरी का रुख बना रहा. स्टॉकिस्टों एवं थोक उपभोक्ताओं के उठाव घटने के बीच चीनी के रिकॉर्ड उत्पादन के कारण बाजार में बढ़ते स्टॉक की वजह से चीनी कीमतों में 50 रुपये प्रति क्विन्टल तक की और गिरावट आई. बाजार सूत्रों ने कहा कि रिकॉर्ड उत्पादन के कारण चीनी मिलों की निरंतर आपूर्ति की वजह से चीनी कीमतों पर दबाव रहा.

  • चीनी का दाम एक महीने में प्रति क्विंटल 500 रुपये बढ़ा

    चीनी का दाम एक महीने में प्रति क्विंटल 500 रुपये बढ़ा

    नकदी के संकट से जूझ रहे चीनी उद्योग की सेहत सुधारने के लिए केंद्र सरकार की ओर से की गई पहल का असर बाजार में दिखने लगा है. पिछले करीब एक महीने में घरेलू बाजार में चीनी के दाम में करीब 500-600 रुपये प्रति क्विंटल का इजाफा हुआ है. देश की राजधानी दिल्ली में गुरुवार को चीनी का खुदरा मूल्य 37-40 रुपये प्रति किलोग्राम था. 

  • कोई मिल 29 रुपये किलो से कम दाम पर चीनी नहीं बेच सकती है

    कोई मिल 29 रुपये किलो से कम दाम पर चीनी नहीं बेच सकती है

    सरकार ने चीनी मिलों के लिये एक्स-मिल चीनी मूल्य 29 रुपये प्रति किलो निर्धारित करने के साथ-साथ मिलों में मासिक चीनी स्टॉक रखने की सीमा तय करने के अपने फैसले को गुरुवार को अधिसूचित कर दिया. सरकार का यह कदम नकदी संकट से जूझ रहे चीनी उद्योग को गन्ना किसानों के बकाये के भुगतान में मदद देने के प्रयास के तहत उठाया गया है. 

  • चीनी की न्यनूतम दर पर्याप्त नहीं : उद्योग संगठन

    चीनी की न्यनूतम दर पर्याप्त नहीं : उद्योग संगठन

    देश के प्रमुख चीनी उद्योग संगठनों ने सरकार द्वारा बुधवार को तय किए गए चीनी के एक्स मिल रेट को नाकाफी बताया और कहा कि इससे घरेलू बाजार में चीनी के दाम में कोई सुधार नहीं होगा.

  • गन्ना का बंपर उत्पादन, चीनी मिलें नहीं कर पा रहीं किसानों को भुगतान

    गन्ना का बंपर उत्पादन, चीनी मिलें नहीं कर पा रहीं किसानों को भुगतान

    देश में चीनी की गिरती कीमतों की वजह से चीनी मिलों पर गन्ना किसानों का बकाया बढ़कर 18,800 करोड़ से ज़्यादा हो गया है. अब सरकार इस संकट की मार झेल रहे लाखों गन्ना किसानों को राहत देने के लिए शुगर-लिंक्ड सब्सिडी से लेकर शुगर सेस लगाने पर गंभीरता से विचार कर रही है.

  • रिकॉर्ड उत्पादन और कमजोर मांग के कारण चीनी कीमतों में गिरावट

    रिकॉर्ड उत्पादन और कमजोर मांग के कारण चीनी कीमतों में गिरावट

    स्टॉकिस्टों और थोक उपभोक्ताओं के जरुरत के अनुसार उठाव करने के बीच रिकॉर्ड उत्पादन के कारण चीनी मिलों की निरंतर आपूर्ति से स्टॉक बढ़ते जाने के बाद राष्ट्रीय राजधानी के थोक चीनी बाजार में चीनी कीमतों में 80 रुपये प्रति क्विन्टल की गिरावट आई.

  • रिकॉर्ड उत्पादन और कमजोर मांग के कारण चीनी कीमतों में गिरावट

    रिकॉर्ड उत्पादन और कमजोर मांग के कारण चीनी कीमतों में गिरावट

    स्टॉकिस्टों और थोक उपभोक्ताओं के जरुरत के अनुसार उठाव करने के बीच रिकॉर्ड उत्पादन के कारण चीनी मिलों की निरंतर आपूर्ति से स्टॉक बढ़ते जाने के बाद राष्ट्रीय राजधानी के थोक चीनी बाजार में चीनी कीमतों में 80 रुपये प्रति क्विन्टल की गिरावट आई.

