NDTV Khabar

Sui dhaaga movie review


'Sui dhaaga movie review' - 3 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • फिल्मों में झलकते राजनीतिक आशय

    फिल्मों में झलकते राजनीतिक आशय

    'स्त्री', 'सुई-धागा' और 'मंटो', इन तीनों फिल्मों में एक बात जो एक-सी है, वह है - नारी की शक्ति और उसके अधिकारों की स्वीकृति. 'स्त्री' भले ही एक कॉमेडी थ्रिलर है, लेकिन उसमें स्त्री के सम्मान और शक्ति को लेकर समाज की जितनी महीन एवं गहरी परतें मिलती हैं, वह अद्भुत है. यही कारण है कि भूत-प्रेत जैसी अत्यंत अविश्वसनीय कथा होने के बावजूद उसने जबर्दस्त कलेक्शन किए.

  • Sui Dhaaga Movie Review: मिडिल क्लास के परिवार की कहानी है 'सुई धागा'

    Sui Dhaaga Movie Review: मिडिल क्लास के परिवार की कहानी है 'सुई धागा'

    मौजी के दादा सिलाई कढ़ाई का काम करते थे मगर बिगड़े हालत की वजह से वो काम बंद हो गया और मौजी के पिता हों या खुद मौजी, घर चलाने के लिए नौकरी करते हैं. नौकरी में बेइज्जती देख मौजी की पत्नी कुछ अपना करने को कहती है और मौजी सिलाई मशीन लेकर निकल पड़ता है पुराने पेशे को फिर से खड़ा करने के लिए और उसके साथ खड़ी है उसकी पत्नी ममता.

  • Sui Dhaaga Movie Review: अनुष्का शर्मा, वरुण धवन की 'सुई' में 'कच्चा धागा' है कहानी

    Sui Dhaaga Movie Review: अनुष्का शर्मा, वरुण धवन की 'सुई' में 'कच्चा धागा' है कहानी

    Sui Dhaaga Movie Review: 'दम लगाके हईशा' में एक अलग ही दुनिया रचने वाले शरत कटारिया 'सुई धागा' में वो पैनापन नहीं ला सके, जिसकी उम्मीद उनसे की जा रही थी. वरुण धवन और अनुष्का शर्मा ने किरदारों को परदे पर निभाने की भरपूर कोशिश की है.

Advertisement