  • पिछले साल के मुकाबले चीनी उत्पादन में 30 फीसदी का इजाफा

    पिछले साल के मुकाबले चीनी उत्पादन में  30 फीसदी का इजाफा

    पिछले गन्ना पेराई सत्र 2016-17 में देशभर में 449 मिलों में उत्पाद चल रहा था और 15 दिसंबर तक महज 53.46 लाख टन चीनी का उत्पादन हुआ था.

  • देश में चीनी उत्पाद में पिछले साल के मुकाबले 19 फीसदी की गिरावट

    देश में चीनी उत्पाद में पिछले साल के मुकाबले 19 फीसदी की गिरावट

    देश में इस साल चीनी का उत्पादन कम होने की संभावना है. इंडियन शुगर मिल्स एसोसिएशन (आईएसएमए) की ताज़ा रिपोर्ट के मुताबिक मौजूदा शुगर सीज़न में 1 अक्टूबर 2016 से 20 फरवरी 2017 के बीच शुगर का प्रोडक्शन करीब 19 फीसदी कम हुआ है.

  • अब तो भारत में उत्पादन के अनुमान भी शक के घेरे में हैं...

    अब तो भारत में उत्पादन के अनुमान भी शक के घेरे में हैं...

    चीनी उत्पादन के आंकड़ों के बहाने एक बात तो साफ हो गई कि हर क्षेत्र में सुचारु व्यवस्था के लिए आंकड़ों को जमा करने के अलावा कोई और विकल्प है ही नहीं, इसीलिए हमें यह जान लेना चाहिए कि इन दिनों सांख्यिकीय तथ्यों का मज़ाक उड़ाकर जो सिर्फ शाब्दिक वक्तव्यों का ज़ोर बढ़ रहा है, उस पर भी गौर करने का वक्त आ गया है.

  • 18 साल की उम्र तक खाएं छह चम्मच से कम चीनी, आइए जाने क्यों...

    18 साल की उम्र तक खाएं छह चम्मच से कम चीनी, आइए जाने क्यों...

    हम सभी का मन कभी-कभी तेज़ मीठा खाने का करता है। ऐसे में या तो हम बाज़ार से खरीदकर कोल्ड ड्रिंक पी लेते हैं, या फिर चाय या कॉफी में तेज़ मीठा पीना पसंद कर लेते हैं। रही बात डिज़र्ट्स की, तो उन्हें भी भारी मात्रा में चीनी डालकर तैयार किया जाता है। लेकिन इस पर हाल ही में एक शोध किया गया है। आइए जानें क्या कहती है यह स्टडी-

  • लीवर को स्ट्रॉन्ग बनाना है तो आहार में शामिल करें ये...

    लीवर को स्ट्रॉन्ग बनाना है तो आहार में शामिल करें ये...

    हाई फैट, ग्लूकोज़ और कोलेस्टेरॉल वाले आहार से अगर लीवर को कोई नुकसान पहुंचता है, तो उसे ठीक करना काफी मुश्किल हो जाता है.

  • कम फैट वाले आहार से बना सकेंगे लीवर को स्ट्रॉन्ग

    कम फैट वाले आहार से बना सकेंगे लीवर को स्ट्रॉन्ग

    हाई फैट, ग्लूकोज़ और कोलेस्टेरॉल वाले आहार से अगर लीवर को कोई नुकसान पहुंचता है, तो उसे ठीक करना काफी मुश्किल हो जाता है। दिन में अगर आप हल्का-फुल्का खाना खाते हैं, तो यह आपके स्वास्थ्य को बेहतर कर किसी भी तरह का नुकसान नहीं पहुंचाता है।

  • चीनी मिलों की हालत सुधरी, गन्ना उत्पादक किसानों का बकाया 85 फीसदी घटा

    चीनी मिलों की हालत सुधरी, गन्ना उत्पादक किसानों का बकाया 85 फीसदी घटा

    गन्ना किसानों का बकाया पिछले नौ महीनों में 21,000 करोड़ से घटकर 2700 करोड़ हो गया है। खाद्य मंत्रालय के मुताबिक 15 अप्रैल 2015 को चीनी मिलों पर गन्ना किसानों का कुल बकाया 21000 करोड़ तक पहुंच गया था लेकिन 12 जनवरी 2016 को किसानों का बकाया घटकर सिर्फ 2700 करोड़ रह गया है।

  • बैंकों ने चीनी मिलों को 4,000 करोड़ रुपये से अधिक का कर्ज दिया

    बैंकों ने चीनी मिलों को 4,000 करोड़ रुपये से अधिक का कर्ज दिया

    सरकार ने नकदी संकट से जूझ रही इन मिलों को कुल मिलाकर 6600 करोड़ रुपये का कर्ज मंजूर किया था, ताकि वे गन्ना किसानों को बकाया का भुगतान कर सकें।